खाटू श्याम आरती (Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti)

हिंदू धर्म में खाटू श्याम जी (khatu shyam ji) को सबसे बड़ा दाता कहा गया है क्योंकि उन्होंने अपने शीश का दान दिया था। खाटू श्याम (Shri Khatu Shyam Ji Ki Aarti 2022) की इस आरती से जीवन के सभी

श्री हनुमान चालीसा – Hanuman Chalisa Hindi

।।  दोहा ।।  श्रीगुरु चरन सरोज रज, निज मनु मुकुरु सुधारि।बरनऊं रघुबर बिमल जसु, जो दायकु फल चारि।।बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन-कुमार।बल बुद्धि बिद्या देहु मोहिं, हरहु कलेस बिकार।।   Hanuman Chalisa चौपाई   जय हनुमान ज्ञान गुन सागर।जय कपीस तिहुं लोक उजागर।।  रामदूत अतुलित

Purnima 2022 Date: जनवरी से दिसंबर तक कब-कब है पूर्णिमा, चेक करें पूरी लिस्ट, जानिए इसका धार्मिक महत्व

तो नमस्कार दोस्तों आप सभी यह तो जानते ही होंगे की हिन्दू धर्म कितना पवित्र धर्म माना जाता हैं। हिन्दू धर्म इस धरती का सबसे पुराना धर्म माना जाता हैं। हिन्दू धर्म इ बहुत सी मान्यताएं हैं और बहुत सी

पहला करवा चौथ कैसे करें?, जानें लंबी उम्र के लिए सुहागिनें कैसे रखेंगी व्रत

तो दोस्तों आप सभी यह तो जानते ही होंगे की हिन्दू धर्म सबसे पवित्र व पुराना धर्म है और हमारे इस हिन्दू धरम में अनेकों त्यौहार मनाये जाते है और उन सभी त्यौहारों को हर कोई व्यक्ति अपनी संस्कृति के

भए प्रगट कृपाला दीनदयाला – भजन (Bhaye Pragat Kripala Din Dayala) श्री रामअवतार स्तुति

भए प्रगट कृपाला दीनदयाला – भजन श्री राम अवतार स्तुति, भगवान के इस भू-लोक पर आगम की एक सुंदर अनुभूति को दर्शित करती है। श्री रामअवतार स्तुति को सुनने के पश्चात प्रभु श्रीराम भक्त कुछ और सुनने की चाह अपने

शिव पंचाक्षर स्तोत्र मंत्र (Shiv Panchakshar Stotram Mantra)

शिव पंचाक्षर स्तोत्र मंत्र:- भगवान शिव ने समस्त मानव जाति के कल्याण के उद्देश्य से स्वयं शिव पंचाक्षर मंत्र ‘ओम नमः शिवाय’ की उत्पत्ति की। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, इसे सबसे पहला मंत्र माना जाता है। Shri Shiv Panchakshar Stotram

लिङ्गाष्टकम् स्तोत्र (Lingashtakam Stotra)

मान्यता है कि यदि नियमित रूप से शिवलिंग पर जल और बेलपत्र अर्पित करके यदि लिंगाष्टकम स्तोत्र का पाठ किया जाए तो व्यक्ति को हर परेशानी से मुक्ति प्राप्त हो जाती है। धार्मिक मान्यता है कि स्वयं देवता भी शिव

श्री राम रक्षा स्तोत्रम् (Shri Ram Raksha Stotram)

श्री राम रक्षा स्तोत्र एक बहुत ही शक्तिशाली और चमत्कारी प्रार्थना है। बुध कौशिक ऋषि (Budh koushik Rishi) द्वारा रचित श्री राम रक्षा स्तोत्र का पाठ (Ram Raksha Stotra) प्रभु श्री राम का स्तुति गान है। राम रक्षा स्त्रोत स्वयं

गणेश चालीसा (Ganesh Chalisa)

Ganesh Chalisa In Hindi: किसी भी पूजा से पहले यदि भगवान श्री गणेश की पूजा अर्चना यदि ना की जाए तो पूजा पूरी नहीं मानी जाती। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार भगवान श्री गणेश को विघ्न हारता देवता माना जाता है।

अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं – भजन (Achyutam Keshavam Krishna Damodaram)

Achyutam Keshavam Krishna Damodaram:- भगवान श्रीकृष्ण के भक्ति गीत न सिर्फ भारत बल्कि अन्य देशों में भी गाए जाते हैं। रोज सुबह-शाम किसी न किसी मंदिर में ये भजन सुनने को जरूर मिलते हैं। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर इन

आरती माँ लक्ष्मीजी – ॐ जय लक्ष्मी माता (Shri Laxmi Mata – Om Jai Lakshmi Mata)

आरती माँ लक्ष्मीजी:- दिवाली पर मां लक्ष्मी का घर में आगमन होने पर लोगों का भाग्य बदल जाता है। दिवाली पर प्रथम पूज्य गणेश और मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है। भगवान विष्णु की पत्नी माता लक्ष्मी की पूजा भक्तों द्वारा

आरती कुंजबिहारी की (Aarti Kunj Bihari Ki)

जन्माष्टमी पूजा के समय कीजिए आरती कृष्ण जी की, Aarti Kunj Bihari Ki, जन्माष्टमी पर कुंजबिहारी की आरती गान का अपना ही महत्व है। भगवान श्रीकृष्ण संग देवी राधा की इस आरती गान से वातावरण आनंदमय हो जाता है। भगवान

जय अम्बे गौरी, मैया जय श्यामा गौरी – आरती (Jai Ambe Gauri Maiya Jai Shyama Gauri)

मां दुर्गा की पूजा- अर्चना करने से भक्त की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है. ऐसा कहा जाता है कि इस दिन व्रत और पूजन करने से मां दुर्गा प्रसन्न हो जाती है, पूजा-अर्चना करने के पश्चात् मां दुर्गा की

श्री गणेश जी की आरती (Shri Ganesh Aarti)

श्री गणेश जी की आरती (Shri Ganesh Aarti) :- भगवान भोले नाथ और माता पार्वती जी के पुत्र प्रथम पूज्य गजानन श्री श्री गणेश जी की आरती (Shri Ganesh Aarti) ॥श्री गणेश जी की आरती॥जय गणेश जय गणेश,जय गणेश देवा

दुर्गा चालीसा (Durga Chalisa)

Maa Shri Durga Chalisa (दुर्गा चालीसा) Hindi Lyrics – हिन्दू धर्म में माँ दुर्गा को सर्वोच्च शक्ति माना जाता है। माँ दुर्गा एक हिंदू देवी हैं जो शक्ति और आश्रय का प्रतीक मानी जाती। दुर्गा चालीसा पढ़ने से आपके आस-पास के वातावरण