सद्भावना दिवस क्यों मनाया जाता है निबंध

पूरे देश में 20 अगस्त को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गाँधी जी की स्मृति में सद्भावना दिवस मनाया जाता है। इस वर्ष राजीव गाँधी जी की 78वीं वर्षगांठ मनाई जा रही है ऐसे में पूरे देश में उनके जन्मदिवस के मौके पर भव्य कार्यक्रमो का आयोजन किया जायेगा। शांति के अग्रदूत और भारत को विश्वगुरु बनाने का सपना देखने वाले श्री राजीव गाँधी जी के अतुलनीय शांति प्रयासो के लिए उन्हें पूरे देश में याद किया जाता है और उनके जन्मदिवस को सद्भावना दिवस या सौहार्द दिवस या समरसता दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस आर्टिकल के माध्यम से आपको हिंदी में सद्भावना दिवस क्यों मनाया जाता है? और सद्भावना दिवस पर निबंध  (SADBHAVANA DIWAS ESSAY IN HINDI) की जानकारी दी गयी है।

सद्भावना दिवस क्यों मनाया जाता है

सद्भावना दिवस का महत्व

सद्भावना दिवस को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की स्मृति में मनाया जाता है। देश में सामाजिक समरसता और धार्मिक सौहार्द को मजबूत करने के लिए राजीव गाँधी के प्रयासो को याद करने के लिए इस दिन विभिन कार्यक्रम आयोजित किया जाते है साथ ही विभिन क्षेत्रों में शांति प्रयासो के लिए कार्य करने वाले नागरिको को राजीव गाँधी राष्ट्रीय सद्भावना पुरुस्कार भी प्रदान किया जाता है। साथ ही पूरे देश के नागरिक सामाजिक तानेबाने और आपसी समझ को बेहतर बनाने के लिए इस दिन सद्भावना दिवस प्रतिज्ञा भी लेते है।

सद्भावना दिवस कब मनाया जाता है? (Sadbhavana Diwas Date-2022)

सद्भावना दिवस हर वर्ष 20 अगस्त को मनाया जाता है। इस वर्ष राजीव गाँधी की 78वीं वर्षगांठ है ऐसे में कांग्रेस पार्टी द्वारा पूरे देश में राजीव गाँधी के संदेशो को फैलाने के लिए विभिन कार्यक्रमों का आयोजन किया जायेगा।

सद्भावना दिवस क्यों मनाया जाता है निबंध

सद्भावना दिवस निबंध 1

राजीव गाँधी की स्मृति में हर वर्ष 20 अगस्त को सद्भावना दिवस मनाया जाता है। इस दिन सभी लोग पूर्व प्रधानमन्त्री राजीव गाँधी जी द्वारा शांति कार्यो के लिए किये गए प्रयासो को याद करते है। राजीव गाँधी द्वारा युवा शक्ति के माध्यम से पूरे देश के विकास का सपना देखा गया था जिसके लिए उन्होंने युवा शक्ति को सभी क्षेत्रों में आगे लाने के लिए भरसक प्रयास किये थे। शांति और सौहार्द के लिए किये गए प्रयासो हेतु उनके द्वारा दिखाया गया मार्ग प्रशंसनीय है। देश और विश्व शांति के लिए वे अपने जीवन की अल्पायु के पूरे समय में निरंतर प्रयासरत रहे।

भारत जैसे विविधता से भरे देश में जहाँ विभिन धर्म, समुदाय, जाति और नस्लों से आने वाले लोग रहते है सांप्रदायिक सौहार्द्ध और भाईचारे की भावना को बढ़ावा देने के लिए राजीव गाँधी द्वारा अनेक प्रयास किये गये। उन्होंने ना सिर्फ देश के शांति के प्रयास किये अपितु विश्व शांति का बीड़ा भी अपने कंधो पर उठाया। चाहे मालदीव और ब्रुसेल्स में सैन्य तख्तापलट हो या श्रीलंका में लिट्टे (लिबरेशन ऑफ तमिल टाइगर्स ईलम) द्वारा गृहयुद्ध की विभीषिता इन सभी परिस्थितियों में राजीव जी द्वारा धैर्य और सद्भाव का परिचय देते हुये शांति की वकालत की गयी थी। विश्व शांति के लिए परमाणु हथियारों से मुक्त विश्व के लिए उनके द्वारा संयुक्त राष्ट्र के माध्यम से भी प्रयास किया गया था। देश और विश्व शांति प्रयासो के लिए किया गए कार्यो के लिए देश उनका हमेशा ऋणी रहेगा।

सद्भावना दिवस निबंध 2

देश के सबसे युवा प्रधानमंत्री राजीव गाँधी स्मृति में पूरे देश में 20 अगस्त को सद्भावना दिवस मनाया जाता है। इंदिरा गाँधी के पुत्र श्री राजीव गाँधी द्वारा महात्मा गांधी के विश्व शांति के संदेश को आगे बढ़ाते हुए अनेक कार्य किये गए। उनके द्वारा वास्तव में सद्भावना के मूलभूत सिद्धांतो को ध्यान में रखते हुए देश में सामाजिक सौहार्द को मजबूत बनाते हुए विभिन नागरिको के बीच सामाजिक, आर्थिक और भावनात्मक एकता पर बल दिया गया था। इसके लिए उन्होंने अनेक कार्यक्रम भी शुरू किये थे जिससे की समाज में समरसता का भाव और दृढ हो सके।

एक युवा प्रधानमंत्री के रूप में वे हमेशा देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए तत्पर रहते थे। राजीव गाँधी युवा जोश से भरे प्रधानमन्त्री थे जो देश का तेजी से विकास करते हुए मानवीय मूल्यों को पूरी दुनिया में फैलाना चाहते थे। उनके द्वारा किया गए आर्थिक सुधार कार्यक्रमों और शांति के प्रयासो से उनके युवा जोश और मानवीय मूल्यों की झलक मिलती है। आज भी उनके भाषण और प्रेरणादायी कार्य देश के नागरिको को प्रोत्साहित करते है। अपने अल्प जीवनकाल में उन्होंने जो मूल्य प्रतिस्थापित किये वे वर्तमान परिप्रेक्ष्य में भी अनुकरणीय है।

सद्भावना दिवस सम्बंधित प्रश्न (FAQ)

सद्भावना दिवस क्यों मनाया जाता है ?

सद्भावना दिवस हमारे देश के पूर्व प्रधानमन्त्री श्री राजीव गाँधी की स्मृति में मनाया जाता है।

सद्भावना दिवस कब मनाया जाता है ?

सद्भावना दिवस हर वर्ष 20 अगस्त को मनाया जाता है। इस दिन पूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गाँधी की 78वीं वर्षगांठ है। इस वर्ष सद्भावना दिवस 20 अगस्त 2022 को मनाया जायेगा।

राजीव गाँधी द्वारा कौन-कौन से कार्य किये गए ?

राजीव गाँधी द्वारा देश और विश्व शांति के लिए अनेक कार्य किये गए। देश में सामाजिक समरसता बनाये रखने, सामाजिक और सांप्रदायिक सौहार्द और देश के विकास के लिए राजीव गाँधी जी द्वारा किये गए कार्य सराहनीय है।

राजीव गाँधी की स्मृति में कौन सा पुरस्कार दिया जाता है ?

राजीव गाँधी की स्मृति में समाज में शांति प्रयासो के लिए राजीव गाँधी राष्ट्रीय सद्भावना पुरस्कार दिया जाता है।

राजीव गाँधी देश के किस नंबर के प्रधानमंत्री थे ?

राजीव गाँधी देश के 6वें नंबर के प्रधानमंत्री थे साथ ही वे देश के अब तक के सबसे युवा प्रधानमंत्री भी रहे है।

Leave a Comment