Internship Meaning in Hindi | इंटर्नशिप मतलब हिंदी में | इंटर्नशिप क्‍या है ? जानिए पूरी जानकारी

Internship Meaning in Hindi – तो दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है की हर वर्ष अनेकों बच्चे अपने विद्यालय की शिक्षा को उत्तीर्ण करने के पश्चात कॉलेज में पहुँचते है। क्योंकि कॉलेज में सभी विद्यर्थियों को उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त होती है। तो दोस्तों जब आप सभी कॉलेज में पहुंच जाते है तो आप सभी को बहुत सी नयी नयी चीजों के बारे में जानने को व सुनने को मिलता है। तो दोस्तों जब आप अपने कॉलेज में 2 वर्ष पूर्ण कर लेते हो यानि के जब आपको अपने कॉलेज के तीसरे वर्ष में हो तो आपको एक चीज के बारे में अवश्य सुनने को मिला होगा। वह है Internship, परन्तु दोस्तों आप में से कई लोग ऐसे भी होंगे जिन्होंने इस शब्द के बारे में पहली बार सुना होगा। कुछ लोग ऐसे भी होंगे जो इसका अर्थ भी जानते होंगे। लेकिन बहुत से लोग इसके बारे में जानना चाहते है की Internship Meaning in Hindi क्या है ।

Internship Meaning in Hindi |
Internship Meaning in Hindi

तो दोस्तों क्या आप इंटर्नशिप का अर्थ जानते है। अगर नहीं तो इसमें आपको चिंता करने की कोई भी आवश्यकता नहीं है। क्योंकि आज हम आप सभी को इस लेख के जरिये इंटर्नशिप से सम्बंधित बहुत सी आवश्यक जानकारी के बारे में बताने वाले है। जैसे की – Internship Meaning in Hindi | इंटर्नशिप मतलब हिंदी में | इंटर्नशिप क्‍या है ? जानिए पूरी जानकारी आदि जैसी कई अन्य जानकारी। तो दोस्तों क्या आप भी इंटर्नशिप के बारे में इस प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते है। तो दोतो अगर आप चाहते है तो उसके लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि इस लेख में ही हमने इससे सम्बंधित जानकारी के बारे में बताया हुआ है जिसको पढ़ने से ही आप इसके बारे में जान सकोगे। तो दोस्तों इसलिए कृपया करके हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े व इसे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करें।

इसपर भी गौर करें :- POV Meaning in Hindi | POV Full Form in Memes, Instagram in Hindi

इंटर्नशिप क्‍या है | Internship Meaning in Hindi

तो दोस्तों सबसे पहले तो आप सभी को इंटर्नशिप की फुल फॉर्म बता दे की इंटर्नशिप को हिंदी में प्रशिक्षुता के नाम से भी जाना जाता है। अगर आप सभी को आसान भाषा में बताये तो इंटर्नशिप उसको कहते है जब कोई व्यक्ति कुछ सीमित समय के लिए कही पर नौकरी करता है उसी को इंटर्नशिप कहा जाता है। यानि के अगर जब आप अपना कॉलेज को पूर्ण करने के पश्चात या फिर अपने कॉलेज के थर्ड ईयर के समय में कुछ समय के लिए किसी कंपनी में या फिर किसी इंस्टिट्यूट में 6 महीने या फिर उससे भी कम समय के लिए नौकरी करते है ताकि आपको उसका अनुभव मिल सके उसी को इंटर्नशिप कहा जाता है।

जब आप की इंटर्नशिप ख़त्म हो जाती है तो उसके बाद आपको उस कंपनी या फिर इंस्टिट्यूट से इंटर्नशिप का सर्टिफिकेट और एक्सपीरियंस लेटर प्राप्त करना होता है। जो की काफी आवश्यक होता है। आप सभी को यह बभी बता दे की इस सर्टिफिकेट के बहुत से लाभ होते है। इसकी मदद से विद्यार्थी को आगे जाकर नौकरी पाने में आसानी होती है। जब आप किसी बड़ी कंपनी में इंटरव्यू देने के लिए जाएंगे तब आपको इसकी आवश्यकता पढ़ सकती है। इसकी मदद से सिलेक्टर आपके अनुभव के बारे में जान सकेंगे। आप सभी को यह भी बता दे की कॉलेज में कुछ कोर्स ऐसे भी होते है जिसमे इंटर्नशिप करना अनिवार्य होता है। उन कोर्स का नाम कुछ इस प्रकार है – MBA में, BBA में , MBBS आदि जैसे कई कोर्स।

इंटर्नशिप का मुख्य लाभ यह होता है की इसकी मदद से विद्यार्थियों को उस चीज का अनुभव प्राप्त होता हैं जिनके बारे में उन्होंने अब तक केवल किताबों में ही पढ़ा होता है। आप सभी को यह भी बता दे की पढ़ने में असल में सीखने में काफी अंतर होता है। जो विद्यार्थी किसी चीज को अनुभव करते है उनको उस बारे में काफी जानकारी प्राप्त हो जाती है। जिसका उन सभी को लाभ प्राप्त होता है। अगर जानकर उन विद्यार्थियों को उस इंटर्नशिप का लाभ प्राप्त होता है उनको नौकरी पाने में आसानी होती है।

इंटर्नशिप के कितने प्रकार है ?

तो दोस्तों आप सभी को यह भी बता दे की इंटर्नशिप कई प्रकार की होती है। जिसके बारे में हम आप सभी को यहाँ पर बताने वाले है। तो अगर आप भी इसके प्रकार के बारे में जानना चाहते है। तो कृपया दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़े। आप सभी को यह भी बता दे की मुख्य तौर पर इंटर्नशिप के 5 प्रकार होते है जिनके बारे में हमने आपको यहाँ पर बताया है।

  1. वर्क रिसर्च
  2. Paid इंटर्नशिप
  3. वर्चुअल इंटर्नशिप
  4. Unpaid इंटर्नशिप
  5. समर इंटर्नशिप
  • वर्क रिसर्च – तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की इस प्रकार की इंटर्नशिप बूत से विद्यार्थी करते है। इस इंटर्नशिप के अंतर्गत सभी विद्यार्थियों को अपने इंस्टिट्यूट या फिर कंपनी के ऊपर रिसर्च करनी होती है। फिर विद्यार्थी को उसकी रिसर्च रिपोर्ट तैयार करनी होती है। इस इंटर्नशिप को विद्यार्थियों को अपने ग्रेजुएशन के तीसरे वर्ष में करनी होती है।
  • Paid internship – इंटर्नशिप करने का यह प्रकार अधिकतर विद्यार्थियों को पसंद आता है। क्योंकि इस प्रकार की यानि के Paid internship में विद्यार्थियों को एक्सपीरियंस परैत करने के साथ साथ उनको उस कार्य को सीखने के पैसे भी मिलते है। परन्तु इस प्रकार की इंटर्नशिप आप सभी को अधिकतर बड़ी व प्राइवेट कंपनियों में देखने को मिलेगी। इसके साथ साथ आप सभी को यह बता दे की वैसे तो इस इंटर्नशिप में मिलने वाले पैसों को स्टाइपेंड के नाम से भी जाना जाता है। इस इंटर्नशिप में अधिक स्टाइपेंड नहीं मिलता है परन्तु इस इंटर्नशिप से मिलने वाले स्टाइपेंड से आपको जेब खर्च और गुजारा हो जाता है।
  • Virtual internship – इस प्रकार की इंटर्नशिप भी लोगो को काफी पसंद होती है। क्योंकि इस प्रकार की Internship में लोगो को कही पर भी जाने की आवश्यकता नहीं होती है। इसको आप ऍबे घर पर बैठे बैठे कर सकते है। इसके लिए आपको केवल अच्छे इंटरनेट कनेक्शन की आवश्यकता और लैपटॉप की आवश्यकता और एक समर्टफोन की आवश्यकता होती है। आप सभी को यह भी बता दे की इस प्रकार की इंटर्नशिप लोखड़ौन के समय में लोगो के बीच में काफी पॉपुलर हो गयी थी क्योंकि लोकदवन के समय में कोई भी कही पर भी नहीं जा सकता था। इसलिए लोग इसको घर पर बैठे बैठे कर सकते थे।
  • Unpaid internship – किसी भी विद्यार्थी को इस प्रकार की इंटर्नशिप बड़े ही आसानी से मिल जाती है। इस प्रकार की इंटर्नशिप के अंतर्गत विद्यार्थी को केवल अनुभव प्राप्त होता है इसमें उसको कोई भी पैसा नहीं मिलता है। यानि के इसमें आपको कुछ सीमित समय के लिए इंटर्नशिप करनी होगी उसके बाद आपको वह संस्थ या फिर कंपनी आपको इंटर्नशिप के अनुभव का सर्टिफिकेट भेज देगी। इसकी मदद से आपको अनुभव तो प्राप्त होगा परन्तु इसमें आपको कोई भी पैसा नहीं प्राप्त होगा।
  • Summer internship – इस इंटर्नशिप के बारे में भी आप सभी जानते होंगे। क्योंकि इसके नाम से ही आपको इसका पता चल गया होगा क्योंकि इस इंटर्नशिप को समर इंटर्नशिप कहते है इसका मतलब यह इंटर्नशिप गर्मियों में की जाती है। जब विद्यार्थियों की गर्मियों की छुट्टियां पढ़ती है तब कुछ स्टूडेंट इस प्रकार की इंटर्नशिप ज्वाइन कर लेते है। यह इंटर्नशिप पार्ट टाइम व फुल टाइम दोनों ही प्रकार की हो सकती है।

इंटर्नशिप के लाभ क्या है | What are the benefits of internship?

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर इंटर्नशिप के कुछ लाभ के बारे में बताने वाले है। तो दोस्तों अगर आप भी इसके लाभ के बारे में जानना चाहते है तो कृपया करके दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़े।

  • तो दोस्तों इंटर्नशिप करने का मुख्य लाभ होता है की इंटर्नशिप की मदद से विद्यार्थियों को अनुभव प्राप्त होता है। जो की आगे जाकर उनको बहुत ही लाभ प्रदान करता है। क्योंकि अनुबभाव की मदद से उनको नौकरी प्राप्त करने में आसानी होगी।
  • इंटर्नशिप करने का दूसरा लाभ यह है की इसकी मदद से विद्यार्थियों को शिक्षा व अनुभव प्राप्त करने के साथ साथ उनको पैसा कमाने का मौका मिल पाटा है। जिसकी मदद से उनका जेब खर्च निकल सकता है। जो की उनको काफी लाभ प्रदान करता है।
  • इंटर्नशिप करने से विद्यार्थियों को आगे जाकर नौकरी प्राप्त करने में काफी आसानी होती है। क्योंकि उनको नौकरी करने का कुछ एक्सपीरियंस इंटर्नशिप करते वक़्त प्राप्त हो जाता है।
  • जब कोई भी विद्यार्थियों को इंटर्नशिप करने का मौका मिलता है तो उस समय उस विद्यार्थी को अपने अंदर की कमियों को पहचानने का मौका प्राप्त होता और उसके साथ साथ उनको नई चीजें भी सीखने को मिलती है।

इससे सम्बंधित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर

इंटर्नशिप क्‍या है ?

जब कोई व्यक्ति कुछ सीमित समय के लिए कही पर नौकरी करता है उसी को इंटर्नशिप कहा जाता है। यानि के अगर जब आप अपना कॉलेज को पूर्ण करने के पश्चात या फिर अपने कॉलेज के थर्ड ईयर के समय में कुछ समय के लिए किसी कंपनी में या फिर किसी इंस्टिट्यूट में 6 महीने या फिर उससे भी कम समय के लिए नौकरी करते है ताकि आपको उसका अनुभव मिल सके उसी को इंटर्नशिप कहा जाता है।

Internship Meaning in Hindi ?

इंटर्नशिप को हिंदी में प्रशिक्षुता के नाम से भी जाना जाता है

इंटर्नशिप का मुख्य लाभ क्या होता है ?

तो दोस्तों इंटर्नशिप करने का मुख्य लाभ होता है की इंटर्नशिप की मदद से विद्यार्थियों को अनुभव प्राप्त होता है। जो की आगे जाकर उनको बहुत ही लाभ प्रदान करता है। क्योंकि अनुबभाव की मदद से उनको नौकरी प्राप्त करने में आसानी होगी।

इंटर्नशिप के कितने प्रकार है ?

इंटर्नशिप के 5 प्रकार होते है जिनके बारे में हमने आपको यहाँ पर बताया है।
1. वर्क रिसर्च
2.Paid internship
3.Virtual internship
4.Unpaid internship
5.Summer internship

Leave a Comment

Join Telegram