सुपर ओवर (Super Over) क्या है | क्रिकेट में सुपर ओवर कब होता है | नियम | पूरी जानकारी

तो दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते हैं कि हमारे देश में वैसे तो बहुत से खेल खेले जाते हैं परंतु हमारे देश में सबसे अधिक देखें जाने वाला खेल है क्रिकेट। जी हां दोस्तों भारत में क्रिकेट सबसे अधिक देखे जाने वाला खेल है अधिकांश भारतीय क्रिकेट को देखना पसंद करते हैं। यहां तक कि देश के बच्चे बच्चे भी क्रिकेट देखना पसंद करते हैं। यहां तक कि बहुत से देशों में क्रिकेट देखना बहुत लोगों को पसंद होता है तो दोस्तों क्या आपको भी क्रिकेट देखना पसंद है। तो फिर आप सभी क्रिकेट के बहुत से नियमों के बारे में तो जानते ही होंगे। जैसा की आप सभी जानते है की क्रिकेट बहुत से फॉर्मेट में खेला जाने वाला खेल है। तो फिर आप सभी ने वनडे और टी-20 मैच में सुपर ओवर का नाम तो सुना ही होगा। तो क्या आपने कभी सुपर ओवर सुना है और तो क्या आप जानते हैं कि सुपर और क्या होता है अगर नहीं

सुपर ओवर (Super Over) क्या है | क्रिकेट में सुपर ओवर कब होता है | नियम | पूरी जानकारी
Super Over क्या है

तो दोस्तों अब आपको चिंता करने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि आज हम आप सभी को इस लेख के जरिए सुपर ओवर के बारे में बहुत ही जानकारी प्रदान करने वाले हैं जैसे कि सुपर क्या होता है और यह कब होता है ऐसी जानकारी दो दोस्तों अगर आप भी इस प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो उसके लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अन्य तक पढ़ना होगा क्योंकि इस लेख में ही हमने इससे संबंधित जानकारी प्रदान की हुई है जिसको पढ़ने से ही आपके बारे में जान सकेंगे तो इसलिए कृपया करके हमारे इसलिए को अवश्य पढ़ें।

इसपर भी गौर करें :- Mankading क्‍या है- मांकडिंग नियम

सुपर ओवर क्या है | What is Super Over?

तो दोस्तों आप सभी को यह बता दें कि जब भी क्रिकेट में वनडे या फिर टी-20 मैच होता है तो कई बार ऐसी स्थिति आ जाती है जिसमें दोनों टीमों के रन बराबर हो जाते हैं जिसको टाई भी बोला जाता है। तो टाई की स्थिति में दोनों टीमों को एक और ओवर खेलना होता है और उसी ओवर को सुपर ओवर के नाम से जाना जाता है। जो टीम सुपर ओवर मैं अधिक रन बना लेती है वही टीम विजेता बनती है।

इसके साथ-साथ आप सभी को यह भी बता दें कि अगर कभी ऐसी स्थिति होती है कि दोनों टीमों ने Super Over में भी बराबर रन बनाए हो जाने के सुपर ओवर में भी मैच टाई हो गया हो तो ऐसी स्थिति में जो भी टीम अधिक चौके लगाती है उसी टीम को विजेता माना जाता है यानी कि वही टीम विजेता कहलाती है।

Super Over कब होता है ?

दोस्तों आप सभी को यह बता देगी सुपर व उसी स्थिति में होता है जब कभी भी 2 टीम का बराबर स्कोर हो जाता है और वह मैच टाई हो जाता है। तब ऐसी स्थिति में किसी को विजेता घोषित करना गलत होगा इसलिए Super Over कराया जाता है और उस Super Over में जो भी टीम अधिक रन बनाती है उस टीम को उस मैच का विजेता घोषित कर दिया जाता है।

सुपर ओवर के कुछ नियम | Some rules of super over

दोस्तों आप सभी को यहां पर सुपर ओवर के कुछ नियम के बारे में बताने वाले हैं तो घर आप भी इसके नियम जाना चाहते हैं तो दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़ें।

  • Super Over तब ही कराया जाता है जब दोनों टीम के रन बराबर हो यानी के मैच टाई हो जाए तो सुपर ओवर की मदद से ही विजेता का पता चलता है कि कौन सी टीम विजेता है।
  • सुपर ओवर के दौरान केवल तीन ही बैट्समैन बैटिंग कर सकते हैं और उन बैट्समैन का नाम पहले ही घोषित करना होता है।
  • अगर सुपर ओवर में भी दोनों टीमों में टाई हो जाता है तो उस टीम को विजेता घोषित किया जाता है जिस टीम ने मैच में अधिक चौके या छक्के लगाए हो।
  • Super Over के दौरान कोई एक खिलाड़ी कभी भी बैटिंग और बॉलिंग दोनों कार्य एक साथ नहीं कर सकता यानी के एक खिलाड़ी केवल एक ही कार्य कर सकता है या तो बैटिंग या फिर बोलिंग।
  • जो रन Super Over में बनाए जाते हैं उनको गिना नहीं जाता है। यानी के बैट्समैन के रनों में उसको रिकॉर्ड नहीं किया जाता है

सुपर ओवर से संबंधित कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

सुपर ओवर क्या है

जब भी क्रिकेट में वनडे या फिर टी-20 मैच होता है तो कई बार ऐसी स्थिति आ जाती है जिसमें दोनों टीमों के रन बराबर हो जाते हैं जिसको टाई भी बोला जाता है। तो टाई की स्थिति में दोनों टीमों को एक और ओवर खेलना होता है और उसी ओवर को सुपर ओवर के नाम से जाना जाता है। जो टीम सुपर ओवर मैं अधिक रन बना लेती है वही टीम विजेता बनती है।

Super Over कब खेला जाता है ?

जब दो टीमों के बीच में मैच टाई हो जाता है तो उस स्थिति में Super Over खेला जाता है।

सुपर ओवर में कितने बैट्समैन खेल सकते है ?

सुपर ओवर में केवल 3 ही बैट्समैन खेल सकते है उनकी घोषणा भी पहले ही करनी होती है।

अगर Super Over में टाई हो जाए तो क्या होता है ?

अगर सुपर ओवर में भी दोनों टीमों में टाई हो जाता है तो उस टीम को विजेता घोषित किया जाता है जिस टीम ने मैच में अधिक चौके या छक्के लगाए हो।

Leave a Comment