यूपी गौशाला योजना 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, लॉगिन व एप्लीकेशन स्टेटस

उतर-प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के गौशालाओ के बेहतर प्रबंधन और संचालन के लिए यूपी गौशाला योजना 2022 (Uttar Pradesh Gaushala Scheme-2022) शुरू की गयी है। इस योजना के द्वारा प्रदेश के गौशाला संचालक अपनी गौशाला का पंजीकरण करवा सकेंगे जिससे की उन्हें सरकार द्वारा आर्थिक सहायता और गौशाला के बेहतर प्रबंधन के लिए प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। इस योजना से प्रदेश में चल रही गौशालाओ को लाभ होगा साथ ही उन्हें अन्य प्रकार से भी सहायता प्रदान की जाएगी। आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की यूपी गौशाला योजना 2022 (UP Gaushala Yojana) क्या है ? इसका लाभ, उद्देश्य, पात्रता और आवश्यक दस्तावेज क्या-क्या है ? साथ ही इस लेख के माध्यम से आप योजना में रजिस्ट्रेशन और लॉगिन की प्रक्रिया से भी अवगत होंगे।

Uttar Pradesh Gaushala Scheme
Uttar Pradesh Gaushala Scheme

उतर-प्रदेश सरकार द्वारा अब गौशालाओ के बेहतर प्रबंधन के लिए उनका रजिस्ट्रेशन अनिवार्य किया गया है जिससे की सभी पशुओ को अच्छे से देखभाल की जा सके। साथ ही वैज्ञानिक तरीके से पशुओ की देखभाल, उनके स्वास्थ्य और उनके चारे का प्रबंधन करने के लिए भी गौशालाओ का पंजीकरण अनिवार्य है। इससे सरकार के पास प्रदेश के गौशालाओ को पूरी जानकारी रहेगी साथ ही सरकार द्वारा गौशालाओ के लिए लांच की जाने वाली योजनाओ को भी अच्छे से क्रियान्वयन किया जा सकेगा। सभी गौशाला संचालको को अपनी गौशाला का पंजीकरण ऑनलाइन माध्यम से करने की सुविधा प्रदान की गयी है ऐसे में वे घर बैठे ही गौशाला का पंजीकरण कर सकते है साथ ही उन्हें जन-सेवा केंद्र (Common Service Centre) के माध्यम से भी रजिस्ट्रेशन की सुविधा प्रदान की गयी है।

यूपी गौशाला योजना 2022,

नीचे दी गयी टेबल के माध्यम से आपको यूपी गौशाला योजना 2022 से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण बिन्दुओ की जानकारी दी गयी है।

योजना का नाम यूपी गौशाला योजना 2022
योजना का उद्देश्य प्रदेश की गौशालाओं का पंजीकरण
शुरू की गयी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा
सम्बंधित प्रदेश उत्तर-प्रदेश
वर्ष 2022
लाभ प्रदेश के सभी गौशालाओं का पंजीकरण किया जायेगा
क्रियान्वयन विभाग पशुपालन विभाग, उत्तर प्रदेश 
आधिकारिक वेबसाइट http://ahgoshalareg.up.gov.in/
आवेदन का माध्यम ऑनलाइन

UP Gaushala Yojana उद्देश्य

अक्सर देखा गया है की जब गाय दूध देना बंद कर देती है तो लोग उन्हें खुला छोड़ देते है या अन्य किसी अन्य कारण से भी उन्हें खुला छोड़ दिया जाता है। ऐसे में ये पशु बेसहारा होकर आवारा घूमते रहते है या दूसरों के खेत में घुस जाते है। साथ ही बीमार, घायल या असह्याय पशु भी चिकित्सा के अभाव में दम तोड़ देते है। ऐसे में उतर-प्रदेश सरकार द्वारा गौशालाओं के माध्यम से इन बेसहारा गायों के संरक्षण और इन्हे बेहतर जीवन देने के लिए यूपी गौशाला योजना 2022 (Uttar Pradesh Gaushala Scheme-2022) शुरू की गयी है जिसके तहत प्रदेश के सभी गौशालाओ का रजिस्ट्रेशन किया जायेगा। सरकार द्वारा इस योजना का सञ्चालन उतर-प्रदेश गौशाला अधिनियम-1964 (Uttar Pradesh Gaushala Act, 1964) के तहत किया जा रहा है जिसके अंतर्गत प्रदेश की सभी गौशालाओ का पंजीकरण किया जायेगा।

गौशालाओ के पंजीकरण से उन्हें सरकार द्वारा संचालित की जा रही विभिन योजनाओ का लाभ मिलेगा साथ ही उन्हें आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी। इसके अतिरिक्त इस योजना के द्वारा पशुओ के चारे, उनकी देखभाल और टीके सम्बंधित रखरखाव भी आसानी से किये जा सकेंगे। साथ ही योजना के माध्यम से पशुओ के बेहतर चिकत्सा की व्यवस्था भी की जाएगी।

ये है योजना के लाभ

Uttar Pradesh Gaushala Scheme-2022 के तहत प्रदेश की गौशालाओं के पंजीकरण से गायो की बेहतर देखभाल की जा सकेगी साथ ही गौशाला को अन्य लाभ भी प्रदान किये जायेंगे। इस योजना के मुख्य लाभ इस प्रकार से है।

  • योजना के द्वारा प्रदेश की सभी गौशालाओं का पंजीकरण सुनिश्चित किया जायेगा।
  • प्रदेश के सभी गौशाला संचालक अपनी गौशालाओ का रजिस्ट्रेशन कर पाएंगे।
  • गौशाला के पंजीकरण से सरकार द्वारा गौशालाओ को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • सरकार द्वारा पशुधन के विकास के लिए संचालित और गौ-वंश की वृद्धि और संरक्षण के लिए चलायी जा रही सभी योजनाओ का लाभ इस योजना के माध्यम से प्राप्त किया जा सकेगा।
  • इस योजना में रजिस्ट्रेशन के माध्यम से सरकार के पास प्रदेश की गौशालाओ का पूरा विवरण उपलब्ध रहेगा जिससे की इनके लिए बेहतर योजनाएँ बनायी जा सकेंगी।
  • योजना के द्वारा गौ-वंश के संरक्षण और इनके बेहतर रख-रखाव सम्बंधित सभी सभी सुविधाओं का विकास किया जायेगा।
  • इस योजना के संचालन से गौ-वंशो को बेहतर आवास, चारा, पोषण और चिकित्सा सम्बंधित सभी सुविधाएँ प्राप्त हो सकेंगी।

ये है पंजीकरण के लिए आवश्यक पात्रताएँ

यूपी गौशाला योजना 2022 के तहत गौशाला के पंजीकरण के लिए निम्न पात्रताएं होना जरुरी है।

  • गौशाला का प्रदेश में होना आवश्यक है।
  • गौशाला के भूमि से सम्बंधित दस्तावेज लीगल होने चाहिए।
  • गौशाला का प्रदेश के गौशाला अधिनियम 1964 के अनुसार सभी परिभाषाओं पर खरा उतरना चाहिए।
  • इस योजना के तहत गौशाला के पंजीकरण के लिए आवश्यक है गौशाला में सभी गौ-वंशो का विवरण-पत्र उपलब्ध हो।
  • साथ ही योजना में पंजीकरण के लिए जरूरी है की गौशाला के आय-व्यय और अन्य खर्चो का पूरा विवरण सही हो।
  • गौशाला के रजिस्ट्रेशन के लिए जरुरी है की वह सरकार द्वारा गौशालाओ के लिए निर्धारित मानकों के जिसमे पशुओ के रजिस्ट्रेशन, विवरण, पशुओ का चारे, रखरखाव, और पशुओं के चिकित्सा सम्बंधित सभी मानकों को पूरा करता हो।

यूपी गौशाला योजना 2022, ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

यूपी गौशाला योजना 2022 के तहत गौशाला का पंजीकरण करने के लिए आपको इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

  • सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट http://ahgoshalareg.up.gov.in/ पर जाएँ। यहाँ आपको कुछ इस तरह का इंटरफ़ेस दिखाई देगा।
UP Gaushala Scheme
UP Gaushala Scheme
  • इसके बाद होमपेज पर आपको नीचे स्क्रॉल करने पर आपको Registration का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक करें।
UP Gaushala Scheme Registration
UP Gaushala Scheme Registration
  • इसके बाद योजना का आवेदन फर्म खुल जायेगा। इसमें मांगी गयी सभी जानकारी दर्ज करके इसे सबमिट कर दे।
UP Gaushala Scheme Registration Submission
UP Gaushala Scheme Registration Submission
  • इसके बाद आपको User ID और पासवर्ड प्रदान किया जायेगा। इसकी मदद से लॉगिन कर दे।
  • अब लॉगिन करने के बाद योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म आपके सामने खुल जायेगा। इसमें मांगी सभी जानकारियाँ भर दे।
  • साथ ही दस्तावेज भी अपलोड कर दे। अन्य औपचारिकतायें पूरी करने के बाद आप इसे सबमिट कर सकते है।
  • इस प्रकार से आप योजना के अंतर्गत गौशाला का पंजीकरण कर सकते है।

इन आसान से स्टेप्स से आप यूपी गौशाला योजना 2022 के अंतर्गत ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकते है। इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन नंबर प्रदान किया जायेगा। इसे भविष्य के लिए सुरक्षित कर ले। रजिस्ट्रेशन नंबर की मदद से आप रजिस्ट्रेशन स्टेटस चेक कर सकते है।

ये है लॉगिन करने का प्रोसेस

पोर्टल पर लॉगिन करके के लिए आपको इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

  • सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट http://ahgoshalareg.up.gov.in/ पर जायें।
UP Gaushala Scheme
UP Gaushala Scheme
  • होमपेज पर आपको log in का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे।
UP Gaushala Scheme.login
UP Gaushala Scheme.login
  • अगले पेज पर आप यूजरनेम और पासवर्ड दर्ज करके Submit के ऑप्शन पर क्लिक कर दें।
UP Gaushala Scheme.login.Submission
UP Gaushala Scheme .login. Submission
  • इस प्रकार से आप पोर्टल पर log in कर सकते है।

ये सेवाएँ भी है उपलब्ध

यूपी गौशाला योजना 2022 के तहत प्रदेश सरकार द्वारा आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन और log in के अतिरिक्त रजिस्ट्रेशन का स्टेटस चेक करने की सुविधा भी प्रदान की गयी है। इसके लिए होमपेज पर जाकर Registration Status के ऑप्शन पर क्लिक कर ले। इसके बाद रजिस्ट्रेशन नंबर की मदद से आवेदन की स्थिति की जांच की जा सकती है। इसके अलावा पोर्टल पर Appeal to Authority के माध्यम से आप अपना फीडबैक भी दे सकते है। साथ ही पोर्टल पर उतर-प्रदेश राज्य के पशुधन विभाग के अन्तर्गत पंजीकृत गोशालाओं की सूची भी देखी जा सकती है। इसके अतिरिक्त पोर्टल पर Attachment की सुविधा भी दी गयी है जिसके माध्यम से गौशाला संचालक योजना में रजिस्ट्रेशन के लिए सभी महत्वपूर्ण फॉर्मेट को डाउनलोड कर सकते है।

यूपी गौशाला योजना 2022 से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल और उनके जवाब (FAQ)

यूपी गौशाला योजना 2022 क्या है ?

यूपी गौशाला योजना 2022 उतर-प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के गौशालाओं के पंजीकरण के लिए शुरू की गयी है। इससे प्रदेश के सभी गौशालाओ का पंजीकरण किया जा सकेगा।

इस योजना के क्या लाभ है ?

योजना के द्वारा प्रदेश के सभी गौशालाओं का पंजीकरण किया जायेगा जिससे की इन गौशालाओ का बेहतर प्रबंधन किया जा सकेगा। साथ ही योजना द्वारा पंजीकृत गौशालाओ को सरकार द्वारा संचालित विभिन योजनाओ का लाभ भी मिल सकेगा। इस योजना से सरकार के पास प्रदेश की गौशालाओं का पूरा विवरण उपलब्ध रहेगा।

इस योजना में गौशाला का रजिस्ट्रेशन कैसे करे ?

अगर आप भी यूपी गौशाला योजना 2022 के तहत गौशाला का पंजीकरण करवाना चाहते है तो ऊपर दिए गए लेख को ध्यान से पढ़े। इसमें बताये गए स्टेप्स को फॉलो करके आप गौशाला का रजिस्ट्रेशन कर सकते है।

क्या कोई भी नागरिक इसमें अपनी गौशाला का रजिस्ट्रेशन करवा सकता है ?

योजना के अंतर्गत उतर-प्रदेश के गौशाला संचालक ही अपनी गौशाला का रजिस्ट्रेशन इस योजना के अंतर्गत करवा सकते है। साथ ही इसके लिए आपको सरकार द्वारा तय किये गए अन्य मानक भी पूरे करने होंगे।

Leave a Comment