एसएचओ (SHO) फुल फॉर्म क्या है | SHO Ki Full Form Kya Hai ?

एसएचओ स्थानीय पुलिस स्टेशन का प्रमुख या प्रभारी व्यक्ति होता है। वह पुलिस स्टेशन की गतिविधियों की निगरानी करता है और अपने क्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए जिम्मेदार है। उन्हें एसआई (सब इंस्पेक्टर) से ऊपर लेकिन डीएसपी (डिप्टी पुलिस सुपरिंटेंडेंट) से नीचे रैंक किया गया है। विभाजन के लिए उनका प्रतीक उनके कंधे की पट्टी पर तीन सितारे और नीले और लाल रंग का धारीदार रिबन है। कांस्टेबल, हेड कांस्टेबल और एसआई का एक समूह उसके अधीन काम करता है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से एसएचओ फुल फॉर्म एवं उससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी को साझा करने जा रहे है। SHO से संबंधी जानकारी को इस लेख में विस्तार से दिया गया है।

एसएचओ (SHO) फुल फॉर्म क्या है | SHO Ki Full Form Kya Hai ?
एसएचओ (SHO) फुल फॉर्म क्या है

SHO Ki Full Form Kya Hai ?

एसएचओ (SHO) फुल फॉर्म क्या है -एसएचओ का फुल फॉर्म “Station House Officer”स्टेशन हाउस ऑफिसर) होता है । SHO का पूरा नाम हिंदी में पुलिस निरीक्षक होता है। एसएचओ को स्टेशन इंचार्ज भी कहा जाता है। SHO पद में तैनात अधिकारी के पास क़ानूनी रूप से पुलिस स्टेशन की ओर से अनुमति दी जाती है ,यह क़ानूनी व्यवस्था बनाये रखने के लिए विशेष रूप से अपना योगदान देते है। SHO के पास अपने क्षेत्र में व्यवस्था बनाये रखने के लिए सभी अधिकार प्राप्त होते है। स्टेशन हाउस अधिकारी की वर्दी में 3 स्टार की पट्टी लगी होती है।

डीएम का फुल फॉर्म क्या होता है

एसएचओ (SHO) के कर्तव्य

  • कानून एक स्टेशन हाउस अधिकारी को भारत में आपराधिक जांच करने और पुलिस स्टेशन की ओर से अदालत में उपस्थित होने की अनुमति देता है।
  • SHO भारतीय पुलिस का हिस्सा बनना भारत के सबसे सम्मानित पदों में से एक माना जाता है।
  • वह पुलिस स्टेशन की गतिविधियों की देखरेख करता है और अपने क्षेत्र में कानून और व्यवस्था के संरक्षण के लिए जिम्मेदार है।
  • एसआई परीक्षा केंद्र या राज्य सरकार द्वारा खाली सब इंस्पेक्टर पदों को आवंटित करने के लिए प्रशासित की जाती है।

Inspector और SHO में क्या अंतर होता है – Difference Between Inspector And SHO?

किसी कोतवाली या थाने के मुखिया को SHO यानि “Station House Officer” कहा जाता है। जो थाने में सबसे ऊँचा पद होता है। इनकी वर्दी पर एक लाल और नीली पट्टी होती है जिस पर 3 स्टार लगे होते हैं। इनकी मुख्य रैंक इंस्पेक्टर की होती है, कभी-कभी सब-इंस्पेक्टर को भी थाना इंचार्ज यानि SHO बना दिया जाता है।

एसएचओ की अन्य फुल फॉर्म एसएचओ (SHO)

SHOStation House Officer
SHOSuper High Output
SHOSuper Hub Officer
SHOSenior Health Officer

SHO Police Officer Salary

स्टेशन हॉउस ऑफिसर को 27 हजार रूपए से 1 लाख 4 हजार 4 सौ रूपए के बीच में सैलरी प्रदान की जाती है। नीचे सूची में पुलिस विभाग में तैनात सभी कर्मचारी नागरिकों को उनके पद के अनुसार वेतन का विवरण दिया गया है।

सभी पुलिस अधिकारी वेतन की सूची

Post Name salary monthly
Assistant Sub Inspector (ASI)
सहायक उप निरीक्षक (एएसआई)
60600 RS month
सब इंस्पेक्टर वायरलेस ऑपरेटर27900 – 1,04,400 रूपए प्रतिमाह
सब इंस्पेक्टर (रेडियो टेक)27900 – 1,04,400 रूपए प्रतिमाह
सब इंस्पेक्टर (स्टोरमैन टेक)27900 – 1,04,400 रूपए प्रतिमाह
Inspector
निरीक्षक
27900 – 1,04,400 + Grade रूपए प्रतिमाह
सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी)46800 – 1,17,300 + Grade रूपए प्रतिमाह
पुलिस उपायुक्त (डीसीपी)46800 – 1,17,300 + Grade रूपए प्रतिमाह
भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस)46800 – 1,17,300 + Grade रूपए प्रतिमाह
Special Commissioner of Police
विशेष पुलिस आयुक्त
1,12,000 – 2,01,000 रूपए प्रतिमाह
Deputy Inspector General (DIG)
उप महानिरीक्षक (डीआईजी)
2,01,000 रूपए प्रतिमाह
Inspector General (IG)
महानिरीक्षक (आईजी)
1,12,000 – 2,01,000 रूपए प्रतिमाह
Additional Director General (ADG)
अतिरिक्त महानिदेशक (एडीजी)
2,05,400 रूपए प्रतिमाह

एसएचओ (SHO) से संबंधित प्रश्न उत्तर

SHO का पूरा नाम क्या है ?

SHO का पूरा नाम station house officer है इसे हिंदी में स्टेशन हाउस अधिकारी कहा जाता है।

एसएचओ और इंस्पेक्टर में क्या अंतर है?

एसएचओ और इंस्पेक्टर के बीच मुख्य अंतर यह है कि एसएचओ का रैंक इंस्पेक्टर के रैंक से कम होता है,और मेट्रो शहरों में, एसएचओ एक पुलिस इंस्पेक्टर होता है जबकि छोटे शहरों में एक पुलिस सब-इंस्पेक्टर भी एसएचओ हो सकता है। 

SHO के कार्य होते है ?

स्टेशन हाउस अधिकारी का मुख्य कार्य होता है पुलिस थाने से संबंधित सभी कार्यों का करना साथ ही अपने क्षेत्र में क़ानूनी व्यवस्था बनाये रखने की सबसे बड़ी जिम्मेदारी SHO अधिकारी के पास होती है।

एसएचओ के पद में तैनात अधिकारी का वेतन कितना होता है ?

एसएचओ के पद में तैनात अधिकारी को 27000 से 1,04,400 रुपये तक का वेतन प्रदान किया जाता है।

स्टेशन हाउस अधिकारी की वर्दी पट्टी में कितने स्टार होते है ?

स्टेशन हाउस अधिकारी की वर्दी पट्टी में 3 स्टार होते है

Leave a Comment