आरएसएस (RSS) का फुल फॉर्म क्या है | RSS Ka Pura Naam Kya hai ?

आज इस लेख में हम आपको RSS की फुल फॉर्म के विषय में बताएंगे। वर्तमान में भारत का सबसे प्रमुख एवं बड़ा संगठन RSS है। इस संगठन में कोई भी हिन्दू व्यक्ति सदस्य बन सकता है। सभी स्वयंसेवक अपना परिचय देते हुए कहते है- मैं एक सामान्य स्वयंसेवक हूँ। इस लेख में हम आपको बतायेंगे कि आरएसएस (RSS) का फुल फॉर्म क्या है और इसका क्या अर्थ है, RSS की स्थापना कब हुई ? आरएसएस का इतिहास क्या है ? इन सभी के विषय में विस्तारपूवर्क जानकारी देंगे। RSS ki full Form kya hai ? आरएसएस ज्वाइन कैसे करें ? RSS Ka Pura Naam Kya hai इससे संबंधित जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को ध्यानपूर्वक पूरा अंत तक पढ़िए।

आईएएस का फुल फॉर्म क्या है – Full Form of IAS in Hindi 

आरएसएस (RSS) का फुल फॉर्म क्या है | RSS Ka Pura Naam Kya hai ?
आरएसएस (RSS) का फुल फॉर्म क्या है?

आरएसएस (RSS) का फुल फॉर्म क्या है ?

आरएसएस (RSS) का पूरा नाम Rashtriya Swayemsewak Sangh है।आरएसएस को हिंदी में ‘राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ’ कहा जाता है। आपको बता दें संघ से आशय सभा, संगठन या समुदाय से है। RSS भारत का एक अर्धसैनिक, हिन्दू राष्ट्रवादी और स्वयंसेवक संगठन है। आरएसएस को बीजेपी का पैतृक संगठन माना जाता है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ RSS नाम से अधिक प्रख्यात है। देश के अधिकतर लोग इस संगठन को आरएसएस के नाम से ही जानते है।

RSS का पूरा नाम क्या है

उम्मीदवार ध्यान दें यहाँ हम आपको आरएसएस से संबंधित कुछ विशेष जानकारी के विषय में बताने जा रहें है। इन जानकारियों को आप नीचे दी गयी सारणी के माध्यम से प्राप्त कर सकते है –

आर्टिकल का नाम आरएसएस (RSS) का फुल फॉर्म क्या है
साल 2021
संगठन का नाम राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ
स्थापना की तिथि 27 सितंबर 1925
वैधानिक स्थिति सक्रिय
मुख्यालय नागपुर, महाराष्ट्र, भारत
आधिकारिक वेबसाइट लिंक www.rss.org

RSS की स्थापना कब हुई ?

आरएसएस (राष्टीय स्वयंसेवक संघ) की स्थापना 27 सितंबर 1925 को विजयदशमी के दिन केशव बलिराम हेडगेवार के द्वारा की गयी थी। आपको बता दें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मुख्यालय नागपुर, महाराष्ट्र, भारत में स्थित है। भारत के सार्वजनिक जीवन में आज के समय में आरएसएस को एक सबसे बड़े कर्म आंदोलन के रूप में देखा जाता है। आरएसएस की शाखाएं देश के प्रत्येक कोने में लगती है, चाहिए वह कोई भी राज्य, क़स्बा क्यों न हो।

आरएसएस ज्वाइन कैसे करें ?

देश के बहुत से बच्चे व युवा आरएसएस ज्वाइन करना चाहते है, लेकिन कुछ युवाओं को लगता है, आरएसएस ज्वाइन करना बहुत कठिन है। आपको बता दें RSS ज्वाइन करने के लिए आपको कुछ विशेष पात्रता की आवश्यकता नहीं है 18 साल से कम उम्र के छात्रों के लिए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम चलायें जा रहें है जिनमें बालकों को स्वयंसेवक संघ से जोड़ने का कार्य किया जाता है। इनके माध्यम से आप राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ज्वाइन कर सकते है। संघ की पूरी प्रार्थना संस्कृत भाषा में लिखी गयी है लेकिन प्रार्थना की अंतिम लाइन हिंदी भाषा में लिखी गयी है। एक अनुमान के अनुसार इस समय देश में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की 30 हजार से अधिक शाखाएं है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंचालकों की लिस्ट

नीचे दी गयी सारणी के माध्यम से हम आपको राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंचालकों की सूची उपलब्ध करने जा रहें है। जिनके विषय में आप नीचे दी गयी सारणी के माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते है –

डॉ केशव बलिराम हेडगेवार
मधुकर दत्तात्रय देवरस
माधव सदाशिवराव गोलवलकर
प्रो राजेंद्र सिंह
कृपाहल्ली सीतारमैया सुदर्शन
डॉ मोहनराव मधुकरराव भागवत

RSS Full Form in Hindi Faq

हिंदी में आरएसएस की फुल फॉर्म क्या है ?

हिंदी में आरएसएस की फुल फॉर्म राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ है।

आरएसएस क्या है ?

RSS एक संगठन का नाम है।

Rashtiya Swayemsevak Sangh (RSS) की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

RSS की आधिकारिक वेबसाइट www.rss.org है। इस वेबसाइट का लिंक हमने आपको अपने इस लेख में उपलब्ध करा दिया है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की वैधानिक स्थिति क्या है ?

Rashtiya Swayemsevak Sangh की वैधानिक स्थिति सक्रिय है।

आरएसएस की स्थापना कब हुई थी ?

27 सितंबर 1925 को आरएसएस की स्थापना की गयी थी।

संघ क्या अर्थ क्या है ?

संघ का अर्थ समुदाय, सभा या संगठन से है।

RSS के संस्थापक कौन थे ?

केशव बलिराम हेडगेवार आरएसएस के संस्थापक थे।

इंग्लिश में आरएसएस की फुल फॉर्म क्या है ?

इंग्लिश में RSS की फुल फॉर्म Rashtriya Swayemsevak sangh है।

RSS का मुख्यालय कहाँ है ?

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मुख्यालय नागपुर, महाराष्ट्र, भारत में है।

RSS का सदस्य कौन बन सकता है ?

कोई भी हिन्दू व्यक्ति आरएसएस का सदस्य बन सकता है।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंचालकों के नाम बताइये ?

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंचालकों के नाम इस प्रकार है- कृपाहल्ली सीतारमैया सुदर्शन, डॉ केशव बलिराम हेडगेवार, प्रो राजेंद्र सिंह, डॉ मोहनराव मधुकरराव भागवत, मधुकर दत्तात्रय देवरस, माधव सदाशिवराव गोलवलकर।

जैसे कि इस लेख में हमने आपको RSS Ka Pura Naam Kya hai 2021 से संबंधित समस्त जानकारी प्रदान की है, यदि आपको इससे सम्बंधित कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर मैसेज करके पूछ सकते है। आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी से सहायता मिलेगी।

यह भी पढ़े :-

Leave a Comment