RAM और ROM का फुल फॉर्म क्या है? – RAM & ROM full form

RAM ROM full form:- अगर आप इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जैसे कंप्यूटर, लैपटॉप और स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते है तो आपने भी अकसर RAM और ROM के बारे में सुना होगा। किसी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जिसमे मेमोरी से सम्बंधित कार्य होता है जैसे PC या मोबाइल फ़ोन को खरीदने से पहले हम इसकी RAM भी चेक करते है परन्तु क्या आपको पता है की RAM और ROM का फुल-फॉर्म क्या होता है। अगर नहीं तो आज हम आपको बताने वाले है की RAM और ROM का फुल-फॉर्म क्या होता है। साथ ही आपको आर्टिकल से RAM और ROM मेमोरी सम्बंधित ब्रीफ जानकारी भी प्रदान की जाएगी।

RAM and ROM full-form in Hindi
RAM and ROM full-form in Hindi

RAM और ROM का फुल फॉर्म – RAM ROM full form

कंप्यूटर में उपयोग की जाने वाली RAM की फुल फॉर्म होती है Random Access Memory जिसे की हिंदी में यादृच्छिक अभिगम मेमोरी (रैंडम एक्सेस मेमोरी) कहा जाता है। सरल शब्दो में कहे तो रैंडम तरीके से प्राप्त (Access) की जाने वाली मेमोरी को रैंडम एक्सेस मेमोरी कहा जाता है। वही अगर बात करें ROM की तो ROM की फुल-फॉर्म होती है Read Only Memory जिसे हिंदी में “केवल पठनीय मेमोरी” (रीड ओनली मेमोरी) कहा जाता है। इस प्रकार से आप समझ गये होंगे की RAM और ROM का फुल-फॉर्म क्या होता है।

RAM और ROM क्या है ?

RAM और ROM इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में उपयोग किये जाने वाली मेमोरी के प्रकार है। RAM यानी की रैंडम एक्सेस मेमोरी कंप्यूटर में उपयोग की जाने वाली प्राथमिक वोलेटाइल मेमोरी (Volatile Memory) है जिसका उपयोग मेमोरी को रैंडम क्रम में पढ़ने और बदलने के लिए किया जाता है। जैसे की इसके नाम से ही ज्ञात होता है की इस मेमोरी को रैंडम क्रम में एक्सेस किया जा सकता है। वही बात करें ROM की तो यह कंप्यूटर में उपयोग की जाने वाली नॉन-वोलेटाइल (Non-Volatile Memory) है अर्थात इसे कंप्यूटर द्वारा केवल पढ़ा जा सकता है परन्तु इसमें किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं किया जा सकता है। इसका नाम रीड ओनली मेमोरी से ही यह स्पष्ट होता है की इसे केवल रीड किया जा सकता है ना की इसमें किसी प्रकार का बदलाव किया जा सकता है।

RAM और ROM में अंतर

RAM और ROM दोनों की कंप्यूटर में उपयोग की जाने वाली मेमोरी के प्रकार है। RAM का उपयोग तभी किया जा सकता है जब तक की सिस्टम में एनर्जी की सप्लाई जारी रहती है। एनर्जी की सप्लाई बंद होने पर इसके माध्यम से डाटा का एक्सेस नहीं किया जा सकता है। साथ ही RAM एक ही समय में लोगो को विभिन टास्क करने की सुविधा प्रदान करता है जिसके कारण इसकी काम करने की स्पीड तेज होती है। वही ROM में संगृहीत डाटा एनर्जी सप्लाई बंद होने पर भी संगृहीत रहता है जो की कंप्यूटर में पहले से फीड रहता है। इस प्रकार से आपको आर्टिकल के माध्यम से RAM और ROM सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गयी है।

Leave a Comment