उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन व लाभ, PLI Yojana

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना 2022: केंद्र सरकार द्वारा 11 नवंबर 2022 को देश में औधोगिकी संस्थान में उत्पादन के क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की गई है, जिसके माध्यम देश में रोजगार के नए अवसर पैदा हो सकेंगे और घरेलू मैन्युफैचरिंग को बढ़ावा दिया जा सकेगा। इसके लिए योजना के अंतर्गत पाँच सालों में दो लाख करोड़ रूपये 10 प्रमुख क्षेत्रों में खर्च किए जाएँगे, जिससे औधोगिकी क्षेत्र में अधिक से अधिक निर्यात कर अन्य देशों से आयात की निर्भरता को करने का प्रयास किया जा सकेगा। इस लेख के माध्यम से हम आपको Utpadan Aadharit Protsahan Yojana क्या है और इससे देश में नागरिकों को क्या लाभ प्राप्त होगा और योजना में आवेदन के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी और इसमें किस तरह आवेदन किया जा सकेगा, इसकी विस्तृत जानकारी प्रदान करेंगे जिसके लिए आप लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना-Production-based-incentive-scheme-apply
उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना-Production-based-incentive-scheme-apply

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना (PLI Scheme) 2022

केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा द्वारा औद्योगिकी क्षेत्र में विकास के लिए विनिर्माण क्षमताओं और निर्यात पर जोर देकर देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए फार्मास्यूटिकल दवाइयाँ, ऑटो मोबाइल और ऑटो कंपोनेंट्स सहित दस प्रमुख उत्पादन आधारित प्रोत्साहन (Production Linked Incentives-PLI Scheme) योजना की शुरुआत की गई है, इस योजना के माध्यम से अर्थव्यवस्था के विकास होने से देश में रोजगार के अवसरों को बढ़ावा मिलेगा, जिससे बेरोजगारी की दरें कम हो सकेंगी। इस योजना के माध्यम से देश के 5 साल की प्रोत्साहन योजना से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लगभग 8 लाख नई नौकरियाँ पैदा होंगी, इसके साथ ही योजना से देश में इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का अधिक से अधिक उत्पादन किया जाएगा, जिससे बाहर से किए जाने वाले आयत को कम करने व देश में अधिक उत्पादनों का निर्यात कर प्रधानमंत्री जी के मेक इन इंडिया कैंपेन को बढ़ा दिया जा सकेगा और आत्मिर्भर भारत की सपने को पूरा किया जा सकेगा।

Utpadan Aadharit Protsahan Yojana : Details

योजना का नाम उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना
शुरू की गई केंद्र सरकार द्वारा
साल 2022
आरम्भ तिथि 11 नवंबर 2022
कुल बजट 2 लाख करोड़ रूपये
योजना के लाभार्थी देश के औधोगिकी क्षेत्र से जुड़े नागरिक
उद्देश्य देश में औधोगिकी संस्थान के उत्पादन को बढ़ावा
देकर रोजगार के अवसर बढ़ाना
आधिकारिक वेबसाइट जल्द जारी की जाएगी

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के लाभ एवं विशेषताएँ

  • केंद्र सरकार द्वारा देश में औद्योगीकरण के क्षेत्र में उत्पादन को बढ़ावा देने और रोजगार के अवसरों को पैदा करने के लिए उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना की शुरुआत की गई है।
  • PIL स्कीम की शुरुआत से सरकार ने घरेलू मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए 10 उत्पादन क्षेत्रों के लिए 2 लाख करोड़ रूपये के बजट को मंजूरी दी गई है।
  • इस योजना के तहत एप्पल, फॉक्सकॉन होन हाई और सैमसंग हाउस निर्माताओं द्वारा भ्रात में निवेश किया जाएगा।
  • योजना में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के तहत 16% भूमिका प्रदान की जाएगी।
  • पीएलए योजना के तहत 25% कॉरपोरेट टैक्स रेट में भी कटौती की जाएगी।
  • सरकार द्वारा योजना में आने वाले पाँच सालों में आने वाले पाँच सालों में अधिकतम 2 लाख करोड़ रूपये खर्च किए जाएँगे।
  • योजना के माध्यम से उयपादन के क्षेत्र में वृद्धि होने से देश में बेरोजगारी की समस्या कम हो सकेगी और रोजगार के अवसरों को बढ़ावा मिल सकेगा।
  • भारतीय निर्माताओं को PIL योजना के तहत विश्व स्तर पर प्रतियोगी बनाया जा सकेगा।
  • उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना के माध्यम से औद्योगीकरण के क्षेत्र को नया स्वरुप दिया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से देश में आयत को बढ़ावा देकर निर्यात को कम किया जा सकेगा, जिससे देश में औद्योगिक क्षेत्र में आत्मनिर्भरता को बढ़ावा दिया जा सकेगा।

योजना के तहत प्रत्येक सेक्टर को प्रदान किया जाने वाली धनराशि

PLI योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चयनित क्षेत्रों के लिए सरकार द्वारा अलग-अलग बजट निर्धारित किया गया है, जिसकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

क्रमांक सेक्टर्स बजट
1.ऑटोमोबाइल और ऑटो कंपोनेंट्स 57,042 करोड़ रूपये
2.एडवांस केमिस्ट्री सेल बैटरी 18,100 करोड़ रूपये
3.इलेक्ट्रॉनिक एंड टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट 5,000 करोड़ रूपये
4.स्पेशलिटी स्टील 6,322 करोड़ रूपये
5.फार्मास्यूटिकल ड्रग्स 15000 करोड़ रूपये
6.टेलीकॉम एंड नेटवर्किंग प्रोडक्ट 12,195 करोड़ रूपये
7.टेक्सटाइल उत्पाद 10,683 करोड़ रूपये
8.फ़ूड प्रोडक्ट्स 10,900 करोड़ रूपये
9.सोलर पीवी मॉड्यूल 4,500 करोड़ रूपये
10.वाइट गुड्स 6,238 करोड़ रूपये

PLI योजना में आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

योजना में आवेदन के लिए कुछ जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता होगी जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • मैन्युफैक्चरिंग प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना आवेदन प्रक्रिया

जो आवेदक उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना में आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। भारत सरकार द्वारा हाल ही में योजना की घोषणा की गई है, योजना में आवेदन के लिए अभी इसकी कोई आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं की गई। जल्द ही सरकार द्वारा योजना में आवेदन के लिए पोर्टल लॉंच किया जाएगा। जिसके लिए ऑफिसियल नोटिफिकेशन के माध्यम सूचना प्रदान की जाएगी, जैसे की PLI योजना में आवेदन लिए कोई नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा, उसकी जानकारी हम आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा देंगे, इसके लिए आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रह सकते हैं।

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन योजना से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है और इसकी आवेदन प्रक्रिया के आरम्भ होने की जानकारी भी जल्द ही आपको प्रदान करवा देंगे, इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं, हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment