स्वामित्व योजना क्या है – PM Swamitva Yojana लाभ, पात्रता ऑनलाइन पंजीकरण

पीएम स्वामित्व योजना। PM Swamitva Yojana Online Registration।
पीएम स्वामित्व योजना ऑनलाइन पंजीकरण

दोस्तों आज हम बात करने जा रहें हैं, पीएम स्वामित्व योजना की जिसका आरम्भ हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने और देश के नागरिकों को उनका मालिकाना हक़ दिलवाने के लिए किया गया है, जिसके लिए सरकार द्वारा ई ग्राम स्वराज पोर्टल भी जारी किया गया है। ई ग्राम स्वराज पोर्टल के माध्यम से सरकार पीएम ग्रामीण स्वामित्व योजना के अंतर्गत देश के ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों को पोर्टल पर आवेदन के साथ-साथ उनकी भूमि का सारा विवरण देखने की सुविधा भी प्रदान करवाती है। जिससे अब नागरिकों के आवासीय भूमि का डीजिटल ब्यूरों आसानी से रखा जा सकेगा, Pradhan Mantri Swamitva Yojana के अंतर्गत आवेदक नागरिक किस प्रकार अपना पंजीकरण करवा सकेंगे, इसमें आवेदन के क्या लाभ आवेदकों को प्राप्त होंगे और इसकी आवेदन प्रक्रिया क्या होगी इससे जुडी सभी जानकारी आवेदक हमारे लेख के माध्यम से प्राप्त कर सकेंगे।

Article Contents

पीएम स्वामित्व योजना क्या है ?

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना को आरम्भ करने की घोषणा सरकार द्वारा पंचायती राज दिवस के दिन 24 अप्रैल 2020 में किया गया था। जिसके तहत पंचायती राज्य मंत्रालय द्वारा इस योजना को संचालित किया जाता है, इस योजना को आरम्भ करने के पीछे सरकार का मुख्य लक्ष्य डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत नागरिकों को ऑनलाइन माध्यम से उनकी भूमि का पूरा विवरण जारी कर उन्हें उनकी आवासीय संपत्ति/भूमि पर उनका स्वामित्व प्रदान करवाना है, इसके लिए सरकार द्वारा डिजिटलीकरण के माध्यम से नागरिकों के लिए ऑनलाइन उनकी संपत्ति का पूरा ब्यूरो पोर्टल पर जमा करने और उनकी जमीन की मैपिंग देखने के लिए सरकार नागरिकों को ई ग्राम स्वराज पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट egramswaraj.gov.in पर ऑनलाइन आवेदन की सुविधा भी प्रदान करवाती है। जिससे किसी भी आवेदक की जमीन पर कोई भी भूमाफिया या फर्जीवाड़ा करके जमीन पर अवैध कब्ज़ा करने वाले लोगों से आवेदक अपनी भूमि को सुरक्षित रख सकेंगे, इसके लिए नागरिकों को उनकी संपत्ति का स्वामित्व दिलवाने के लिए उन्हें सरकार द्वारा संपत्ति कार्ड भी जारी किए जाएँगे।

PM Swamitva Yojana 2021 : Details

योजना का नाम पीएम स्वामित्व योजना
इनके द्वारा शुरुआत की गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
आरम्भ की तिथि 24 अप्रैल 2020
संबंधित मंत्रालय पंचायती राज्य मंत्रालय
साल 2021
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
योजना के लाभार्थी देश के सभी नागरिक
उद्देश्य नागरिकों को उनकी संपत्ति का स्वामित्व
प्रदान करना और ऋण प्रदान करवाना
आधिकारिक वेबसाइट egramswaraj.gov.in

पीएम स्वामित्व योजना संपत्ति कार्ड

पीएम स्वामित्व योजना के तहत अब देश के ग्रामीण नागरिकों की संपत्ति का भी पूरा विवरण सरकार के पास ऑनलाइन माध्यम से उपलब्ध रहेगा, इसके लिए नागरिकों को सरकार द्वारा संपत्ति कार्ड कार्ड भी वित्तरित किए जाते हैं। संपत्ति कार्ड के भौतिक प्रारूप के माध्यम से आवेदक अपनी भूमि का मालिकाना हक़ प्राप्त कर सकेंगे और कोई भी उनकी भूमि पर अवैध कब्जा नहीं कर सकेगा, साथ ही कार्डधारक अपने संपत्ति कार्ड की सहयाता से बैंकों से ऋण भी प्राप्त कर सकेंगे और अपनी प्रॉपर्टी का पूरा ब्यूरो भी ग्राम पंचायतों को दे सकेंगे।

स्वामित्व योजना संपत्ति कार्ड जारी

इस वर्ष 2021 में पंचायती राज दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री जी द्वारा की गई वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिए नागरिकों को उनके प्रॉपर्टी कार्ड जारी करने की घोषणा की गई, जिसके लिए सरकार द्वारा 1 लाख नागरिकों को मोबाइल में मैसेज द्वारा लिंक भेजा गया, इस लिंक पर क्लिक करके नागरिक अपने प्रॉपर्टी कार्ड को आसानी से डाउनलोड कर पाए, जिसके बाद राज्य सरकारों द्वारा नागरिकों को उनके प्रॉपर्टी कार्ड का भौतिक प्रारूप जारी किया गया, जिससे नागरिकों को उनकी संपत्ति पर उनका स्वामित्व प्राप्त हो सका।

PM स्वामित्व योजना के अंतर्गत योजना की शुरुआत में 11 अक्टूबर 2020 में प्रधानमंत्री जी द्वारा देश के छह राज्यों के 763 गाँवों जिनमे उत्तर प्रदेश के 346, हरियाणा के 220, महाराष्ट्र के 100, उत्तराखंड के 50 और कर्नाटक के 2 गाँव के नागरिकों को उनके उनके भूमि के कागजात दिए गए। जिसके तहत भूमि/संपत्ति के डाटा के रिकॉर्ड को भी ऑनलइन रखा जाएगा, जिसके लिए राजस्व विभाग द्वारा नागिकों की संपत्ति का पूरा विवरण तैयार किया जाएगा और विवादित मामलों को भी जल्द ही डिजिटल तरीकों से सुलझाया जा सकेगा। सरकार द्वारा PM Swamitva Yojana के अंतर्गत वर्तमान में अभी तक ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले 2.50 लाख नागरिकों को उनके संपत्ति कार्ड जारी किये चुके हैं। जिसमे इस वर्ष सरकार द्वारा बिहार में भी इस योजना को लॉंच किया गया है, जिसमे योजना में आवेदन करने वाले ग्रामीण नागरिकों को भी जल्द ही उनहे उनकी संपत्ति का स्वामित्व दिलवाने के लिए उनके संपत्ति कार्ड जारी किए जाएँगे।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना बजट 2021-22

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के अंतर्गत वित्त्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी द्वारा जारी आर्थिक बजट की घोषणा करते हुए बताया गया की वर्ष 2021-22 के लिए योजना के बेहतर कार्यन्वयन हेतु पिछले वर्ष की तुलना में 32% अधिक 913.43 करोड़ रूपये का बजट पंचायती राज मंत्रालय को जारी किया जाएगा, जिसमे 500 करोड़ रूपये राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के लिए और 200 करोड़ रूपये स्वामित्व योजना के लिए निर्धारित किए गए हैं, जबकी पिछले वर्ष 2020-21 में योजना के पहले चरण में इसमें 79.65 करोड़ रूपये का बजट जारी किया गया था।

स्वामित्व योजना सर्वेक्षण

इस योजना के अंतर्गत अन्य राज्यों के ग्रामीण नागरिकों को भी योजना का लाभ प्रदान करने के लिए 16 नए राज्यों यानी पिछले वर्ष की तुलना में 10 नए राज्यों को योजना में शामिल किया गया है। जिसके तहत पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और राजस्थान समेत देशभर में योजना के बेहतर संचालन के लिए 300 कंटिन्यूस ऑपरेटिंग रिफरेन्स सिस्टम (CORS) बनाए जाएँगे। CORS रेफ़्रेन्स स्टेशन का एक नेटवर्क है, जिसका कार्य नेटवर्क ग्राउंड कंट्रोल पॉइंट स्थापित करने में सहायता करना है जो जियो रेफ्रेन्सिंग, ग्राउंड ट्रूथिंग, और भूमि के सीमांकन के लिए एक महत्त्वपूर्ण गतिविधि है। योजना में जीपीएस ड्रोन व CORS के माध्यम से भूमि का सर्वे किया जाएगा, यह ड्रोन गांव का सभी घरों व भूमि के क्षेत्र फल (Land Area) का सर्वे जियो टैगिंग के माध्यम दर्ज करता है, जिसके बाद सर्वे किये जाने वाले घरों व भूमि के पते के तौर पर उन्हें एक यूनिक आईडी प्रदान की जाती है। सर्वे के समय विभाग के अधिकारी, पंचायत से सदस्य, गाँव के नागरिक और पुलिस भी सर्वे में मौजूद रहते हैं, भूमि के मालिक द्वारा गाँव के नागरिकों के साथ सलाह करके अपनी जमीन को चूने व सफ़ेद पाउडर की मदद से पूरी भूमि चिह्नित कर उसका घेरा किया जाता है, जिसकी तस्वीर ड्रोन द्वारा खींची जाती है, जिसके बाद उनकी भूमि का पूरा नक्शा डिजिटल माध्यम से तैयार किया जाता है।

पीएम स्वामित्व योजना का उद्देश्य

सरकार द्वारा पीएम स्वामित्व योजना को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण नागरिकों को उनकी संपत्ति का स्वामित्व प्रदान करना है, जिससे ग्रामीण क्षेत्रों में निवास कर रहे वह नागरिक जिनके पास अपनी संपत्ति के कागजात नहीं होते य जिनकी भूमि का ब्यूरो राजस विभागों के पास नहीं होता, ऐसे नागरिकों की जमीनों पर बहुत से भूमाफिया कब्ज़ा कर लेते हैं, जिससे उन्हें अपनी भूमि को वापस पाने के लिए बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है, ऐसे सभी परेशानियों को खत्म करने और भूमि के मालिक को उनकी भूमि का हक़ दिलवाने के लिए सरकार आवेदक नागरिकों को ऑनलाइन पोर्टल पर उनकी जमीन का पूरा विवरण डिजिटल माध्यम से उपलब्ध करवाती है और इसके लिए उन्हें संपत्ति कार्ड भी प्रदान करवाती है, जिससे अवैध कब्जे, भूमि पर होने वाले झगड़ों को कम किया जा सकेगा और संपत्ति कार्ड द्वारा आवेदक बैंकों से आसानी से लोन भी प्राप्त कर सकेंगे, इससे शहरों की तरह ग्रामीण नागरिकों की भी भूमि को सुरक्षित किया जा सकेगा।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के लाभ

पीएम स्वामित्व योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले नागरिकों को दिए जाने वाले लाभ की जानकारी आवेदक यहाँ से प्राप्त कर सकेंगे।

  • सरकार द्वारा स्वामित्व योजना का आरम्भ देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले नागरिकों की उनकी भूमिका का पूरा ब्यूरो ऑनलाइन प्रदान करवाने के लिए किया गया है, जिससे उन्हें अपनी भूमि का मालिकाना हक़ प्राप्त हो सकेगा।
  • योजना के अंतर्गत नागरिक अब योजना में ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकेंगे इसके लिए सरकार द्वारा ई ग्राम स्वराज पोर्टल लॉन्च किया गया है।
  • स्वामित्व योजना के अंतर्गत वर्ष 2020 से 2024 तक 6.2 लाख गाँवों को कवर किया जाएगा।
  • योजना के माध्यम से अब ग्रामीण नागरिकों की भूमि का पूरा डाटा सरकार के पास पोर्टल पर उपलब्ध रहेगा।
  • Pradhanmantri Swamitva Yojana के माध्यम से आवेदकों की भूमि पर होने वाले अवैध कब्जे और भूमाफियों को रोका जा सकेगा।
  • आवेदक नागरिकों को उनकी भूमि का स्वामित्व प्रदान करने के लिए संपत्ति कार्ड भी जारी करवाए जाएँगे।
  • संपत्ति कार्ड की सहायता से परिवार में या बाहर भूमि के लिए होने वाले झगड़ों को खत्म किया जा सकेगा।
  • ग्रामीण नागरिक भी अब अपनी भूमि की जानकारी घर बैठे पोर्टल पर प्राप्त कर सकेंगे।
  • संपत्ति/प्रॉपर्टी कार्ड में भूमि का पूरा विवरण प्रदान किया जाएगा और प्रॉपर्टी कार्ड की सहायता से नागरिकों को बैंकों द्वारा आसानी से ऋण भी प्राप्त हो सकेगा।
  • योजना के अंतर्गत नागरिकों की भूमि का सर्वेक्षण ड्रोन की सहायता से जियो मैपिंग द्वारा किया जाएगा, जिसका पूरा विवरण पोर्टल पर आवेदक के नाम पर उपलब्ध करवाया जाएगा।

स्वामित्व योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

स्वामित्व योजना 2021 में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक दी गई प्रक्रिया को पढ़कर योजना में आवेदन कर सकेंगे।

  • आवेदक नागरिकों को सबसे पहले ई-ग्राम स्वराज पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा। ई-ग्राम-स्वराज-पोर्टल
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको न्यू रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद अगले पेज पर रजिस्ट्रेशन के लिए आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे आपका नाम, पता, मोबाइल नंबर आदि ध्यानपूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • सारी जानकारी दर्ज कर लेने के बाद आपको फॉर्म को सबमिट कर देना होगा।
  • जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा और आपके मोबाइल पर एसएमएस द्वारा आपको आपका यूजर आईडी और पासवर्ड प्राप्त हो जाएगा, जिसका इस्तेमाल आप लॉगिन करने के लिए कर सकेंगे।

पीएम स्वामित्व योजना लॉगिन प्रक्रिया

पोर्टल पर पंजीकरण करवाने के बाद आवेदक नागरिक लॉगिन कर सकेंगे, इसके लिए वह दी गई प्रक्रिया को फॉलो कर सकते हैं।

  • आवेदक सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें।
  • यहाँ आपको होम पेज पर लॉगिन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने लॉगिन फॉर्म आ जाएगा, जिसमे आपको अपना यूजर आईडी, पासवर्ड और दिए गए कैप्चा कोड को दर्ज कर देना होगा।
  • इसके बाद आपको लॉगिन के बटन पर क्लिक करना होगा, इस तरह आपकी लॉगिन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

स्वामित्व योजना संपत्ति कार्ड डाउनलोड प्रक्रिया

स्वामित्व योजना के अंतर्गत जिन भी नागरिकों के मोबाइल फोन पर मैसेज के माध्यम से भेजे गए लिंक प्राप्त होंगे वही नागरिक पोर्टल पर आसानी से यह कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे, सरकार द्वारा जिन नागरिकों के ई-संपत्ति कार्ड बनाए जा चुके हैं, केवल उन्हें ही यह मैसेज पहुँचाया जाएगा, जिसे आवेदक दी गई प्रक्रिया को पढ़कर डाउनलोड कर सकते हैं।

  • सरकार द्वारा नागरिकों को उनकी संपत्ति पर उनका मालिकाना हक़ दिलवाने के लिए, प्रधानमंत्री जी के द्वारा सिंगल क्लिक के माध्यम से ही नागरिकों को मैसेज भेजा जाएगा।
  • आवेदनकर्ता के मोबाइल पर भेजे गए मैसेज द्वारा लिंक प्राप्त होगा, नागरिकों को लिंक पर क्लिक करके उसे खोलना होगा।
  • आवेदक लिंक पर क्लिक करके अपने संपत्ति कार्ड को डाउनलोड कर सकेंगे।
  • फ़िलहाल आवेदकों को यह कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड करने की सुविधा प्रधनमंत्री जी द्वारा दी जा रही है, जिसके बाद योजना में राज्य सरकारों द्वारा नागरिकों तक भौतिक कार्ड उनके घरों में पहुँचाए जाएँगे।

पीएम स्वामित्व योजना डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

योजना के अंतर्गत डैशबोर्ड देखने के लिए आवेदक दी गई प्रक्रिया को फॉलो कर सकते हैं।

  • आवेदक सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • यहाँ आपको होम पेज पर आपको रिपोर्ट के लिंक पर डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने अगले पेज पर आपको डैशबोर्ड के दो विकल्प दिखाई देंगे
  • दोनों विकल्पों में से आप जिसका भी डैशबोर्ड देखना चाहते हैं, आपको उसपर क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद अगले पेज पर आपके सामने डैशबोर्ड की जानकारी खुलकर आ जाएगी।

ई ग्राम स्वराज मोबाइल एप्प डाउनलोड प्रक्रिया

सरकार द्वारा स्वामित्व योजना में आवेदन हेतु पोर्टल में साथ-साथ ई ग्राम स्वराज मोबाइल एप्प को भी जारी किया गया है, जिसे अब आवेदक नागरिक मोबाइल एप्प को डाउनलोड कर अपने पंचायती राज प्रणाली से जुडी सभी जानकारी अपने फ़ोन में प्राप्त कर सकेंगे, इसके लिए आवेदक दी गई प्रक्रिया को पढ़कर अपने फ़ोन में एप्प डाउनलोड कर सकेंगे।

  • आवेदक को सबसे पहले अपने मोबाइल पर गूगल प्ले स्टोर ओपन करना होगा।
  • अब आपको सर्च पर ई ग्राम स्वराज मोबाइल एप्प टाइप करके सर्च करना होगा।  ई-ग्राम-स्वराज-एप्प
  • इसके बाद आपके आमने मोबाइल एप्लीकेशन आ जाएगा, जिसमे आपको इंस्टॉल पर क्लिक करना होगा।
  • इनस्टॉल पर क्लिक करने के बाद एके मोबाइल पर एप्प डाउनलोड हो जाएगा, जिसके बाद आप इसका इस्तेमाल कर सकेंगे।

स्वामित्व योजना हेल्पलाइन नंबर

स्वामित्व योजना से जुडी सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख में प्रदान करवा दी है, परन्तु यदि फिर भी आपको योजना से संबंधित कोई समस्या या जानकारी प्राप्त करनी हो तो आप इसके ईमेल आईडी egramswaraj@gov.in पर अपनी समस्या भेज सकते हैं, क्योंकि योजना में अभी कोई हेल्पलाइन नंबर जारी नहीं किया गया है।

स्वामित्व योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर

स्वामित्व योजना का आरम्भ कब किया गया है ?

स्वामित्व योजना का आरम्भ पंचायती राज दिवस के दिन 24 अप्रैल 2020 को प्रधानमंत्री जी द्वारा किया गया।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना में आवेदन हेतु इसकी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

आवेदक नागरिक प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना में आवेदन के लिए ई ग्राम स्वराज पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट egramswaraj.gov.in पर आवेदन कर सकेंगे।

Swamitva Yojana के तहत पोर्टल पर आवेदन करने वाले नागरिकों को क्या लाभ प्राप्त होगा ?

स्वामित्व योजना के अंतर्गत आवेदनकर्ता की भूमि का पूर्ण विवरण पोर्टल पर उपलब्ध हो सकेगा, जिससे नागरिकों को उनकी भूमि का मालिकाना हक़ प्राप्त हो सकेगा। इसके लिए उन्हें स्वामित्व कार्ड भी जारी किए जाएँगे जिससे वह बैंकों से लोन भी प्राप्त कर सकेंगे।

क्या स्वामित्व योजना के अंतर्गत केवल ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों को ही योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा ?

जी हाँ योजना का लाभ केवल ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे नागरिकों को ही प्राप्त हो सकेगा।

योजना के अंतर्गत अभी तक कितने नागरिकों को उनके सम्पत्ति कार्ड जारी किए जा चुके हैं ?

योजना के अंतर्गत अभी तक 2.50 लाख नागरिकों को सम्पत्ति कार्ड जारी किए जा चुके हैं।

सरकार द्वारा इस वर्ष 2021-22 में योजना के संचालन हेतु कितना बजट निर्धारित किया गया है ?

सरकार द्वारा इस वर्ष 2021-22 में योजना के संचालन हेतु 913.43 करोड़ रूपये का बजट मंत्रालय के लिए निर्धारित किया गया है।

योजना के अंतर्गत इसकी ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया क्या है ?

योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया ऊपर लेख में प्रदान की गई है, जिसे पढ़कर आप योजना में आवेदन कर सकेंगे।

Leave a Comment