मोबाइल से Plot Registry Online Check कैसे करें? Plot Registry Online Kaise Dekhe?

मोबाइल से Plot Registry Check कैसे करें :- आज के ज़माने में सभी व्यक्ति शहरों की जगह या किसी विकसित जगह में ज़मीन खरीदना चाहते हैं। परन्तु आजकल लोगों ने इसमें धोखाधड़ी शुरू कर दी है। ज़मीन की सही जानकारी आपको नहीं देते हैं, और आप लोग इनके जाल में फंस जाते हैं। फिर आपको बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन अब आप ऑनलाइन माध्यम से सभी चीजों की सही जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। जिससे आप धोखाधड़ी के जाल में फंसने से बच सकते हो। देश के प्रत्येक नागरिक को इस चीज के लिए जागरूक बनना होगा। आप जो ज़मीन ले रहे हैं आप उसकी रजिस्ट्री की जानकारी ऑनलाइन प्राप्त कर लें। और धोखा देने वाले लोगों से बच के रहें।

भारत में प्रॉपर्टी खरीदने के लिए कुछ नियम कानून बनाये गए हैं। इन नियमों फॉलो करके ही आप भारत में कोई भी प्रॉपर्टी सरकारी रूप से खरीद सकते हो। जो भी प्रॉपर्टी खरीद रहा है उसे सभी नियमों के बारे में जानकारी होना आवश्यक है। जानकारी न होने पर उसे धोखाधड़ी और अन्य कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। यदि आप कोई ज़मीन खरीद रहे है, और ज़मीन की रजिस्ट्री की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें। इस लेख में हम आपको इससे जुडी सभी जानकारियों से अवगत कराएँगे।

मोबाइल से Plot Registry Online Check कैसे करें? Plot Registry Online Kaise Dekhe?
मोबाइल से Plot Registry Online Check कैसे करें?

प्रॉपर्टी को खरीदने से पहले किन बातों का ध्यान रखें

जब आप किसी भी प्रकार की प्रॉपर्टी खरीद रहे होते हैं तो आपको इसमें कोई जल्दबाज़ी नहीं करनी चाहिए। और आराम से इसके विषय में सारी जानकारी एकत्रित करके ही इसे खरीदने का सोचना चाहिए। प्रॉपर्टी खरीदने से पहले आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। आईये आपको बताते हैं कि प्रॉपर्टी को खरीदते समय किन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए।

  • सबसे पहले आपको ये पता करना होगा की जो प्रॉपर्टी आप खरीदने वाले हो उसका असली मालिक कौन है।
  • ये जानकारी आप ऑनलाइन माध्यम से या प्रॉपर्टी के दस्तावेजों को अच्छे से पढ़कर भी प्राप्त कर सकते हो।
  • आपको प्रॉपर्टी की और जानकारी भी लेनी होगी कि कहीं इस प्रॉपर्टी पर कोर्ट केस तो नहीं चल रहा।
  • प्रॉपर्टी बेचने वाले के बारे में सारी जानकारी प्राप्त कर लें।
  • प्रॉपर्टी डीलर के बैकग्राउंड के बारे में सारी जानकारी का पता कर लेना चाहिए।
  • इससे आप धोखाधड़ी से बच जायेंगे।
  • आपको झूठे ऑनलाइन विज्ञापनों से बचना है। जो प्रॉपर्टी को कम दामों में बेचने का विज्ञापन डालते हैं।
  • अपने आस-पास प्रॉपर्टी की मार्किट वैल्यू का जरूर पता कर लें। साथ-ही-साथ प्रॉपर्टी की सरकारी वैल्यू भी चेक कर लें।
  • प्रॉपर्टी डीलर से पहले ही सभी बातों के बारे में विचार-विमर्श कर लें।
  • अलग-अलग शहर या राज्य में प्रॉपर्टी खरीदने के नियम भिन्न-भिन्न हो सकते हैं।
  • तो आपको इस चीज की जानकारी भी प्राप्त कर लेनी चाहिए।
  • यदि आप माकन या कोई दूकान जैसी प्रॉपर्टी को खरीद रहे हैं तो ये जरूर चेक कर लें की इसके बिजली या पानी के बिल का भुगतान हो चूका है या नहीं।
  • वरना आपको इसके बिल का भुगतान करना पड़ सकता है।
  • तो आपको ऊपर लिखी सभी बातों की जानकारी का पता होना आवश्यक है, वरना आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

ज़मीन या मकान की रजिस्ट्री कैसे करें

एक अच्छा घर खरीदना हर किस व्यक्ति का सपना होता है। एक सामान्य परिवार के मुखिया का अपने परिवार की सभी जरूरतों को पूरा करना उसका कर्त्तव्य है। दुनिया में सभी लोगों की पहली जरूरतें रोटी, कपडा, और मकान है। मकान खरीदना आसान नहीं है। एक समान्य परिवार अपने लिए मकान खरीदने में अपने जीवन की सारी पूँजी लगा देता है। आजकल के ज़माने में हर कोई शहरों में मकान या ज़मीन ले रहा है। यदि आप भी ज़मीन या मकान खरीदना चाहते हैं और इसकी प्रक्रिया का पता नहीं है तो आप इस लेख को पढ़ें और इस विषय में सारी जानकारी लें। बिना जानकारी के अगर आप मकान या ज़मीन खरीदने जाते हैं तो आपको कोई धोखा भी दे सकता है। इसीलिए आपको इसके बारे में जानकारी होना आवश्यक है। आईये मकान या ज़मीन की रजिस्ट्री कैसे होती है इसके बारे में आपको बताते हैं। इसके कुछ स्टेप निम्न प्रकार हैं।

अपनी प्रॉपर्टी की मार्किट वैल्यू चेक करें

सबसे पहले आपको अपनी प्रॉपर्टी यानी की अपनी ज़मीन, मकान,प्लाट आदि जो भी आपने खरीदी है उसकी मार्किट वैल्यू का पता करना होगा। इससे आपको अपने आस-पास में जमीन की रेट का पता चल जायेगा। अपनी प्रॉपर्टी की मार्किट वैल्यू के साथ-साथ आपको अपने आस-पास की सरकारी जमीन के रेट का भी पता करना है।

स्टाम्प ड्यूटी पेपर खरीदें

अपनी प्रॉपर्टी की मार्किट वैल्यू पता करने के बाद आपको एक गैर-न्यायिक स्टाम्प पेपर खरीदना है। गैर-न्यायिक स्टाम्प पेपर आम तौर पर विक्री-विलेख, पावर ऑफ़ अटॉर्नी, शपथ-पत्र, किराया समझौते, अचल सम्पति, हस्तानांतरण और अन्य महत्वपूर्ण समझौतों आदि के लिए उपयोग में लाया जाता है। यह पेपर आपको कोर्ट में मिलेगा। आपको इसे खरीदने वहीँ जाना पड़ेगा। गैर-न्यायिक स्टाम्प पेपर खरीदने के लिए आपको कुछ धनराशि का भुगतान करना होगा। अलग-अलग राज्य में गैर-न्यायिक स्टाम्प पेपर के भुगतान की धनराशि अलग-अलग हो सकती है।

अब आपको स्टाम्प पेपर अपनी प्रॉपर्टी के हिसाब से बनवाना होगा। आपको अपने स्टाम्प पेपर में प्रॉपर्टी की कीमत उतनी ही रखनी है जितनी की उस प्रॉपर्टी की सरकारी हिसाब से कीमत हो। माना की आपकी प्रॉपर्टी की कीमत आस-पास की मार्किट वैल्यू में तीस लाख है, और सरकारी हिसाब से उसी प्रॉपर्टी की कीमत पैंतीस लाख है। तो आपको स्टाम्प सरकारी कीमत के हिसाब से ही बनवाना है, अर्थात पैंतीस लाख के हिसाब से।

आप चाहें तो आप ये गैर-न्यायिक स्टाम्प पेपर ऑनलाइन माध्यम या सेलर के माध्यम से भी खरीद सकते हैं। ध्यान रहे जिस सेलर से आप स्टाम्प पेपर खरीद रहे हैं, उस सेलर के पास इसका लाइसेंस होना जरुरी है। यदि आप ये स्टाम्प पेपर ऑनलाइन माध्यम से खरीदना चाहते हैं तो आपको ये आप इसकी वेबसाइट www.shcilestamp.com पर जा कर खरीद सकते हैं।

ज़मीन के खरीदने और बेचने के कागज बनवाएं

ऊपर लिखी हुई सारी प्रक्रिया के बाद आपको प्रॉपर्टी खरीदने व बेचने के पेपर बनवाने होंगे। जिस व्यक्ति ने आपको प्रॉपर्टी बेची है उसको कोर्ट से ये लिखवा के लाना होगा कि मैंने यह प्रॉपर्टी इसके नाम कर दी है। मैंने अपनी प्रॉपर्टी इसे इतने में बेची है। अतः अब यही इस प्रॉपर्टी का मालिक होगा। इन बातों को आप अच्छे से चेक कर लें ताकि आपको भविष्य में इससे जुडी किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।

रजिस्ट्रार के पास जाएँ

अब घर की रजिस्ट्री के लिए आपको रजिस्ट्रार के पास जाना होगा। ऊपर जिस भी दस्तावेज का वर्णन हुआ है आपको वो सब अपने साथ लेकर जाना होगा। रजिस्ट्रार के पास दोनों, एक जो प्रॉपर्टी खरीद रहा है और दूसरा जो प्रॉपर्टी बेच रहा है, को जाना होगा। इसके साथ-साथ आपको अपने साथ दो और गवाहों को भी ले जाना होगा। उन दोनों गवाहों के पास अपना पहचान पत्र होना अनिवार्य है। जब आप अपने दस्तावेज जमा कर देंगे तो रजिस्ट्रार आपको एक रसीद देगा। आपको ये रसीद संभाल कर रखनी है।

कुछ दिनों के बाद रजिस्ट्री के दस्तावेजों को एकत्रित करें

दस्तावेजों सभी हुए किये जमा ऊपर लिखे हुए सभी स्टेप को पूरा करने के बाद आपके द्वारा जमा हुए सभी दस्तावेजों की जांच की जाती है। अगर आपका कोई भी दस्तावेज नकली होने पर आपकी रजिस्ट्री नहीं होगी। कुछ दिनों की जाँच करने के बाद यदि आपके सभी दस्तावेज सही हैं तो आपके दस्तावेज आगे जमा हो जायेंगे। इसके कुछ दिनों बाद आप रजिस्ट्रार के कार्यालय में जाकर अपनी प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री के दस्तावेजों को प्राप्त कर सकते हैं। जिसमे प्रॉपर्टी आपके नाम पर रजिस्टर होगी।

तो इस तरह आप अपनी प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री अपने नाम करवा सकते हो। इन चीजों के लिए आपको किसी वकील की सलाह लेनी चाहिए। इन चीजों के बारे में वकीलों को सही जानकारी होती है। तो अगर आपको कभी भी अपनी प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री करवानी हो तो आपको वकील से सलाह जरूर ले लेनी चाहिए।

मोबाइल से Plot Registry online check कैसे करें ?

आज के भारत में लगभग सभी चीजें ऑनलाइन माध्यम से हो रही है। अब आप किसी भी जमीन की रजिस्ट्री ऑनलाइन माध्यम से चेक कर सकते हैं। अगर आप किसी जमीन या माकन की जानकारी ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त करना चाहते हैं, या आप पता करना चाहते हैं की ये जमीन या माकन किसके नाम पर रजिस्टर है। और आपको इसकी प्रक्रिया नहीं आती है तो आप इस लेख को ध्यान से पढ़ें और आसानी से इसके विषय में जानकारी प्राप्त करें। यहाँ हम आपको उत्तरप्रदेश में ज़मीन रजिस्ट्री ऑनलाइन चेक करने के विषय में बताएंगे।

  • इसके लिए आपको सबसे पहले उत्तरप्रदेश की भूलेख आधिकारिक वेबसाइट upbhulekh.gov.in पर जाना होगा।
  • अब आपको इसमें अपने जिले, तहसील और गाँव का चयन कर लेना है।
  • अपने जिले,तहसील और गाँव का चयन करने के बाद जिस जमीन या माकन का रजिस्ट्रेशन चेक करना चाहते हैं, आपको उसका खसरा/गाटा संख्या को दर्ज करना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो गया होगा, इस पेज पर आपको ज़मीन या मकान की सारी जानकारी प्राप्त हो जाएगी।
  • इस प्रकार आप किसी भी ज़मीन या मकान का रजिस्ट्रेशन का पता कर सकते हैं।

मोबाइल से Plot Registry Online Check करने के लाभ

मोबाइल से आपको ज़मीन की रजिस्ट्री की जानकारी आसानी से प्राप्त हो जाती है। इसके बहुत से लाभ हैं, कुछ लाभ निम्नलिखित हैं।

  • किसी भी ज़मीन या मकान की रजिस्ट्री की जानकारी ऑनलाइन चेक करने से आपको किसी के पास जाने की जरुरत नहीं है।
  • आप घर बैठे बैठे रजिस्ट्री की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
  • इसमें आपको सारी जानकारी सही सही मिलेगी।
  • ऑनलाइन रजिस्ट्री चेक करने से आप किसी धोखे के शिकार नहीं होंगे।
  • इससे आपके समय की भी बचत होगी।

मोबाइल से Plot Registry से जुड़े कुछ प्रश्न-उत्तर

ऑनलाइन पोपेर्टी रजिस्ट्री को कैसे चेक करें?

किसी भी प्रॉपर्टी की आप रजिस्ट्री ऑनलाइन आसानी से चेक कर सकते हैं। प्रॉपर्टी रजिस्ट्री ऑनलाइन चेक करने की प्रक्रिया सभी राज्य में थोड़ी अलग-अलग होती है। इसको चेक करने के लिए आपको राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। यहाँ आपको अपने राज्य, तहसील और गाँव या शहर को दर्ज कर देना है। और आपको इसकी जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

प्रॉपर्टी खरीदने के विषय में किससे सलाह लेनी चाहिए?

प्रॉपर्टी खरीदने के लिए आपको किसी वकील से इसकी सलाह लेनी चाहिए। क्योंकि इस विषय में वकील को सभी प्रकार की जानकारी होती है।

गैर-न्यायिक स्टाम्प पेपर क्या होता है?

गैर-न्यायिक स्टाम्प पेपर एक न्यायिक पत्र होता है। जिसको आम तौर पर विक्री-विलेख, पावर ऑफ़ अटॉर्नी, शपथ-पत्र, किराया समझौते, अचल सम्पति, हस्तानांतरण और अन्य महत्वपूर्ण समझौतों आदि के लिए उपयोग में लाया जाता है।

ज़मीन की मार्किट वैल्यू क्या होती है?

आस-पास की जमीन के चल रहे रेट को ही ज़मीन की मार्किट वैल्यू कहा जाता है। प्रत्येक जगह ज़मीन की मार्किट वैल्यू अलग अलग होती है।

प्रॉपर्टी खरीदते समय किन बातों का ध्यान होता है?

प्रॉपर्टी खरीदते समय कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। जैसे – प्रॉपर्टी किसके नाम पर है, प्रॉपर्टी की मार्किट वैल्यू का पता होना चाहिए, सभी नियम कानूनों की जानकारी आदि का विशेष ध्यान रखना चाहिए। इससे आपको आगे किसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Leave a Comment