PCOD Full Form: PCOD क्या है, कारण, लक्षण, इलाज (PCOD का फुल फॉर्म )

तो दोस्तों जैसा की आप सभी जानते होंगे की हमारी इस दुनिया में जितने जरुरी पुरुष है उससे कई अधिक आवश्यक महिलाओं का होना है। आप सभी यह भी जानते ही होंगे की पुरुष के मुक़ाबले महिला को कमजोर माना जाता है परन्तु ऐसा नहीं है क्योंकि पुरुष के मुक़ाबले महिला अधिक मजबूत होती है। आज के समय में ऐसी कोई चीज नहीं है जो की महिलाएं नहीं कर सकती है। महिलाये आज के समय में हर क्षेत्र में पुरुष के कन्धों से कन्धा मिलाकर आगे बढ़ रही है। महिलाये अपने साथ साथ अपने घरवालों का भी ख्याल रखती है लेकिन इसी भाग दौड़ में महिलाये अपना ख्याल रखना भूल जाती है। जिसके कारन उनको बहुत सी बीमारियां हो जाती है। ऐसी ही एक बीमारी होती है PCOD जो की केवल महिलाओं को होती है। यह बहुत सी महिलाओं को हो जाती है। जिसके कारण महिलाओं को बहुत तकलीफ का सामना करना पढता है।

पेट के लिए अदरक के फायदे : Pet Ke Liye Adrak Ke Fayde

PCOD Full Form: PCOD क्या है, कारण, लक्षण, इलाज (PCOD का फुल फॉर्म )
PCOD Full form in hindi

तो दोस्तों क्या आप PCOD के बारे में जानते हो अगर नहीं तो आपको चिंता करने की कोई भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि आज हम आप सभी को इस लेख में PCOD के बारे में बहुत सी जानकारी के बारे में बताने वाले है जैसे की – PCOD Full Form: PCOD क्या है, कारण, लक्षण, इलाज, PCOD का फुल फॉर्म क्या होता है आदि जैसी जानकारी। तो दोस्तों क्या आप भी इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हो तो उसके लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा क्योंकि इस लेख में हमने इस सम्बन्धित जानकारी प्रदान की हुई है जिसको पढ़कर ही आप इसके बारे में जान सकोगे तो दोस्तों इसलिए कृपया करके हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

इसको भी अवश्य पढ़े :- HIV क्या होता है? HIV का फुल फॉर्म क्या होता है?

PCOD का फुल फॉर्म क्या होता है | What is the full form of PCOD?

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर यह बताने वाले है की PCOD का फुल फॉर्म क्या होता है तो दोस्तों यह जानने के लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा।

PCOD का फुल फॉर्म कुछ इस प्रकार है :-

  • The full form of PCOD in english – Poly Cystic Ovary Disorder
  • पीसीओडी की फुल फॉर्म हिंदी में – पॉलीसिस्टिक ओवरी डिसऑर्डर

PCOD क्या है

तो दोस्तों जैसा की हमने आप सभी को इस लेख में बताया है की पीसीओडी की फुल फॉर्म Poly Cystic Ovary Disorder होती है जिसको हिंदी में पॉलीसिस्टिक ओवरी डिसऑर्डर के नाम से भी जाना जाता है। यह एक प्रकार की बीमारी होती है जो की महिलाओं में पाई जाती है। यह एक प्रकार का हॉर्मोनल विकार होता है जो की महिलाओं के शरीर में होता है। अधिकतर महिलाये इस बीमारी से पीड़ित होती। है यह बीमारी महिलाओं को reproductive age यानि के प्रजनन आयु में महिलाओं को प्रभाव करता है। आप सभी को यह भी बता दे की यह बीमारी महिलाओं को मानसिक व शारीरिक रूप से भी परेशान करती है। इस बीमारी के कारण महिलाओं के पीरियड्स भी डिस्टर्ब होने लगते है।

जिसके कारन महिलाओं हॉर्मोनल बदलाव होते है और इन्ही हॉर्मोनल बदलाव के कारण ही महिलाओं को बहुत सी बीमारी होने लगती है जिसके कारण उनको आगे जाकर माँ बनने में परेशानी का सामना करना पढता है। अगर किसी महिला को यह बीमारी हो जाती है तो उसको थकान व तनाव जैसी परेशानी भी होने लगती है।

पैरामेडिकल क्या है ? (What is Paramedical)

पीसीओडी बीमारी के होने के कारण

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर इस बीमारी के होने के कुछ कारण के बारे में बताने वाले है तो अगर आप भी यह जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो दी गयी जानकारी को पढ़े

  1. अगर किसी महिला को अधिक तंव रहता है तो उसकी वजह से भी उस महिला को यह बीमारी हो सकती है।
  2. कई लोगो का यह भी मानना है की यह बीमारी का कारण आनुवंशिक भी हो सकता है।
  3. जो महिलाये खान पान में लापरवाही करती है उनको भी यह बीमारी हो सकती है।
  4. शराब व सिगरेट के सेवन करने से भी यह बीमारी हो सकती है।
  5. सही समय पर न सोना की वजह से भी यह बीमारी हो सकती है। आदि जैसे बहुत से कारणों की वजह से यह बीमारी का शिकार हो सकते है।

पीसीओडी के लक्षण

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर पीसीओडी के कुछ लक्षणों के बारे में बताने वाले है तो कृपया यह जानकारी को भी ध्यान से पढ़े।

  1. इस बीमारी के कारण किसी महिला का वजन भी बढ़ सकता है।
  2. इस बीमारी से पड़ती महिलाओं को नींद आने में परेशानी होती है।
  3. जिन भी महिलाओं को यह बीमारी होती है उनके बाल जल्दी झड़ने लगते है।
  4. पीसीओडी से पीड़ति महिलाओं का ब्लड प्रेशर भी बढ़ता रहता है।
  5. इस बीमारी से पीड़ित महिलायें अपने आप को बहुत थका हुआ महसूस करती है।
  6. पीरियड्स का अनियमित होना भी इस बीमारी का ही एक लक्षण होता ही।
  7. पीसीओडी बीमारी से पीड़ित महिलाओं के मुँह पर मुहासे भी हो जाते है।
  8. इस बीमारी से पीड़ित महिलाओं को अधिकतर सर में दर्द होगा।

पीसीओडी का इलाज

तो दोस्तों अब हम आप सभी को इस बीमारी के कुछ इलाज के बारे मे बतायेंगे।

  1. इस बीमारी के इलाज के लिए आप डॉक्टर के पास जा सकते है वह आपको कुछ दवाएं बताएगा उन दवा को आपको समय से लेना होगा।
  2. डॉक्टर आपको प्रोजेस्टिन हार्मोन लेने की सलाह भी देगा जिसके कारण महिलाओं के पीरियड्स नियमित रूप से हो सकेंगे।
  3. डॉक्टर आपको मेटफॉर्मिन की सलाह भी दे सकते है।
  4. डॉक्टर आपको अच्छी नींद लेने का सुझाव भी देंगे।
  5. आपको कुछ शारीरक गतिविधियां भी करनी होंगी जिसके कारण आपका तनाव भी कम होगा।

आदि जैसे बहुत से इलाज हो सकते है।

Richest Woman in Asia: सावित्री जिंदल बनीं एशिया की सबसे अमीर महिला

PCOD से सम्बंधित कुछ प्रश्न

PCOD का फुल फॉर्म क्या होता है

PCOD की फुल फॉर्म – Poly Cystic Ovary Disorder

PCOD क्या है

यह एक प्रकार की बीमारी होती है जो की महिलाओं में पाई जाती है। यह एक प्रकार का हॉर्मोनल विकार होता है जो की महिलाओं के शरीर में होता है। अधिकतर महिलाये इस बीमारी से पीड़ित होती। है यह बीमारी महिलाओं को reproductive age यानि के प्रजनन आयु में महिलाओं को प्रभाव करता है

पीसीओडी के लक्षण क्या होते है ?

महिला का वजन भी बढ़ना।
महिला को नींद में परेशानी आना
सर में दर्द रहना आदि।

पीसीओडी का इलाज क्या होता है ?

इस बीमारी के इलाज के लिए आप डॉक्टर के पास जा सकते है वह आपको कुछ दवाएं बताएगा उन दवा को आपको समय से लेना होगा। इसके अलावा आपको कुछ शारीरिक गतिविधियां भी करनी होंगी।

Leave a Comment

Join Telegram