मखाना के उपयोग, फायदे और नुकसान | Makhana ke fayde aur nuksan

मखाना ड्राई फ्रूट्स में सम्मिलित होने वाला ही एक मेवा है। मखाने का उपयोग लगभग सभी लोग करते हैं। मखाने का प्रयोग अलग-अलग रूप में किया जाता है। मखाना कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। मखाने के सेवन से आप कई बीमारियों से बच सकते हैं। मखाने में विटामिनB, कैल्शियम, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, सोडियम, फॉस्फोरस, आयरन, प्रोटीन पोटेशियम पाया जाता है। ये सभी तत्व शरीर को स्वस्थ रखने के लिए बहुत आवश्यक होते हैं। मखानो का सिमित सेवन शरीर के लिए लाभदायक होता है। लेकिन ज्यादा सेवन हानिकारक भी हो सकता है। आगे पढ़ें मखाना के उपयोग फायदे और नुकसान के बारे में।

गुड़ की चाय पीने के फायदे और नुकसान

मखाना के उपयोग, फायदे और नुकसान | Makhana ke fayde aur nuksan
मखाना के उपयोग, फायदे और नुकसान | Makhana ke fayde aur nuksan

मखाने के उपयोग | Uses of Makhana

  • मखाने का उपयोग आप खीर में डालकर भी कर सकते हैं।
  • आप मखाने को कुछ सब्जियों में भी इस्तेमाल सकते हैं। जैसे पनीर और मटर में आलू शिमला मिर्च, मिक्स सब्जी आदि में।
  • मखाने को आप फ्राई कर के स्नैक्स के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • मखाने का उपयोग सबसे अधिक व्रत के समय किया जाता है। क्योंकि ये व्रत में उपयोग में लाया जा सकता है।
  • मखाने आप दूध में उबालकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • मखाने को आप सुबह शाम कभी भी खा सकते हैं।

पालक सूप के फायदे और नुकसान

मखाने के फायदे | Benefits of Makhana

  1. मखाना में प्रोटीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है। 100 ग्राम मखाने में लगभग 10.71 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है। मखाना प्रोटीन का एक अच्छा स्त्रोत होता है। यह खाने में प्रोटीन की कमी को पूरा करने का काम करता है।
  2. गर्भावस्था में महिलाओं के लिए मखाने का सेवन काफी लाभदायक होता है। मखाने का गर्भावस्था में अलग अलग चीज़ों में मिलाकर सेवन किया जाता है। विशेषज्ञों की शोध के अनुसार मखाना गर्भवती महिलाओं की गर्भावस्था और प्रसव के बाद की कमजोरियों को दूर करने में सहायक होता है। मखाने में पाये जाने वाले पोषक तत्व गर्भवती महिलाओं को स्वस्थ रखने में सहायक होते हैं।
  3. मखाने में एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी-माइक्रोबियल तत्व पाए जाते हैं। जो की हमारे मसूड़ों में होने वाली बैक्टीरियल प्रभाव को और मसूड़ों में होने वाली सूजन को रोकने में लाभदायक होता है।
  4. किडनी के लिए भी मखाने के सेवन को लाभदायक मन जाता है। एनसीबीआई के शोध में कहा गया है। कि मखाने के सेवन से दस्त और किडनी से संबंधित समस्या का खतरा कम होता है।
  5. मखाना एंटी ऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। जो की हमारी त्वचा को एजिंग के प्रभाव को कम करने का काम भी करता है।
  6. मखाना शरीर में खून की कमी को भी पूरी करता है। मखाने में आयरन की अधिकता होने के कारण ये शरीर में हीमोग्लोबिन के लेवल को बढ़ाता है। जिससे एनीमिया रोग होने का खतरा कम होता है।
  7. मखाने का सेवन करने से हमारा हृदय स्वस्थ रहता है। मखाने में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो की हमारे दिल को स्वस्थ रखने का काम करते हैं।

अखरोट के फायदे और नुकसान | Akhrot Ke Fayde Aur Nuksan

मखाने के सेवन से नुकसान | Disadvantages of consuming Makhana

  • मखाने के सेवन से कुछ लोगों को समस्या हो सकती है। जैसे त्वचा में डेन या खुजली आदि एलर्जी जिससे आपको स्किन पर बहुत समस्य हो सकती है।
  • अगर किसी को किडनी में पथरी की समस्या है तो उन लोगों को मखाने नहीं खाने चाहिए।
  • मखाने में फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होती है। मखाने का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से आपको आपको पेट में ऐंठन और गैस हो सकती है।
  • दस्त की शिकायत होने पर आप मखाने का ज्यादा सेवन न करें।

मखाना के उपयोग, फायदे और नुकसान से सम्बंधित प्रश्न

1 दिन में कितना मखाना खाना चाहिए ?

ज़रूरत से ज्यादा किसी भी चीज़ का खाना अक्सर शरीर को नुकसान पहुंचाता है। मखाने के इतने लाभ होने के बावजूद अगर कोई इसे सीमित मात्रा से अधिक खाता है तो इसके साइड इफ़ेक्ट भी देखने को मिल सकते हैं। एक दिन में 25 से 30 ग्राम मखाना ही खाना चाहिए।

क्या मखाना खाने से गैस बनती है ?

अगर आप ज़रूरत से ज्यादा मखाना खाते हैं तो आपको कब्ज की समस्या हो सकती है और ये भी देखा गया है कि लोगों को गैस और पेट फूलने जैसी समस्या देखने को मिली है। इसलिए अधिक सेवन हानिकारक हो सकता है।

मखाना खाने का सही समय कौन सा है ?

सुबह खाली पेट मखाना खाने से शरीर को बहुत से फायदे मिलते हैं। यह कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह हड्डियों को मजबूत बनाता है तथा ह्रदय को स्वास्थ्य बनाने में मदद करता है।

दूध के साथ मखाना कैसे खाएं ?

सबसे पहले मखाने को पीस लेना है, उसके बाद उबलते हुए दूध में इसे मिक्स कर दें साथ ही इसमें चीनी डालें। धीमी आंच में इसे गरम होने दें जब तक यह हल्का गाढ़ा न हो जाय। इसके बाद आप इसे थोड़ा ठंडा हो के खा सकते हैं।

Leave a Comment

Join Telegram