MA Full Form in Hindi | एमए का मतलब क्या है

MA Full Form:- आप सभी जानते ही होंगे शिक्षा हमारे जीवन का महत्वपूर्ण भाग है शिक्षा प्राप्त करके लोग भविष्य में अपने सपने को साकार कर सकते है एक बेहतर नौकरी प्राप्त कर सकते है, इसलिए शिक्षा बहुत ही महत्वपूर्ण है बारहवीं पास करने के बाद लोग अपने बच्चो को आगे की शिक्षा देने के लिए अपने बच्चो का कॉलेज में एडमिशन कराते है जिससे बच्चा पढ़ाई से जुड़ा रहे। भविष्य में कुछ कर सके। ग्रेजुएशन की परीक्षा पास करने के बाद अनेक प्रकार के कोर्स करते है, जैसे एमएससी, एमए, एमकॉम आदि अनेक प्रकार के कोर्स करते है जिससे आने वाले समय में नौकरी कर सके और अपने भविष्य को उज्जवल बना सके।

IT Full Form in Hindi – आईटी का मतलब क्या होता है

MA Full Form in Hindi | एमए का मतलब क्या है
MA Full Form in Hindi | एमए का मतलब क्या है

आज हम आपको इन सभी में से एक ऐसे कोर्स के बारे में बताने जा रहे, जिसे जानकर आपको काफी अच्छा लगेगा यह जानकारी भविष्य में आपके काम आयेगी और आपके लिए यह जानकारी आपके लिए लाभप्रद साबित होगी अगर आप भविष्य में एम.ए करने की सोचेंगे तो एम.ए करने से पहले आपके पास एमए कोर्स की पूरी जानकारी रहेगी। एम.ए तो आपने सुना ही होगा क्या आप जानते है एम.ए आखिर होता क्या है एमए का पूरा नाम (MA Full Form in Hindi) क्या है। आज हम इस आपसे एमए कोर्स के विषय पर आपको सम्पूर्ण जानकारी देंगे अगर आप भी एम.ए के बारे में जानने के इच्छुक है तो आप हमारे साथ आर्टिकल के अंत तक जरूर बने रहे जिससे आपको जानकारी मिल सके भविष्य में आने वाले समय में आपको जानकारी रहे।

MA Full Form in Hindi – एमए की फुल फॉर्म क्या होती है

एमए की फुल फॉर्म मास्टर ऑफ़ आर्ट्स (Master of Arts) होती है। एम.ए 2 साल का कोर्स होता है 2 साल में एम. ए करके आप मास्टर डिग्री ले सकते है अगर आपने ग्रेजुएशन की है तो आप ग्रेजुएशन करने के बाद आप मास्टर डिग्री कर सकते है एम. ए को मास्टर डिग्री भी कहा जाता है मास्टर डिग्री लेने के बाद आप शिक्षक बनाने का सपना पूरा कर सकते है।

मास्टर डिग्री प्राप्त करने लिए योग्यता क्या-क्या होनी चाहिए

अक्सर बच्चे 12 वी पास करने के बाद कोर्सेस करते है अगर आपने 12वी पास करने के बाद बीएससी की है अर्थात अगर आप बीएससी स्टूडेंट है तो आप उसके बाद एम.ए किसी भी सब्जेक्ट से कर सकते है बीए करने के बाद आप एमए कर सकते है अगर आपने बी.ए किसी सब्जेक्ट से किया है तो आपको एमए उसी सब्जेक्ट से करना होगा।

एम.ए कोर्स कैसे करें

अगर आप एमए रेगुलर बेसेस पर करना चाहते हो तो आप कॉलेज में एडमिशन ले सकते है और आप अध्ययन करने के लिए कॉलेज जा सकते है अगर आप किसी कारणवश प्राइवेट बेसेस पर एमए करना चाहते हो तो आप प्राइवेट बेसेस पर भी एमए कर सकते हो। रेगुलर बेसेस पर एमए करने के लिए आपको अध्ययन करने के लिए आपको कॉलेज आपको हमेशा जाना होता है अगर आप प्राइवेट करना चाहते है तो उसके लिए आपको अध्ययन करने के लिए कॉलेज जाने की आवश्यकता नहीं होती है चाहे आप प्राइवेट बेसेस पर एमए करें या रेगुलर बेसेस पर अआप्की मास्टर डिग्री की वेल्यू सामान रहेगी।

Master of Arts में कौन कौन से विषय से कर सकते है

आइये जानते है एमए किस सब्जेक्ट से कर सकते है अगर आप भी एमए करना चाहते है या एमए के विषय में जानने के इच्छुक है तो आप नीचे दी गयी सूची को अवश्य देखे।

  • हिंदी
  • इंग्लिश
  • संस्कृत
  • इकोनॉमिक्स
  • फिलोस्पी
  • इतिहास
  • भूगोल (Geography)
  • सोशियोलॉजी
  • शिक्षा शास्त्र
  • पोलटिक्स

एम.ए आप इन विषयो से कर सकते है और मास्टर डिग्री प्राप्त कर सकते है।

नोट -अगर आप एमए में ऐसे विषय से एमए करना चाहते है जिसमे प्रेक्टिकल लिया जाता है उसके आपको कॉलेज में एडमिशन कराना होगा अगर आप ऐसे सब्जेक्ट से एमए कर रहे है जिसमे प्रेक्टिकल ना हो हो तो आप प्राइवेट बेसेस पर एमए कर सकते है।

भारत में मास्टर डिग्री लेने के लिए सबसे बेहतर कॉलेज

आइये जानते है एमए करने के लिए भारत के सबसे बेहतर कॉलेज के कौन कौन से है।

  • हिन्दू कॉलेज नयी दिल्ली
  • एलएसआर कॉलेज फॉर गर्ल्स नयी दिल्ली
  • प्रेसिडेंसी कॉलेज चेन्नई
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज मुंबई
  • सेंट जेवियर्स कॉलेज एहमदबाद गुजरात
  • जैन यूनिवर्सिटी बैंगलोर
  • क्राइस्ट यूनिवर्सिटी बैंगलोर
  • प्रेसिडेंसी यूनिवर्सिटी कोलकत्ता
  • मुंबई यूनिवर्सिटी
  • रविंद्र भारती यूनिवर्सिटी कोलकत्ता

मास्टर डिग्री लेने के लिए भारत के सबसे बेहतर प्राइवेट कॉलेज

अब हम आपको उन कॉलेजेस के नाम बताने जा रहे है जो प्राइवेट है जो स्टूडेंट किसी न किसी कारणवश रेगुलर एडमिशन नहीं लेते वो इन प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन करके एमए कर सकते है।

  • महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी न्यू दिल्ली
  • आइजीएनओयू न्यू दिल्ली
  • रविंद्र भारती यूनिवर्सिटी कोलकत्ता
  • सरस्वती डिस्टेंस एजुकेशन मुंबई
  • नेताजी सुभाष ओपन यूनिवर्सिटी कोलकत्ता

मास्टर ऑफ़ आर्ट्स की डिग्री लेने के लिए फीस

अगर आप एमए सरकारी कॉलेज या प्राइवेट यूनिवर्सिटी से करते है तो आपके लगभग 4 हजार से लेकर 10 हजार रूपये तक लगते है अगर आप रेगुलर बेसेस में कॉलेज से एमए कर रहे है तो आपके लगभग 15 से 20 हजार रूपये लगते है।

  • सिविल सर्विस की तैयारी
  • पीसीएस की तैयारी
  • बीएड
  • पीएचडी
  • वन डे एग्जामस की तैयारी

एम.ए कोर्स करने के ऑपर्चुनिटी

अगर आप एम.यह ए कर लेते है एमए करने के बाद आप किस फिल्ड में जॉब कर सकते है।

  • टीचिंग
  • सरकारी शिक्षक
  • प्रोफ़ेसर
  • ट्यूशन प्वाइंट
  • लेक्चरार
  • वाइस प्रिंसिपल
  • जूनियर टीचर
  • प्रिंसिपल
  • कोचिंग सेंटर
  • होम ट्यूशन
  • कंटेंट राइटर
  • होम ट्यूशन

एम.ए करने के बाद आप इस तरह रोजगार प्राप्त कर सकते है।

आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी आपको काफी पसंद आयी होगी अगर आप इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई भी जानकारी प्राप्त करने के इच्छुक है तो आप हमे कमेंट सेक्शन में जरूर बताये जिससे आपको जानकारी मिल सके।

एम.ए से सम्बंधित जुड़े प्रश्न उत्तर

एम. ए क्या है ?

एम.ए एक मास्टर डिग्री है।

एम.ए का फुल फॉर्म क्या है ?

एमए के फुल फॉर्म मास्टर ऑफ़ आर्ट्स है।

एम.ए कैसे कर सकते है ?

एमए आप रेगुलर बेसेस पर या प्राइवेट बेसेस पर कर सकते है।

एम.ए करने के बाद जॉब का बेस्ट ऑप्शन क्या है ?

एम.ए करने के बाद आप टीचिंग लाइन में जा सकते है।

एमए करने के बाद क्या बीएड कर सकते है ?

जी हाँ एमए करने के बाद बीएड कर सकते है।

एम.ए कितने सालो का कोर्स है ?

एम.ए 2 साल का कोर्स है।

एम.ए को क्या कहा जाता है ?

एम.ए को मास्टर डिग्री कहा जाता है।

Leave a Comment