लीप इयर (Leap Years) किसे कहते हैं, हर चौथे वर्ष फरवरी में 29 दिन क्यों होते हैं

तो दोस्तों जैसा की आपको ज्ञात होगा की पृथ्वी सूर्य के चक्कर काटती हैं और उसको सूर्य का एक चकार काटने में 365/6 दिन का समय लगता हैं जिसको एक साल भी कहते हैं। यानि के एक साल में 365 दिन होते हैं तो फिर आप यह भी जानते होंगे की चार साल बाद साल में एक दिन बढ़ जाता हैं यानि के 365 दिन से 366 हो जाते हैं जिसको लीप इयर (Leap Years) के नाम से भी जाना जाता हैं तो दोस्तों क्या आप जानते हैं की चार बाद ही साल में 1 दिन किए बढ़ता हैं और क्यों बढ़ता हैं तो दोस्तों अगर आप नहीं जानते हैं तो उसके लिए आपको चिंता करने की कोई भी आवश्यकता नहीं हैं क्योंकि आज हम आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताने वाले हैं की लीप इयर किसे कहते हैं और चार साल बाद ही साल में एक दिन क्यों बढ़ता हैं

तो दोस्तों अगर आप भी इसके बारे में और इससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते हो तो उसके लिए आपको हमारे इस लेख को अंत तक एवं ध्यानपूर्वक पढ़ना होगा तब ही आप इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकोगे। तो कृपया कर इससे अवश्य पढ़े

लीप इयर (Leap Years) किसे कहते हैं
लीप इयर (Leap Years) किसे कहते हैं ?

इसको भी अवश्य पढ़े :- ट्रामा सेंटर किसे कहते है ?

लीप इयर (Leap Year) किसे कहते हैं

जिस साल में 365 दिन से एक दिन अधिक यानि के 366 दिन होते हैं और उसी को लीप इयर कहा जाता हैं। लीप इयर हर चार वर्ष के बाद आता हैं। और इस १दिन को फ़रवरी में जोड़ दिया जाता हैं क्योंकि फ़रवरी महीने में सबसे कम दिन होते हैं इसलिए इस एक दिन को फरवरी में जोड़ तब जाकर फ़रवरी में हर चार अल बाद 29 दिन होते हैं वरना आम सालों में फ़रवरी में केवल 28 दिन ही होते हैं। लीप इयर को हिंदी में अधिवर्ष के नाम से भी जाना जाता हैं

हर चौथे वर्ष फरवरी में 29 दिन क्यों होते हैं

तो दोस्तों आज हम आपको यहाँ पर बताने वाले हैं की लीप इयर क्यों होता हैं और इसका कारण क्या हैं तो अगर आप भी यह जानना चाहते हो की क्यों होता हैं लीप इयर तो उसके लिए आपको यहाँ पर दी गयी जानकारी को अंत तक पढ़ना होगा।

तो दोस्तों जैसा की आप जानते हो की एक वर्ष में 365/6 दिन होते हैं तो क्या आप जानते हैं की यह साल में 365 दिन क्यों होते हैं तो आपको यह भी बता दू की सौरमंडल में सभी ग्रह सूर्य के चक्कर काटते हैं वैसे ही पृथ्वी भी सूरज के चक्कर काटती हैं और पृथ्वी को सूरज का एक चक्कर काटने में 365 दिन 6 घंटे का समय लगता हैं और उसी को एक साल के नाम से जानते हैं और जो यह 6 घंटे का समय होता हैं यह हर साल होता हैं।

हर चार साल बाद यह जुड़कर एक वर्ष का निर्माण करते हैं और उस साल में 365 दिन से बढ़कर 366 दिन हो जाते हैं। जिसको लीप इयर के नाम से भी जानते हैं। जो यह एक दिन होता हैं उसको फ़रवरी के महीने में जोड़ दिया जाता हैं तब ही हर चार वर्ष बाद महीने में 29 दिन होते हैं।

लीप इयर कैसे देखा जाता है? (How to calculate leap year)

तो दोस्तों अगर आप भी जानना चाहते हैं की लीप इयर कैसे देखा जाता हैं जिसके लिए हमने यहाँ पर निम्न जानकरी प्रदान की है उसको पढ़कर आप भी यह जान सकते हैं की लीप इयर कैसे होता हैं तो आइये जानते हैं की किस तरह देखे की कौनसा साल लीप इयर होता हैं।

ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार तीन बातों का पूरा करने पर ही उस साल को leap year माना जाता है.

  1. सबसे पहली बात यह की उस साल को 4 से विभाजित होना चाहिए तब ही वह साल leap year माना जाएगा।
  2. उस साल को 100 से भी विभाजित होना आवश्यक हैं और केवल यह ही नहीं बल्कि उसको साल को leap year तब ही माना जाएगा जब
  3. वह साल 400 से विभाजित होगा तब ही उन सालों को लीप इयर माना जाता हैं।

यानि के इसका मतलब यह हैं की सन 2000 और 2400 लीप इयर है, जबकि 1800, 1900, 2100, 2200, 2300 और 2500 लीप इयर नहीं है। ऐसा इसलिए हैं क्योंकि 2000 और 2400 leap year इसलिए हैं क्योंकि यह दोनों वर्ष 100 से तो विभाजित होते हैं और 400 से भी विभाजित होते हैं तब ही इनको लीप इयर माना गया हैं। 1800, 1900, 2100, 2200, 2300 और 2500 इन वर्षों को leap year इसलिए नहीं माना गया क्योंकि यह सभी 100 से तो विभाजित होते हैं परन्तु यह सब ही 400 से विभाजित नहीं होते हैं इसलिए इनमे से किसी भी देश को leap year नहीं माना गया हैं।

तो दोस्तों आज हम आपको बताने वाले हैं की सन 1900 से आज तक कौन कौन से साल लीप ईयर थे और सभी वर्षों की सूची बताने आए हैं तो अगर आप भी यह जानना चाहते हैं हैं तो कृपया इसको ध्यान से देखिये –

1900, 1904, 1908, 1912, 1916, 1920, 1924, 1928, 1932, 1936, 1940, 1944, 1948, 1952, 1956, 1960, 1964, 1968, 1972, 1976, 1980, 1984, 1988, 1992, 1996, 2000, 2004, 2008, 2012, 2016, 2020, 2024

यह सभी वर्ष वह हैं साल 1900 से अब तक लीप इयर रहे हैं।

लीप इयर से सम्बंधित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर

Leap Year क्या होता हैं ?

जिस साल में 365 दिन से एक दिन अधिक यानि के 366 दिन होते हैं और उसी को लीप इयर कहा जाता हैं। लीप इयर हर चार वर्ष के बाद आता हैं। और इस १दिन को फ़रवरी में जोड़ दिया जाता हैं क्योंकि फ़रवरी महीने में सबसे कम दिन होते हैं

Leap Year कैसे देखा जाता हैं ?

Leap Year देखने की कुछ तरीके होते हैं जिनके बारे हम आपको यहाँ पर बताएँगे
1.सबसे पहली बात यह की उस साल को 4 से विभाजित होना चाहिए तब ही वह साल leap year माना जाएगा।
2.उस साल को 100 से भी विभाजित होना आवश्यक हैं और केवल यह ही नहीं बल्कि उसको साल को leap year तब ही माना जाएगा जब
3.वह साल 400 से विभाजित होगा तब ही उन सालों को लीप इयर माना जाता हैं।

पृथ्वी को सूर्य के चक्कर काटने में कितना समय लगता हैं ?

पृथ्वी को सूर्य के चक्कर काने में 365 दिन और 6 घंटे का समय लगता हैं।

सन 2000 से लेकर 2300 तक कौन कौन से साल लीप इयर होंगे ?

2000, 2004, 2008, 2012, 2016, 2020, 2024, 2028, 2032,2036, 2040, 2044, 2048, 2052, 2056, 2060, 2064, 2068, 2072, 2080, 2084, 2088, 2092, 2096, 2104, 2108, 2112, 2116, 2120, 2124, 2128, 2132, 2136, 2140, 2144, 2148, 2252, 2256, 2260, 2264, 2268, 2272, 2276, 2280, 2284, 2288, 2292, 2296, 2300 इत्यादि।

Leave a Comment