EPFO full form in Hindi ? EPFO क्या है और यह कैसे काम करता है ?

आप सभी यह तो जानते ही है की आज के समय में कई लोग अपना खुद का बिज़नेस करते है। दूसरी और कई लोग ऐसे भी है जो किसी अन्य की नौकरी करते है। भारत में करीब 36.9% प्रतिशत लोग नौकरी करके अपना गुजारा करते है। कई लोग सरकारी संस्थानों में नौकरी करते है और कई लोग गैर सरकारी संस्थानों में। नौकरी करने वाले लोगो को EPFO के बारे में पता ही होगा। क्योंकि नौकरी करने वाले की सैलरी से कुछ पैसे PF के तौर पर कट जाते है। जो की EPFO में चले जाते है। लेकिन क्या आप EPFO full form in Hindi जानते है ?

EPFO full form in Hindi ?
EPFO full form in Hindi ?

अगर आप इसकी फुल फॉर्म नहीं जानते है। तो इसमें आपको चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि आज हम आप सभी को हमारे इस लेख में EPFO से सम्बंधित बहुत सी जानकारी प्रदान करने वाले है। जैसे की – EPFO full form in Hindi ?EPFO क्या है और यह कैसे काम करता है ? तो अगर आप भी इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है। तो इस लेख में दी गयी जानकारी को ध्यानपूर्वक पढ़े और इससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करें।

EPFO full form in Hindi

तो दोस्तों अगर आप भी EPFO की फुल फॉर्म जानना चाहते है तो हमने यहाँ पर उसकी फुल फॉर्म बताई हुई है। दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़े।

यहाँ भी देखें -->> क्विज खेलकर इनाम कमाएं

  • EPFO full form in English – Employees’ Provident Fund Organisation
  • EPFO full form in Hindi – कर्मचारी भविष्य – निधि संस्था

EPFO क्या है ?

EPFO को हिंदी में कर्मचारी भविष्य निधि संस्था के नाम से भी जाना जाता है। आपको बतादे की यह संस्था भारत सरकार के अंतर्गत कार्य करती है। कर्मचारियों को इस संस्था से बहुत से लाभ प्राप्त होते है। इस संस्था की स्थापना सन 4 मार्च 1952 को की गयी थी। आप इसको सामाजिक सुरक्षा संगठन के नाम से भी जान सकते है।

यह एक रिटायरमेंट फण्ड बॉडी है जो की भारत में नौकरी कर रहे लोगो को बीमा, सुरक्षा एवं पेंशन जैसी सुविधाएं प्रदान करता है। यह संस्था सीधा केंद्र सरकार के अंतर्गत कार्य करती है। इस संस्था का मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है। इस संस्था की आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करिये

ईपीएफओ द्वारा चलायी जाने वाली योजनाएं

आप सभी को यह बतादे की EPFO (Employees’ Provident Fund Organisation) के द्वारा 3 योजनाएं चलाई जाती है। जो कुछ इस प्रकार है –

email letter

Subscribe to our Newsletter

Sarkari Yojana, Sarkari update at one place

  • कर्मचारी भविष्य निधि योजना (EPF- Employees’ Provident Fund Scheme) – Employees’ Provident Fund Scheme को हिंदी में कर्मचारी भविष्य निधि के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना के अंतर्गत नौकरी कर रहे कर्मचारियों को पेंशन के लिए बचत करने की सुविधान प्रदान करती है। इस योजना के अंतर्गत कंपनी एवं उसके कर्मचारी को नियमित रूप से योगदान करना होता है। इस योजना में न केवल पेंशन बल्कि कर्मचारी को निधि राशि भी प्रदान की जाती है।
  • कर्मचारी भाग्य लक्ष्मी योजना (EPS- Employees’ Pension Fund Scheme) – EPFO की इस योजना के अंतर्गत कर्मचारी की पेंशन के लिए विशेष रूप से योगदान किया जाता है। जिसमे केवल कंपनी का योगदान होता है। इस राशि को कर्मचारी की मृत्यु के पश्चात उसके परिवार वालों को प्रदान किया जाता है।
  • कर्मचारी जमा सहबध्द बीमा योजना (EDLI- Employees’ Deposit Linked Insurance Scheme) – EPFO की इस योजना के अंतर्गत कर्मचारी की बीमा के लिए योगदान किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत भी केवल कंपनी ही योगदान करती है। अगर किसी कारण से कर्मचारी की मृत्यु हो जाती है। तो उस धनराशि को उसके परिवार को प्रदान कर दिया जाता है।
  • कर्मचारी गारंटी योजना (EPG – Employee Guarantee Scheme) – इस योजना के अंतर्गत कर्मचारियों को नियोक्ता (Employer) के द्वारा फिक्स सैलरी प्रदान करने की गारंटी प्रदान की जाती है।

EPFO कैसे काम करता है ?

अगर आप भी जानना चाहते है की EPFO कैसे काम करता है। तो यहाँ पर दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़े।

  • सबसे पहले तो आप सभी यह जान ले की EPF के लिए वह सभी लोग पात्र है। जो की नौकरी कर रहे है और वेतन प्राप्त कर रहे है।
  • कोई भी व्यक्ति EPF के लिए तब से पात्र होता है। जबसे से उस व्यक्ति ने नौकरी शुरू की है। उसके बाद जब से वह वेतन प्राप्त करने लगता है। तब से उस कर्मचारी का नियमित रूप से योगदान प्रारम्भ हो जाता है।
  • कर्मचारी के वेतन से उसके वेतन का छोटा सा हिस्सा PF यानि के प्रोविडेंट फंड के रूप में जमा कर दिया जाता है।
  • यह राशि कर्मचारी के उस समय काम आती है या तो कर्मचारी रिटायर हो रहा हो या फिर अगर कोई कर्मचारी किसी कारणवश नौकरी नहीं कर रहा है।
  • नियोक्ता और कर्मचारीन दोनों के द्वारा कर्मचारी के वेतन का करीब 12% PF के रूप में जमा कर दिया जाता है।

EPFO से क्या क्या फायदे होते हैं ?

तो दोस्तों आप संबही को यह बतादे की EPFO से बहुत से लाभ होते है। जिनके बारे में हम आप सभी को यहाँ पर बताने वाले है। जानने के लिए दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़े।

  • जब किसी कर्मचारी का PF अकाउंट खुलता है। उसके बाद उसको इन्शुरन्स की सुविधा प्राप्त होती है। कर्मचारी को EDLI स्कीम के अंतर्गत 6 लाख रुपये तक का बीमा का लाभ मिलता है।
  • PF की मदद से कर्मचारी को पेंशन का लाभ भी प्राप्त होता है।
  • EPF अकाउंट होने से कर्मचारी को कई लाभ होते है। उनमे से एक यह है की कर्मचारी का फण्ड एकत्र हो जाता है। जो की उसकी आवश्यकता में काम आता है।

EPFO से सम्बंधित प्रश्न व उनके उत्तर

EPFO की फुल फॉर्म क्या है ?

EPFO full form in English – Employees’ Provident Fund Organisation
EPFO full form in Hindi – कर्मचारी भविष्य – निधि संस्था

ईपीएफओ के द्वारा कौन कौन सी योजनाए चलायी जाती है ?

EPFO के द्वारा चार प्रकार की योजनाए चलाई जाती है।
1. कर्मचारी भविष्य निधि योजना (EPF- Employees’ Provident Fund Scheme)
2. कर्मचारी भाग्य लक्ष्मी योजना (EPS- Employees’ Pension Fund Scheme)
3. कर्मचारी जमा सहबध्द बीमा योजना (EDLI- Employees’ Deposit Linked Insurance Scheme)
4. कर्मचारी गारंटी योजना (EPG – Employee Guarantee Scheme)

EPFO की स्थापना कब की गयी थी ?

EPFO की स्थापना 4 मार्च 1952 को की गयी थी।

EPFO किसके अंतर्गत कार्य करता है ?

EPFO सीधा केंद्र सरकार के अंतर्गत कार्य करता है।

Leave a Comment