CTET सिलेबस हिंदी में पीडीएफ 2022: Download Topic-wise Pdf Paper 1 and 2

CTET Syllabus in Hindi:- अगर आप भी नवोदय विद्यालय, केंद्रीय विद्यालय, केंद्र और राज्य सरकार द्वारा विभिन वित्तपोषित विद्यालयों में अध्यापक बनना चाहते है तो आपको केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (CTET) को पास करना आवश्यक है। जो भी कैंडिडेट प्राथमिक स्तर पर अध्यापन का कार्य करना चाहते है उन्हें सीबीएसई (CBSE) द्वारा आयोजित की जाने वाली CTET परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यक होता है तभी वे अध्यापन कार्य के लिए एलिजिबल कैंडिडेट माने जाते है। CTET परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए कैंडिडेट को सीबीएसई (CBSE) द्वारा CTET परीक्षा के लिए निर्धारित लेटेस्ट पाठ्यक्रम के बारे में जानकारी होना आवश्यक है तभी आप अपनी तैयारी को अच्छे से धार दे सकते है।

CTET Syllabus in Hindi
CTET Syllabus in Hindi

साथ ही सीटेट परीक्षा में क्वालीफाई करने के लिए कैंडिडेट को पेपर का पैटर्न और इससे सम्बंधित अन्य जानकारी होनी आवश्यक है। आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको CTET सिलेबस हिंदी में पीडीएफ 2022 (CTET Syllabus in Hindi with Pdf-2022) के साथ प्रोवाइड कर रहे है ताकि आप अच्छे से सिलेबस की जानकारी प्राप्त कर परीक्षा में उत्तीर्ण हो सकें। साथ ही CTET Syllabus in Hindi के अतिरिक्त यहाँ आपको CTET Syllabus Paper 1 and 2 Topic-wise Pdf Download करने का लिंक भी दिया गया है।

Article Contents

CTET सिलेबस हिंदी में, Highlight

यहाँ आपको हिंदी में CTET परीक्षा सिलेबस सम्बंधित मुख्य बिंदुओं की जानकारी प्रदान गयी है।

आर्टिकल सम्बंधित है CTET सिलेबस
सम्बंधित परीक्षा केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (CTET)
सम्बंधित संस्था सीबीएसई (CBSE)
लाभ अध्यापक पात्रता सर्टिफिकेट
कुल प्रश्नपत्र 2 प्रश्नपत्र
कुल प्रश्न 150 प्रश्न ( (प्रत्येक प्रश्नपत्र में)
निर्धारित समय 2:30 घंटा (प्रत्येक प्रश्नपत्र के लिए)
उत्तीर्ण अंक 60 फीसदी
परीक्षा का माध्यम ऑनलाइन
सही-उत्तर पर निर्धारित अंक 1 अंक
गलत-उत्तर पर नेगेटिव मार्किंग कोई ऋणात्मक अंक नहीं
आधिकारिक वेबसाइट https://ctet.nic.in./
CTET Syllabus in Hindi

CTET Syllabus 2022 in Hindi

प्राथमिक स्तर के छात्रों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा CTET(सेंट्रल टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट) को प्रति वर्ष दो बार (जुलाई और नवंबर) में आयोजित किया जाता है। इस परीक्षा के माध्यम से कैंडिडेट केंद्र सरकार द्वारा केंद्रीय-विद्यालयों, नवोदय-विद्यालयों और विभिन केंद्रीय और राज्य सरकार द्वारा वित्तपोषित स्कूलों में अध्यापन का कार्य कर सकते है। CTET(सेंट्रल टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट) को पास करने के लिए कैंडिडेट को CTET Syllabus 2022 या CTET Exam Pattern 2022 को अच्छे से पता कर लेना चाहिए तभी वे इस परीक्षा की बेहतरीन तैयारी करके CTET Exam 2022 में उत्तीर्ण हो सकते है।

CTET परीक्षा प्राथमिक स्तर के अध्यापन कार्य के इच्छुक कैंडिडेट के लिए आयोजित की जाती है जिसमे की निम्न 2 पेपर होते है :-

  • CTET Paper 1– कक्षा 1 से कक्षा 5 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट को CTET Paper 1 को क्वालीफाई करना आवश्यक होता है।
  • CTET Paper 2 – कक्षा 6 से कक्षा 8 तक के विद्यार्थियों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट को CTET Paper 2 को क्वालीफाई करना आवश्यक होता है।

जो भी कैंडिडेट CTET Exam 2022 में उत्तीर्ण होना चाहते है उन्हें CTET Exam Pattern 2022 को अच्छी तरह से समझना आवश्यक है तभी वे CTET Exam 2022 के प्रश्नो का पैटर्न समझकर पेपर को सही तरीके से हल कर अपनी सफलता सुनिश्चित कर सकते है। यहाँ आपको CTET New Syllabus 2022 के माध्यम से CTET Paper 1 Syllabus और CTET Paper 2 Syllabus की पूरी जानकारी प्रदान की गयी है। CTET Syllabus 2022 in Hindi PDF Download के माध्यम से आप सिलेबस को डाउनलोड करके इसे बार-बार रिवाइस कर तैयारी कर सकते है।

CTET सिलेबस हिंदी में पीडीएफ, मुख्य बिंदु

सीबीएसई (CBSE) द्वारा अध्यापक बनने के इच्छुक छात्रों के लिए प्रत्येक वर्ष 2 बार CTET Exam आयोजित करवाया जाता है। जो भी कैंडिडेट प्राथमिक कक्षा 1 से लेकर कक्षा 5 तक के छात्रों को पढ़ाना चाहते है उन्हें CTET Paper 1 की परीक्षा देनी होती है। CTET Paper 1 को उत्तीर्ण करने के पश्चात कैंडिडेट कक्षा एक से पाँचवी तक के छात्रों को पढ़ाने के लिए पात्र माने जाते है वही कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों को पढ़ाने के लिए छात्रों को CTET Paper 2 को क्वालीफाई करना आवश्यक होता है। हालांकि कैंडिडेट चाहें तो दोनों पेपर CTET Paper 1 और CTET Paper 2 में भाग ले सकते है। CTET Exam सम्बंधित मुख्य बिंदु इस प्रकार से है :-

  • कक्षा 1 से 5वीं तक की कक्षाओं को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट के लिए CTET Paper 1 को क्वालीफाई करना आवश्यक होगा।
  • कक्षा 6 से 8 तक के छात्रों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट को CTET Paper 2 को क्वालीफाई करना आवश्यक होगा।
  • CTET Paper 1 और CTET Paper 2 दोनों ही 150-150 प्रश्नों के होंगे।
  • CTET Exam में CTET Paper 1 और CTET Paper 2 में प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित किया गया है।
  • सीटेट पेपर-1, 150 अंकों का होगा एवं सीटेट पेपर-2 भी 150 अंको का होगा।
  • गलत-उत्तर के लिए किसी भी प्रकार के ऋणात्मक अंक का प्रावधान नहीं है।
  • सीटेट पेपर-1 में कठिनता का स्तर दूसरे लेवल का होगा जबकि सीटेट पेपर-2 में कठिनाई का स्तर हाई-मध्यम श्रेणी का होगा।
  • सीटेट पेपर-1 में कुल 5 खंडो से प्रश्न पूछे जायेंगे जो की निम्न प्रकार से है :-बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, गणित और पर्यावरण विज्ञान
  • सीटेट पेपर-2 को कुल 4 खंडो में बांटा गया है जिनमे कुल 150 प्रश्न पूछे जायेंगे। सीटेट पेपर-2 के सभी खंड निम्न है :-बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, विज्ञान/गणित एवं सामाजिक अध्ययन (सीटेट पेपर-2 में छात्रों को सामाजिक अध्ययन तथा विज्ञान/गणित में विकल्प चुनने का अवसर दिया जायेगा।

CTET Exam Paper 1st Pattern

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा प्राथमिक स्तर के छात्रों पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट के योग्यता परिक्षण के लिए CTET Paper 1st का आयोजन किया जाता है। CTET Paper 1st को बोर्ड द्वारा पांच भागों में बाँटा गया है जिसका सिलेबस प्रकार से है :-बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, गणित और पर्यावरण विज्ञान

विषय-खंड का नाम (Name of the Subject)कुल प्रश्न कुल अंक
बाल विकास और शिक्षाशास्त्र3030
भाषा I3030
भाषा II3030
गणित3030
पर्यावरण विज्ञान 3030
योग 150 150
CTET Syllabus 2022, Paper 1st Pattern

CTET Exam Paper 1st के अंतर्गत कुल 5 खंडो से प्रश्न पूछे जाते है जिसके अंतर्गत कैंडिडेट को कुल 150 प्रश्न हल करने होंगे। प्रत्येक सही उत्तर के लिए 1 अंक निर्धारित किया गया है हालाँकि कैंडिडेट को यह ध्यान रखना आवश्यक है की यहाँ गलत उत्तर के लिए भी प्रकार के ऋणात्मक अंको का प्रावधान नहीं है।

CTET Exam Paper 1st के माध्यम से बोर्ड के द्वारा कैंडिडेट के बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, गणित और पर्यावरण विज्ञान से सम्बंधित विषयों का परिक्षण जाता है। इस परीक्षा में बोर्ड द्वारा निर्धारित न्यूनतम अंक प्राप्त करने वाले कैंडिडेट को सीबीएसई द्वारा केंद्रीय अध्यापक पात्रता का सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है।

CTET Exam Paper 2nd Pattern

जो भी कैंडिडेट कक्षा 6 से 8 तक पढ़ाने के इच्छुक है उन्हें CTET Exam Paper 2nd को उत्तीर्ण करना आवश्यक होगा। इस पेपर में कुल 4 खंडो से प्रश्न पूछे जाते है जिसके आधार पर छात्रों का मूल्याङ्कन किया जाता है। बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, विज्ञान/गणित एवं सामाजिक अध्ययन के आधार पर CTET Exam Paper 2nd Pattern इस प्रकार से है :-

विषय-खंड का नाम (Name of the Subject)कुल प्रश्न कुल अंक
बाल विकास और शिक्षाशास्त्र3030
भाषा I 3030
भाषा II3030
विज्ञान/गणित (विज्ञान और गणित के टीचर बनने के इच्छुक कैंडिडेट के लिए अनिवार्य)
सामाजिक अध्ययन (सामाजिक अध्ययन के टीचर बनने के इच्छुक कैंडिडेट के लिए अनिवार्य)
6060
योग 150 150
CTET Exam Paper 2nd Pattern

CTET Exam Paper 2nd में भी कैंडिडेट से कुल 150 प्रश्न पूछे जायेंगे जहाँ प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित है। यह प्रश्नपत्र कुल 4 खंडो में बांटा हुआ है जहाँ चौथे खंड में विज्ञान/गणित एवं सामाजिक अध्ययन में कैंडिडेट के पास विषय को चुनने का विकल्प उपलब्ध है। जो छात्र विज्ञान और गणित विषय से सम्बंधित अध्यापक बनना चाहते है उन्हें विज्ञान/गणित विषय जबकि सामाजिक विज्ञान से सम्बंधित विषय में अध्यापन का कार्य करने इच्छुक कैंडिडेट सामाजिक अध्ययन विषय का चुनाव कर सकते है।

इन भाषाओं में आयोजित की जाएगी परीक्षा

CTET Exam में पूरे देश से अभ्यर्थी भाग लेते है ऐसे में छात्रों को अपनी मातृभाषा में इस परीक्षा को देने का मौका दिया जाता है। सीटेट-परीक्षा का आयोजन पूरे देश में सभी प्रमुख शहरो में किया जाता है और इस परीक्षा को कुल 20 भाषाओं आयोजित किया जाता है। यहाँ आपको सभी भाषाओं की सूची प्रदान की गयी है :-

हिंदी अंग्रेजी संस्कृत उर्दू पंजाबी
तेलुगु तमिल कन्नड़ मलयालम मराठी
मिज़ो मणिपुरी बांग्ला नेपाली ओड़िया
तिब्बतन असमी गुजराती खासो गारो
CTET Exam language

सभी कैंडिडेट के लिए आवश्यक है की वे पहले CTET Exam सिलेबस को अच्छे से रिवाइस कर ले इसके पश्चात सीटेट-परीक्षा के नवीनतम और अपडेटेड पाठ्यक्रम के अनुसार अपनी तैयारी करें। यहाँ आपको CTET Syllabus in Hindi Revised and Updated 2022 के माध्यम से सीटेट के नवीनतम पाठ्यक्रम की सूची प्रदान की गयी है जिससे की आप आसानी से अपनी तैयारी को समय दे सकें।

CTET Paper 1st Syllabus in Hindi 2022

सीटेट-प्रथम प्रश्नपत्र के अंतर्गत कैंडिडेट को बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, गणित और पर्यावरण विज्ञान के अंतर्गत कुल 150 प्रश्न पूछे जायेंगे जिसके लिए 150 अंक निर्धारित किये गए है। इस प्रश्नपत्र को हल करने के लिए उमीदवारों को कुल ढ़ाई घंटे का समय दिया जायेगा। इस प्रश्नपत्र के अंतर्गत विभिन विषयों का क्रमवार वर्णन इस प्रकार से है।

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र पाठ्यक्रम (Child Development and Pedagogy) (30 प्रश्न)

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र पाठ्यक्रम CTET Paper 1st का महत्वपूर्ण खंड है जो अंतर्गत छात्रों के बच्चो के मनोविज्ञान और सीखने के पैटर्न से सम्बंधित गतिविधियों के पाठ्यक्रम पर आधारित होगा। इस खंड से छात्रों को तीन-सेक्शन में प्रश्न पूछे जायेंगे जो की बाल-मनोविज्ञान पर आधारित होते है। बाल विकास और शिक्षाशास्त्र पाठ्यक्रम का अच्छे से अध्ययन करके छात्र CTET Paper 1st में बेहतर अंक प्राप्त कर सकते है।

a) बाल विकास (प्राथमिक विद्यालय के बच्चे) (15 प्रश्न)

  • विकास का सिद्धांत एवं सीखने के साथ इसका संबंध
  • आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव
  • समाजीकरण प्रक्रियाएं:- सामाजिक दुनिया और बच्चे (शिक्षक, माता-पिता, सहकर्मी)
  • बच्चों के विकास के सिद्धांत
  • बाल केंद्रित और प्रगतिशील शिक्षा के सिद्धांत
  • पियागेट, कोहलबर्ग और वायगोत्स्की: निर्माण एवं क्रिटिकल पर्सपेक्टिव
  • भाषा और विचार
  • बहु-आयामी बुद्धिमता
  • निर्माण के रूप में लिंग भूमिका, लिंग भूमिकाएँ, लिंग-भेदभाव एवं  शैक्षिक अभ्यास
  • सीखने के आकलन एवं सीखने का आकलन के बीच अंतर, विद्यालय-आधारित मूल्यांकन, सतत एवं व्यापक मूल्यांकन: परिप्रेक्ष्य एवं अभ्यास
  • शिक्षार्थियों के मध्य व्यैक्तिक अंतर, भाषा, जाति, लिंग, समुदाय एवं धर्म की विविधता के आधार पर मतभेदों को समझना
  • शिक्षार्थियों की तैयारी के स्तर का मूल्याङ्कन करने हेतु उपयुक्त प्रश्न तैयार करना; कक्षा में सीखने एवं आलोचनात्मक सोच को बढ़ाने तथा छात्र की उपलब्धि का आकलन करने हेतु

b) समावेशी शिक्षा की अवधारणा तथा विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को समझना (5 प्रश्न)

  • वंचित एवं प्रतिकूल सहित विविध पृष्ठभूमि के शिक्षार्थियों को संबोधित करना
  • प्रतिभाशाली, रचनात्मक एवं विशेष रूप से दिव्यांग शिक्षार्थियों को संबोधित करना
  • हानि एवं सीखने की कठिनाइयों वाले बच्चों की जरूरतों को पूर्ण करना

c) सीखना और शिक्षाशास्त्र  (Learning and Pedagogy) (10 प्रश्न)

  • बच्चे कैसे सोचते एवं सीखते हैं; बच्चे स्कूल के प्रदर्शन में क्यों और कैसे सफलता प्राप्त करने में ‘असफल’ होते हैं
  • समस्या समाधानकर्ता और ‘वैज्ञानिक अन्वेषक’ के रूप में बच्चे
  • शिक्षण एवं सीखने की बुनियादी प्रक्रियाएं, बच्चों की सीखने की रणनीतियाँ, एक सोशल-एक्टिविटीज के रूप में सीखना, सीखने का सामाजिक संदर्भ
  • प्रेरणा और सीखना
  • अनुभूति तथा भावनाएं
  • बच्चों में सीखने की वैकल्पिक अवधारणाएँ, बच्चों की ‘त्रुटियों’ को सीखने की प्रक्रिया में आवश्यक स्टेप्स के रूप में समझना
  • सीखने में योगदान देने वाले कारक – व्यक्तिगत एवं पर्यावरणीय

CTET Syllabus 2022-भाषा-1 (Language I)

CTET Syllabus 2022 के अंतर्गत भाषा-1 का पेपर अभ्यर्थियों के भाषा समझ एवं इससे सम्बंधित अन्य गतिविधियों की समझ पर आधारित होगा। इस खंड को मुख्यत 2 भागो में बांटा गया है जिसके अंतर्गत कैंडिडेट की भाषा समझ एवं छात्रों की भाषा सम्बंधित समझ के आधार पर प्रश्न पूछे जाते है। यह खंड कुल 30 प्रश्नों का होता है और प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित किया गया है। बेहतर तैयारी और भाषा की अच्छे से समझ के आधार पर छात्र इस सेक्शन में बेहतर स्कोर कर सकते है।

इस सेक्शन में छात्रों के मुख्यत भाषा की समझ को लेकर टेस्ट किया जाता है जिसके अंतर्गत अपठित गद्यांश के अंतर्गत विभिन प्रकार के प्रश्न पूछे जाते है। इसमें 2 अपठित गद्यांश और एक कविता दी जाती है जहाँ कैंडिडेट को बोध, व्याकरण, अनुमान एवं मौखिक क्षमता की समझ की परीक्षा की जाती है। इस सेक्शन की तैयारी के लिए छात्रों की भाषा पर मूलभूत समझ होनी आवश्यक है।

a) भाषा समझ, अपठित गद्यांश (Comprehension) (15 प्रश्न)

  • दो गद्यांश एक गद्य या नाटक
  • एक कविता 

यहाँ छात्रों के बोध, व्याकरण, अनुमान एवं मौखिक क्षमता की परीक्षा के लिए अपठित गद्यांश के साहित्यिक, कथा, वैज्ञानिक या विवेचनात्मक भाग से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है जिसके आधार पर उम्मीदवारों की भाषा समझ का मूल्याङ्कन किया जाता है।

 b) भाषा विकास का शिक्षाशास्त्र (Pedagogy of Language Development) (15 प्रश्न)

  • सीखना और अधिग्रहण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • भाषा की समझ और प्रवीणता का मूल्यांकन करना, बोलना, सुनना, पढ़ना एवं लिखना
  • सुनने एवं बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक साधन के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • डाइवर्स कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा की कठिनाइयाँ, त्रुटियाँ एवं विकार
  • मौखिक एवं लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने हेतु भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • भाषा कौशल
  • शिक्षण-अधिगम सामग्री; पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, कक्षा के बहुभाषी संसाधन
  • उपचारात्मक शिक्षण

CTET Syllabus 2022-भाषा-2 (Language 2)

CTET Syllabus 2022भाषा-2 के अंतर्गत भी कैंडिडेट के भाषा की समझ पर प्रश्न पूछे जाते है। यहाँ कैंडिडेट के भाषा के समझ और अन्य तत्वों के रूप में प्रश्न पूछे जाते है जो की भाषा-1 के पेपर से कुछ अलग-प्रकार के होते है। यह पेपर भी कुल 30 प्रश्नो का होता है जहाँ प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित है। यह पेपर 2 भागो में बंटा होता है जो की निम्न प्रकार से है :-

a) भाषा समझ, अपठित गद्यांश (Comprehension) (15 प्रश्न)

  • दो गद्यांश एक गद्य

यहाँ से कैंडिडेट को समझ, मौखिक क्षमता एवं व्याकरण से प्रश्न पूछे जाते है जो की कैंडिडेट की भाषा के स्तर की जांच करती है।

b) भाषा विकास का शिक्षाशास्त्र (Pedagogy of Language Development) (15 प्रश्न)

  • सीखना और अधिग्रहण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • भाषा की समझ और प्रवीणता का मूल्यांकन करना, बोलना, सुनना, पढ़ना एवं लिखना
  • सुनने एवं बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक साधन के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • डाइवर्स कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा की कठिनाइयाँ, त्रुटियाँ एवं विकार
  • मौखिक एवं लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने हेतु भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • भाषा कौशल
  • शिक्षण-अधिगम सामग्री; पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, कक्षा के बहुभाषी संसाधन
  • उपचारात्मक शिक्षण

CTET Syllabus 2022- गणित (Mathematics Syllabus)

CTET Syllabus 2022 में चौथे-खंड में गणित विषय से प्रश्न पूछे जाते है जिससे की कैंडिडेट के गणित की बेसिक समझ की परीक्षा की जाती है। हालांकि आपको बता दे की इस प्रश्नपत्र में गणित का स्तर माध्यमिक स्तर का होता है जहाँ कक्षा एक से कक्षा 5वीं तक के गणित के विषय से प्रश्न पूछे जाते है। यह पाठ्यक्रम मुख्यत 2 भागो में बंटा होता है -सामग्री और शैक्षणिक मुद्दे। गणित पाठ्यक्रम का सिलेबस इस प्रकार से है :-

a) कंटेंट (15 प्रश्न)

  • संख्याएँ
  • जोड़ एवं घटाव
  • गुणा
  • भाग
  • मापन
  • भार
  • आयतन
  • समय
  • पैटर्न
  • धन
  • डाटा-हैंडलिंग
  • ज्यामिति
  • आस-पास के ठोस
  • आकृति एवं आकारों को समझ

b) शैक्षणिक मुद्दे (15 प्रश्न)

  • पाठ्यक्रम में गणित का स्थान
  • गणित की भाषा
  • कम्युनिटी मैथमेटिक्स
  • औपचारिक एवं अनौपचारिक माध्यमो से मूल्याङ्कन
  • शिक्षण की कठिनाईयाँ
  • सीखना और पढ़ाने की त्रुटि-विश्लेषण एवं इससे सम्बंधित अन्य पहलू
  • उपचारात्मक एवं नैदानिक शिक्षण

CTET Syllabus 2022-पर्यावरण अध्ययन (Environmental Studies)

CTET Syllabus 2022 में पर्यावरण अध्ययन एक बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है। यहाँ से पर्यावरण अध्ययन से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है साथ ही आसपास के वातावरण के बच्चे के सीखने की क्षमता के साथ सम्बन्ध के बारे में कड़ियाँ जोड़ी जाती है। इस खंड को भी दो भागों में बाँटा गया है जहाँ से छात्रों को 15-15 यानी की कुल 30 प्रश्न पूछे जाते है। प्रत्येक प्रश्न एक नंबर का होता है ऐसे में छात्र आसानी से इस खंड में स्कोर करके CTET एग्जाम को क्वालीफाई कर सकते है।

  • परिवार एवं मित्र
    • सम्बन्ध (Relationships)
    • कार्य एवं खेल
    • पशु
    • पौधे
  • II. खाद्य
  • III. आवास
  • IV. जल
  • V. यात्रा
  • VI. चीजें जो हम बनाते और करते है

b) शैक्षणिक मुद्दे (15 प्रश्न)

  • पर्यावरण अध्ययन की अवधारणा एवं क्षेत्र
  • पर्यावरण अध्ययन का महत्व एवं समन्वित पर्यावरण अध्ययन
  • पर्यावरण अध्ययन & पर्यावरण शिक्षा
  • सीखने के सिद्धांत
  • क्षेत्र एवं विज्ञान एवं सामाजिक विज्ञान से सम्बन्ध
  • अवधारणा को प्रस्तुत करने का तरीका
  • गतिविधियाँ (Activities)
  • अनुसन्धानत्मक/प्रयोगात्मक कार्य (Experimentation/Practical Work)
  • विचार-विमर्श (Discussion)
  • CCE
  • शैक्षणिक सामग्री/सहायता (Teaching material/Aids)
  • समस्यायें (Problems)

यहाँ कैंडिडेट को पर्यावरण अध्ययन से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है साथ ही सीखने और सिखाने की प्रक्रिया में आसपास के पर्यावरण का क्या प्रभाव होता है इसका अध्ययन भी किया जाता है। यहाँ पर प्रतिदिन की समस्याओ से सम्बंधित सवालो के माध्यम से कैंडिडेट के EVS का मूल्याङ्कन किया जाता है।

इस प्रकार से यहाँ आपको CTET Syllabus 2022 के अंतर्गत पेपर-1 के सम्पूर्ण सिलेबस की जानकारी दी गयी है। बता दे की कक्षा 1 से 5वीं तक के छात्रों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट को पेपर-1 क्वालीफाई करना आवश्यक होता है। चलिए अब जानते है CTET paper-2 Syllabus 2022 के बारे में

CTET Paper 2 Syllabus 2022

जो भी कैंडिडेट कक्षा 6 से 8वीं तक के छात्रों को पढ़ाने के इच्छुक है उन्हें CTET Paper 2 Syllabus 2022 का सिलेबस ज्ञात होना आवश्यक है। CTET Paper 2 Syllabus 2022 के सम्पूर्ण पाठ्यक्रम की जानकारी के माध्यम से ही कैंडिडेट बेहतर तैयारी कर सकते है और टीचर बनने का अपना सपना पूरा कर सकते है।

CTET Paper 2 के अंतर्गत कैंडिडेट से कुल 4 खंडो प्रश्न पूछे जाते है जो की निम्न प्रकार से है :-

  • बाल विकास और शिक्षाशास्त्र
  • भाषा I
  • भाषा II
  • विज्ञान/गणित एवं सामाजिक अध्ययन

यहाँ छात्रों को कुल चार खंडो से 150 प्रश्न पूछे जायेंगे जिसमे की प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित किया गया है। केंद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) के पेपर-2 का पाठ्यक्रम छात्रों को यहाँ उपलब्ध करवाया गया है। इस पाठ्यक्रम की सहायता से कैंडिडेट को अपना सिलेबस को समय से पूरा करने में सहायता मिलेगी साथ ही इसकी सहायता से वे अपना सिलेबस बार-बार रिविज़न भी कर सकते है।

CTET Paper 2 में कैंडिडेट बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I और भाषा II से कुल 30-30 यानी की तीनों खंडो से कुल 90 प्रश्न पूछे जायेंगे वही विज्ञान/गणित एवं सामाजिक अध्ययन खंड से छात्रों को कुल 60 प्रश्न पूछे जायेंगे। आपको बता दे की CTET Paper 2 में कैंडिडेट को विज्ञान/गणित एवं सामाजिक अध्ययन खंड में विषय चुनने का विकल्प दिया गया है। विज्ञान और गणित विषय में अध्यापक बनने के इच्छुक कैंडिडेट गणित/विज्ञान विषय का चयन कर सकते है वही सामाजिक विज्ञान क्षेत्र में पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट सामाजिक विज्ञान विषय का चुनाव कर सकते है। यहाँ कैंडिडेट के लिए सभी खंडो की जानकारी इस प्रकार से है :-

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र पाठ्यक्रम (Child Development and Pedagogy) (30 प्रश्न)

बाल विकास और शिक्षाशास्त्र पाठ्यक्रम (Child Development and Pedagogy) को CTET Paper 2 Syllabus 2022 का महत्वपूर्ण भाग मानकर कैंडिडेट को अच्छे से तैयारी करनी चाहिए। इस भाग से कैंडिडेट को 30 प्रश्न पूछे जाते है जो की कुल 30 अंको के होते है। पाठ्यक्रम के अनुसार तैयारी करने और लगातार प्रश्नो का अभ्यास करके आप बेहतर परिणाम प्राप्त कर सकते है। यह सेक्शन कुल तीन खंडो में बंटा है जहाँ से छात्रों को निम्न टॉपिक्स से सवाल पूछे जाते है।

a) बाल विकास (प्राथमिक विद्यालय के बच्चे) (15 प्रश्न)

  • विकास का सिद्धांत एवं सीखने के साथ इसका संबंध
  • आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव
  • समाजीकरण प्रक्रियाएं:- सामाजिक दुनिया और बच्चे (शिक्षक, माता-पिता, सहकर्मी)
  • बच्चों के विकास के सिद्धांत
  • बाल केंद्रित और प्रगतिशील शिक्षा के सिद्धांत
  • पियागेट, कोहलबर्ग और वायगोत्स्की: निर्माण एवं क्रिटिकल पर्सपेक्टिव
  • भाषा और विचार
  • बहु-आयामी बुद्धिमता
  • निर्माण के रूप में लिंग भूमिका, लिंग भूमिकाएँ, लिंग-भेदभाव एवं  शैक्षिक अभ्यास
  • सीखने के आकलन एवं सीखने का आकलन के बीच अंतर, विद्यालय-आधारित मूल्यांकन, सतत एवं व्यापक मूल्यांकन: परिप्रेक्ष्य एवं अभ्यास
  • शिक्षार्थियों के मध्य व्यैक्तिक अंतर, भाषा, जाति, लिंग, समुदाय एवं धर्म की विविधता के आधार पर मतभेदों को समझना
  • शिक्षार्थियों की तैयारी के स्तर का मूल्याङ्कन करने हेतु उपयुक्त प्रश्न तैयार करना; कक्षा में सीखने एवं आलोचनात्मक सोच को बढ़ाने तथा छात्र की उपलब्धि का आकलन करने हेतु

b) समावेशी शिक्षा की अवधारणा तथा विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को समझना (5 प्रश्न)

  • वंचित एवं प्रतिकूल सहित विविध पृष्ठभूमि के शिक्षार्थियों को संबोधित करना
  • प्रतिभाशाली, रचनात्मक एवं विशेष रूप से दिव्यांग शिक्षार्थियों को संबोधित करना
  • हानि एवं सीखने की कठिनाइयों वाले बच्चों की जरूरतों को पूर्ण करना

c) सीखना और शिक्षाशास्त्र (Learning and Pedagogy) (10 प्रश्न)

  • बच्चे कैसे सोचते एवं सीखते हैं; बच्चे स्कूल के प्रदर्शन में क्यों और कैसे सफलता प्राप्त करने में ‘असफल’ होते हैं
  • समस्या समाधानकर्ता और ‘वैज्ञानिक अन्वेषक’ के रूप में बच्चे
  • शिक्षण एवं सीखने की बुनियादी प्रक्रियाएं, बच्चों की सीखने की रणनीतियाँ, एक सोशल-एक्टिविटीज के रूप में सीखना, सीखने का सामाजिक संदर्भ
  • प्रेरणा और सीखना
  • अनुभूति तथा भावनाएं
  • बच्चों में सीखने की वैकल्पिक अवधारणाएँ, बच्चों की ‘त्रुटियों’ को सीखने की प्रक्रिया में आवश्यक स्टेप्स के रूप में समझना
  • सीखने में योगदान देने वाले कारक – व्यक्तिगत एवं पर्यावरणीय

CTET Paper 2 Syllabus, भाषा-1 (Language I)

CTET Paper 2 Syllabus के अंतर्गत भाषा-1 से कैंडिडेट के भाषा सम्बंधित ज्ञान का परिक्षण किया जाता है। CTET Paper 2 भाषा1 के पेपर को 2 खंडो में बाँटा गया है जिसके अंतर्गत कैंडिडेट को कुल 30 अंको के 30 प्रश्न पूछे जाते है जिनका विवरण इस प्रकार से है :-

a) भाषा समझ, अपठित गद्यांश (Comprehension) (15 प्रश्न)

  • दो गद्यांश एक गद्य या नाटक
  • एक कविता 

यहाँ छात्रों के बोध, व्याकरण, अनुमान एवं मौखिक क्षमता की परीक्षा के लिए अपठित गद्यांश के साहित्यिक, कथा, वैज्ञानिक या विवेचनात्मक भाग से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है जिसके आधार पर उम्मीदवारों की भाषा समझ का मूल्याङ्कन किया जाता है।

b) भाषा विकास का शिक्षाशास्त्र (Pedagogy of Language Development) (15 प्रश्न)

  • सीखना और अधिग्रहण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • भाषा की समझ और प्रवीणता का मूल्यांकन करना, बोलना, सुनना, पढ़ना एवं लिखना
  • सुनने एवं बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक साधन के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • डाइवर्स कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा की कठिनाइयाँ, त्रुटियाँ एवं विकार
  • मौखिक एवं लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने हेतु भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • भाषा कौशल
  • शिक्षण-अधिगम सामग्री; पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, कक्षा के बहुभाषी संसाधन
  • उपचारात्मक शिक्षण

CTET Paper 2 Syllabus, भाषा-2 (Language-2)

CTET Paper 2 भाषा-2 (Language-2) का पाठ्यक्रम भी भाषा-1 के अनुरूप होता है। यहाँ कैंडिडेट को कुल 30 प्रश्न पूछे जाते है जिसके लिए कुल 30 अंक निर्धारित किये गये हैं। CTET Paper 2 भाषा-2 (Language-2) का पाठ्यक्रम इस प्रकार से है :-

a) भाषा समझ, अपठित गद्यांश (Comprehension) (15 प्रश्न)

  • दो गद्यांश एक गद्य

कैंडिडेट के समझ, मौखिक क्षमता एवं व्याकरण की समझ की जांच के लिए यहाँ से प्रश्न पूछे जाते है।

b) भाषा विकास का शिक्षाशास्त्र (Pedagogy of Language Development) (15 प्रश्न)

  • सीखना और अधिग्रहण
  • भाषा शिक्षण के सिद्धांत
  • भाषा की समझ और प्रवीणता का मूल्यांकन करना, बोलना, सुनना, पढ़ना एवं लिखना
  • सुनने एवं बोलने की भूमिका; भाषा का कार्य और बच्चे इसे एक साधन के रूप में कैसे उपयोग करते हैं
  • डाइवर्स कक्षा में भाषा सिखाने की चुनौतियाँ; भाषा की कठिनाइयाँ, त्रुटियाँ एवं विकार
  • मौखिक एवं लिखित रूप में विचारों को संप्रेषित करने हेतु भाषा सीखने में व्याकरण की भूमिका पर एक महत्वपूर्ण परिप्रेक्ष्य
  • भाषा कौशल
  • शिक्षण-अधिगम सामग्री; पाठ्यपुस्तक, बहु-मीडिया सामग्री, कक्षा के बहुभाषी संसाधन
  • उपचारात्मक शिक्षण

CTET Paper 2 Syllabus, विज्ञान/गणित

गणित और विज्ञान के टीचर बनने के इच्छुक कैंडिडेट को CTET Paper 2 में विषय चुनने का विकल्प मिलता है। यहाँ गणित वाले छात्रों के लिए पाठ्यक्रम इस प्रकार से है :-

a) CTET Paper 2 Maths Syllabus 2022 (गणित) (30 प्रश्न)

  • a) सामग्री (20 प्रश्न)
    • संख्या प्रणाली
    • नंबरों के साथ खेलना
    • हमारी संख्या जानना
    • पूर्ण संख्याएं
    • भिन्न
    • ऋणात्मक संख्याएं और पूर्णांक
    • बीजगणित
    • बीजगणित का परिचय
    • ज्यामिति
    • अनुपात और अनुपात
    • बुनियादी ज्यामितीय विचार (2-डी)
    • प्राथमिक आकृतियों को समझना (2-डी और 3-डी)
    • समरूपता: (प्रतिबिंब)
    • क्षेत्रमिति
    • डेटा संधारण
    • निर्माण (सीधे किनारे स्केल, प्रोट्रैक्टर, कंपास के उपयोग से)

b) शैक्षणिक मुद्दे (10 प्रश्न)

  • गणित/तार्किक सोच की प्रकृति
  • गणित की भाषा
  • पाठ्यचर्या में गणित का स्थान
  • सामुदायिक गणित
  • उपचारात्मक शिक्षण
  • मूल्यांकन
  • शिक्षण की समस्या

(ii) CTET Paper 2 Science Syllabus 2022 (विज्ञान) (30 प्रश्न)

  • a) सामग्री (20 प्रश्न)
    • भोजन के स्रोत
    • भोजन की स्वछता
    • भोजन के अवयव
    • दैनिक उपयोग की सामग्री
  • III. जीने की दुनिया
  • IV. गतिमान दुनिया एवं लोग
  • V. चीजें कैसे काम करती हैं
  • VI. प्राकृतिक घटनायें
    • विद्युत प्रवाह और सर्किट
    • चुम्बक
  • VII. प्राकृतिक संसाधन

b) शैक्षणिक मुद्दे (10 प्रश्न)

  • विज्ञान की प्रकृति और संरचना
  • विज्ञान को समझना एवं सराहना करना
  • प्राकृतिक विज्ञान/उद्देश्य और उद्देश्य
  • अवलोकन/प्रयोग/खोज (विज्ञान की विधि)
  • नवाचार
  • दृष्टिकोण/एकीकृत दृष्टिकोण
  • मूल्यांकन – संज्ञानात्मक/साइकोमोटर/प्रभावी
  • पाठ्य सामग्री/एड्स
  • समस्या
  • उपचारात्मक शिक्षण

CTET Paper 2 Syllabus, सामाजिक विज्ञान (Social Science/ Social Studies)-60 प्रश्न

CTET Paper 2 के अंतर्गत सामाजिक विज्ञान (Social Science/ Social Studies) में इतिहास, राजनीति, भूगोल, शिक्षाशास्त्र तथा अर्थशास्त्र के पाठ्यक्रम को शामिल किया गया है। सामाजिक विज्ञान का पाठ्यक्रम बहुत ही विस्तृत है और इसके अंतर्गत कैंडिडेट को विभिन प्रकार के टॉपिक को कवर करना आवश्यक है। इस खंड से कुल 60 प्रश्न पूछे जाते है जिनके लिए 60 अंक निर्धारित है। सही रणनीति और निरंतर अभ्यास से छात्र इस सेक्शन में अपनी तैयारी को बेहतर कर सकते है। इसके अंतर्गत विभिन विषयों का विवरण इस प्रकार से है:-

a) इतिहास (40 प्रश्न)

  • कब, कहाँ, और कैसे
  • सबसे पुराने समाज
  • प्रथम किसान और चरवाहे
  • प्रथम शहर
  • प्रारंभिक राज्य
  • पहला साम्राज्य
  • नए विचार
  • दूरस्थ भूमि के साथ संपर्क
  • संस्कृति और विज्ञान
  • राजनीतिक विकास
  • नए राजा और राज्य
  • दिल्ली के सुल्तान
  • वास्तुकला
  • एक साम्राज्य का निर्माण
  • क्षेत्रीय संस्कृतियां
  • सामाजिक बदलाव
  • कंपनी शक्ति की स्थापना
  • उपनिवेशवाद और जनजातीय समाज
  • ग्रामीण जीवन और समाज
  • 1857-58 का विद्रोह
  • जाति व्यवस्था को चुनौती
  • महिलायें और सुधार
  • राष्ट्रवादी आंदोलन
  • आजादी के बाद का भारत

b) भूगोल

  • भूगोल का एक सामाजिक अध्ययन के रूप में एवं विज्ञान के रूप में अध्ययन
  • ग्रह:- सौरमंडल में पृथ्वी
  • ग्लोब
  • पर्यावरण अपनी समग्रता में-प्राकृतिक एवं मानव पर्यावरण
  • वायु
  • पानी
  • मानव पर्यावरण- निपटान, परिवहन, तथा संचार
  • संसाधन के प्रकार- प्राकृतिक और मानव
  • कृषि

c) सामाजिक और राजनीतिक जीवन

  • विविधता
  • स्थानीय सरकार
  • सरकार
  • जीविका चलाना
  • लोकतंत्र
  • मीडिया को समझना
  • राज्य सरकार
  • लिंग अनपैकिंग
  • संविधान
  • न्यायपालिका
  • संसदीय सरकार
  • सामाजिक न्याय एवं हाशिये पर रहने वाले नागरिक

शैक्षणिक मुद्दे (20 प्रश्न)

  • सामाजिक विज्ञान / सामाजिक अध्ययन की अवधारणा एवं प्रकृति
  • आलोचनात्मक सोच का विकास
  • कक्षा की प्रक्रियाएँ, गतिविधियाँ, और प्रवचन
  • सामाजिक विज्ञान/सामाजिक अध्ययन पढ़ाने की समस्या
  • पूछताछ/अनुभवजन्य साक्ष्य
  • स्रोत – प्राथमिक और माध्यमिक
  • परियोजना कार्य
  • मूल्यांकन

CTET सिलेबस हिंदी में पीडीएफ 2022, PDF download link

CTET सिलेबस हिंदी में पीडीएफ 2022 के अंतर्गत ऊपर दिए गए आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको CTET सिलेबस पेपर-1 और पेपर-2 का सम्पूर्ण पाठ्यक्रम उपलब्ध करवा दिया है। यहाँ से आप CTET सिलेबस पेपर-1 और पेपर-2 का सम्पूर्ण पाठ्यक्रम देख सकते है। हालांकि छात्रों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए हमने यहाँ CTET परीक्षा का पाठ्यक्रम डाउनलोड करने के लिए PDF डाउनलोड करने का लिंक भी दिया है जिससे छात्रों को आसानी होगी :-

CTET syllables Paper 1 and 2 Topic-wise Pdf Download link- यहाँ क्लिक करें

CTET सिलेबस सम्बंधित अकसर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

CTET परीक्षा किस पद के लिए दी जाती है ?

CTET परीक्षा या केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (CTET) को सीबीएसई (CBSE) द्वारा आयोजित किया जाता है जिसमे उत्तीर्ण होने वाले कैंडिडेट अध्यापन कार्य के लिए एलिजिबल कैंडिडेट माने जाते है। इसके माध्यम से आप केंद्रीय-विद्यालयों, नवोदय-विद्यालयों एवं केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा संचालित होने वाले विभिन स्कूलों में अध्यापन का कार्य कर सकते है।

CTET परीक्षा में कुल कितने पेपर होते है ?

CTET परीक्षा में कुल 2 पेपर होते है जिनमे से कक्षा 1 से कक्षा 5 तक के छात्रों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट के लिए पेपर-1 जबकि कक्षा 6 से 8वीं तक के छात्रों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट को पेपर-2 को क्वालीफाई करना आवश्यक होता है।

CTET Paper 1 का पाठ्यक्रम क्या है ?

CTET Paper 1 जो की कक्षा 1 से कक्षा 5 तक के छात्रों को पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट के लिए होता है में कुल 5 खंडो से प्रश्न पूछे जाते है। इसके पांचो खंड इस प्रकार से है :- बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, गणित और पर्यावरण विज्ञान

CTET Paper-2 का पाठ्यक्रम क्या है ?

CTET Paper-2 के अंतर्गत कुल 4 खंडो से प्रश्न पूछे जाते है। इसके सभी खंडो का विवरण इस प्रकार से है :-बाल विकास और शिक्षाशास्त्र, भाषा I एवं भाषा II, विज्ञान/गणित एवं सामाजिक अध्ययन
इस खंड में विज्ञान/गणित एवं सामाजिक विज्ञान पढ़ाने के इच्छुक कैंडिडेट के पास अपना विषय चुनने का मौका होता है जिसके आधार पर वे अपने विषय का चयन कर सकते है।

CTET परीक्षा को कुल कितनी भाषाओं में आयोजित किया जाता है ?

CTET परीक्षा को वर्ष में 2 बार भारत की कुल 20 भाषाओं में आयोजित किया जाता है। इसके लिए पेपर संचालित करने वाली एजेंसी सीबीएसई (CBSE) द्वारा देश के सभी प्रमुख शहरो में एग्जामिनेशन सेंटर बनाये गए है। छात्रों को अपनी मातृभाषा (निर्धारित) में CTET परीक्षा देने का लाभ प्रदान करने की व्यवस्था की गयी है। ऊपर दिए गए आर्टिकल में आप सभी 20 निर्धारित भाषाओं की सूची देख सकते है।

CTET परीक्षा के सम्पूर्ण पाठ्यक्रम की जानकारी दें ?

CTET परीक्षा के सम्पूर्ण पाठ्यक्रम की जानकारी के लिए ऊपर दिए गए लेख पढ़े। यहाँ आपको CTET परीक्षा के पेपर-1 और पेपर-2 पाठ्यक्रम सम्बंधित विस्तृत जानकारी प्रदान की गयी है। ऊपर दिए गए लेख के माध्यम से आप CTET परीक्षा की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Download CTET Topic-wise Pdf Paper 1 and 2 का लिंक कहाँ मिलेगा ?

Download CTET Topic-wise Pdf Paper 1 and 2 को डाउनलोड करने के लिए ऊपर दिए गए लेख में लिंक पर क्लिक करके आप पेपर 1और पेपर 2nd को डाउनलोड कर सकते है।

Leave a Comment