CPU Full Form in Hindi | सीपीयू का फुल फॉर्म और मतलब क्या है

आधुनिक युग कंप्यूटर का युग है। आजकल छोटे-छोटे कामो से लेकर बड़े कामो तक के लिए कंप्यूटर का प्रयोग किया जा रहा है। चाहे खेती करना हो या मौसम सम्बंधित भविष्यवाणियाँ, कृषि से लेकर चाँद पर रॉकेट पहुंचाने के लिए सभी कार्यों में कंप्यूटर का यूज़ प्रमुखता से किया जाता है। ऐसे में आपने भी कई बार कंप्यूटर के संदर्भ में सीपीयू (CPU) शब्द सुना होगा। अकसर कंप्यूटर के प्रयोग को लेकर सीपीयू (CPU) शब्द का उपयोग किया जाता है। क्या आपको पता है की सीपीयू क्या होता है ? अगर नहीं तो चिंता करने की जरूरत नहीं है क्यूंकि आज के लेख के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की सीपीयू (CPU) क्या होता है, सीपीयू (CPU) की फुल फॉर्म (CPU Full Form in Hindi) क्या होती है और इसके कार्य क्या होते है और सीपीयू कितने प्रकार के होते है। साथ ही आपको सीपीयू सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्यों से भी अवगत करवाया जायेगा। तो चलिए जानते है CPU Full Form in Hindi के बारे में।

CPU Full Form in Hindi | सीपीयू का फुल फॉर्म और मतलब क्या है
CPU Full Form in Hindi | सीपीयू का फुल फॉर्म और मतलब क्या है

CPU Full Form in Hindi | सीपीयू का फुल फॉर्म और मतलब क्या है

सीपीयू (CPU) की फुल-फॉर्म होती है :- सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) जिसका हिंदी में अर्थ होता है केंद्रीय प्रक्रमण इकाई(CPU)सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) या जिसे केंद्रीय प्रक्रमण इकाई (सीपीयू) भी कहा जाता है किसी भी कंप्यूटर का सबसे मुख्य घटक होता है। इस प्रकार सीपीयू का अर्थ होता है सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) या केंद्रीय प्रक्रमण इकाई (सीपीयू)

सीपीयू (CPU) क्या होता है ?

सीपीयू (CPU) या सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) किसी भी कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। जिस प्रकार से हमारे पूरे शरीर के संचालन के लिए मस्तिष्क आवश्यक है उसी तरह से कंप्यूटर के संचालन के लिए सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) आवश्यक है। जो भूमिका हमारे शरीर के लिए हमारा मस्तिष्क निभाता है वही भूमिका एक कंप्यूटर के लिए सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU) निभाता है यानी की यह कहा जा सकता है की सीपीयू (CPU) किसी भी कंप्यूटर का मस्तिष्क होता है। सीपीयू (CPU) जैसे की इसके नाम से ही विदित हो रहा है की यह एक केंद्रीय प्रोसेसिंग यूनिट है यानी की यह सूचनाओं का विश्लेषण करके हमे मनचाही जानकारी प्रदान करता है। सीपीयू (CPU) अंकगणितीय और तार्किक निर्देशों पर कार्य करता है और कंप्यूटर के प्रोग्राम को रन करता है। हमारे प्रतिदिन के जीवन में कंप्यूटर की जटिल गणनाओं को पूरा करने में सीपीयू (CPU) सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

सीपीयू (CPU) के कार्य

सीपीयू (CPU) का कार्य किसी कंप्यूटर में बहुत ही वृहद् है। यह कंप्यूटर की जटिल गणनाओ को करने से लेकर अन्य सभी ऑपरेशन पूरे करता है। कंप्यूटर के सभी महत्वपूर्ण प्रोग्राम को संचालित करने के लिए सीपीयू कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण घटक है। यह कंप्यूटर की RAM से इनपुट प्राप्त करता है और इसके बाद प्राप्त सूचनाओं को डिकोड करके और प्रोसेस करके हमें मनचाहा आउटपुट प्रदान करता है। सीपीयू input/output (I/O) डिवाइसेस के डाटा सञ्चालन में मदद करता है। वास्तव में यह किसी भी कंप्यूटर में इनपुट-आउटपुट डिवाइस या प्रोसेसिंग डिवाइस के रूप में कार्य करता है। सीपीयू में बैकसाइड बस नाम से एक आंतरिक बस भी होती है जिसका मुख्य कार्य इंटरनल कैश मेमोरी के साथ कम्युनिकेशन करना है। इसके अलावा यह चिपसेट, एजीपी सॉकेट और मेमोरी से डाटा को भी प्रोसेस करता है जिसके लिए इसमें मुख्य बस के रूप में फ्रंट-साइड बस भी मौजूद होती है। हमे कंप्यूटर मॉनिटर पर जो भी सूचना प्रदर्शित होती है वह सीपीयू द्वारा प्रोसेस करने के बाद ही डिस्प्ले की जाती है।

सीपीयू के प्रकार

आपको बता दे की इस समय दुनिया में प्रोसेसर बनाने के क्षेत्र में 2 कंपनियों का नाम प्रमुख रूप से आता है:- Intel और AMD . इसके अतिरिक्त भी Qualcomm, NVIDIA और Hewlett- Packardऔर Acer Inc. इस क्षेत्र की अन्य दिग्गज कम्पनियाँ है। कार्य और क्षमता के आधार पर सीपीयू को 3 प्रकार से विभाजित किया गया है।

  • Transistor CPUs
  • Large Scale Integration CPUs
  • Small Scale Integration CPUs

सीपीयू कंप्यूटर के मदरबोर्ड पर सीपीयू “सॉकेट या कुछ मदरबोर्ड में स्लॉट के रूप में भी मौजूद रहता है जो की चौकोर आकार का होता है। इस पर धातु कनेक्टर जो की गोलाकार होते है मौजूद रहते है। इन सभी कनेक्टर की मदद से यह जानकारियों को प्रोसेस करता है। सीपीयू के 2 मुख्य पार्ट होते है जिनमे मुख्य ALU या जिसे अर्थमेटिक लॉजिक यूनिट (Arithmetic Logic Unit) भी कहा जाता है और दूसरा कंट्रोल यूनिट (Arithmetic Logic Unit) होता है। इसके अलावा भी इसमें Registers और रैम (RAM – Random Access Memory) पायी जाती है जो की सीपीयू के कार्य संचालन में मदद करती है।

सीपीयू से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य

  • सीपीयू शब्द का प्रयोग सबसे पहले 1960 के दशक में किया गया था। उस समय इसे  सॉफ्टवेयर Execution वाले उपकरण के रूप में परिभाषित किया गया था  जिसे की Stored Program Computer के साथ शुरू किया गया था।
  • सीपीयू प्रोसेसर में इस्तेमाल होने वाला सिलिकॉन (Silicon) तत्त्व की खोज सबसे पहले बैरन जोंस जैकब द्वारा 1823 में की गयी थी। सिलिकॉन (Silicon) कंप्यूटर प्रोसेसर बनाने में एक मूलभूत तत्त्व है।
  • इलेक्ट्रिकल लॉजिक सर्किट्स या Gates और Switch का पेटेंट सबसे पहले निकोला टेस्ला के द्वारा 1903 में किया गया था।
  • Integrated Circuit का विकास सबसे पहले जैक किल्बी और रॉबर्ट नॉयस के द्वारा 1958 ईस्वी में किया गया था। यह प्रोसेसर इन तीनो साइंटिस्ट के संयुक्त प्रयास से बना था।
  • दुनिया में सबसे पहले ट्राँजिस्टर का अविष्कार जॉन बार्डन, विलियम शॉक्ले और वाॅल्टर ब्रेटन द्वारा किया गया था। इन तीनो ने मिलकर 1947 में दुनिया का सबसे पहला ट्रांजिस्टर बनाया था।
  • प्रोसेसर बनाने में दुनिया की अग्रणी कंपनी Intel द्वारा 15 नवंबर 1971 को पहला माइक्रोप्रोसेसर Intel 4004 पेश किया गया था। AMD द्वारा  मार्च 1991 में AM386 माइक्रोप्रोसेसर्स को लॉच किया गया था।
  • Intel द्वारा 22 मार्च 1993 को पहली बार 1 मिलियन ट्रांजिस्टर्स की क्षमता वाला पेंटियम 60 MHz प्रोसेसर जारी किया गया था।
  • Intel द्वारा  4 जनवरी 2000 को 553 MHz Bus (सेलेरॉन) प्रोसेसर की शुरुआत की गयी थी वही इंटेल द्वारा Core 2 Duo E6320 प्रोसेसर को 22 अप्रैल 2006 को लांच किया गया था।
  • वर्ष 2008 में  Intel द्वारा Core i7 (Desktop-Processor) लांच किया गया था जो की अपनी स्पीड के लिए पसंद किया जाता है।

Leave a Comment