BSC full form in hindi | बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है | BSC meaning in Hindi | BSC ka full form kya hai

दोस्तों आपने भी कभी न कभी किसी ग्रेजुएशन करने वाले छात्र से पूछा होगा की क्या कर रहे हो ? और आपको जवाब मिला होगा की BSC कर रहा हूँ परन्तु क्या आप जानते है BSC क्या होती है, बीएससी की फुल फॉर्म क्या होती है (BSC full form in hindi), BSC का हिंदी में क्या मतलब होता है (BSC meaning in Hindi) और BSC में एडमिशन कैसे लिया जाता है। तो चलिए इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएँगे की BSC ka full form kya hai (BSC full form in hindi), BSC क्या है, BSC meaning in Hindi, BSC में एडमिशन कैसे ले और BSC करने के क्या लाभ है। साथ ही BSC meaning in Hindi जानने के अतिरिक्त आप इसमें करियर के क्या-क्या विकल्प है ये भी जानेंगे तो चलिए जानते है BSC के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारियां

बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है

BSC ka full form होता है Bachelor of Science जिसे हिंदी में विज्ञान में स्नातक भी कहा जाता है। तो अब आप समझ ही गए होंगे की बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है साथ ही BSC meaning in Hindi भी आपको समझ आ गया होगा। BSC (Bachelor of Science) एक तीन वर्षीय स्नातक कोर्स है जिसे करने के बाद छात्र स्नातक की श्रेणी में आ जाता है। BSC (Bachelor of Science) में छात्रों को विज्ञान विषयो में स्नातक की उपाधि प्रदान की जाती है।

BSC full form in hindi | बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है | BSC meaning in Hindi | BSC ka full form kya hai
बीएससी का फुल फॉर्म क्या होता है – BSC Full Form

क्या है BSC (BSC Full Form)

जैसे की हम आपको पहले ही बता चुके है की BSC का फुल फॉर्म Bachelor of Science होता है जिसका अर्थ होता है विज्ञान में स्नातक। हमारे देश में साइंस स्ट्रीम से इंटरमीडिएट पास करने वाले अधिकतर छात्र स्नातक करने हेतु BSC (Bachelor of Science) को ही प्राथमिकता देते है। BSC (Bachelor of Science) हमारे देश में एक बहुत ही लोकप्रिय कोर्स है और विज्ञान के क्षेत्र में उच्च शिक्षा प्राप्त करने और नवीन अनुसंधान करने में रूचि रखने वाले छात्र BSC (Bachelor of Science) को ही स्नातक हेतु चुनते है। BSC करने के बाद आप उच्च शिक्षा हेतु MSC भी कर सकते है और फिर विज्ञान के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते है। इस लेख में आपको BSC (Bachelor of Science) से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान की जायेगी साथ ही अगर आप BSC (Bachelor of Science) में एडमिशन लेने के सोच रहे हो तो इससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं से भी आपको इस लेख के माध्यम से अवगत कराया जायेगा।

BSC (Bachelor of Science) विज्ञान के क्षेत्र में रूचि रखने वाले छात्रों के लिए बहुत लाभदायक कोर्स है। इससे ना सिर्फ छात्रों में तर्कशक्ति का विकास होता है अपितु इसमें आपके लिए करियर के भी बहुत सारे विकल्प है। आप अपनी रूचि के क्षेत्र में अनुसन्धान करने के साथ-साथ नवीन अनुसंधान द्वारा मानवता की भलाई में भी योगदान दे सकते है।

BSC (Bachelor of Science) मुख्य तथ्य

BSC (Bachelor of Science) कोर्स दो प्रकार के होते है।

  • BSC (Bachelor of Science) GENERAL
  • BSC (Bachelor of Science) HONOURS

BSC (Bachelor of Science) GENERAL तथा BSC (Bachelor of Science) HONOURS में मुख्य अंतर निम्न है।

BSC (Bachelor of Science) GENERAL BSC (Bachelor of Science) HONOURS
BSC (Bachelor of Science) GENERAL में आपको विज्ञान के अलग-अलग (मुख्यत 3 विषय ) के बारे में मूलभूत जानकारी प्रदान की जाती है। BSC (Bachelor of Science) HONOURS में आपको विज्ञान के किसी एक विषय में विशेषज्ञ बनाया जाता है।
BSC (Bachelor of Science) GENERAL आप इंटरमीडिएट उत्तीर्ण करने के बाद ही कर सकते है। BSC (Bachelor of Science) HONOURS आप इंटरमीडिएट उत्तीर्ण करने के बाद ही कर सकते है।
BSC (Bachelor of Science) GENERAL में मुख्यत विज्ञान के अलग-अलग विषयो में आधारभूत जानकारी प्रदान की जाती है। BSC (Bachelor of Science) HONOURS विज्ञान के किसी एक विषय में आपको बहुत विशेषज्ञ बनने हेतु जानकारी प्रदान की जाती है।
BSC (Bachelor of Science) GENERAL में प्रवेश लेने हेतु न्यूनतम अंक प्राप्त करना आवश्यक है। BSC (Bachelor of Science) HONOURS में प्रवेश लेने हेतु न्यूनतम अंक प्राप्त करना आवश्यक है।
BSC (Bachelor of Science) GENERAL कोर्स की अवधि अधिकतर 3 वर्ष की होती है। (कहीं-कहीं 5 वर्ष भी )BSC (Bachelor of Science) HONOURS कोर्स की अवधि अधिकतर 3 वर्ष की होती है। (कहीं-कहीं 5 वर्ष भी )
BSC (Bachelor of Science) GENERAL यह एक पार्ट टाइम तथा फुल टाइम कोर्स है। BSC (Bachelor of Science) HONOURS एक फुल टाइम कोर्स है।

BSC (Bachelor of Science) क्या है एडमिशन लेने हेतु पात्रता

अगर आप भी BSC (Bachelor of Science) में एडमिशन लेना चाहते है तो इसके लिए आवश्यक पात्रताएं निम्न है।

  • आवेदक को किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से इंटरमीडिएट में उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • आवेदक को BSC में एडमिशन लेने हेतु न्यूनतम अंक प्राप्त करने आवश्यक है।
  • आवेदक की इंटरमीडिएट में विज्ञान विषय होना आवश्यक है।
  • आवेदक को कॉलेज की मेरिट लिस्ट में आना जरुरी है तभी वह BSC में एडमिशन के सकता है।
  • उसे इसके लिए मांगी गयी सभी पात्रताओं को पूरा करना आवश्यक है जैसे उम्र आदि।

अगर आप भी BSC (Bachelor of Science) में एडमिशन लेना चाहते है तो इसके लिए आवश्यक योग्यताओ को अच्छे से चेक कर ले। तभी आप इसमें एडमिशन लेने के लिए पात्र है।

BSC (Bachelor of Science) कैसे ले एडमिशन

अगर आप भी BSC (Bachelor of Science) में एडमिशन लेना चाहते है तो आपको सर्वप्रथम इसके लिए पात्रताएं पूरी करना आवश्यक है।

BSC (Bachelor of Science)में एडमिशन 2 तरीको से लिया जाता है।

  • डायरेक्ट एडमिशन
  • एंट्रेंस बेस पर

डायरेक्ट एडमिशन : देश के अधिकतर निजी संस्थान छात्रों को उनके द्वारा इंटरमीडिएट में प्राप्त अंको के आधार पर एडमिशन देते है हालांकि इसके लिए उन्हें संस्थान द्वारा तय किये गए न्यूनतम अंक प्राप्त करना आवश्यक है। निजी संस्थानों में BSC (Bachelor of Science) की फीस सरकारी संस्थानों के मुकाबले महँगी है।

एंट्रेंस बेस पर : देश के कई नामी संस्थान तथा प्रसिद्ध सरकारी संस्थान एंट्रेंस बेस पर छात्रों को BSC (Bachelor of Science) कोर्स में दाखिला देते है। छात्रों को उनके द्वारा प्राप्त अंको के आधार पर कॉलेज मिलता है। इसके लिए उन्हें मेरिट में आना जरूरी है।

देश के कई नामी संस्थान जैसे JNU , दिल्ली विश्वविद्यालय एवं ऐसे ही अन्य संस्थान छात्रों को इंटरमीडिएट में प्राप्त अंको के आधार पर एडमिशन देते है। इसके लिए मेरिट लिस्ट लगायी जाती है और उसी में स्थान पाने वाले छात्रों को दाखिला दिया जाता है। हालांकि इनमे कुछ सालो से बहुत हाई मेरिट लिस्ट जाने के कारण इनकी आलोचना भी की जाती रही है।

राज्य सरकार द्वारा चलने वाले कॉलेजो में भी मेरिट लिस्ट लगायी जाती है जिसमें मेरिट के आधार पर ही एडमिशन दिया जाता है । राज्य सरकार द्वारा चलने वाले कॉलेजो में राज्य के मूल निवासीयों हेतु ही अधिकतर सीटें आरक्षित होती है और दाखिले में उन्हें ही प्राथमिकता दी जाती है।

इस प्रकार से BSC में एडमिशन लेने के लिए आपको जो उपयुक्त लगे आप उस विकल्प का चयन आपके आप BSC में एडमिशन ले सकते है।

क्या है BSC करने के लाभ

अगर आप भी BSC (Bachelor of Science) करना चाहते है और इसके लाभ के बारे में जानना चाहते है तो BSC (Bachelor of Science) के मुख्य लाभ निम्न है।

  • BSC करने से आपको विज्ञान में स्नातक की उपाधि मिल जाती है जिससे आप अलग-अलग जगह अप्लाई कर सकते है।
  • आप उच्च शिक्षा करने के लिए आवेदन कर सकते है जैसे MSC .
  • BSC करने के बाद अनुसंधान के क्षेत्र में जा सकते है और नए-नए अविष्कार कर सकते है।
  • सरकार के विभिन संस्थानों में आप अपनी सेवायें दे सकते है और अपना योगदान देकर देश को लाभ पंहुचा सकते है।
  • कई निजी एवं बड़ी-बड़ी कंपनियों जिनमें MNC भी शामिल होती है अपने यहाँ अनुसंधान हेतु विज्ञान स्नातको को हायर करती है।
  • BSC करने के बाद आपमें तर्कशक्ति और हर चीज को देखने का साइंटिफिक नजरिया विकसित हो जाता है।
  • BSC HONOURS करके आप विज्ञान के किसी एक क्षेत्र में विशेषज्ञ बन सकते है और उच्च शिक्षा प्राप्त करके होना मनचाहा सपना पूरा कर सकते है।
  • BSC करने के बाद आप इसे पढ़ाने के लिए भी योग्य हो जाते है और इसमें अपना करियर बना सकते है।

इस प्रकार से आप BSC कोर्स करने के बाद इन सभी चीजों का लाभ ले सकते है।

क्या है BSC (Bachelor of Science) में अलग-अलग स्ट्रीम

BSC (Bachelor of Science) में अलग- अलग स्ट्रीम होती है। BSC (Bachelor of Science) में आपके पास कई विकल्प होते है। इनमे कुछ प्रमुख निम्न है। एक ही विषय में BSC मतलब HONOURS है।

BSC Physics BSC Horticulture
BSC Chemistry BSC Hotel Management
BSC Mathematics BSC Software Engineering
BSC Zoology BSC Medical
BSC Botany BSC Applied Physics
BSC Computer Science BSC Economics
BSC Biology BSC Applied Chemistry
BSC Anatomy BSC Statistics
BSC Nursing BSC Food Technology
BSC Agriculture BSC Environment Science
BSC IT BSC Food Technology
BSC Geology BSC Electronics
BSC Full Form

इस प्रकार आप इनमे से जिस भी क्षेत्र में BSC करना चाहते है उसमें दाखिला ले सकते है। आइये अब जानते है की BSC में क्या- क्या होते है करियर के विकल्प

BSC (Bachelor of Science) करने के बाद करियर के विकल्प

BSC (Bachelor of Science) करने के बाद छात्रों के पास सरकारी और निजी क्षेत्रों में करियर के हजारों विकल्प होते है। वे या तो उच्च शिक्षा प्राप्त करके आगे इसी क्षेत्र में अनुसंधान कर सकते है या सरकार के विभिन विभागों में जो vacancies निकाली जाती है उन्हें qualify करके सरकारी संस्थानों में अपनी सेवाएं दे सकते है। इसके अतिरिक्त निजी क्षेत्रों में भी अनुसंधान हेतु विज्ञान स्नातको की बहुत मांग है अतः आप यह भी करियर के विकल्प देख सकते है। BSC (Bachelor of Science) करने के बाद आपके सामने करियर के कुछ मुख्य विकल्प निम्न है।

  • IT कंपनीज में टेक्निकल जॉब
  • केमिकल फैक्ट्रीज में सहायक/ एग्जीक्यूटिव
  • फ़ूड इंडस्ट्रीज में ट्रेनी/असिस्टेंट/एग्जीक्यूटिव
  • labotaries में लैब सहायक
  • कृषि में नए प्रयोग कर बेहतर उत्पादन करना
  • फिशरीज में करियर
  • जियोलॉजी में करियर
  • फ़ूड विभाग में असिस्टेंट
  • एरोनॉटिकल क्षेत्र में अभियंता
  • बायोटेक्नोलॉजी में अनुसंधान हेतु सहायक
  • डाटा साइंटिस्ट

इस प्रकार से आप देख सकते है की BSC (Bachelor of Science) करने के बाद आपके पास करियर की अपार संभावनाएं है। आप अगर अच्छे से BSC (Bachelor of Science) संबंधित सभी पहलुओ को समझ लेते है है तो आप किसी भी संबंधित क्षेत्र में अच्छा करियर बना सकते है।

आप BSC (Bachelor of Science) करने के बाद MSc भी कर सकते है और इसके बाद आप PhD भी कर सकते है जिससे की आप संबंधित विषय के विशेषज्ञ बन जाते है और आप इसमें नवीन अनुसंधान भी कर सकते है।

BSC (Bachelor of Science) की प्रसिद्धि वर्तमान समय में भी कायम है और विज्ञान में रूचि रखने वाले अधिकाँश छात्र इसी को प्राथमिकता देते है। यह कोर्स लगभग देश के सभी शहरो एवं ग्रामीण क्षेत्रों के कॉलेजों में उपलब्ध है और अधिकाँश छात्र इसकी फीस वहन करने में समर्थ है क्यूंकि यह अन्य टेक्निकल कोर्सो के मुकाबले सस्ता है।

अगर आप भी विज्ञान पढ़ने में रूचि रखते है और अनुसंधान करने में आपकी रूचि है तो आपको इस कोर्स में दाखिला अवश्य लेना चाहिए। इससे ना सिर्फ आप विज्ञान के सभी पहलुओं को अच्छे से समझ पाएंगे अपितु आप इसमें नवीन अनुसंधान करके विज्ञान के क्षेत्र में भी अपना योगदान दे सकते है।

आइये अब जानते है BSC (Bachelor of Science) कोर्स से संबंधित पूछे जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न एवं उनके जवाब

BSC Full Form से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न एवं उनके जवाब (FAQ)

BSC क्या है ?

BSC एक तीन वर्षीय स्नातक कोर्स है जिसमे आपको विज्ञान से संबंधित सभी महत्वपूर्ण बिंदुओं को पढ़ाया जाता है।

BSC की फुल फॉर्म क्या है ?

BSC की फुल फॉर्म होती है (Bachelor of Science) जिसका हिंदी में अर्थ होता है विज्ञान में स्नातक।

BSC (Bachelor of Science) हेतु आवश्यक पात्रता क्या है ?

अगर आप BSC (Bachelor of Science) करना चाहते है तो आपको इंटरमीडिएट उत्तीर्ण होना जरुरी है।

क्या BSC (Bachelor of Science) में किसी भी स्ट्रीम के छात्र दाखिला ले सकते है ?

BSC (Bachelor of Science) में दाखिला लेने के लिए आपके पास इंटरमीडिएट में विज्ञान विषय होना आवश्यक है।

BSC (Bachelor of Science) में एडमिशन कैसे ले ?

अगर आप BSC (Bachelor of Science) में एडमिशन लेना चाहते है तो ऊपर दिए गये लेख को ध्यानपूर्वक पढ़े। आप इससे एडमिशन लेने की पूरी प्रक्रिया से परिचित हो जाएंगे।

BSC (Bachelor of Science) करने के क्या लाभ है ?

BSC (Bachelor of Science) करने के बाद आपपके पास करियर के ढेरों विकल्प है आप चाहते तो सरकारी या निजी क्षेत्र किसी में भी करियर बना सकते है।

BSC (Bachelor of Science) में फीस कितनी है ?

BSC (Bachelor of Science) की फीस अलग-अलग कॉलेजो में अलग-अलग है। सरकारी कॉलेजो में फीस निजी कॉलेजो के मुकाबले कम है।

Leave a Comment