BMW Full Form in Hindi | इतिहास & रोचक जानकारी

BMW का नाम तो आप सबने जरूर ही सुना ही होगा। बहुत लोगो की पसंदीदा कार या बाइक BMW कंपनी की होगी। BMW ने विश्व में अपनी एक अलग पहचान बना रखी है। बहुत से लोगो का सपना होता है कि वह BMW की कार खरीदे लेकिन यह देश की महंगी कारो में से एक है। आज हम आपको बतायेगे BMW Full Form in Hindi | इतिहास & रोचक जानकारी और साथ ही जानेगे इससे जुडी अन्य बाते। वर्तमान समय में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसको BMW के वाहनों के बारे में नहीं पता होगा क्योंकि आज की युवा पीढ़ी का सपना होती है BMW कार। ये नाम सुनते ही मन के केवल लक्ज़री कार का ही ख्याल आता है। आज के इस लेख में हम बात करेंगे BMW कंपनी की और साथ ही जानेगे BMW Full Form in Hindi | इतिहास & रोचक जानकारी

BMW Full Form in Hindi
BMW Full Form in Hindi

यह भी पढ़े :- FOMO full form in hindi

BMW Full Form in Hindi

BMW की फुल फॉर्म बवेरियन मोटर वर्क्स (Bavarian Motor Works) है। BMW को जर्मन में Bayerische Motoren Werke कहते है यह कंपनी लक्ज़री कार, मोटरसाइकिल और इंजन बनाती है। बीएमडब्लू कंपनी के पास अन्य दो कंपनियों का स्वामित्व भी है जिसमे एक भारत की रोल्स रॉयल्स और दूसरी ब्रिटेन की मिनी कंपनी है। यह एक जर्मनी कंपनी है जो ऑटोमोबाइल्स और मोटरबाइक्स का निर्माण करती है। BMW महंगी कारो में से एक है। यह कंपनी मुख्य रूप से लक्ज़री कारो का निर्माण करती है।

यहाँ भी देखें -->> क्विज खेलकर इनाम कमाएं

BMW कंपनी की शुरुआत

BMW कंपनी की शुरुआत 1916 में हुई थी। यह कंपनी 1945 से पहले एयरक्राफ्ट इंजन भी बनाती थी लेकिन यह अब केवल कार और बाइक का ही निर्माण करती है। BMW का मुख्यालय म्यूनिख (जर्मनी) में है। BMW अपने वाहनों को बहुत से देशो में एक्सपोर्ट करती है जैसे चीन, जापान, भारत ऑस्ट्रेलिया, ब्राज़ील, साउथ अफ्रीका आदि।

BMW का इतिहास

BMW कंपनी की शुरुआत 1916 में हुई थी। इस कंपनी की स्थापना फ्रेंज जोसेफ पॉप कार्ल रैप और कैमिलो कास्तिग्लिओनी द्वारा की गयी थी। कार्ल रैप प्रोफेशन से एक मैकेनिकल इंजीनियर थे। इस कंपनी की शुरुआत विमानों और वाहनों के इंजन बनाने के लिए की गयी थी। शुरुआत में इसका नाम Rapp Motorenwerke था जिसको बाद में बदल कर Bayerische Motoren Werke (BMW) रख दिया गया था।

प्रथम युद्ध के दौरान इस कंपनी को इंजन बनाने का एक बड़ा आर्डर मिला था क्योंकि इसके उत्पादों की क्वालिटी अच्छी होती थी। BMW ने पहला विमान इंजन 1918 में बनाया था जिसका नाम IIIa था। विश्व युद्ध खत्म होने के बाद इंजन की मांग भी तेजी से घट गयी थी। जिसके बाद कंपनी ने विमानों के इंजन बनाने बंद कर दिए थे और खेलो में प्रयोग होने वाले पंप और ट्रेक्टर बनाने शुरू किये।

इस कंपनी द्वारा ही सर्वप्रथम मोटरसाइकिल में इंजनो का निर्माण शुरू किया गया था। कंपनी की मेहनत से कुछ ही सालो में BMW मोटरसाइकिल का ब्रांड BMW Motorrad के नाम से जाना जाने लगा था। 1923 में R32 इनकी पहली सफल मोटरसाइकिल थी जिसमे बॉक्सर दो जुड़वाँ इंजन थे।

यह भी देखे :- RTI का फुल फॉर्म क्या है ?

email letter

Subscribe to our Newsletter

Sarkari Yojana, Sarkari update at one place

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान BMW की दशा

1939 में द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान कंपनी ने दोबारा से एयरक्राफ्ट इंजन बनाने शुरू किये जिसके फलस्वरूप कंपनी पर बम बरसाए गए और सोवियत सघ ने कंपनी को अपने अधीन कर लिया। जिसके बाद कंपनी पर कार और मोटरसाइकिल बनाने पर प्रतिबंध लगा दिया। प्रतिबन्ध लगने के बाद कंपनी ने किचन के सामान बनाने का फैसला लिया। 1947 में फिर से कंपनी को मोटरसाइकिल बनाने की इजाजत मिली और 1951 में कार बनाने का भी अधिकार मिल गया था।

बैन हटने के बाद कंपनी ने पहली कार BMW 501 बनाई थी लेकिन इस कार की कीमत इतनी ज्यादा की थी इसकी बिक्री अधिक न हो पाने के कारण इसकी ज्यादा बिक्री नहीं हुई और कंपनी को नुक्सान उठाना पड़ा। इस स्थिति में कंपनी के पास कमाई का मुख्य जरिया केवल मोटरसाइकिल थी। 1955 में 1000 कारे एक साथ मार्किट में उतारी गयी कीमतों के थोड़ा उतार-चढ़ाव किया गया जिससे कंपनी को थोड़ी रहत मिली। 1961 में मॉडल 1500 लॉच किया गया जिसको लोगो ने स्पोर्ट्स कार के रूप में खरीदा और फिर कंपनी को प्रॉफिट होना शुरू हुआ। बीएमडब्लू का बिज़नेस बढ़ने लगा और इन्होने 1994 में Rover Group खरीदा लेकिन ये फैसला कंपनी के लिए गलत साबित हुआ जिसके बाद रोवर ग्रुप को Ford कंपनी को बेच दिया।

BMW के रोचक तथ्य

  • BMW कम्पनी की 3 सीरीज कार अमेरिका में 2017 में सबसे दूसरी सबसे ज्यादा बिकने वाली कार थी।
  • 1937 में इसने दुनिया की सबसे तेज बाइक का अविष्कार किया था जिसकी स्पीड 279 km/h थी।
  • BMW मिनी और रोल्स-रॉयल्स कंपनी की भी मालिक है।
  • 1945 तक विमान इंजन भी बनती थी।
  • बीएमडब्लू की पहली कार Dixi थी जिसको BMW 3/15 भी कहते है।
  • इस कंपनी का लोगो 1917 में बनाया गया था और तबसे इसको बदला नहीं गया है।
  • कंपनी ने 2016 में 2512613 गाड़िया बनाई थी।
  • BMW को जर्मन में Bayerische Motoren Werke कहते है
  • 1923 में इन्होने R32 बाइक बनाई थी जो एक सफल बाइक सिद्ध हुई थी।
  • BMW ने पहला विमान इंजन 1918 में बनाया था जिसका नाम IIIa inline-six liquid cooled engine था।
  • इस कंपनी की पहली कार BMW 3/15 थी।

BMW बाइक्स

BMW ने प्रथम विश्व युद्ध के बाद मोटरसाइकिल्स बनाने लगी जिसके बाद इसके मोटरसाइकिल ब्रांड को BMW Motorrad के नाम से जाना जाने लगा था। Helios और Fink बाइक्स के नाकामयाब होने के बाद 1923 में इन्होने R32 बाइक बनाई जो सफल हुई। इस बाइक में बॉक्सर जुड़वाँ इंजन थे। 1980 में ये बाइक्स में एक विशिष्ट लेआउट का इस्तेमाल करने लगे जिससे इनकी मोटरसाइकिल्स की मांग बढ़ने लगी। कई BMW बाइक्स में अब भी इस लेआउट का इस्तेमाल हो रहा है और इसको R3 के नाम से जाना जाता है।

द्वितीय युद्ध के दौरान बीएमडब्लू ने साइड कार लगी एक बाइक का निर्माण भी किया जिसका नाम BMW R75 था। इसकी साइड कार का पहिया भी मोटर से चलता था। 2004 में बीएमडब्लू ने K1200S नामक एक स्पोर्ट्स बाइक प्रस्तुत की। जो कंपनी के लिए एक नया मोड साबित हुआ। यह पिछली K मॉडल की तुलना में काफी हल्की थी और इसका इंजन काफी शक्तिशाली था। कावासाकी, यामाहा, सुजुकी जैसी बाइक्स की खूबियों को ध्यान में रखते हुए स्पोर्ट्स मशीनो के विकास की रफ़्तार में शामिल होने के यह बीएमडब्लू का सफल प्रयास था।

BMW का मालिक कौन है ?

BMW के दो मालिक है Stefan Quantd और Susanne klatten. BMW कंपनी में Stefan Quantd के पास 29% हिस्सा है और Susanne klatten के पास 21% का हिस्सा है। बाकि का बचा 50% हिस्सा पब्लिक इन्वेस्टर्स के पास है। कंपनी एक्ट के अनुसार मालिकाना हक़ उसका माना जाता है जिसके पास किसी कंपनी का 51% हिस्सा होता है। इस स्थिति में देखा जाये तो बीएमडब्लू में किसी का भी 51% हिस्सा नहीं तो इस हिसाब से हम कह सकते है कि इसका मालिक कोई नहीं है।

यह भी देखे :- भारत की सबसे ज्यादा माइलेज देने वाली बाइक

BMW full form in Hindi से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण प्रश्न

BMW कंपनी की स्थापना किसने की थी ?

BMW कंपनी की स्थापना 1916 में फ्रेंज जोसेफ पॉप कार्ल रैप और कैमिलो कास्तिग्लिओनी द्वारा की गयी थी।

बीएमडब्लू कंपनी के पहले इंजन का नाम क्या था ?

बीएमडब्लू कंपनी के पहले इंजन का नाम IIIa था।

BMW कंपनी किस देश की कंपनी है ?.

BMW जर्मनी की कंपनी है।

BMW की पहली सफल बाइक कौनसी थी ?

BMW की पहली सफल बाइक R32 थी।

BMW का पुराना नाम क्या था।

1917 में एक कंपनी की स्थापना की गयी जिसका नाम Rapp Motorenwerke था जिसको बाद में बदल कर Bavarian Motor Works(BMW) कर दिया गया था।

Leave a Comment