भारत की जनसंख्या कितनी है? Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai

तो दोस्तों आप सभी को यह तो ज्ञात ही होगा की भारत कितना बड़ा देश है। भारत दुनिया में सबसे बड़े देश की गिनती में सातवे नम्बर पर आता है। और आपको यह भी बता दे की जनसंख्या के मुताबिक़ भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है। जी हां चीन के बाद भारत की आबादी दुनिया में सबसे ज्यादा है। तो क्या आप जानते है की भारत में जनसंख्या कितनी है ? अगर आपको नहीं पता की Population of India कितनी है तो परेशान होने की आवश्यकता नहीं है है क्योंकि आज हम इस लेख द्वारा आपको इसी के बारे में बहुत सी जानकारी देंगे जैसे की भारत में जनसंख्या कितनी है? भारत में सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य कौन सा है ? आदि जैसी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख को ध्यान से पढ़िए

यह भी देखिये :- States Of India – भारत के राज्य और राजधानी की सूची

भारत में जनसंख्या कितनी है? Bharat Ki Jansankhya Kitni Hai
भारत में जनसंख्या कितनी है? Population of India

भारत की जनसंख्या कितनी है? (Population of India)

जैसा की आप सभी को पता है की भारत की जनगणना हर 10 वर्ष बाद की जाती है। सन 2011 के मुताबिक़ Population of India 121 करोड़ बताई गयी थी। भारत में सबसे पहले जनगणना 1872 में ब्रिटिश इंडिया के द्वारा की गयी थी। उस समय भारत में जनसंख्या 12.1 करोड़ थी। 2011 के बाद अभी तक जनगणना पूरी नहीं हो पायी क्योकि कोरोना महामारी के कारन 2021 की गणना नहीं हो पायी लेकिन 2022 में अनुमानित अब तक भारत की आबादी 140 करोड़ तक पहुँच चुकी है। 2020 तक भारत की आबादी करीब 138 करोड़ तक थी और अब 140 करोड़ तक पहुँच गयी है। और यह भी माना जाता है की दुनिया में हर 100 लोगो में से 18 लोगो का घर भारत है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो भारत चीन को जनसंख्या के मामले में पीछे छोड़ देगा।

पहले समय में भारत की जनगणना सरकार द्वारा घर घर जाकर की जाती थी लेकिन आज के समय में यह भी कई ऐसी वेबसाइट है जो की जनगणना करती रहती है उन्ही में से एक वेबसाइट है World Meter इसके मुताबिक़ भारत की जनसंख्या हर दस साल में दर 17.64 % है और पहले दस साल में ये दर 21.54 % था इसका मतलब यह है की लोग जनसंख्या के प्रति जागरूक हो रहे है। और सरकार भी लोगो को जनसंख्या नियंत्रण के लिए जागरूक करती रहती है।लेकिन भारत में शहर के लोग तो जागरूक हो रहे है लेकिन अभी भी गाँव के लोगो को अभी जागरूक करने की आवश्यकता है। क्युकी ज्यादा जनसंख्या भी हानिकारक होती है।

भारत की जनसंख्या 1951 से 2022 तक

  • 1951 – 361,088,090 – 13.32%
  • 1961 – 438,936,918 – 21.62%
  • 1971 – 548,160,050 – 24।8%
  • 1981 – 683,329,900 – 25%
  • 1991 – 838,583,988 – 26.9%
  • 2001 – 1,028,737,436 – 21.5%
  • 2011 – 1,210,193,422 – 17.70%
  • 2022 – 1,404,234,872.

भारत में सबसे अधिक जनसंख्या वाले राज्य

  1. उत्तरप्रदेश – भारत में सबसे अधिक जनसंख्या वाल राज्य उत्तरप्रदेश है यहाँ पर भारत की सबसे अधिक जनसंख्या रहती है। उत्तरप्रदेश की कुल अनुमानित जनसंख्या 24.1 करोड़ है जो की बहुत ही अधिक मानी जाती है।
  2. महाराष्ट्र – उत्तरप्रदेश के बाद महाराष्ट्र ऐसा राज्य है जिसकी जनसंख्या सबसे ज्यादा है। यहाँ की आबादी 11.42 करोड़ है यह भारत का दूसरा अधिक जनसंख्या वाला राज्य है।
  3. बिहार – बिहार की जनसंख्या भी बहुत ही अधिक है। यहाँ की जनसख्या करीब 9.9 करोड़ है जो की बिहार के क्षेत्रफल के मुक़ाबले बहुत ही अधिक है। यह भारत का एक ऐसा राज्य जो की जनसंख्या के मामले में तीसरे नम्बर पर आता है।
  4. पश्चिम बंगाल – जनसंख्या के मामले में पश्चिम बंगाल भारत में चौथे नम्बर पर गिना जाता है। यहाँ की अनुमानित जनसंख्या करीब 9.03 करोड़ है।
  5. मध्य प्रदेश – मध्य प्रदेश भारत में पांचवा सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य है, यहाँ की अनुमानित जनसंख्या करीब 7.33 करोड़ है।

बढ़ती जनसंख्या के नुकसान

देश में बढ़ती जनसंख्या के बहुत से नुकसान होते है तो आइये जानते है की बढ़ती जनसंख्या के क्या नुकसान होते है :-

  1. बेरोजगारी – देश में बढ़ती जनसंख्या के कई नुकसान है जैसे की बेरोजगारी आज के समय में बेरोजगारी इतनी बाद चुकी है की पढ़े लिखे लोग भी आजकल नौकरी न होने के कारण छोटा मोटा काम कर रहें है इसका मुख्या कारन बढ़ती हुई आबादी ही है क्योंकि अगर आबादी कम होगी तो लोगो को नौकरियों ढूंढ़ने में परेशानी नहीं आएगी।
  2. महंगाई – कही न कही देश में बढ़ती महंगाई का कारण भी बढ़ती जनसंख्या भी है क्योंकि जब लोग बढ़ेंगे तो उनकी जरूरते भी बढ़ेंगी लेकिन सामान की कमी होगी तो इसलिए सामान की कमी की वजह से उसी सामान को महंगा बेचते है।
  3. प्रदुषण – देश में प्रदुषण बढ़ने का कारण भी बढ़ती जनसंख्या ही है क्योंकि आज कल हर कोई व्यक्ति अपना वाहन चलता है तो जितने अधिक लोग होंगे उतने ही अधिक वाहन होंगे और जितने अधिक वाहन होंगे उतना ही अधिक प्रदुषण होगा।
  4. शिक्षा का अभाव – देश में बढ़ती जनसँख्या के कारन कई बच्चो को शिक्षा भी प्राप्त नहीं हो पाती क्योकि जिन गरीब बच्चो के 2 या 2 से अधिक बच्चे होते वे अपने बच्चो की शिक्षा का खर्च उठाने असमर्थ हो जाते है और उनके बच्चे अशिक्षित रह जाते हैं।

भारत की जनसंख्या कितनी है से जुड़े प्रश्न उत्तर

भारत में सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य कौनसा है ?

भारत में सबसे अधिक जनसंख्या वाला राज्य उत्तरप्रदेश है।

भारत में सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य कौनसा है ?

भारत में सबसे कम जनसंख्या वाला राज्य सिक्किम है। वहां की जनसंख्या 6,10,577 है।

भारत में सबसे पहले जनगणना कब हुई थी और किसके द्वारा की गयी थी ?

भारत में सबसे पहले जनगणना 1872 में हुई थी जो की ब्रिटिश इंडिया द्वारा हुई थी

वर्तमान समय में भारत में जनसंख्या कितनी है ?

वर्तमान समय में भारत की अनुमानित जनसंख्या 140 करोड़ तक है।

भारत जनसंख्या के मुताबिक़ दुनिया में कौनसे नम्बर पर आता है ?

भारत जनसंख्या के मुताबिक़ दुनिया में दूसरे नम्बर पर आता है पहले नम्बर पर चीन आता है।

Leave a Comment