आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 | ऑनलाइन आवेदन (Atma Nirbhar 3.0) पात्रता व लाभ

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0:- कोरोना के प्रभाव से देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान (Atma Nirbhar Bharat) योजना की शुरुआत की गयी है। इस योजना के अंतर्गत देश में कोरोना के कारण प्रभावित हुये विभिन सेक्टरो को उबारने के लिए केंद्र सरकार द्वारा राहत पैकेज की घोषणा की गयी है। साथ ही विभिन सेक्टर को राहत प्रदान करने के लिए विभिन प्रकार की योजनाओ को लांच करने की भी घोषणा की गयी है। इस अभियान को सरकार द्वारा 3 चरणों में पूरा किया जायेगा जिसमे आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत आत्मनिर्भर भारत अभियान 1.0 तथा आत्मनिर्भर भारत अभियान 2.0 लांच किया जा चुका है।

अब केंद्र द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत की जा चुकी है जिसे आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 (Atma Nirbhar 3.0) नाम दिया गया है। आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की Atma Nirbhar Bharat 3.0 क्या है ? इसका योजना का उद्देश्य क्या है ? साथ ही इस लेख के माध्यम से आप आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत रजिस्ट्रेशन और लॉगिन के प्रोसेस से भी अवगत होंगे।

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0

केंद्र सरकार द्वारा कोरोना से देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए और देश को विभिन उत्पादन और सेवा क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बनाने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत की गयी है। इस योजना को 3 चरणों में पूरा किया जायेगा जिसके अंतर्गत सरकार द्वारा इकॉनमी के विभिन क्षेत्रों को बूस्ट देने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना को गति देने के लिए और विभिन सेक्टर को राहत प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा रिज़र्व बैंक के साथ मिलकर अर्थव्यवस्था में 27.1 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया गया है ताकि सभी क्षेत्रों को राहत पहुंचाई जा सके। अब सरकार द्वारा इस योजना के तीसरे चरण को भी शुरू किया जा चुका है जिसमे की इकॉनमी में मैन्युफैक्चरिंग से लेकर सेवा सेक्टर और एग्रीकल्चर से लेकर हाउसहोल्ड तक के लिए राहत पैकेज जारी किया जायेगा।

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0, Highlights

इस टेबल के माध्यम से आपको आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 से जुड़े सभी महत्वपूर्ण बिन्दुओ की सूची प्रदान की गयी है।

योजना का नाम आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0
योजना का उद्देश्य देश की अर्थव्यवस्था को को मजबूत करना
शुरू की गयी केंद्र सरकार द्वारा
लाभ अर्थव्यवस्था के विभिन सेक्टर को लाभ मिलेगा
वर्ष 2022
कुल बजट राशि 20 लाख करोड़ रुपए
क्रियान्वयन विभाग वित मंत्रालय, भारत सरकार
आधिकारिक वेबसाइट https://aatmanirbharbharat.mygov.in/
आवेदन का माध्यम ऑनलाइन

Atma Nirbhar Bharat 3.0, उद्देश्य

कोरोना महामारी के कारण देश की अर्थव्यवस्था के विभिन भागो पर असर पड़ा है। एक ओर जहाँ इस महामारी से उद्योग-धंधे प्रभावित हुये है वही सर्विस सेक्टर पर भी इसका बुरा असर पड़ा है। देश में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों (MSME) पर भी कोरोना के कारण प्रभाव पड़ा है साथ ही असंगठित क्षेत्र के कामगारों को भी नुकसान उठाना पड़ा है। इन सभी समस्याओ से लड़ने के लिए और कोरोना के असर से इकॉनमी को बाहर निकालने के लिए सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत की गयी है। इस अभियान की घोषणा प्रधानमन्त्री मोदी द्वारा 12 मई 2020 को की गई थी जिसके तहत इकॉनमी के विभिन क्षेत्रों को राहत प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज की घोषणा की गयी है।

इस योजना को 3 चरणों से क्रियान्वित किया जायेगा जिससे की इकॉनमी के सभी सेक्टर को राहत मिल सके। वित् मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान के संचालन करने के लिए विस्तृत कार्ययोजना बजट भाषण के माध्यम से जारी की गई थी जिससे की देश की इकॉनमी को पटरी पर लाया जा सके। आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत सरकार द्वारा इकॉनमी को विभिन क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बनाने के लिए वोकल फॉर लोकल (Vocal for Local) अभियान को बढ़ावा देने के लिए इंफ्रास्टक्टर, ह्यूमन रिसोर्स, इन्वेस्टमेंट, बुनियादी ढांचा, नवाचार और तकनीक आधारित सिस्टम के विकास पर फोकस किया जायेगा ताकि अर्थव्यवस्था में तेजी से सुधार किया जा सके।

ये है योजना के 5 स्तंभ

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत सरकार द्वारा 12 विभिन योजनाओ की घोषणा की गयी है ताकि इकॉनमी के सभी सेक्टरों को लाभ मिल सके। सरकार द्वारा इस योजना के तहत 5 क्षेत्रों पर फोकस किया जायेगा जो की निम्न है।

  • अर्थव्यवस्था (Economy):- सरकार द्वारा अर्थव्यवस्था के विभिन सेक्टर को राहत प्रदान करने के लिए 20 लाख करोड़ रुपए का राहत पैकेज घोषित किया गया है ताकि देश को उत्पादन और सेवा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाया जा सके।
  • तकनीक संचालित प्रणाली (Technology Driven System):- नवीन युग तकनीक का युग है ऐसे में सरकार द्वारा विभिन क्षेत्रों में तकनीक के उपयोग की बढ़ावा देने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत प्रावधान किये गए है।
  • अवसंरचना (Infrastructure):- तीव्र उत्पादन को बढ़ावा देने और सर्विस चेन को आसान बनाने के लिए सरकार द्वारा अवसंरचना विकसित करने पर ध्यान दिया जा रहा है ताकि देश की इकॉनमी को आयात से निर्यात आधारित बनाया जा सके।
  • जनसँख्या का उपयोग (Vibrant Demography):- हमारे देश में पूरी दुनिया की जनसँख्या का 17.7% भाग निवास करता है ऐसे में मानव संसाधन का पूरा उपयोग करने के लिए सरकार द्वारा मानव विकास संसाधन के लिए विभिन योजनाओ का संचालन किया जायेगा।
  • मांग (Demand):- देश की जनसँख्या की माँग और पूर्ति के लिए अर्थव्यवस्था के सभी संसधानों का पूरा उपयोग किया जायेगा ताकि विभिन क्षेत्रों को बढ़ावा दिया जा सके। साथ ही देश की बड़ी आबादी के उपभोग को ध्यान में रखते हुये उत्पादन क्षेत्र को भी बढ़ावा दिया जायेगा।

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत लॉच योजनायें

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत सरकार द्वारा 12 योजना को लांच किया गया है। इन योजनाओ के प्रभावी संचालन के लिए सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ रुपए जारी किये गए है। इसे अंतर्गत विभिन योजनाओ के मुख्य बिंदु इस प्रकार है :-

  • आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना:- आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत शुरू की गयी आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के द्वारा सरकार द्वारा कोरोना के दौरान नई नौकरियों को पैदा करने के के लिए 8300 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। साथ ही सरकार द्वारा ईपीएफओ में रजिस्टर्ड सस्थाओं के कर्मियों को भी आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • आत्मनिर्भर मैन्युफैक्चरिंग प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव योजना :- कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित हुये 26 सेक्टर को राहत प्रदान करने के लिए आत्मनिर्भर मैन्युफैक्चरिंग प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव योजना के तहत सरकार द्वारा लोन प्रदान किया जायेगा ताकि इन क्षेत्रों को जल्दी से रिकवरी का मौका मिले।
  • इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी योजना :- सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों (MSME), बिजनेस एंटरप्राइज, मुद्रा लोन धारक और व्यक्तिगत लोन लेने के लिए सरकार द्वारा इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी योजना के तहत 2.05 लाख करोड़ रूपए की राशि के तहत लाभधारको को लोन प्रदान किया जायेगा साथ ही विभिन औद्योगिक इकाइयों को भी इसमें शामिल किया जायेगा।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना(अर्बन):- शहरी क्षेत्रों में निर्धन लोगो को घर प्रोवाइड करवाने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना(अर्बन) के तहत सरकार द्वारा 18,000 करोड़ रुपए का बजट जारी किया गया है जिसके द्वारा देश में 12 लाख घरो को निर्माण किया जायेगा साथ ही 18 लाख घरो को पूरा करने के लिए भी सहायता राशि प्रदान की जाएगी। यह धनराशि योजना के लिए निर्धारित 8000 करोड़ रुपए के अतिरिक्त होगी।
  • निर्माण और इंफ्रास्टक्टर सेक्टर को सहायता योजना :- निर्माण और इंफ्रास्टक्टर सेक्टर को सहायता प्रदान करने और इस क्षेत्र में तेजी लाने के लिए सरकार द्वारा परफॉर्मेंस सिक्योरिटी में कमी की गयी है। अब कंपनियों को 5 से लेकर 10 फीसदी परफॉर्मेंस सिक्योरिटी देने की बजाय सिर्फ 3 फीसदी परफॉर्मेंस सिक्योरिटी देनी होगी जिससे की वे कंपनी में निवेश कर सकते है।
  • कृषि उर्वरको के लिए सहायता :- कृषि क्षेत्र पर ध्यान देते हुये सरकार द्वारा किसानो को उर्वरको को आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए 65,000 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है। इससे देश के 14 करोड़ किसानो को लाभ मिलेगा साथ ही कृषि क्षेत्र में उपज भी बढ़ेगी।
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना :- सरकार द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 10,000 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है साथ ही ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार के अवसरों को बढ़ावा देने के लिए मनरेगा के तहत 61,500 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है।
  • प्रोजेक्ट निर्यात के लिए बूस्ट योजना :- एक्जिम बैंक को इस योजना के तहत प्रोजेक्ट निर्यात के लिए 3000 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया गया है जिससे की देश में ट्रांसमिशन रोड, रेलवे और ट्रांसपोर्ट प्रोजेक्ट्स को शामिल किया गया है।
  • पूंजी एवं औद्योगिक स्टीमुलस :- घरेलू डिफेन्स उत्पाद, औद्योगिक ढांचा और ग्रीन एनर्जी जैसे सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा पूंजी एवं औद्योगिक स्टीमुलस के तहत 10,200 करोड रुपए का प्रावधान किया गया है ताकि औद्योगिक क्षेत्र को विस्तार मिले।
  • Covid-19 वैक्सीन रिसर्च एंड डेवलपमेन्ट सहायता योजना:– कोरोना वायरस के खिलाफ प्रभावी वैक्सीन बनाने और इसके प्रबंधन के लिए बायोटेक्नोलॉजी विभाग को 900 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

इसके अतिरिक्त आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत केंद्र सरकार द्वारा कई अन्य राहत पैकेज की घोषणा भी की गई है जिससे की देश की इकॉनमी को कोरोना के कारण हुई आर्थिक क्षति को कम करने में मदद मिलेगी साथ ही इसके द्वारा देश में रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे।

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0, रजिस्ट्रेशन प्रोसेस

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करे।

Atma Nirbhar Bharat 3.0 Yojna
  • होमपेज पर रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन दिखाई देगा।इस पर क्लिक कर दे।
Atma Nirbhar Bharat 3.0 Yojna, Registration
  • इसके बाद आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा। इसमें मांगी सभी जानकारी दर्ज कर दे साथ ही सभी जरुरी दस्तावेजों को भी अपलोड कर दे।
Atma Nirbhar Bharat 3.0 Yojna, Registration Submission
  • इसके बाद अन्य फॉर्मलिटीज पूरी करने के बाद आप इस फॉर्म को सबमिट कर सकते है।

इन आसान से स्टेप्स से आप आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत रजिस्ट्रेशन कर सकते है। सरकार द्वारा नागरिको को आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत सोशल मीडिया अकाउंट के माध्यम से भी रजिस्ट्रेशन की सुविधा प्रदान की गयी है। इसके लिए आपको सोशल मीडिया अकाउंट से रजिस्ट्रेशन का ऑप्शन चुनना होगा जिसके बाद अन्य फॉर्मलिटीज पूरी करके आप योजना में आवेदन कर सकते है।

ये है लॉगिन की प्रक्रिया

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत लॉगिन करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करे।

Atma Nआत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0irbhar Bharat 3.0 Yojna
  • होमपेज पर लॉगिन का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे।
Atma Nirbhar Bharat 3.0 Yojna, login
  • अगले पेज पर ईमेल/मोबाइल नंबर और पासवर्ड दर्ज कर दे। इसके बाद login के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0
  • इसके बाद लॉगिन की प्रक्रिया पूरी हो जाती है।

Atma Nirbhar Bharat अभियान 3.0 से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल और उनके जवाब (FAQ)

Atma Nirbhar Bharat अभियान 3.0 क्या है ?

Atma Nirbhar Bharat अभियान 3.0 केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया है। इस योजना के द्वारा देश की अर्थव्यवस्था को आत्मनिर्भर बनाने के लिए राहत पैकेज की घोषणा की गयी है।

इस योजना का क्या लाभ है ?

इस योजना के द्वारा सरकार द्वारा देश की अर्थव्यवस्था को कोरोना के कारण हुये आर्थिक नुकसान से उबारने के लिए 20 लाख करोड़ का राहत पैकेज प्रदान किया जायेगा। साथ ही इकॉनमी को बेहतर बनाने के लिए इंफ्रास्टक्टर के विकास पर भी ध्यान दिया जायेगा।

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत कितनी राशि का प्रावधान किया गया है ?

इस योजना के तहत 20 लाख करोड़ रुपए की राशि का प्रावधान किया गया है ताकि विभिन क्षेत्रों को राहत प्रदान की जा सके।

योजना में आवेदन करने का प्रोसेस क्या है ?

इस योजना में आवेदन करने के लिए ऊपर दिया गया लेख पढ़े। इसमें बताये गए स्टेप्स को फॉलो करके आप योजना में आवेदन कर सकते है।

इस योजना में कौन आवेदन कर सकता है ?

आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 को केंद्र सरकार द्वारा लांच किया गया है ऐसे में पूरे देश के नागरिक ही इस योजना में आवेदन करने के पात्र है।

Leave a Comment