एपीजे का फुल फॉर्म क्या है | APJ MEANING, FULL FORM IN HINDI

APJ (एपीजे )– भारत के इतिहास से जुड़े कुछ शख्स ऐसे है जिनका नाम आज भी लिया जाता है।  डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम इनमे से एक है, जिन्होंने देश के कई बहुत योगदान दिया है। इन्होने भारत के 11 वे. राष्ट्रपति के रूप में काम किया है , और यह एक भारतीय वैज्ञानिक है। डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम को सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल (एसएलवी) और बैलिस्टिक मिसाइल तकनीक के विकास के लिए मिसाइल मैन के नाम से भारत में जाना जाता है।

AC Full Form In Hindi – एसी का आविष्कार किसने किया था?

एपीजे का फुल फॉर्म क्या है | APJ MEANING, FULL FORM IN HINDI
एपीजे का फुल फॉर्म क्या है | APJ MEANING, FULL FORM IN HINDI

डॉ. अब्दुल कलाम का जन्म तमिलनाडु के रामेश्वरम में 15 अक्टूबर, 1931 को हुआ था। इनके कार्यो को याद करके आज भी देश में इनकी सराहना की जाती है। इनको इनके काम के लिए कई पुरस्कार भी मिले है। APJ (एपीजे ) से जुड़ी जानकारी के लिए इस लेख को अंत तक पढ़े।

APJ (एपीजे ) फुल फॉर्म क्या है ?

APJ ( एपीजे ) का फुल फॉर्म है – Avul Pakir Jainulabdeen और हिंदी में अवुल पकिर जैनुलाब्दीन है। आम तौर पर इन्हे डॉ. अब्दुल कलाम के नाम से जाना जाता है। आर्थिक स्थिति ठीक न होने की वजह से इन्होने घर चलाने के लिए बचपन में ही काम शुरू कर दिया था। कलाम जी को बचपन से ही पढ़ने का काफ़ी शौक था। एपीजे ने अपनी इंजीनियरिंग की पढाई मद्रास इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी से पूरी की थी। इसके बाद इन्हे वैज्ञानिक के पद पर रक्षा अनुसन्धान और विकास संगठन (डीआरडीओ) में नियुक्त कर लिया गया था, और यहां पर इन्होने भारतीय सेना के लिए एक छोटे हेलीकाप्टर का डिजाईन बनाकर दिखाया था। डॉ. अब्दुल कलाम ‘इंडियन नेशनल कमेटी फॉर स्पेस रिसर्च’ के सदस्य भी थे जो की जवाहर लाल नेहरू द्वारा गठित थी। इसके बाद एपीजे का 1969 में ट्रांसफर भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो)  में करा दिया था, और वहां पर उन्हें सेटेलाइट लांच व्हीकल परियोजना के निदेशक के पद पे नियुक्त किया गया था। इस परियोजना के माध्यम से ही  ‘रोहिणी’ भारत का प्रथम उपग्रह पृथ्वी की कक्षा में वर्ष 1980 में स्थापित किया गया और इसी के बाद अब्दुल कलाम जी का नाम पुरे भारत में फेमस हो गया और इनका नाम भारत के बड़े वैज्ञानिकों में शामिल होने लगा। इस परियोजना के लिए ही भारत सरकार ने अब्दुल कलाम जी को पोखरण परमाणु  परिक्षण करने की प्रमुख जिम्मेदारी सौपी जिसका वर्ष 1998 में परिक्षण कलाम जी की देख – रेख में किया गया था।

APJ (एपीजे ) HIGHLIGHTS

नाम डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम
Dr. APJ Abdul Kalam
जन्म 15 अक्टूबर 1931
रामेश्वरम, रमानाथपुरम जिला, ब्रिटिश राज (मौजूदा तमिलनाडु, भारत)
मृत्यु 27 जुलाई 2015 (उम्र 83)
शिलोंग, मेघालय, भारत
पेशा प्रोफेसर, लेखक, वैज्ञानिक
एयरोस्पेस इंजीनियर
विद्या अर्जन सेंट जोसेफ कॉलेज, तिरुचिरापल्ली
मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
लिंक http://www.abdulkalam.com/

APJ (एपीजे ) द्वारा रचित किताबें

साहित्यिक रूप से भी कलाम ने अपने विचारों को पुस्तकों में समाहित किया है, जो कुछ इस प्रकार है –

  • ‘इण्डिया 2020 ए विज़न फ़ॉर द न्यू मिलेनियम’ .
  • ‘माई जर्नी’ .
  • ‘इग्नाटिड माइंड्स -अनलीशिंग द पॉवर विदिन इंडिया’।
  • एनविजनिंग अन एमपावर्ड नेशन: टेक्नालजी फार सोसायटल ट्रांसफारमेशन।
  • विंग्स ऑफ फायर: एन आटोबायोग्राफी ऑफ एपीजे अब्दुल कलाम : सह लेखक – अरुण तिवारी
  • साइंटिस्ट टू प्रेसिडेंट।

कई भारतीय तथा विदेशी भाषाओँ में इन पुस्तकों का अनुवाद हो चुका है। इन्हे 40 से अधिक विश्वविद्यालयों और संस्थानों में डॉक्टर की मानद उपाधि प्राप्त हो चुकी हैं, इस प्रकार यह भारत के एक विशिष्ट वैज्ञानिक थे।

पुरस्कार एवं सम्मान

कलाम जी को कई पुरस्कार और सम्मान दिए गए थे जैसे की –

डॉक्टर ऑफ़ साइंस , डॉक्टर ऑफ़ लॉज़, साइमन फ़्रेज़र विश्वविद्यालय, आइ॰ई॰ई॰ई॰ मानद सदस्यता, डॉक्टर ऑफ इन्जीनियरिंग, मानद डॉक्टरेट, हूवर मेडल, वॉन कार्मन विंग्स अन्तर्राष्ट्रीय अवार्ड, डॉक्टर ऑफ इन्जीनियरिंग (मानद उपाधि), डॉक्टर ऑफ साइन्स (मानद उपाधि), डॉक्टर ऑफ साइन्स एण्ड टेक्नोलॉजी की मानद उपाधि, किंग चार्ल्स II मेडल, डॉक्टर ऑफ साइन्स की मानद उपाधि, रामानुजन पुरस्कार, वीर सावरकर पुरस्कार, इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय एकता पुरस्कार, भारत रत्न, विशिष्ट शोधार्थी, पद्म विभूषण, पद्म भूषण।

BC Ka Full Form in Hindi | बीसी(BC) का मतलब क्या होता है

APJ (एपीजे) से जुड़े कुछ प्रश्न / उत्तर

एपीजे की फुलफॉर्म क्या है ?

एपीजे की फुल फॉर्म है – अवुल पकिर जैनुलाबदीन

कलाम जी का पूरा नाम क्या है ?

कलाम जी का पूरा नाम है – अवुल पकिर जैनुलाबदीन अब्दुल कलाम

अब्दुल कलाम जी का जन्म कब हुआ था ?

इनका जन्म 15 अक्टूबर 1931 को हुआ था।

कलाम जी ने अपनी शिक्षा कहां से प्राप्त की थी ?

सेंट जोसेफ कॉलेज, तिरुचिरापल्ली
मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी

यह भी पढ़े :

Leave a Comment