योग में करियर कैसे बनाएं- यहां है अवसरों की भरमार : How to Make Career in Yoga in Hindi

योग भारतीय संस्कृति की दुनिया को अमूल्य देन है। वर्तमान समय में तनावपूर्ण जीवनशैली और आधुनिक खानपान की वजह से हमारे जीवन में अनेक प्रकार की शारीरिक और मानसिक समस्याओ का जन्म हुआ है जिस कारण से योग की तरफ लोगो का झुकाव बढ़ा है। योग से ना सिर्फ शारीरिक समस्याओ और बीमारियों को दूर करके अच्छा-जीवन जिया जा सकता है अपितु यह हमारे मन को शांत करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। योग के महत्व को देखते हुए वर्त्तमान समय में संयुक्त-राष्ट्र संघ द्वारा भी 21 जून को योग दिवस (world yoga day) मनाया जा रहा है और देश-विदेश में योग के द्वारा लाखो लोग स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर रहे है।

योग में करियर कैसे बनाएं
योग में करियर कैसे बनाएं

वर्तमान में योग के प्रति जागरूकता एवं जरूरत के कारण योग के क्षेत्र में करियर की अपार सम्भावनाएँ पैदा हुयी है यही कारण है की आज लाखो लोग योग में अपना करियर बना रहे है। आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की योग में करियर कैसे बनाएं? (How to make career in yoga in hindi). इसके अतिरिक्त आपको योग में करियर सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं से भी आप इस आर्टिकल के माध्यम से परिचित होंगे।

योग क्या है (What Is Yoga)

योग में करियर बनाने के पूर्व यह जान लेना आवश्यक है की योग क्या है। वास्तव में योग एक संस्कृत शब्द है जिसका अर्थ होता है जोड़। हालांकि अधिकतर लोगो का यह सवाल होगा की यह किस चीज का जोड़ है तो आपको बता दें की योग मन, शरीर और आत्मा के जोड़ हेतु प्रयुक्त किया जाता है। वास्तव में मानव के मन, शरीर और आत्मा का एकीकृत हो जाना ही योग है और मानव को इस स्थित तक पहुंचाने वाली कला को ही योग कहा जाता है। महर्षि पतंजलि द्वारा योग के 8 अंग बताये गए है जो इस प्रकार से है :- यम नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान, समाधि। हालांकि योग का अर्थ वृहद्व है परन्तु वर्तमान में योग का मुख्य अर्थ मन और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए ही किया जाता है।

योग

योग में करियर बनाने के ढेरों अवसर उपलब्ध है और इसकी शुरुआत इंटरमीडिएट पास करने या ग्रेजुएशन करने के बाद की जा सकती है। योग में आपको सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा कोर्स, स्नातक-कोर्स और स्नाकोत्तर कोर्स करने का अवसर मिलता है जिसका चयन आप अपनी रूचि के अनुसार कर सकते है। बीए योग और एमए योग छात्रों के बीच सबसे अधिक लोकप्रिय कोर्स है जो की क्रमशः 12वीं के बाद एवं स्नातक के बाद किये जा सकते है। वही योग-विशेषज्ञ और प्राकृतिक चिकित्सा में भी करियर की बेहतर सम्भावनाएं है। आपको बता दे की योग कोर्सेस में दाखिला लेने के लिए किसी भी प्रकार की स्ट्रीम शर्त नहीं रखी गयी है। आप किसी भी स्ट्रीम से पासआउट होने पर इन कोर्सेस में दाखिला ले सकते है। हालांकि कुछ योग कोर्सेस में दाखिला लेने के लिए छात्रों का इंटरमीडिएट में विज्ञान विषय होना आवश्यक है।

योग में करियर कैसे बनाएं? जानें यहाँ (How to make career in yoga)

योग में करियर बनाने के लिए आपका योग में प्रशिक्षित होना आवश्यक है तभी आप दूसरों को बेहतर तरीके से योग सीखा सकते है। इसके लिए आवश्यक है की आप योग में अपनी इच्छानुसार सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, स्नातक या पीजी कोर्सेस कर ले। इसके बाद आप योग प्रशिक्षक या इससे सम्बंधित अन्य क्षेत्रों में अपना करियर बना सकते। यहाँ आपको योग में विभिन कोर्सस की सूची दी गयी है :-

योग में सर्टिफिकेट कोर्स

अगर आप योग में अपना करियर बनाना चाहते है और इसके लिए कम समय में अपना प्रशिक्षण पूरा करना चाहते है तो योग में सर्टिफिकेट कोर्स करना अच्छा विकल्प है। योग में सर्टिफिकेट कोर्स के तहत 200 घंटे, 300 घंटे से लेकर 500 घंटे तक के कोर्स विभिन संस्थानों द्वारा करवाए जाते है जिसके बाद आप सम्बंधित सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते है। सर्टिफिकेट कोर्सेस के बाद आप योग-प्रशिक्षक, योग इंस्ट्रक्टर के रूप में कार्य कर सकते है। सर्टिफिकेट कोर्स इन योग (CCY) की अवधि डेढ़ माह से लेकर 3 माह तक की होती है।

योग में डिप्लोमा (Diploma in Yoga)

12वीं के बाद योग में डिप्लोमा करके भी आप अपने योग करियर की शुरुआत कर सकते है। योग में डिप्लोमा कोर्स की अवधि 6 माह से एक साल तक की रहती है जिसके दौरान आपको योग की मूलभूत बातों का ज्ञान दिया जाता है। डिप्लोमा के दौरान आपको योग, प्राणायाम, मानसिक-स्वास्थ्य और प्रकृति-चिकित्सा सम्बंधित जानकारी भी दी जाती है जिसके बाद आप योग-प्रशिक्षक के रूप में अपना करियर शुरू कर सकते है।

योग में स्नातक पाठ्यक्रम (UG in Yoga)

  • बीए योगा (BA yoga)– बीए योगा 12वीं के बाद स्नातक स्तर पर सबसे अधिक लोकप्रिय स्नातक कोर्स है। 12वीं में किसी भी स्ट्रीम से उत्तीर्ण होने वाले छात्र बीए योगा में एडमिशन ले सकते है और योग में अपना करियर बना सकते है। इस कोर्स की अवधि 3 वर्ष की होती है जहाँ आप योग के सभी मूलभूत तथ्यों और इतिहास से परिचित होते है।
  • बीएससी योग (BSc Yoga)– बीएससी योग भी 12वीं के बाद स्नातक स्तर पर बहुत अधिक लोकप्रिय कोर्स है जहाँ आप योग के मूलभूत तथ्यों में बारे में जानकारी प्राप्त करते है। साथ ही बीएससी योग में आपको मानव शरीर की रचना और योग के मानव शरीर एवं मन पर मौलिक प्रभावों के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है।
  • स्नातक पाठ्यक्रम (UG in Yoga)– इसके अतिरिक्त भी स्नातक स्तर पर विभिन संस्थानों के द्वारा योग कोर्सस का संचालन किया जाता है जहाँ आप योग के बारे में गहराई से ज्ञान प्राप्त कर सकते है। बीएससी योग विज्ञान (BSc Yoga Science) स्नातक पाठ्यक्रमो में प्रसिद्ध कोर्स है।

योग में स्नाकोत्तर पाठ्यक्रम (PG in Yoga)

  • एमए योग (MA Yoga)- योग के क्षेत्र में गहन जानकारी प्राप्त करने और इस क्षेत्र में मूलभूत खोज करने के इच्छुक छात्रों के लिए एमए योग सबसे अधिक पसंदीदा कोर्स है जहाँ छात्रों को योग सम्बंधित एडवांस जानकारी प्रदान की जाती है। यहाँ से योग के मौलिक तथ्यों का विस्तार से वर्णन किया जाता है ऐसे में योग में गहन अध्ययन के लिए एमए योग बेहतर विकल्प है। इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष है।
  • एमएससी योगा (MSc Yoga)– योग का मानव शरीर और मन पर प्रभाव, योग का विज्ञान और योग सम्बंधित गहन जानकारी के लिए छात्रों के लिए एमएससी योगा पसंदीदा कोर्स है। यहाँ आपको योग के अन्य सभी महत्वपूर्ण अंगो के अध्ययन का भी मौका मिलता है जिसमे मानव शरीर रचना, फिजियोलॉजी, एनोटॉमी, उपनिषद, योग सूत्रों, योग थेरेपी और योग के अन्य अंगो का गहन अध्ययन किया जाता है। इस कोर्स की अवधि भी 2 वर्ष है।
  • योग में स्नाकोत्तर पाठ्यक्रम (PG in Yoga)– योग में एडवांस स्तर के अध्ययन के लिए विभिन संस्थानों द्वारा स्नातकोत्तर कोर्सेस का संचालन किया जाता है। अगर आप योग में रिसर्च एंड डेवलपमेंट में रूचि रखते है तो आप अपनी पसंदनुसार विभिन पीजी कोर्सेस में दाखिला ले सकते है।

योग में अन्य पाठ्यक्रम (other courses in Yoga)

  • उन्नत योग शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम (AYTTC)– जैसे-जैसे योग के प्रति जागरूकता बढ़ रही है उसी अनुपात में योग प्रशिक्षकों की डिमांड भी बढ़ती जा रही है। उन्नत योग शिक्षक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम (AYTTC) के अंतर्गत प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद आप योग इंस्ट्रक्टर के रूप में अपनी सेवाएँ दे सकते है। भारत सरकार द्वारा भी इससे सम्बंधित विभिन प्रकार के कोर्स संचालित किये जा रहे है।
  • बीएड योग (B.Ed-Yoga)- अगर आप योग के क्षेत्र में टीचर बनने के बारे में सोच रहे है तो बीएड योग के बाद आप योग के क्षेत्र में टीचर बनने का सपना पूरा कर सकते है। इसके लिए विभिन संस्थानों द्वारा बीएड योग कोर्स संचालित किये जा रहे है।

योग में करियर (Career in Yoga)

योग में विभिन कोर्सेस करने के बाद योग प्रशिक्षित हो जाते है जिसके बाद आप विभिन क्षेत्रों में अपनी सेवायें दे सकते है। इसके अतिरिक्त आप चाहे तो अपनी योग क्लासेज भी खोल सकते है जहाँ आप अन्य लोगो को योग सिखा सकते है। योग में आप निम्न रूप से अपना करियर बना सकते है :-

योग में करियर कैसे बनाएं? यहां है अवसरों की भरमार
  • योग प्रशिक्षक
  • योग सलाहकार
  • योग प्रैक्टिशनर
  • योग चिकित्सक
  • योग विशेषज्ञ
  • योग शिक्षक
  • योग सलाहकार
  • योग एरोबिक प्रशिक्षक
  • प्रकाशन अधिकारी (योग)
  • अनुसंधान अधिकारी- योग और प्राकृतिक चिकित्सा

योग में पूर्ण रूप से प्रशिक्षित हो जाने के पश्चात आप योग प्रशिक्षक के रूप में अपनी सेवाएँ दे सकते है। इसके अतिरिक्त विभिन योग संस्थानों, कंपनियों, हॉस्पिटल, एवं विभिन संस्थानों द्वारा अपने यहाँ योग प्रशिक्षकों की रिक्तियाँ निकाली जाती है जहाँ आप आवेदन कर सकते है। योग में आप शुरुआत में 30,000 से 40,000 रुपए प्रतिमाह कमा सकते है जिसके बाद अनुभव बढ़ने के साथ आपकी कमाई भी बढ़ने लगती है। इसके अतिरिक्त विदेशों में भी योग की बहुत डिमांड है ऐसे में आप विदेश में जाकर भी योग प्रशिक्षण के माध्यम से अच्छा-ख़ासा पैसा कमा सकते है।

यहां है अवसरों की भरमार

अगर आप योग में प्रशिक्षण लेना चाहते है और किसी अच्छे संस्थान की तलाश कर रहे है तो यहाँ आपको भारत के टॉप-कॉलेज की सूची दी गयी है जहाँ से आप अपने करियर को नयी दिशा दे सकते है।

  • मोरारजी देसाई नेशनल इस्टीट्यूट ऑफ योग, दिल्ली
  • देव संस्कृति विश्वविद्यालय, हरिद्वार, उत्तराखंड 
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ योगा एंड नेचुरोपैथी, नई दिल्ली
  • बिहार योग भारती, मुंगेर
  • भारतीय विद्या भवन, दिल्ली
  • बिहार योग विद्यालय, बिहार
  • पतंजलि इंटरनेशनल योग फाउंडेशन ऋषिकेश, उत्तराखंड
  • ईशा हठ योग स्कूल, कोयंबटूर
  • राजर्षि टंडन विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश
  • श्री श्री योग विद्यालय, उदयपुरा, कर्नाटक
  • कैवल्यधाम लोनावाला, महाराष्ट्र
  • श्री लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, नई दिल्ली

योग में करियर कैसे बनाएं से सम्बंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

योग में करियर बनाने के लिए क्या करें ?

योग में करियर बनाने के लिए आपको किसी भी अच्छे संस्थान से योग-प्रशिक्षण प्राप्त करना होगा जिसके अंतर्गत आप सर्टिफिकेट-कोर्स, डिप्लोमा-कोर्स या स्नातक-स्नाकोत्तर कोर्स के बाद अपना योग करियर बना सकते है।

योग में कौन-कौन से कोर्स उपलब्ध है ?

योग में उपलब्ध विभिन-कोर्सो की जानकारी के लिए ऊपर दिया गया लेख पढ़े। यहाँ आपको योग में उपलब्ध विभिन कोर्सो की सूची उपलब्ध करवाई गयी है।

योग में करियर की क्या-क्या सम्भावनाये है ?

योग में प्रशिक्षण प्राप्त करने के पश्चात आप योग में अपना करियर बना सकते है। कोर्स पूरा करने के पश्चात आपको योग प्रशिक्षक, योग सलाहकार, योग प्रैक्टिशनर, योग चिकित्सक, योग विशेषज्ञ, योग शिक्षक, योग सलाहकार, योग एरोबिक प्रशिक्षक, प्रकाशन अधिकारी (योग) और अनुसंधान अधिकारी- योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा के रूप में कार्य कर सकते है।

योग में स्नातकोत्तर कोर्स क्या- क्या है ?

योग में स्नातकोत्तर कोर्स बीए योगा (BA yoga) और बीएससी योग (BSc Yoga) योग है। इसके अतिरिक्त विभिन संस्थानों द्वारा योग में अन्य स्नातक कोर्स भी उपलब्ध करवाए जाते है।

योग दिवस का आयोजन कब किया जाता है ?

योग दिवस का आयोजन प्रतिवर्ष 21 जून को किया जाता है। इसे वर्ष 2015 से निरंतर 21 जून को मनाया जा रहा है जिसे संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा भी मान्यता प्रदान की गयी है।

Leave a Comment