IVF full form: आईवीएफ तकनीक क्या है, इसके फायदे (IVF का फुल फॉर्म)

IVF full form – तो दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है की हर किसी व्यक्ति के लिए सबसे पहला स्थान उसके माँ बाप का होता है। माँ बाप अपने बच्चे के लिए हर चीज करने की कोशिश करते है। जो लोग किसी के माता पिता है उनसे अगर आप यह पूछेंगे की आपको कितनी ख़ुशी हुई थी जब वह माता पिता बने थे। तो वह अपनी ख़ुशी बयां नहीं कर पाएंगे क्योंकि उनके लिए वो पल बहुत ही अनोखा था। परन्तु दोस्तों आप सभी यह भी जानते होंगे की इस दुनिया में कई लोग ऐसे भी होते है माँ बाप बनने में असमर्थ होते है। माँ बाप बनने की इच्छा तो हर किसी शादीशुदा जोड़े की होती है। वह लोग बहुत ही दुखी होते होंगे जब उनको यह पता चलता होगा की वह माँ बाप बनने में असमर्थ है। परन्तु आज के समय में टेक्नोलॉजी इतनी बढ़ चुकी है इसका इलाज भी विज्ञान के पास मौजूद है।

IVF full form: आईवीएफ तकनीक क्या है, इसके फायदे (IVF का फुल फॉर्म)
IVF Full form in hindi

इसके लिए विज्ञान ने कुछ नई टेक्नोलॉजी की खोज की है। जिसकी मदद से जो लोग माँ बाप बनने में असमर्थ थे वह भी अब माता पिता बन सकते है। उन टेक्नोलॉजी का नाम है सेरोगेसी और IVF टेक्नोलॉजी। तो दोस्तों क्या अपने IVF का नाम पहले भी सुना है अगर नहीं तो आपको चिंता करने की कोई भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि आज हम आप सभी को इस लेखकि मदद से आईवीएफ के बारे में बहुत सी जानकारी प्रदन करने वाल है जैसे की – आईवीएफ तकनीक क्या है, इसके फायदे (IVF का फुल फॉर्म) आदि जैसी जानकारी। तो दोस्तों अगर आप भी इससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो उसके लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा क्योंकि इस लेख को पढ़ने से ही आप इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकोगे।

इस पर भी गौर करें :- HIV क्या होता है? HIV का फुल फॉर्म क्या होता है?

IVF का फुल फॉर्म क्या होता है | What is the full form of IVF

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर IVF की फुल फॉर्म बताने वाले है अगर आप भी इसकी फुल फॉर्म जानना चाहते हो तो उसके लिए आप सभी को इस लेख को ध्यान से पढ़ना होगा।

  • The full form of IVF in english – “In Vitro Fertilization”
  • आईवीएफ की फुल फॉर्म हिंदी में – विट्रो निषेचन

आईवीएफ तकनीक क्या है ?

तो दोस्तों जैसा की हमने आप सभी को यहाँ पर बताया है की आईवीएफ की फुल फॉर्म “In Vitro Fertilization” होती है। इसको हिंदी में विट्रो निषेचन के नाम से भी जाना जाता है। तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की यह एक प्रकार की टेक्नोलॉजी है जिसकी मदद से वह लोग भी माता पिता बन सकते है जो की माँ बाप बनने में असमर्थ थे। यह एक प्रकार की प्रक्रिया है जिसमे इंसान के शरीर के बाहर लैब में महिला के एग को स्पर्म से जोड़ा जाता है। उसके बाद वो भ्रूण बन जाता है जिसको एम्ब्र्यो भी कहा जाता है। यह प्रक्रिया होने के बाद उस भ्रूण को महिला के गर्भाशय में रखा जाता है। जिसकी मदद से वह महिला भी माँ बन सकती है।

आप सभी को यह भी बता दे की पहली बार इस प्रक्रिया का प्रयोग 1978 को इंग्लैंड में किया गया था। इस प्रक्रिया को टेस्ट ट्यूब बेबी ट्रीटमेंट के नाम से भी जाना जाता है। यह प्रक्रिया हर कोई नहीं करवा सकता है क्योंकि यह प्रक्रिया बहुत ही महंगी होती है। आज के समय में बहुत से लोग माँ बाप बनने के लिए IVF टेक्नोलॉजी का प्रयोग करते है और इसकी मदद से वह माता पिता बनने में सफल भी होते है।

IVF ट्रीटमेंट के फायदे | Benefits of IVF Treatment

तो दोस्तों अब हम आप सभी को आईवीएफ टेक्नोलॉजी से होने वाल कुछ लाभों के बारे में बताने वाले है। तो यह सब जानकारी पाने के लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा।

  • इस ट्रीटमेंट का सबसे बड़ा लाभ तो यह होता है की जो लोग माँ बाप बनने में असमर्थ थे इसकी मदद से वह लोग भी माता पिता बन सकते है।
  • इस ट्रीटमेंट के जरिये माँ बाप बनने की सम्भावना अधिक इसलिए होती है क्योंकि विट्रो निषेचन की प्रक्रिया में डॉक्टर अच्छे व बेहतर अण्डों का चुनाव करते है और उन्ही को उपयोग में लाते है जिसके कारण ही अधिकतर लोग इसके जरिये माता पिता बन सकते है।
  • इस ट्रीटमेंट के होने के पश्चात किसी भी महिला के गर्भपात होने की सम्भावना बहुत ही कम होती है। इसको बांझपन का एक बेहतर व सुरक्षित इलाज भी माना जाता है।
  • इस ट्रीटमेंट से किसी को भी इस बात की आजादी मिलती है की वह लोग अपने माता पिता बनने के लिए निश्चित समय चुन सकते है।
  • अगर किसी कारण पुरुष के स्पर्म की गुणवत्ता अच्छी नहीं है या फिर महिला के अंडे की गुणवत्ता अच्छी नहीं होती है तो ऐसी स्थिति में डोनर के स्पर्म या फिर एग का प्रयोग किया जाता है।

IVF से सम्बंधित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर यहाँ पर जानिए

IVF का फुल फॉर्म क्या होता है

IVF का फुल फॉर्म कुछ इस प्रकार है :-
The full form of IVF in english – “In Vitro Fertilization”
आईवीएफ की फुल फॉर्म हिंदी में – विट्रो निषेचन

आईवीएफ तकनीक क्या है ?

तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की यह एक प्रकार की टेक्नोलॉजी है जिसकी मदद से वह लोग भी माता पिता बन सकते है जो की माँ बाप बनने में असमर्थ थे। यह एक प्रकार की प्रक्रिया है जिसमे इंसान के शरीर के बाहर लैब में महिला के एग को स्पर्म से जोड़ा जाता है। उसके बाद वो भ्रूण बन जाता है जिसको एम्ब्र्यो भी कहा जाता है। यह प्रक्रिया होने के बाद उस भ्रूण को महिला के गर्भाशय में रखा जाता है। जिसकी मदद से वह महिला भी माँ बन सकती है।

इस ट्रीटमेंट का उपयोग प्रथम बार कब किया गया था ?

इस ट्रीटमेंट का उपयोग प्रथम बार इंग्लैंड में 1978 को किया गया था।

आईवीएफ ट्रीटमेंट में कितने पैसे लगते है

आईवीएफ ट्रीटमेंट में 1 लाख रुपया या फिर उससे अधिक भी लग सकते है।

Leave a Comment