उत्तर प्रदेश वृद्धा पेंशन योजना 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया है. यूपी वृद्धा पेंशन स्‍कीम के तहत 500 रुपए प्रतिमाह मिलेंगे

उत्तर प्रदेश में वृद्धा पेंशन पाने के लिए लाभार्थी बनने के लिए क्‍या अर्हता है और हर माह कितनी पेंशन मिलती हैं, ये जानना हर किसी को जरूरी है

क्‍योंकि हर घर में बुजुर्ग हैं और उन्‍हें ये जानना जरूरी है कि वो इस पेंशन योजना का लाभ पाने के लिए पात्र हैं कि नहीं

सरकार की ओर से अनेकों योजनाएं चल रही है, लेकिन जानकारी के अभाव में बहुत से लोग उससे वंचित रह जाते हैं

उत्तर प्रदेश वृद्धा पेंशन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया है. केन्‍द्र और राज्‍य सरकार 60 साल से अधिक उम्र के लोगों को वृद्धावस्‍था पेंशन योजना का लाभ देती है 

यूपी वृद्धा पेंशन स्‍कीम के तहत 500 रुपए प्रतिमाह मिलेंगे. जो उम्‍मीदवार वृद्धावस्‍था पेंशन योजना का लाभ पाना चाहते हैं,

उन्‍हें यूपी की अधिकारिक वेबसाइट sspy-up.gov.in पर जाकर लॉगइन कर आवेदन की प्रक्रिया को पूरा करना होगा

आवेदक को यूपी पेंशन योजना का लाभ पाने के लिए उत्तर प्रदेश राज्‍य का निवासी होना जरूरी है. आवेदक गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करता हो.

शहरी क्षेत्र के रहने वाले वृद्ध की वार्षिक आय 56,460 और ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले ऐसे बुजुर्ग जिनकी वार्षिक आय 46,080 है, वे इसके लिए आवेदन कर सकते हैं.

आवेदक को यूपी पेंशन योजना का लाभ पाने के लिए उत्तर प्रदेश राज्‍य का निवासी होना जरूरी है. आवेदक गरीबी रेखा से नीचे जीवन-यापन करता हो.

आवेदक के पास बीपीएल का प्रमाणपत्र होना चाहिए. आवेदक समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग का हो. वृद्धावस्‍था पेंशन पाने के लिए आवेदन करने वाले बुजुर्गों को जन्‍म और आयु प्रमाण पत्र की आवश्‍यकता होगी.

वृद्धावस्‍था पेंशन पाने के लिए आवेदन करने वाले बुजुर्गों को जन्‍म और आयु प्रमाण पत्र की आवश्‍यकता होगी. इसके अलावा पहचान का प्रमाण पत्र होना चाहिए.

पहचान प्रमाण पत्र में मतदाता पहचानपत्र, आधार कार्ड, राशन कार्ड का प्रयोग किया जा सकता है. इसके साथ ही बैंक पासबुक, सक्षम अधिकारी द्वारा जारी किया गया आय प्रमाण पत्र आवश्‍यक है.