उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2022: रजिस्ट्रेशन, लाभ, EK Must Samadhan

उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2022: उत्तर-प्रदेश राज्य सरकार द्वारा प्रदेश की जनता के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं चलायी जा रही हैं। इन योजनाओं में सभी वर्गों को लाभ प्रदान करने की ओर विशेष ध्यान दिया जाता है। इन्ही योजनाओं में से एक योजना को राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के गरीब किसानो के लिए शुरू किया गया है जिसे उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना के नाम से जाना जाता है। इस योजना से गरीब किसानो को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। योजना का लाभ लेने वाले सभी पात्र किसानों को सबसे पहले योजना के तहत अपना पंजीकरण कराना होगा। रजिस्ट्रेशन करा लेने पर ही आपको योजना का लाभ दिया जायेगा।

UP EK Musht Samadhan Yojana Registration Process
UP EK Musht Samadhan Yojana Registration Process

आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको UP EK Musht Samadhan Yojana 2022 क्या है? UP EK Musht Samadhan Yojana online registration (पंजीकरण प्रक्रिया ),योजना के लाभ ,आवश्यक दस्तावेज एवं योजना के लिए पात्रता आदि महत्वपूर्ण जानकारी को साझा करने जा रहे हैं। अतः पाठकों से अनुरोध है कि वह योजना के लाभ और योजना की अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए लेख के साथ अंत तक बने रहें।

Article Contents

UP एकमुश्त समाधान योजना 2022 क्या है ?

जैसे की हम जानते ही है उत्तर प्रदेश एक कृषि प्रधान राज्य है जहाँ की लगभग तीन-चौथाई (75 प्रतिशत) से भी अधिक जनसंख्या कृषि कार्यों में सलंग्न है। राज्य की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से कृषि पर आधारित है और ऐसे में आवश्यक हो जाता है की राज्य सरकार कृषि कार्य में सलंग्न किसानों के लिए कल्याणकारी कदम उठाये और ऐसा हो ही भी रहा है। उत्तर-प्रदेश राज्य सरकार द्वारा किसानों को कई योजनाओं के अंतर्गत लाभ दिया जाता है। इन्ही योजनाओं में से एक योजना एकमुश्त समाधान योजना उत्तर-प्रदेश के नाम से जाने जाती है। राज्य के सभी गरीब किसानो को सहायता प्रदान करने हेतु श्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा इस योजना को शुरू किया गया है। योजना के माध्यम से उन सभी गरीब किसानो को सहायता प्रदान की जाएगी जिन्होंने अपनी कृषि भूमि या उससे संबंधित आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु कोई ऋण लिया हो। यह योजना राज्य के गरीब किसानों के लिए ही चलायी जा रही है। इस योजना के तहत 2.63 लाख कृषको को लाभान्वित किया जाना है। किसानों के कल्याण के उद्देश्य से योजना को शुरू किया गया है जिसके तहत उत्तर प्रदेश सरकार राज्य के किसानों को एकमुश्त ऋण चुकाने पर 35% से लेकर 100% की छूट दी जाती है।

Key HIGHLIGHTS Uttar-Pradesh EK Musht Samadhan Yojana 2022

नीचे टेबल में हमारे द्वारा इस योजना के बारे में संक्षिप्त विवरण प्रस्तुत किया गया है आवेदक इस सारिणी के माध्यम से योजना के बारे में जानकारी ले सकेंगे –

आर्टिकल विवरण
आर्टिकल उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2022
रजिस्ट्रेशन व लाभ
योजना का नामउत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना
योजना शुरू की गयी उत्तरा-प्रदेश सरकार द्वारा
योजना श्रेणी सरकारी योजना
राज्य उत्तर -प्रदेश
उद्देश्य गरीब किसानो की ऋण भुगतान में सहायता प्रदान करना
लाभार्थी राज्य के सभी गरीब किसान
लाभ किसानो की आर्थिक मदद मिलेगी
आधिकारिक वेबसाइट upgramvikasbank.up.nic.in
https://upsgvb.in
योजन आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन/ऑफलाइन
साल 2022

Mukhyamantri EK Must Samadhan Yojana UP 2022 objective (योजना का उद्देश्य /लक्ष्य )

सीएम एकमुश्त समाधान योजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के गरीब किसानों को खेती तथा खेती से सम्बन्धित किसिस भी प्रकार की आवश्यक वस्तुओं के लिए सहायता प्रदान करना है। इस योजना का उद्देश्य गरीब किसानों को ऋण से मक्ति दिलाना है। ऐसे सभी किसान जिन्हें अपनी कृषि के लिए कई बार उच्च ब्याज दरों पर ऋण लेना पड़ता है और अपनी आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण वह इस ब्याज दर को चुका पाने में असमर्थ होते हैं ऐसी स्थिति से किसानो को आर्थिक सुरक्षा प्रदान करना ही एकमुश्त समाधान योजना का उद्देश्य है। इस योजना के तहत सभी पात्र गरीब किसानों को निम्न दर पर राशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से गरीब किसान योजना के तहत मिलने वाले लाभ से ब्याज पर ली गयी ऋण राशि का एकमुश्त भुगतान कर पाएंगे। राज्य के कोई भी कृषक इस योजना का लाभ योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण करवा कर उठा सकेंगे।

यूपी एकमुश्त समाधान योजना के लाभ

  • CM EK Must Samadhan Yojana 2022 से राज्य के सभी किसानो/कृषको को लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • योजना के तहत राज्य के 2.63 लाभ किसानो को इसका लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • योजना के अंतर्गत राज्य के किसानों को ऋण चुकाने के लिए कुछ छूट दी जाएगी। जिसके माध्यम से सभी किसानों को ऋण से मुक्ति मिलेगी।
  • इस योजना का लाभ योजना में आवेदन कर उत्तर-प्रदेश राज्य का कोई भी किसान नागरिक उठा सकेगा।

आवेदन हेतु पात्रता मापदंड –

इस योजना के अंतर्गत मिलने वाले लाभ के लिए आवेदनकर्ता को नीचे दी गयी पात्रता शर्तों को पूरा करना आवश्यक है। मुख्यमंत्री एकमुश्त समाधान योजना उत्तर-प्रदेश के लिए क्या पात्रता होनी चाहिए ? आईये जानते हैं –

  • यूपी मुख्यमंत्री द्वारा एकमुश्त समाधान योजना का आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता को उत्तर प्रदेश राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • यह योजना यूपी राज्य के किसानों के लिए शुरू की गयी है अर्थात राज्य के किसान नागरिक ही योजना के पात्र होंगे।
  • अन्य राज्य के किसान नागरिक इस योजना के लिए पात्र नहीं माने जा सकेंगे।

किसान एकमुश्त योजना आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज (Important Documents)

नीचे कुछ जरुरी दस्तावेजों की सूची को दिया गया है। उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना का आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता को जिन जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी उसके बारे में नीचे बताया गया है। यदि आप भी इस योजना के पात्र हैं तो आपको आवेदन फॉर्म को भरते समय कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। Important Documents For EK Must Samadhan Scheme 2022 इस प्रकार से हैं –

आधार कार्डमूल निवासी प्रमाण पत्र
जमीन के कागजातबैंक खाता नंबर
लोन के कागजातपहचान पत्र
पासपोर्ट साइज फोटोमोबाइल नंबर

ऐसे करें उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना हेतु ऑनलाइन आवेदन ( रजिस्ट्रेशन प्रोसेस )

उप्र एकमुश्त समाधान योजना 2022 के अंतर्गत आवेदन कर इस योजना का लाभ लिया जा सकेगा। योजना आवेदन करने के इच्छुक उम्मीदवार उत्तर प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना रजिस्ट्रेशन कैसे करें ? इसकी प्रक्रिया को अपनाकर आसानी से योजना का लाभ लेने हेतु आवेदन कर सकेंगे। आइये जानते हैं ;आवेदन प्रक्रिया के बारे में –

  • उम्मीदवार को इस योजना में आवेदन के लिए सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर इस वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको एकमुश्त समाधान योजना का लिंक दिखाई देगा।
  • इस दिए हुए लिंक पर आपको क्लिक करना होगा।
  • लिंक पर क्लिक करते ही अब आपके सामने एक आवेदन फॉर्म खुल कर आ जायेगा।
  • अब आपको इस फॉर्म में पूछी गयी सभी आवश्यक जानकारियों जैसे कि- नाम ,पता ,मोबाइल नंबर आदि को ध्यानपूर्वक भर देना होगा।
  • अब आपको इस फॉर्म में सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच कर लेना होगा।
  • सभी जानकारी भर लेने के उपरान्त अब आपको अंत में सबमिट बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आपका किसान एकमुश्त समाधान योजना यूपी के लिए आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

एकमुश्त समाधान योजना हेतु पंजीकरण /आवेदन (ऑफलाइन प्रक्रिया ) [How To Apply For Ek Must Samadhan Yojana 2022 ]

  • इसके लिए आवेदनकर्ता को अपने साथ जरुरी दस्तावेजों को लेकर सबसे पहले नजदीकी उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक की शाखा में जाना होगा।
  • अब आपको इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए एक आवेदन पत्र यहाँ से प्राप्त कर लेना है।
  • इस आवेदन पत्र (एप्लीकेशन फॉर्म ) के लिए आपको 200 रुपए का शुल्क जमा करना होगा।
  • अब आपको इस आवेदन पत्र में पूछी गयी समस्त जानकारी को सही-सही दर्ज कर लेना है।
  • इन सभी जानकारी को दर्ज करने के उपरांत अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को एक फॉर्म के साथ में अटैच कर देना है।
  • इसके साथ ही इसमें आवेदन पत्र में कृषक का फोटो के साथ ग्राम प्रधान तथा पत्रावली तैयार कर्ता के हस्ताक्षर करवाने होंगे.
  • इसके बाद आपको नवीनतम खसरा एवं खतौनी किसारी बही, आकार पत्र, 5,11,23 और 45 की प्रमाणित नकल एवं शाखा प्रबंधन के सक्षम बकाया ना होने का शपथ पत्र अटैच करना होगा।
  • अब आपको 100 प्रति अंश की दर से न्यूनतम 10 रूपए अंशों का अग्रिम अंशदान जमा करने के साथ ही आपको 3 रुपये का प्रवेश शुल्क को भी जमा कर देना होगा।
  • सभी शुल्क को भरने के बाद अब आपको अंत में आवेदन पत्र (application form)को उत्तर प्रदेश सहकारी ग्राम विकास बैंक की शाखा में जमा करा देना होगा।
  • इस प्रकार से आप इस योजना के तहत अपना ऑफलाइन आवेदन बड़ी ही आसान प्रक्रिया से गुजरकर कर सकेंगे।

योजना के अंतर्गत ब्याज दरें एवं नियम शर्तें –

  • लघु सिंचाई, एसआरटीओ, कृषि यंत्रीकरण एवं मौन पालन योजना के अंतर्गत इसकी ब्याज दर 11% रहेगी।
  • पशुपालन, डेयरी, ग्रामीण आवास, डनलपकार्ट, हार्टीकल्चर, पोल्ट्री योजना, मत्स्य पालन, अकृषि क्षेत्र की योजनाएं व अन्य के लिए बजाय दर 11.50% है।
  • ऐसे किसान जो अपने लोन का भुगतान समय पर करते हैं उनके लिए यह ब्याज राखी गयी है।
  • समय पर भुगतान नहीं करने वाले कृषकों को 1% अतिरिक्त ब्याज दर का भुगतान योजना के अंतर्गत करना होगा।

योजना अंतर्गत ब्याज में छूट हेतु तीन श्रेणियाँ रखी गयी है –

  1. पहली श्रेणी – ऐसे सभी किसान जिनका 31 मार्च 1997 से पहले का ऋण बाकि है और उनके द्वारा इस ऋण को चुकाया नहीं गया है उस पर देय पुरे ब्याज को इस योजना के अंतर्गत माफ़ किया जायेगा।
  2. दूसरी श्रेणी– इसमें ऐसे सभी किसान आते हैं जिनके द्वारा 1 अप्रैल 1997 को या इसके उपरान्त 31 मार्च 2007 तक ऋण लिया गया है उन्हें योजना के तहत ब्याज में छूट प्रदान होगी। आपको बताते चलें की इस ऋण राशि के बराबर या उससे अधिक ब्याज की वसूली हो जाने पर उनमें शेष मूलधन लिया जाएगा।
  3. तीसरी- इस श्रेणी में 1 अप्रैल 2007 से 31 मार्च 2012 तक कर्ज लेने वाले राज्य के समस्त किसानो को कई प्रकार से छूट प्रदान की जा सकेगी। इसके अंतर्गत कर्जदार किसानो पर देय समस्त मूलधन की शत-प्रतिशत वसूली होगी। योजना आरम्भ तिथि से 31 जुलाई 2018 के मध्य समझौता करके खाता बंद करने की स्थिति में ब्याज में 50 प्रतिशत की छूट प्रदान की जाएगी तथा 1 अगस्त 2018 से 31 अक्टूबर 2018 के बीच समझौता करके खाता बंद करने की स्थिति में ब्याज में 40 प्रतिशत की छूट प्रदान की जाएगी तथा 1 नवंबर 2019 से 31 जनवरी 2020 के बीच समझौता कर खाता बंद करने पर ब्याज में 35 प्रतिशत की छूट प्रदान होगी।

यूपी एकमुश्त समाधान योजना 2022 से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर –

EK Must Samadhan Yojana का पंजीकरण करने के लिए क्या करना होगा ?

EK Must Samadhan Yojana का पंजीकरण करने के लिए आवेदनकर्ता को upgramvikasbank.up.nic.in ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा ।

एकमुश्त समाधान योजना का आवेदन करने के लिए किन आवश्यक दस्तावेजों की आवश्यकता होगी?

किसान समाधान योजना का अप्लाई फॉर्म भरने के लिए आपको कुछ जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता होंगी ;जैसे-आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, जमीन के कागजात, लोन के कागजात, बैंक खाता नंबर, पहचान पत्र, पासपोर्ट साइज फोटो, मोबाइल नंबर आदि।

योजना के लिए आवेदन कैसे करें ?

UP EK Must Samadhan Yojana 2022 के लिए आवेदन की प्रक्रिया को ऊपर आर्टिकल में दिया गया है। आवेदन के लिए आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक हमारे द्वारा आर्टिकल में दिया गया है।

योजना के लिए आवेदन का माध्यम क्या है ?

आप योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों ही तरीके से इसके लिए आवेदन कर सकोगे।

उत्तर-प्रदेश एकमुश्त समाधान योजना 2022 के अंतर्गत किसानों को ब्याज दरों में कितनी छूट दी जाएगी ?

उप्र किसान एकमुश्त समाधान योजना के अंतर्गत 35% से लेकर 100% तक की ब्याज दर में छूट दी जाएगी।

इस योजना का लाभ किसे मिलेगा ?

योजना का लाभ उत्तर-प्रदेश के गरीब किसानों को मिलेगा।

Leave a Comment