UPPSC Full Form in Hindi | यूपीपीएससी की तैयारी कैसे करें

प्रिय दोस्तों नमस्कार, आप सभी जानते हैं कि आज कल देश में बढ़ती बेरोजगारी को देखकर देश के बहुत से युवा किसी न किसी सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं तो आप सभी को UPPSC के बारे में पता ही होगा। अगर आपको नहीं पता तो हम यहां UPPSC का पूरा नाम, UPPSC Full Form in Hindi, यूपीपीएससी क्या है? और क्या है यूपीपीएससी के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया, परीक्षा की तैयारी करने के टिप्स और इसके साथ ही कैसे होता है इंटरव्यू से लेकर सिलेक्शन तक का प्रोसेस बताने वाले हैं

UPPSC Full Form in Hindi | यूपीपीएससी की तैयारी कैसे करें
UPPSC Full Form in Hindi | यूपीपीएससी की तैयारी कैसे करें

UPPSC Full Form in Hindi – यूपीपीएससी फूल फॉर्म

यूपीपीएससी का मतलब यानि फुलफॉर्म होता है “उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग।
अंग्रेजी में इसे Uttar Pradesh Public Service Commission कहा जाता है,
इसी को शार्ट में UPPSC कहते हैं। UPPSC उत्तरप्रदेश के सभी विभागों में प्रशासनिक पदों के
लिए प्रतियोगी परीक्षाएं आयोजित करता है। UPPSC में हर वर्ष लगभग 4,00,000 से ज्यादा युवा कैंडिडेट सरकारी नौकरी के लिए आवेदन करते हैं और परीक्षा में बैठते हैं लेकिन उनमें से कुछ ही का सिलेक्शन सरकारी नौकरी के लिए हो पाता है
आगे विस्तार से जानें यूपीपीएससी के बारे में।

UPPCS क्या है आईये इसके बारे में जाने ?

ब्रिटिश काल में अंग्रेजों को अपना शासन भारत में अच्छे तरीके से चलाने के लिए बेहतर सिविल सेवाओं की जरूरत महसुस हुई। अंग्रेजी हुकूमत को भारतीयकरण राजनीतिक आंदोलन की प्रमुख मांगों को देखते हुए ब्रिटिश भारत सरकार के अंतर्गत अपनी सेवाओं में भर्ती के लिए एक लोक सेवा आयोग की स्थापना करने का विचार आया। इसके चलते भारत सरकार अधिनियम 1935 के तहत उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) 1 अप्रैल 1937 को अस्तित्व में आया, जिसका मुख्य उद्देश्य राज्य में विभिन्न सेवाओं के लिए योग्य उम्मीदवारों की भर्ती करना था।

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) उत्तर प्रदेश सरकार के अंतर्गत एक अधिकृत राज्य एजेंसी है। वर्तमान समय में उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के द्वारा सरकारी विभागों में विभिन्न ग्रुप ए और ग्रुप बी में प्रदेश स्तर की नियुक्तियों के लिए जो कई चरणों की परीक्षा होती है उसे कहा जाता है “स्टेट सिविल सर्विसेस भर्ती परीक्षा” इन परीक्षाओं को पास करने के बाद उम्मींदवार का चयन एसडीएम, समीक्षा अधिकारी, तहसीलदार, पटवारी जैसे पदों के लिए होता है।

आयोग का नाम उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग
आयोग का गठन 1 अप्रैल 1937
मुख्यालय 10, Kasturba Gandhi Marg,
प्रयागराज(Allahabad) – 211018
चेयरमैन श्री संजय श्रीनेत
Ownerउत्तर प्रदेश राज्य सरकार
ऑफिसियल वेबसाइट यहाँ क्लिक करें
Official Email IDonline.uppsc@nic.in
परीक्षा का माध्यम ऑफलाइन

यूपीपीएससी के संवैधानिक अधिकार और शक्तियां

विभिन्न अनुच्छेदों के माध्यम से लोक सेवा आयोग में संवैधानिक शक्तियां निहित की गई हैं।

  • अनुच्छेद 315. संघ और राज्य के लिए लोक सेवा आयोग
  • अनुच्छेद 316. सदस्यों की नियुक्ति और पदावधि
  • अनुच्छेद 317. लोक सेवा आयोग के किसी सदस्य को हटाना और निलम्बित करना
  • अनुच्छेद 318. आयोग के सदस्यों और कर्मचारियों की सेवा की शर्तों के बारे में विनियम (Regulation)
  • अनुच्छेद 319. आयोग के सदस्यों द्वारा सदस्य न रहने पर उसके पद धारण करने पर प्रतिषेध (रोक लगाना)।
  • अनुच्छेद 320. लोक सेवा आयोग के कार्य
  • अनुच्छेद 321. लोक सेवा आयोगों के कार्यों का विस्तार करने की शक्ति
  • अनुच्छेद 322. लोक सेवा आयोगों के व्यय
  • अनुच्छेद 323. लोक सेवा आयोगों के प्रतिवेदन

यूपीपीएससी के कार्य (आर्टिकल – 320)

यूपी के लोक सेवा आयोग के कार्यों को संक्षेप में निम्नानुसार हमने आपको नीचे बताया है आप पढ़ सकते हैं

  • संबंधित सेवा नियम के अनुसार पदोन्नति द्वारा भर्ती।
  • अनुशासनात्मक कार्यवाही (सरकार के अधीन सेवारत व्यक्ति को प्रभावित करने वाले सभी अनुशासनात्मक मामलों पर राय प्रदान करना।)
  • सेवा नियम को बनाये रखना (सिविल सेवाओं और सिविल पदों के लिए भर्ती के तरीकों से संबंधित सभी मामलों पर राय प्रदान करना।)
  • यूपी सरकार के लिए आवश्यक कोई सलाह है तो आयोग सोच विचार कर सरकार को अपनीं सलाह दे सकता है।

UPPSC के अंतर्गत होने वाले एग्जामस

यूपीपीएससी के द्वारा आयोजित उन परीक्षाओं की सूची जो समय-समय पर करवाई जाती है। यहाँ हम आपको इन परीक्षाओं की सूची दे रहे हैं –

  1. कंबाइंड कॉम्पिटिटिव एग्जामिनेशन (CCE ) (सिविल सर्विसेज )
  2. असिस्टेंट फारेस्ट कंज़र्वेटर (ACF )/फारेस्ट रेंज ऑफिसर (FRO) एग्जामिनेशन (नेचुरल रिसोर्स)
  3. समीक्षा अधिकारी /सहायक समीक्षा अधिकारी प्रारंभिक परीक्षा (सिविल सर्विसेज)
  4. समीक्षा अधिकारी /सहायक समीक्षा अधिकारी Main(मुख्य) परीक्षा (सिविल सर्विसेज)
  5. ऐ.पी.एस Examination (केवल आयोग और यू.पी. सचिवालय के लिए) (सिविल सर्विसेज)
  6. असिस्टेंट रजिस्ट्रार Examination (सिविल सर्विसेज )
  7. संयुक्त स्टेट इंजीनियरिंग Examination. (इंजीनियरिंग)
  8. यूपी। न्यायिक सेवाएं (जूनियर डिवीजन) परीक्षा (Law)
  9. सहायक अभियोजन अधिकारी परीक्षा (Law)
  10. यूपी। पालिका (केंद्रीकृत) Health Services : खाद्य एवं स्वच्छता निरीक्षक परीक्षा। (मेडिकल)
  11. संयुक्त राज्य/लोअर सबऑर्डिनेट Examination. (सिविल सर्विसेज )
  12. संयुक्त जूनियर इंजीनियर परीक्षा (इंजीनियरिंग)

UPPCS परीक्षा की तैयारी कैसे करें ये हैं कुछ टिप्स

1.परीक्षा की अच्छी तैयारी के लिए एक सही टाइम टेबल बनाएं

एक PCS अधिकारी बनने के लिए, आपका एक टाइम मैनेजिंग डेली रूटीन का होना अति आवश्यक है। परीक्षा की तैयारी से पहले एक टाइम टेबल निर्धारित कर लें टाइम टेबल बनाने से आपकी तैयारी बहुत हद तक आसान हो जाएगी। इससे किसी कार्य को समय सीमा के अंदर समाप्त करने की एक अच्छी आदत बनेगी जो आपके लिए इस परीक्षा में सफल होने में बहुत उपयोगी सिद्ध हो सकता है ।

2. यूपीपीएससी की तैयारी के लिए आवश्यक पुस्तकें –

कक्षा 6 से 12 तक की NCERT पाठ्यपुस्तकें UPPSC परीक्षा की तैयारी में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। यह पुस्तकें विश्वसनीय भी हैं क्योंकि इन पुस्तकों का स्रोत स्वयं सरकार है। पिछले कुछ सालों से UPPSC ने NCERT की पाठ्यपुस्तकों से सीधे प्रश्न पूछे हैं । तो, एनसीईआरटी निस्संदेह आपके PCS की तैयारी शुरू करने के लिए सबसे अच्छी किताबें हैं।

3. नोट्स बनाना शुरू करें

UPPCS की तैयारी के दौरान नोट्स बनाना मददगार होता है। अगर आप नोट्स बनाते हैं तो यह उस समय काम आते हैं जब आपकी परीक्षा कि तैयारी के लिए समय बहुत कम बचा हुआ है कहने का अर्थ है की जब आपकी परीक्षा में एक हफ्ते से भी कम समय बचा हो तो आप इन नोट्स के माध्यम से अपनी सारी तैयारी को एक बार रिवाइज कर सकते हैं इसमें आपको बहुत सहायता मिलेगी।

इसके अलावा सकारत्मक बने रहें , खुद को मोटीवेट करते रहें और हाँ हम आपको यह भी सलाह देंगे की यूट्यूब पर इन परीक्षाओं से सम्बंधित चैनल हैं उनकी वीडियो भी देखते रहें। और डाउट्स भी साथ-साथ क्लियर करते रहें। प्रश्नों के उत्तर को कैसे अच्छा और आकर्षक लिखा जाता है इसका भी अभ्यास करते रहें क्यूंकि यह परीक्षा ऑफलाइन माध्यम से होती है तो लेखन अभ्यास बहुत जरूरी है , और साथ साथ करंट में चलने वाली घटनाओं के लिए समाचार पेपर, न्यूज़ मैगजिन को भी पढ़ते रहें।

यूपीपीएससी परीक्षा के लिए आवेदन शुल्क ,पात्रता क्या है

पात्रता –

राष्ट्रीयताभारतीय
आयु 21 से 40 वर्ष तक
शैक्षणिक योग्यता भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त कालेज से स्नातक

आवेदन शुल्क

श्रेणी शुल्क (फीस)
सामान्य / ईडब्लूएस / ओबीसी ₹125 /-
एससी / एसटी / पूर्व सैनिक ₹65 /-
विकलांग₹25 /-

UPPCS परीक्षा का सिलेबस :

प्रीलिम्स (प्रारंभिक परीक्षा) :

यूपीपीएससी परीक्षा दो चरणों में होती है प्रीलिम्स और मैन्स। प्रीलिम्स परीक्षा के दो पेपर होते है और यह कुल 400 अंक की होती है । नीचे हमने दोनों पेपर के बारे में विस्तार से बताया है।

  • यह परीक्षा वस्तुनिष्ठ (Multiple Choice) प्रश्न की होती है।
  • इसमें नेगेटिव मर्किंग भी होती प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.33 काटे जाते हैं।
सामान्य अध्ययन (General Studies) पेपर – 1सामान्य अध्ययन (General Studies) पेपर – 2
राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय सामयिक मामलेकॉम्प्रिहेंसन
भारत का इतिहास
भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन
स्वतंत्रता आंदोलन
भारतीय इतिहास के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक पहलू
राष्ट्रवाद का विकास
स्वतंत्रता प्राप्ति
तार्किक तर्क
विश्लेषणात्मक क्षमता
भारतीय और विश्व भूगोलनिर्णय कौशल और समस्या-समाधान
भारत का भौतिक, सामाजिक और आर्थिक भूगोलसामान्य मानसिक क्षमता
भारतीय राजव्यवस्था और शासन
पंचायती राज
संविधान
राजनीतिक प्रणाली
सार्वजनिक नीति
अधिकार के मुद्दे, आदि
कक्षा 10 तक की गणित
अंकगणित
बीजगणित
ज्यामिति
सांख्यिकी
आर्थिक और सामाजिक विकास
सतत विकास
सामाजिक क्षेत्र की पहल
गरीबी समावेशन
जैव विविधता
जलवायु परिवर्तन, आदि।
कक्षा 10 तक की सामान्य अंग्रेजी
Comprehension
Direct & indirect speech
Punctuation & spellings
Active voice & passive voice
Parts of speech
Transformation of sentences
Words meanings
Vocabulary & usage
Idioms & phrases
Fill in the blanks
सामान्य विज्ञान
भौतिक विज्ञान
रसायन विज्ञान
जीवविज्ञान
कक्षा 10 तक की सामान्य हिंदी
हिंदी वर्णमाला
संधि, समास
क्रिया
अनेकार्थी शब्द
विलोम शब्द
तत्सम, तद्भव, देशज, विदेशी
शब्द रचना, वाक्य रचना, अर्थ
शब्द रूप
पर्यायवाची शब्द
मुहावरे
लोकोक्तियां आदि
तार्किक तर्क
विश्लेषणात्मक क्षमता
मैन्स (मुख्य परीक्षा) :

यूपी पीसीएस की मुख्य परीक्षा कुल 1500 अंकों की होगी इसमें परीक्षा में आठ पेपर होते हैं। । नीचे हमने सारे पेपरों के बारे में विस्तार से बताया है।

  • यूपी पीसीएस मुख्य परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग नहीं की जाती है
पेपर – Iसामान्य हिंदी
पेपर – II निबंध
पेपर – III सामान्य अध्ययन 1
पेपर – IV सामान्य अध्ययन 2
पेपर – Vसामान्य अध्ययन 3
पेपर – VI सामान्य अध्ययन 4
पेपर – VII वैकल्पिक विषय पेपर – I
पेपर – VIII वैकल्पिक विषय पेपर – II

UPPSC पीसीएस परीक्षा पैटर्न :

प्रिलिम्स परीक्षा पैटर्न –

पेपर विषय अधिकतम अंक अवधि
पेपर – 1सामान्य अध्ययन – 12002 घंटे
पेपर – 2सामान्य अध्ययन – 2200 2 घंटे
कुल अंक 400

मेन परीक्षा पैटर्न

पेपरविषयअधिकतम अंकअवधि
पेपर – 1सामान्य हिंदी150 3 घंटे
पेपर – 2 निबंध150 3 घंटे
पेपर – 3 सामान्य अध्ययन – 1200 3 घंटे
पेपर – 4 सामान्य अध्ययन – 2 200 3 घंटे
पेपर – 5 सामान्य अध्ययन – 3 2003 घंटे
पेपर – 6 सामान्य अध्ययन – 4 2003 घंटे
पेपर – 7 वैकल्पिक विषय पेपर – 12003 घंटे
पेपर – 8 वैकल्पिक विषय पेपर – 2 2003 घंटे
कुल अंक 1500

इसके बाद आता है इंटरव्यू जिसको पास करके आपका का सिलेक्शन पक्का हो जाता है। आशा करते हैं की आपको इस आर्टिकल को पढ़कर यूपीपीसीएस परीक्षा की सम्पूर्ण जानकारी मिल गयी होगी। अगर फिर भी कोई डाउट रह गया हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं। धन्यवाद।

UPPSC पीसीएस परीक्षा से सम्बंधित FAQS

UPPCS क्या है

यूपीपीएससी का मतलब होता है “उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग। (Uttar Pradesh Public Service Commission)” उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) उत्तर प्रदेश सरकार के अंतर्गत एक अधिकृत राज्य एजेंसी है।

यूपीपीएससी पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा में क्या नकारात्मक अंकन होता है?

इसमें नेगेटिव मर्किंग होती है प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 0.33 काटे जाते हैं।

यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा के कितने चरण है और क्या हैं?

यूपी पीसीएस परीक्षा में तीन चरण हैं। वे इस प्रकार हैं:
प्रारंभिक
मुख्य
साक्षात्कार

यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा का आवेदन शुल्क क्या है?

इसके बारे में ऊपर आर्टिकल में दिया गया है। आप पढ़ सकते हैं।

यूपीपीएससी पीसीएस परीक्षा के लिए कैसे आवेदन कर सकते हैं ?

उम्मीदवार यूपीपीएससी परीक्षा के लिए यूपीपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट – uppsc.up.nic.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

Leave a Comment