UP Scholarship: स्कॉलरशिप को लेकर आई बड़ी खबर, सभी छात्र जरूर पढ़ें

उत्तर-प्रदेश सरकार द्वारा हर वर्ष समाज के आर्थिक रूप से कमजोर, एससी, एसटी और अन्य पिछड़ा वर्ग से आने वाले लाखो छात्रों को यूपी स्कालरशिप योजना (UP Scholarship) के तहत छात्रवृति प्रदान की जाती है. इस स्कीम से ना सिर्फ छात्रों को अपनी पढाई के लिए खर्चो को पूरा करने में मदद मिलती है बल्कि वे उच्च शिक्षा के लिए भी प्रेरित होते है. हाल ही में समाज कल्याण विभाग द्वारा यूपी स्कालरशिप योजना (UP Scholarship) के सम्बन्ध में एक महत्वपूर्ण सूचना जारी की है जिससे की छात्रवृति के पात्र लाखो छात्रों पर असर पड़ना तय है. चलिए जानते है क्या है ये पूरी खबर

छात्रवृति मिलने में हो सकती है देरी

जानकारी के लिए बता दे की समाज कल्याण विभाग द्वारा यूपी स्कालरशिप योजना के तहत सभी छात्रों को 14 फरवरी 2022 तक अपने डाटा में संसोधन करने के निर्देश दिए गए है. अगर इस तारीख तक छात्रों के परीक्षा परिणाम जमा नहीं करवाये जाते है तो छात्रों की छात्रवृति को रोका जा सकता है. विभाग द्वारा इस सम्बन्ध में निर्देश भी जारी किये गए है.

बता दे की उत्तर प्रदेश में भी ओमिक्रोन के मामलो में बढ़ोतरी देखी जा रही है ऐसे में छात्रवृति मिलने में देरी होने की संभावना है. विभाग द्वारा UP Scholarship योजना की धनराशि पात्र छात्रों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाती है.

यह है वजह

समाज कल्याण विभाग द्वारा सभी छात्रों का परीक्षा परिणाम 14 फरवरी 2022 तक जमा करने के निर्देश दिए गए है. वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के कारण सभी शैक्षणिक संस्थान और स्कूल बंद है ऐसे में निर्धारित तिथि तक छात्रों का परीक्षा परिणाम जारी करना मुश्किल प्रतीत हो रहा है. अगर निर्धारित तिथि तक छात्रों का रिजल्ट जारी करके विभाग को नहीं भेजा जाता तो विभाग द्वारा छात्रों की स्कालरशिप को रोका जा सकते है.

सरकार दे नियमो के अनुसार छात्रवृति प्राप्त करने वाले छात्र का वित्तीय वर्ष का परीक्षा परिणाम जमा करना जरुरी है तभी उन्हें छात्रवृति का लाभ दिया जा सकता है. जल्द ही प्रदेश में विधानसभा चुनाव भी होने वाले है ऐसे में भी स्कालरशिप के लिए डाटा भेजने में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.

40 लाख छात्रों को मिलता है लाभ

जानकरी के लिए बता दे की विभाग द्वारा जारी किये गए आंकड़ों के मुताबित उत्तर-प्रदेश सरकार द्वारा हर वर्ष प्रदेश के 40 लाख छात्रों को छात्रवृति का लाभ दिया जाता है. यूपी स्कालरशिप योजना (UP Scholarship) के तहत सरकार द्वारा समाज के पिछड़े और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों को शिक्षा के लिए स्कालरशिप प्रदान की जाती है ताकि उन्हें पढ़ाई के लिए किसी तरह की आर्थिक दिक्कत ना हो.

Leave a Comment