UP Scholarship Big Update: इन छात्रों पर होगी क़ानूनी कार्यवाही, देखें क्या है पूरा मामला

UP Scholarship Big Update: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा छात्र/छात्राओं को दी जा रही स्कॉलशिप योजना में होने वाली फर्जीवाड़े को रोकने के लिए बेहद ही एहम फैसला लिया गया हैं, जिसके तहत राज्य में संचालित छात्रवृत्ति योजनाओं का गलत तरीके से लाभ लेने वाले छात्रों की जाँच के लिए सरकार द्वारा समाज कल्याण विभाग को निर्देश जारी कर दिए गए हैं। जिससे राज्य में फर्जीवाड़ा करके प्रतिमाह स्कॉलरशिप का लाभ लेने वाले छात्रों पर क़ानूनी कार्यवाही की जाएगी और उनसे स्कॉलरशिप के तहत ली जा रही राशि का पूरा पैसा वापस लिया जाएगा, जिसमे ऐसे छात्र जिनके द्वारा विद्यालय की फीस का समय से भुगतान नहीं किया गया है उनसे भी स्कॉलरशिप की राशि वापस ली जाएगी। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में छात्रवृत्ति में हो रहे घोटालों की रोकथाम के लिए यह कदम उठाया गया है।

राज्य सरकार इन छात्रों पर करेगी क़ानूनी कार्यवाही

देश में कई राज्य सरकारें अपने राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर परिवार के छात्रों को उनकी शिक्षा जारी रखने में सहयोग देने के लिए छात्रवृत्ति का लाभ प्रदान करवाती है, लेकिन बहुत बार इन स्कॉलरशिप योजनाओं में घोटालों की खबरे सामने आती है ऐसे में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य में स्कॉलरशिप योजनाओं में हो रहे फर्जीवाड़े की रोकथाम के लिए विभाग को इसकी जाँच के निर्देश जारी किए गए हैं। इस वर्ष स्कॉलरशिप योजना में यह पाया गया की बहुत से छात्रों द्वारा गलत दस्तावेजों के माध्यम से छात्रवृत्ति का लाभ लिया जा रहा हैं जो पूरी तरह से क़ानूनी तौर पर गलत है, जिसके लिए सरकार द्वारा इन छात्रों के दस्तावेजों के सत्यापन करके इनपर कानूनी कार्यवाही करने के निर्देश जारी किए गए हैं।

वापस ली जाएगी छात्रवृत्ति राशि

छात्रवृत्ति योजना में प्रतिमाह छात्रवृत्ति का लाभ ले रहे एससी, एसटी एवं अन्य पिछड़े वर्ग के ऐसे छात्रों के मामले सामने आए हैं, जिनके द्वारा स्कूल या कॉलेज की फीस का भुगतान नहीं किया गया है, परन्तु वह योजना में प्रतिमाह मिलने वाली छात्रवृत्ति का लाभ ले रहें हैं, ऐसे सभी विद्यार्थियों द्वारा स्कॉलरशिप के लिए अलग बैंक अकाउंट की जानकारी देकर उसमें से छात्रवृत्ति की राशि निकालकर विद्यालयों को अलग बैंक अकाउंट का विवरण दिया गया है। ऐसे सभी फर्जी तरीके से लाभ प्राप्त कर रहे लाभार्थी छात्रों से पूरी राशि सरकार द्वारा वापस वसूल की जाएगी।

यूपी स्कॉलरशिप योजना में फर्जीवाड़े की होगी जाँच

यूपी सरकार राज्य में छात्रवृत्ति योजनाओं में हो रही गड़बड़ी की जाँच के लिए निर्देश जारी कर चुकी है, जिसमे छात्रवृत्ति हेतु आवेदक छात्रों के प्रमाण पत्रों व दस्तावेजों के सत्यापन के कार्य को बड़े ही जोरों से शुरू कर दिया गया है। जिसके माध्यम से फर्जी प्रमाण पत्रों व अलग बैंक विवरण दे रहे छात्रों पर कार्यवाही की जा सकेगी, इससे राज्य के उन पात्र लाभार्थी छात्रों को योजना का लाभ पारदर्शी तरीके से मिल सकेगा, जिन्हे अक्सर छात्रवृत्ति घोटाले के चलते स्कॉलरशिप का लाभ प्राप्त नहीं हो पाता।

राज्य में छात्रवृत्ति योजनाओं में पारदर्शिता लाने व धोखेबाजी से फ्रॉड करके योजना का लाभ प्राप्त कर रहे छात्रों पर सख्त कार्यवाही करने के उद्देश्य से सरकार निरंतर प्रयास कर रही है, जिससे राज्य में हो रहे ऐसे फर्जीवाड़ों पर रोक लगाकर पात्र छात्रों को योजना का लाभ दिया जा सकेगा।

Leave a Comment