UP Mukhyamantri Jan Arogya Yojana: 5 लाख रुपये देगी यूपी सरकार इलाज के लिए, ऐसे करें आवेदन

UP Mukhyamantri Jan Arogya Yojana: देश में कई ऐसे लोग है जिनके पास अपना इलाज करवाने के लिए पैसे नहीं होते ऐसे में कई राज्य सरकारें अपने राज्य के गरीब नागरिकों को मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान करती है। ऐसी एक योजना उत्तर प्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री जी योगी आदित्य नाथ जी द्वारा मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना को 1 मार्च 2019 को शुरू किया गया है। आपको बता दें मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ उत्तर प्रदेश राज्य असंगठित क्षेत्र के रजिस्टर्ड श्रमिकों को दिया जायेगा। योजना के माध्यम से सरकार श्रमिक नागरिकों व उनके परिवार वालों को इलाज कराने के लिए बीमा कवर प्रदान करेगी। सरकार इलाज करवाने वाले श्रमिक मरीजों का कैशलेस भुगतान करेगी। अगर आप भी योजना का लाभ प्रदान करना चाहते है तो इसके लिए आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

योगी सरकार देगी 5 लाख रूपये इलाज के लिए

UP Mukhyamantri Jan Arogya Yojana श्रमिकों को स्वास्थ्य संबंधी सुरक्षा प्रदान करने के लिए बनायी गयी है। योजना के तहत सरकार की तरफ से नागरिकों को 5 लाख तक का बीमा कवर प्रदान किया जायेगा। यानी किसी भी श्रमिक या उसके परिवार का कोई भी सदस्य हॉस्पिटल में भर्ती होता है तो उसके इलाज का 5 लाख तक का पूरा खर्चा सरकार द्वारा दिया जायेगा। जिसमे उसे एक तरफ से निशुल्क सुविधा ही प्राप्त होगी।

चयनित किये गए हॉस्पिटल स्टेट एजेंसी फॉर कॉम्प्रिहेंसिव हेल्थ एंड इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा ऑथोराइजड (अधिकृत) होंगे। जिसमे श्रमिक नागरिकों को सुविधा प्रदान की जाएगी।

जानिए किन्हे मिलेगा योजना का लाभ

जैसा की आप सभी जानते है कि आज के समय में उत्तर प्रदेश राज्य में काम करने वाले श्रमिक नागरिक कुल 4.5 करोड़ से भी अधिक है जो कि आज के समय में राज्य में काम कर रहे है। सामाजिक सुरक्षा बोर्ड में रजिस्टर्ड व नवीनीकृत श्रमिक नागरिक व उनके परिवार के सदस्य योजना के पात्र समझे जायेंगे और इन्ही को सरकार द्वारा 5 लाख तक का बीमा कवर दिया जायेगा।

इस तरह करें यूपी मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का आवेदन

सरकार द्वारा इस योजना की कोई भी आवेदन प्रक्रिया जारी नहीं की है। जितने भी श्रमिक असंगठित क्षेत्र के है और रजिस्टर्ड है उनका सारा डाटा बेस सरकार पर पहले से प्राप्त है। इस डाटा बेस के माध्यम से श्रमिकों का सिलेक्शन हो जायेगा। जिससे उन्हें खुद से आवेदन करने की जरुरत नहीं होगी।

सभी श्रमिक नागरिकों का चयन SECC 11 डेटाबेस के आधार पर किया जायेगा योजना का लाभ राज्य के ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के श्रमिकों को प्राप्त होगा। बता दें कि ग्रामीण क्षेत्र के श्रमिकों का सेलक्शन सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना डेटाबेस के तहत वंचित श्रेणियों के आधार पर किया गया है। इसके साथ ही शहरी क्षेत्र के लिए 11 केटेगरी ऐसी है जिन्हे योजना का पात्र समझा गया है।

ऐसी ही और भी सरकारी योजनाओं की जानकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट www.crpfindia.com को बुकमार्क जरूर करें ।

Leave a Comment