उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल | UP Jansunwai Portal/APP, Complaint Status

आमजन की सुविधा हेतु राज्य सरकार ने उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल (Jansunwai Portal) और एप्प लॉन्च किया है जिसके माध्यम से लोग अपनी समस्याओं और शिकायतों को ऑनलाइन दर्ज़ कर उनका सम्बंधित विभाग से निवारण करवा सकते हैं। साथ ही सरकार ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन नंबर (1076 ) भी जारी किया है। यह एक इ-संवाद प्रणाली है जिसमे नागरिक अपनी किसी भी शिकायत को दर्ज़ करवाने के साथ ही समस्या निवारण प्रक्रिया के दौरान अपनी शिकायत का स्टेटस भी इस वेबसाइट (उत्तरप्रदेश जनसुनवाई पोर्टल) पर देख सकते हैं।

उत्तर-प्रदेश-जनसुनवाई-पोर्टल

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल

उत्तर प्रदेश में सुशासन व्यवस्था को और सुदृढ़ बनाने तथा राज्य की विकासगति बढ़ाने हेतु सरकार ने इस एप्प के माध्यम से नागरिकों को अब ऑनलाइन अपनी विभिन्न समस्याओं को दर्ज़ कराने की सुविधा दी है। मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से नागरिक सम्बंधित विभाग से अपनी शिकायतों तथा उसके निवारण सम्बन्धी हेतु सीधे तौर पर जुड़ सकता है। सम्बंधित विभाग की तरफ से भी त्वरित निवारण की प्रक्रिया की जाएगी। इस अंतराल के दौरान शिकायतकर्ता इस प्रक्रिया अथवा कार्यवाही का विवरण उत्तर प्रदेश जन सुनवाई पोर्टल या एप्प के माध्यम से जान सकते हैं। ये जानकारी कभी भी कहीं भी मोबाइल या ईमेल से आसानी प्राप्त हो सकती है जो अत्यधिक सुविधाजनक है।

UP-CM-Helpline-Number
आर्टिकल यूपी जनसुनवाई पोर्टल
शुरूआत की मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
वर्तमान में योजना चालू है
पोर्टल का लाभ नागरिकों की शिकायतों का निवारण
शिकायत करने का माध्यम ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट jansunwai.up.nic.in

यूपी जनसुनवाई मोबाइल एप्प कैसे डाउनलोड करें

  1. यूपी जनसुनवाई एप्प को मोबाइल पर इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब यहाँ होम पेज खुलने पर डाउनलोड ऑप्शन पर क्लिक करें। उत्तर-प्रदेश-जनसुनवाई-पोर्टल
  3. अब यहां क्लिक करने पर दो ऑप्शन मिलते हैं। पहला नागरिकों के लिए एंड्रॉइड एप्लीकेशन और दूसरा अधिकारियों के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन।
    उत्तर-प्रदेश-जनसुनवाई-पोर्टल-शिकायत-पंजीकरण
  4. नागरिकों के लिए इस एप्लीकेशन को डाउनलोड करने के लिए “नागरिकों के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन” वाले ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  5. अगला गूगल प्लेस्टोर पेज खुलेगा , इसके बाद इंस्टाल के ऑप्शन पर क्लिक करके इस ऐप्प को डाउनलोड कर सकते हैं।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत कैसे दर्ज करें

अगर आप भी उत्तरप्रदेश जनसुनवाई-समाधान पोर्टल पर कोई शिकायत पंजीकृत करवाना चाहते हैं तो, शिकायत दर्ज करने का प्रोसेस क्या है यहां बताया गया है, इसी प्रकार आप भी जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज करेंगे

  1. किसी भी समस्या सम्बंधित शिकायत को पंजीकृत अथवा दर्ज़ करने लिए सबसे पहले जन-सुनवाई समाधान के पोर्टल या वेबसाइट jansunwai.up.nic.in पर जाएँ।
    उत्तर-प्रदेश-जनसुनवाई-पोर्टल-शिकायत
  2. होम पेज खुलने के बाद शिकायत पंजीकरण पर क्लिक करें । जिसके माध्यम से सीधे सम्बंधित विभागों और अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं। यूपी-जनसुनवाई-पोर्टल
  3. यहाँ क्लिक करने के बाद ऑनलाइन आवेदकों के लिए वेबसाइट नीतियों के बारे में जानकारी दी गयीं हैं। इसमें ऐसे विषयों की सूची दी गयी है जिन्हें जनशिकायत की श्रेणी से बाहर रखा गया है। इसके बाद आप अपनी सहमति दर्ज़ कराने के बाद अगले पोर्टल पर आएँगे।
  4. ऑनलाइन पंजीकरण पोर्टल पर आप ओ टी पी , मोबाइल नंबर या ईमेल के साथ कैप्चा कोड डालकर सबमिट करें।
  5. मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी की वेरिफिकेशन के लिए भेजे गए ओ टी पी को टाइप करने के बाद पंजीकरण हेतु आवेदन फॉर्म जाएगा।
  6. अब आवेदन फॉर्म में मांगी गयी जानकारी भरकर अपनी शिकायत दर्ज़ करने बाद सबमिट कर दें तथा आगे की प्रक्रिया के के लिए पंजीकरण संख्या नोट कर लें। यूपी-जनसुनवाई-पोर्टल-ऑनलाइन-शिकायत-पंजीकरण

शिकायत की स्थिति जानने के लिए / Complaint Status

किसी भी नागरिक के द्वारा शिकायत पंजीकरण के बाद सबसे महत्वपूर्ण होता है कि उसे अपनी समस्या के निवारण के संबंध में हो रही प्रक्रिया के बारे में नियमित जानकारी मिलती रहे. ये जानकारी आसानी से मोबाइल या ईमेल के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए भी यूपी जनसुनवाई समाधान की ऑफिसियल वेबसाइट या एप्प पर जाना होगा। इस पोर्टल पर पिछले तीन माह तक के निस्तारित मामले ही देखे जा सकते हैं।

मुख्यमंत्री-शिकायत-उत्तर-प्रदेश
  • सबसे पहले होम पेज पर जाकर शिकायत की स्थिति पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद शिकायत संख्या, रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल आई डी सम्बंधित जानकारी देनी आवश्यक है।
  • उसके साथ दिए गए सुरक्षा कोड को अंकित करने के बाद सबमिट पर क्लिक करना है।
  • इस तरह से शिकायत और उस में हुई प्रगति सम्बंधी जानकारी आप प्राप्त कर सकते हैं।

अनुस्मारक/ रिमाइंडर भेजना

अगर किसी शिकायतकर्ता की शिकायत पंजीकरण के बाद भी नियत समय पर कोई कार्यवाही नहीं होती है तो ऐसी स्तिथि में व्यक्ति अपनी समस्या निवारण हेतु कार्यवाही करने के लिए सम्बंधित विभाग या फिर सीधे मुख्यमंत्री को भी अनुस्मारक भेज सकता है।

इसके लिए शिकायतकर्ता को होम पेज पर जाकर “अनुस्मारक भेजे” पर क्लिक करना होगा। आगे जाकर शिकायत संख्या अंकित करने के बाद “खोजे” और “रिसेट” का ऑप्शन मिलता है। शिकायत संख्या भरने के बाद “खोजें ” पर क्लिक करने के बाद आप शिकायत सम्बन्धी अनुस्मारक / रिमाइंडर भेज सकते हैं।

प्रतिक्रिया / फीडबैक देना

इस विकल्प पर जाकर शिकायतकर्ता शिकायत के निस्तारण के सम्बन्ध में अपनी प्रतिक्रिया/ फीडबैक या सुझाव दे सकता है।

up-mukhymantri-jansunwai-portal
  • फीडबैक देने के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर व्यक्ति को आपकी प्रतिक्रिया पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद अगले पेज पर शिकायत पंजीकरण संख्या तथा पंजीकृत मोबाइल नंबर या पंजीकृत ईमेल आई डी , कैप्चा कोड आदि जानकारी भरनी होगी। साथ ही गुणवत्ता स्तर पर स्टार देकर मूल्याँकन करना होगा।

यूपी जनसुवाई पोर्टल पर की जा सकने वाली अन्य शिकायतें

उत्तरप्रदेश जनसुनवाई समाधान पोर्टल पर आम नागरिक अपनी समस्याओं के अलावा भू माफिया तथा विभिन्न विभागों में होने वाले भ्रष्टाचार सम्बन्धी शिकायतें भी इस पोर्टल के माध्यम से कर सकते हैं। जिसमें की एंटी भू-माफिया और एंटी करप्शन का अलग से इस पोर्टल पर ऑप्शन दिया गया है।

एंटी भू-माफिया शिकायत पोर्टल

उत्तर प्रदेश में सरकारी तथा व्यक्तिगत भूमि अतिक्रमण की आये दिन घटनाएं सरकार के लिए चुनौती बन चुकी हैं। इसके लिए भू माफियाओं से निपटना अत्यंत आवश्यक है। और ऐसी घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए सरकार ने “एंटी भू माफिया पोर्टल” बनाया है। इन से सम्बंधित किसी भी शिकायत या समस्या को आमजन जनसुनवाई समाधान पोर्टल के माध्यम से सम्बंधित विभाग में कर सकते हैं। इस पोर्टल की मदद से न केवल प्रदेश का विकास होगा बल्कि जनमानस में भी सुरक्षा की भावना का संचार होगा। भू-माफिया सम्बन्धी किसी समस्या की शिकायत के लिए नीचे बताये गए स्टेप्स को फॉलो करें :-

mukhymantri-smadhan-portal-up
  1. सबसे पहले यूपी जनसुनवाई पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट जाएँ।
  2. होमपेज पर दिए गए एंटी भू माफिया टैब पर क्लिक करें।
  3. एंटी भू माफिया पोर्टल का पेज खुलने पर , शिकायत पंजीकरण , शिकायत की स्थिति , अनुस्मारक भेजें और आपकी प्रतिक्रिया जैसे टैब मिलेंगे।
  4. आपको अपनी शिकायत दर्ज़ करवाने के लिए शिकायत पंजीकरण पर जाकर क्लिक करना है।
  5. अगले पेज पर ओ टी पी द्वारा शिकायत पंजीकरण के लिए मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी साथ कैप्चा कोड डालकर “ओ टी पी भेजें ” पर क्लिक करें।
  6. मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी की वेरिफिकेशन के बाद आवेदन फॉर्म खुलेगा जिसमे सारी जानकारियां भरकर अपनी शिकायत दर्ज़ करवा सकते हैं।

एंटी करप्शन शिकायत पोर्टल

यूपी जनसुनवाई पोर्टल के अंतर्गत एंटी करप्शन पोर्टल का उद्देश्य उत्तर प्रदेश को भ्रष्टाचार-मुक्त प्रदेश बनाने का है। इसके माध्यम से प्रदेश का कोई भी नागरिक भ्रष्टाचार संबंधी शिकायत कर सकता है। ऐसी किसी भी शिकायत पर सरकार द्वारा सम्बंधित विभाग तथा अधिकारी के दोषी पाए जाने पर प्रशासनिक कार्यवाही करने का आश्वासन दिया गया है ।अगर आपको भी यूपी के नागरिक होने के नाते आपके प्रदेश में हो रहे किसी भ्रष्टाचार के बारे में शिकायत करनी हो तो आगे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें :-

  1. सबसे पहले आप यूपी जनसुनवाई पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट jansunwai.up.nic.in पर जाएँ।
  2. वेबसाइट पर दिखाए गए “एंटी करप्शन पोर्टल ” टैब पर क्लिक करें।
  3. अगले पेज पर शिकायत पंजीकरण , शिकायत की स्थिति तथा आपकी प्रतिक्रिया जैसे टैब उपलब्ध कराये गए हैं।
  4. आपको शिकायत दर्ज़ करने के लिए शिकायत पंजीकरण पर क्लिक करना होगा।
  5. अगले पेज पर आपको ओ टी पी के माध्यम से पंजीकरण करने के अपना मोबाइल नंबर दर्ज़ करना होगा। साथ ही कैप्चा कोड डालकर वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूरी करनी होगी।
  6. उसके बाद आवेदन फॉर्म भर कर अपनी शिकायत दर्ज़ करा सकते हैं।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल सम्बंधित प्रश्न उत्तर

यूपी जनसुनवाई पोर्टल क्या है ?

यूपी जनसुनवाई पोर्टल एक इ- संवाद प्रणाली है जिसके माध्यम से उत्तर प्रदेश की जनता अपनी शिकायत तथा समस्या को ऑनलाइन दर्ज़ करवा सम्बंधित विभाग से उसका निवारण करवा सकती है।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत कैसे करें ?

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत करने के लिए :-
सबसे पहले जनसुनवाई समाधान पोर्टल या आधिकारिक वेबसाइट jansunwai.up.nic.in जाएं।
फिर शिकायत पंजीकरण पर क्लिक करके खुलने वाले डायलाग बॉक्स में अपनी सहमति दर्ज़ कराएं
उसके बाद अगले पेज पर “ऑनलाइन पंजीकरण पोर्टल ” पर पूछी गयी जानकारियां भरकर “ओ टी पी भेजें ” पर क्लिक कर दें।
वेरिफिकेशन के लिए रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर या ईमेल आई डी पर आये ओ टी पी को भरने के बाद आवेदन फॉर्म खुल जाएगा।
आवेदन फॉर्म में सारी जानकारियाँ भरकर अपनी शिकायत दर्ज़ करवा सकते हैं।

शिकायत के संदर्भ में हुई कार्यवाही को जानने के लिए क्या करें?

शिकायत के सन्दर्भ में हुई कार्यवाही को जानने के लिए :-
सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट खोलकर होम पेज पर “शिकायत की स्थिति ” पर क्लिक करें।
अगले पेज पर शिकायत संख्या , मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी के साथ दिए गए कैप्चा कोड को भरकर सबमिट कर दें।
ऐसे शिकायत सम्बन्धी कार्यवाही के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकतें हैं

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर की जा सकने वाली अन्य शिकायतें ?

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर भ्रष्टाचार और भू माफिया सम्बन्धी समस्याएं जैसी अन्य शिकायतें भी दर्ज़ करा सकतें हैं।

Leave a Comment