उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन आवेदन, Udyog Aadhaar MSME Registration

केंद्र सरकार द्वारा देश के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन पोर्टल (Udyog Aadhaar MSME Registration) शुरू किया गया है। इस पोर्टल के माध्यम से देश के एमएसएमई क्षेत्र से सम्बंधित व्यवसायी अपने व्यवसाय का रजिस्ट्रेशन करवा सकते है जिसके माध्यम से उन्हें व्यापार में सरकार द्वारा विभिन प्रकार की छूट प्रदान जाएगी। देश के जो व्यवसायी अपने उद्योग को एमएसएमई मंत्रालय के तहत पंजीकृत करवाना चाहते है वे अधिकृत पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकते है। इस पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण करने पर व्यापारियों को सरकार द्वारा पंजीकरण सर्टिफिकेट जारी किया जायेगा जिसके माध्यम से वे विभिन प्रकार की रियायतें प्राप्त कर सकते है। आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की Udyog Aadhaar MSME Registration क्या है ? इसका उद्देश्य, विशेषतायें, लाभ और पात्रता क्या-क्या है ? साथ ही लेख के माध्यम से आपको उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन (Udyog Aadhaar Registration) की प्रक्रिया से भी अवगत कराया जायेगा।

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन-Udyog Aadhaar MSME Registration
उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन-Udyog Aadhaar MSME Registration

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन आवेदन – MSME Registration

केंद्र सरकार द्वारा देश को उत्पादन के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहे है। ऐसे में एमएसएमई क्षेत्र से आने वाले व्यवसायो को विभिन राहत प्रदान करने और व्यापार को आसान बनाने के लिए सरकार द्वारा Udyog Aadhaar Registration के लिए आधिकारिक पोर्टल लांच किया गया है। इसके माध्यम से MSME क्षेत्र के व्यवसायी अपने व्यापार को ऑनलाइन माध्यम से पंजीकृत कर सकेंगे जिससे की उन्हें विभिन प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे साथ ही सरकार द्वारा आर्थिक सहायता भी प्रदान की जायेगी। केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत देश के सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्यमों को अधिक सक्षम बनाने के लिए वित् मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा 3 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा भी की गयी है। इसके तहत सरकार द्वारा अपना व्यापार शुरू करने के इच्छुक नागरिको को को 2000 करोड़ रुपए लोन के रूप में प्रदान किये जायेंगे जिससे की वे अपना व्यवसाय शुरू कर सकें। इसमें सरकार द्वारा एमएसएमई क्षेत्र से आने वाले व्यवासियो को शामिल किया जायेगा ताकि देश में कुटीर उद्योग को बढ़ावा दिया जा सके। सरकार द्वारा सभी व्यापारियों को ऑनलाइन माध्यम से रजिस्ट्रेशन की सुविधा प्रदान करने के लिए उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन पोर्टल की शुरूआत की है ताकि अधिक से अधिक उद्यमी इस सुविधा का लाभ ले सके। साथ ही उद्योग रजिस्ट्रेशन के लिए अब नागरिको को सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

Udyog Aadhaar MSME Registration, Highlights

इस टेबल के माध्यम से आपको उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण बिन्दुओ की जानकारी प्रदान की गयी है।

पोर्टल का नाम उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन पोर्टल
लांच प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी द्वारा
उद्देश्य उद्योगों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन हेतु सुविधा प्रदान करना
वर्ष 2022
लाभार्थी पूरे देश के नागरिक
आवेदन के पात्र उद्योग सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्योग
क्रियान्वयन विभाग सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार
आधिकरिक वेबसाइट https://udyamregistration.gov.in/
आवेदन का माध्यम ऑनलाइन

Udyog Aadhaar MSME Registration, उद्देश्य

देश की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले एमएसएमई क्षेत्र के व्यापारियों को राहत प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा Udyog Aadhaar MSME Registration पोर्टल की शुरुआत की गयी है। सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्योगों (Micro, Small and Medium Enterprises (MSME) से आने वाले व्यवासियो को अक्सर अपना व्यापार चलाने के लिए आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अपने व्यवसाय को सुचारु रूप से चलाने और विस्तार के लिए उन्हें अकसर पूंजी की आवश्यकता होती है साथ ही विभिन प्रकार की अन्य व्यावसायिक जरूरतो को पूरा करने के लिए भी उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में केंद्र सरकार द्वारा व्यवसायियो को विभिन राहत प्रदान करने के लिए उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन पोर्टल की शुरुआत की गयी है। इस पोर्टल की शुरुआत प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 15 सितंबर 2015 को की गयी थी। इस पोर्टल के माध्यम से एमएसएमई क्षेत्र से आने वाले व्यवसायी अपने उद्योगों का पंजीकरण करवा सकते है जिससे की उन्हें सरकार द्वारा वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। साथ ही सरकार द्वारा कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए आत्मनिर्भर भारत योजना की शुरुआत भी की गयी है जिसके माध्यम से एमएसएमई उद्योगों की उत्पादन क्षमता को बढ़ाकर उन्हें निर्यात आधारित बनाया जा सके। साथ ही एमएसएमई उद्योग आसान पंजीकरण प्रक्रिया के द्वारा बेहतर प्रदर्शन करने में भी सक्षम होंगे।

आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना 2022 रजिस्ट्रेशन: ऑनलाइन आवेदन,जाने यहां

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन पोर्टल पर पंजीकरण करवाने वाले व्यवसायियों को सरकार द्वारा पंजीकरण प्रमाणपत्र भी जारी किया जायेगा साथ ही सभी व्यापारियों को पंजीकरण नंबर भी जारी किया जायेगा। इसकी मदद से व्यापारी सरकार द्वारा प्रदान की जा रही आर्थिक सहायता, क्रेडिट गारंटी योजना, एक्साइज ड्यूटी और प्रोडक्शन टैक्स में छूट, सरकारी निविदाओं के प्राथमिकता, विदेशी व्यापार हेतु रियायतें, बिजली बिल में छूट और सरकार द्वारा व्यवसाय हेतु न्यूनतम दरों पर ऋण का लाभ ले सकते है।

एमएसएमई उद्योग परिभाषा (MSME Definition)

केंद्र सरकार द्वारा आधिकारिक पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन हेतु सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्यमो को ही पात्रता की श्रेणी में रखा गया है ताकि अधिक से अधिक व्यवसायी इसका लाभ ले सके। वर्ष 2020 में सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा एमएमएमई की नयी परिभाषा जारी की गयी है। इसके अनुसार विभिन श्रेणी में आने वाले उद्योगों का वर्णन इस प्रकार है :-

  • सूक्ष्म उद्योग (Micro-Enterprises):- सरकार द्वारा उन उद्योगों को जिनमे उद्योग प्लांट की लागत, मशीनरी और अन्य उपकरणों में निवेश 1 करोड़ या इस सीमा से कम है सूक्ष्म उद्योग की श्रेणी में रखा गया है। इसके अतिरिक्त उद्योग का सालाना टर्नओवर 5 करोड़ रुपए या इस सीमा से कम होना चाहिए।
  • लघु उद्योग (Small-Enterprises):- जिन उद्योगों में प्लांट की लागत और मशीनरी सहित अन्य उपकरणों में निवेश 10 करोड़ से अधिक नहीं है ऐसे उद्योगो को केंद्र सरकार द्वारा लघु-उद्योग की श्रेणी में रखा गया है। साथ ही लघु उद्योगों का सालाना टर्नओवर 50 करोड़ से या इससे कम होना चाहिए।
  • मध्यम-उद्योग (Medium-Enterprises):- एमएसएमई की नवीन परिभाषा के अनुसार सरकार द्वारा उद्योग प्लांट की लागत, मशीनरी और उद्योग में अन्य उपकरणों में कुल 50 करोड़ या इससे कम निवेश वाले उद्योगों को मध्यम-उद्योग की श्रेणी में रखा गया है। साथ ही मध्यम-उद्योगों का सालाना टर्नओवर 50 करोड़ से अधिक नहीं होना चाहिए।

इस श्रेणी में आने वाले सभी उद्योगों को आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण करना होगा जिसके पश्चात वे सरकार द्वारा प्रदान की जा रही विभिन सुविधाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है।

उद्योग आधार पंजीकरण लाभ

उद्योग आधार पंजीकरण के पश्चात सरकार द्वारा सभी उद्योगों को एक यूनिक रजिस्ट्रेशन नंबर प्रदान किया जायेगा जिसके माध्यम से वे सरकार द्वारा प्रदान की जा रही विभिन सुविधाओं का लाभ ले सकते है। सरकार द्वारा एमएसएमई रजिस्ट्रेशन के पश्चात प्रदान की जाने वाली सुविधायें निम्न प्रकार से है :-

  • आर्थिक सहायता :- उद्योग आधार पंजीकरण पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने वाले उद्योगों को सरकार द्वारा विभिन प्रकार की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी जिसके माध्यम से देश में मैन्युफैक्चरिंग एकाइयों को मजबूत बनाया जा सकेगा। साथ ही इसके माध्यम से उद्योगों को विस्तार हेतु पूंजी प्राप्त होगी जिसके माध्यम से वे अपना उत्पादन बढ़ा सकते है। एमएसएमई उद्योगों को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार द्वारा आत्मनिर्भर भारत योजना शुरू की गयी है जिसके माध्यम से अपना व्यवसाय शुरू करने के इच्छुक नागरिको (MSME क्षेत्र से सम्बंधित) को सरकार द्वारा 2000 करोड़ रुपए का लोन प्रदान किया जायेगा।
  • सार्वजनिक खरीद नीति में प्राथमिकता :- देश को उत्पादन के विभिन क्षेत्रों में आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार द्वारा उद्योग आधार पंजीकरण पोर्टल पर पंजीकृत उद्योगों को बढ़ावा दिया जायेगा। इसके तहत सरकार द्वारा सार्वजनिक खरीद नीति के तहत सार्वजनिक खरीद जैसे रक्षा-उपकरण, मशीन खरीद, कलपुर्जे उपकरणों की खरीद और सार्वजनिक क्षेत्र की जरूरतों के पूरा करने के लिए विभिन आवश्यकताओ की खरीद इन उद्योगों के माध्यम से की जाएगी। सरकार द्वारा वर्ष 2022-23 के बजट के दौरान भी रक्षा क्षेत्र की खरीद के लिए 25 फीसदी हिस्सा देश की घरेलू उद्योगों के लिए आरक्षित किया गया है।
  • क्रेडिट गारंटी स्कीम :- एमएसएमईं उद्योगों की वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए केंद्र द्वारा क्रेडिट गारंटी स्कीम के तहत उद्योगों में निवेश के लिए क्रेडिट का लाभ प्रदान किया जायेगा। इसके लिए सरकार द्वारा न्यूनतम ब्याज दरें तय की गयी है ताकि अधिक से अधिक उद्यमी इस सुविधा का लाभ ले सके। साथ ही उद्योग आधार पंजीकरण पोर्टल पर पंजीकरण करवाने वाले उद्यमियों को सरकार द्वारा अन्य प्रकार की ऋण सुविधायें भी प्रदान की जाएगी।
  • सरकारी निविदाओं में प्राथमिकता :- उद्योग आधार पंजीकरण पोर्टल पर रजिस्टर्ड उद्योगों को सरकारी निविदाओं में प्राथमिकता की जाएगी। सरकार द्वारा सार्वजानिक क्षेत्र से सम्बंधित आपूर्ति हेतु पोर्टल पर पंजीकृत उद्योगों को प्राथमिकता के आधार पर निविदाओं में भागीदारी दी जाएगी। साथ ही एमएसएमई उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए विभिन सार्वजनिक कार्यो में आपूर्ति की खरीद भी पंजीकृत उद्योगो के माध्यम से सुनिश्चित की जाएगी।
  • बैंको द्वारा ऋण सुविधा :- एमएसएमई क्षेत्र से जुड़े उद्योगों को उद्योग आधार पंजीकरण पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाने पर सरकार द्वारा बैंको के माध्यम से पूँजी उपलब्ध करवाई जाएगी। इससे उद्योग नवीन प्रौद्योगिकी और मशीनो में निवेश के लिए पूंजी प्राप्त कर सकेंगे जिससे की उत्पादन बढ़ाने में सहायता मिलेगी साथ ही सरकार द्वारा इनके माध्यम से सार्वजानिक क्षेत्र की खरीद में भी भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी।
  • बिजली दरों में रियायतें :- केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा MSME श्रेणी में आने वाले उद्योगों को उत्पादन को सरल बनाने के लिए बिजली दरों में रियायत प्रदान की जाएगी। उद्योग आधार पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने वाले उद्योगों को सरकार द्वारा बिजली दरों में राहत प्रदान की जाएगी जिससे की वे नवीन मशीनरी में भी निवेश कर सकें।

इसके अतिरिक्त उद्योग आधार पंजीकरण पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने वाले उद्योगों को सरकार द्वारा विदेशी व्यापार की स्थिति में विशेष सहायता, लंबित भुगतानों में सुरक्षा और एक्साइज और अन्य प्रकार के सीमा शुल्कों में रियायतें प्रदान की जाती है।

CSC Digital Seva: अपना डिजिटल सेवा केंद्र पंजीकरण, ये है पूरी प्रक्रिया

उद्योग पंजीकरण हेतु नये नियम

केंद्र सरकार द्वारा एमएसएमई से सम्बंधित उद्योगों को रजिस्ट्रेशन के लिए 26 जून 2020 को नये नियम घोषित किये गये है। अब आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण करवाने वाले उद्यमों को पंजीकरण हेतु नवीन शर्तो को पूरा करना आवश्यक होगा। पंजीकरण हेतु सरकार द्वारा निर्धारित नवीन शर्ते निम्न है :-

  • नवीन पंजीकरण करवाने के लिए आधार कार्ड के साथ सेल्फ-डिक्लेरेशन फॉर्म, पैन कार्ड और जीएसटीआईएन (GSTIN) नंबर अनिवार्य किया गया है। इसके लिए सभी उद्यमों को ऑनलाइन माध्यम से पंजीकरण करवाना होगा।
  • उद्यमियों द्वारा प्रदान किये गये पैन कार्ड और GSTIN के आधार पर अन्य विवरण का सत्यापन केंद्र द्वारा प्राप्त डाटा के आधार पर किया जायेगा। इसके लिए सरकार द्वारा सम्बंधित विभागों के साथ समन्वय किया गया है।
  • वे उद्योग जो EM- Part- II और UAM रजिस्ट्रेशन करवा चुके है उन्हें पुनः अपना रजिस्ट्रेशन करवाना आवश्यक होगा। सरकार द्वारा पहले से EM- Part- II और UAM रजिस्ट्रेशन करवा चुके उद्योगों को दुबारा से रजिस्ट्रेशन करने के निर्देश दिए गये है।
  • उद्योग पंजीकरण हेतु किसी भी उद्यमी को एक से अधिक पंजीकरण संख्या प्रदान नहीं की जाएगी हालांकि अगर वह सेवा क्षेत्र और मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र दोनों में संलग्न है तो रजिस्ट्रेशन के दौरान दोनों एक्टिविटीज को भरा जा सकता है।
  • आधिकारिक पोर्टल को सरकार द्वारा आयकर विभाग और GSTIN प्रणाली के साथ पूर्णरूप से इंटीग्रेटेड किया गया है ऐसे में उद्यम सम्बंधित सूचना को सरकार द्वारा ऑनलाइन माध्यम से आटोमेटिकली प्राप्त किया जायेगा।
  • ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया को पूर्ण रूप से निशुल्क रखा गया है ऐसे में रजिस्ट्रेशन के दौरान किसी भी प्रकार का शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है। साथ ही सरकार द्वारा रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए किसी भी प्रकार की दस्तावेजों को अपलोड करने की प्रक्रिया को समाप्त किया गया है जिससे की उद्योगों को

पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • बैंक अकाउंट की पासबुक
  • व्यवसाय सम्बंधित दस्तावेज
  • जीएसटी नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

उद्योग आधार पंजीकरण, ये है पूरी प्रक्रिया

उद्योग आधार पोर्टल पर पंजीकरण के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय की MSME रजिस्ट्रेशन हेतु आधिकारिक वेबसाइट https://udyamregistration.gov.in/ पर जायें। उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन, Udyog Aadhaar MSME Registration
  • होमपेज पर आपको For New Entrepreneurs who are not Registered yet as MSME or those with EM-II का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे। ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया Udyog Aadhaar MSME Registration online process,
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको अपना आधार नंबर और नाम दर्ज करना होगा। इसके बाद सहमति के विकल्प पर टिक करके Verification & Generate OTP के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया Udyog Aadhaar MSME online registration,
  • इसके बाद आपके सामने पैन कार्ड वेरिफिकेशन का पेज ओपन हो जायेगा। इसमें अपना संगठन का प्रकार और पैन कार्ड नंबर दर्ज कर दे। इसके बाद सहमति बॉक्स पर टिक करके Validate PAN के ऑप्शन पर क्लिक कर दे। पैन वेलिडेशन के पश्चात आपको कंटिन्यू के विकल्प को चुनना होगा। आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन online registration, Udyog Aadhaar MSME,
  • अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जायेगा। इसमें आपको उद्यम विवरण, उद्यम का प्रकार, व्यक्तिगत विवरण, बैंक डिटेल्स और अन्य मांगी गयी जानकारी दर्ज करनी होगी। आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन Udyog Aadhaar MSME, aise kare avedan,
  • इसके बाद अन्य औपचारिकतायें पूरी करके Submit and Get final OTP के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।
  • अब मोबाइल नंबर पर प्राप्त OTP को ओटीपी बॉक्स में दर्ज करके Final Submit के ऑप्शन पर क्लिक कर दे। ऑनलाइन आवेदन ऐसे करे Udyog Aadhaar MSME, online avedan,
  • इसके बाद आपको उद्योग पंजीकरण संख्या प्रदान की जाएगी। इसे भविष्य के लिए सुरक्षित रख ले। आप चाहे तो इसका प्रिंटआउट भी निकल सकते है।
  • इस प्रकार से आप आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से उद्योग का पंजीकरण करवा सकते है।

साथ ही जिन उद्योगों ने पहले से ही UAM के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करवा रखा है उन्हें भी होमपेज पर Re-registration के ऑप्शन में जाकर for those already having registration at UAM का विकल्प चुनना होगा। इसके बाद अन्य औपचारिकतायें पूरी करने के बाद वे पोर्टल के माध्यम से Re-registration की प्रक्रिया को पूरी कर सकते है।

उद्योग को अपडेट/कैंसिल करने की प्रक्रिया

आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से सरकार द्वारा उद्योग रजिस्ट्रेशन को अपडेट/कैंसिल करने की सुविधा भी प्रदान की गयी है। उद्योग रजिस्ट्रेशन अपडेट/कैंसिल करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आधिकारिक पोर्टल https://udyamregistration.gov.in/ पर जायें। उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन, Udyog Aadhaar MSME Registration
  • होमपेज पर आपको Update details के ऑप्शन पर क्लिक करके Update/Cancel UDHAM registration के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। डिटेल अपडेट ऑनलाइन Udyog Aadhaar MSME Details update process
  • अब आपके सामने नया पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको अपना उद्यमी रजिस्ट्रेशन नंबर और मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। इसके बाद वेरिफिकेशन के लिए ईमेल और मोबाइल नंबर के द्वारा चुनाव का ऑप्शन आएगा। आप उपयुक्त विकल्प चुनकर Validate and Generate OTP के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।  ऐसे करें डिटेल्स अपडेट Udyog Aadhaar MSME update Details
  • इसके बाद आप अन्य औपचारिकतायें पूरी करके उद्यम रजिस्ट्रेशन को अपडेट और कैंसिल करने का विकल्प चुन सकते है।
  • अन्य सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के पश्चात आप अपने उद्योग रजिस्ट्रेशन नंबर को अपडेट या कैंसिल कर सकते है।

ये है लॉगिन की प्रक्रिया

आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से लॉगिन करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आधिकारिक पोर्टल https://udyamregistration.gov.in/ पर जायें। उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन, Udyog Aadhaar MSME Registration
  • होमपेज पर आपको login का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक करके आपको अफसर लॉगिन और उद्यमी लॉगिन का विकल्प दिखाई देगा। आप उपयुक्त ऑप्शन का चुनाव कर ले। लॉगइन प्रक्रिया, Udyog Aadhaar MSME login
  • इसके बाद अगले पेज पर आपको मोबाइल नंबर, उद्यम रजिस्ट्रेशन नंबर और ओटीपी का विकल्प चुनना होगा। इसके बाद सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर दे। लॉगिन प्रक्रिया ऑनलाइन  login process Udyog Aadhaar MSME

इस प्रकार से आप आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से लॉगिन कर सकते है।

ये सुविधायें भी है उपलब्ध

  • सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्योग मंत्रालय द्वारा नागरिको को आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से उद्योग पंजीकरण समेत विभिन प्रकार की सुविधायें उपलब्ध करवाई गयी है।
  • आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से उद्यमी पंजीकरण के पश्चात सरकार द्वारा प्रदान किये जाने वाले उद्यम सर्टिफिकेट को प्रिंट कर सकते है। इसके लिए उन्हें आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर होमपेज पर Print/Verify सर्टिफिकेट के ऑप्शन पर जाना होगा।
  • ड्रापडाउन मेनू में Print Udhyam certification के ऑप्शन पर क्लिक करके और अन्य औपचारिकतायें पूरी करके वे अपना उद्यम सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकते है। साथ ही आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से नागरिको को अपना रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट वेरीफाई करने का ऑप्शन भी दिया गया है।
  • इसके लिए उन्हें Print/Verify के ऑप्शन को चुनकर Verify Udham Registration number के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। इसके पश्चात अन्य फॉर्मलिटीज पूरी करके वे अपना उद्योग रजिस्ट्रेशन नंबर वेरीफाई कर सकते है।
  • आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से सरकार द्वारा नागरिको को उद्योग आधार को वेरीफाई करने की सुविधा भी प्रदान की गयी है। इसके लिए Print/Verify के विकल्प को चुनकर ड्रापडाउन मेनू में Verify UDYOG Aadhar के ऑप्शन पर क्लिक करके अन्य औपचारिकतायें पूरी कर दे।
  • इस प्रकार से आप उद्योग आधार को वेरीफाई कर सकते है।

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन से सम्बंधित अकसर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन पोर्टल क्या है ?

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन पोर्टल केंद्र सरकार द्वारा देश में MSME क्षेत्र के उद्यमों को रजिस्ट्रेशन की सुविधा देने के लिए शुरू किया गया पोर्टल है। इस पोर्टल के माध्यम से देश में MSME क्षेत्र से सम्बंधित उद्योगों को सरकार द्वारा विभिन प्रकार की सुविधायें प्रदान की जाएगी।

इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन का क्या लाभ है ?

उद्योग आधार पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के माध्यम से सरकार द्वारा एमएसएमई क्षेत्र से आने वाले उद्योगों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अतिरिक्त सरकार द्वारा उन्हें क्रेडिट गारंटी स्कीम के तहत आसान शर्तो पर ऋण भी प्रदान किया जायेगा। साथ ही सरकार द्वारा पोर्टल पर रजिस्टर्ड उद्योगों को सरकारी निविदाओं और सार्वजनिक खरीद में भी प्राथमिकता दी जाएगी।

MSME क्या है ? इसके अंतर्गत क्या मानक रखे गए है ?

MSME का अर्थ सूक्ष्म ,लघु और मध्यम उद्योग (Micro, Small and Medium Enterprise) है। इसके तहत केंद्र सरकार द्वारा देश के छोटी श्रेणी में आने वाले उद्योगों को रखा गया है। ऊपर दिए गये लेख के माध्यम से आप सरकार द्वारा MSME उद्योगों की श्रेणी को निर्धारित करने वाली पात्रताओं की जानकारी प्राप्त कर सकते है।

पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने का प्रोसेस क्या है ?

उद्योग आधार पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए ऊपर दिया गया लेख पढ़े। इसमें बताई गयी प्रक्रिया को फॉलो करके आप अपने उद्योग को पंजीकृत कर सकते है।

इस पोर्टल के माध्यम से कौन-कौन पंजीकरण कर सकता है ?

उद्योग आधार पोर्टल के माध्यम से केंद्र सरकार द्वारा देश के सभी MSME सेक्टर में आने वाले उद्योगों को रजिस्ट्रेशन का लिए पात्र माना गया है। ऐसे में पूरे देश के उद्यमी ही पोर्टल के माध्यम से रजिस्ट्रेशन कर सकते है। साथ ही उन्हें सरकार द्वारा निर्धारित की गयी अन्य शर्तो को भी पूरा करना होगा।

उद्योग आधार पोर्टल पर पंजीकरण करने के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या-क्या है ?

उद्योग आधार पोर्टल पर पंजीकरण के लिए सरकार द्वारा आधार कार्ड अनिवार्य किया गया है। इसके अतिरिक्त उद्योग के रजिस्ट्रेशन के लिए पैन कार्ड और GSTIN नंबर को भी अनिवार्य किया गया है। साथ ही उद्योगों को रजिस्ट्रेशन के लिए सरकार द्वारा MSME उद्योगों के लिए जारी की गयी पात्रताओं को भी पूरा करना होगा।

Leave a Comment