7वें वेतन आयोग के अंतर्गत परिवहन सुविधा भत्ता | Transport Allowance in 7th Pay Commission in Hindi

7वें वेतन आयोग के अंतर्गत परिवहन सुविधा भत्ता– केंद्र सरकार के द्वारा सातवें वेतन आयोग के अनुसार सरकारी कर्मचारियों को परिवहन भत्ता का लाभ प्रदान किया जाता है। यह भत्ता कर्मचारियों को एक स्थान से दूसरे स्थान के बीच आने-जाने में शामिल व्यय को कवर करने के लिए प्रदान किया जाता है। कर्मचारियों को मिलने वाला यह भत्ता Transport Allowance in 7th Pay Commission के अंतर्गत उनके पद एवं वेतन स्तर के अनुसार वितरण किया जाता है। ट्रांसपोर्ट भत्ते का प्रयोग कर्मचारी व्यक्ति अपने कार्यालय से घर एवं अन्य स्थान में जाने पर होने वाले खर्च के लिए उपयोग कर सकते है। सातवें वेतन आयोग के द्वारा दिया जाने वाला यह वह भत्ता है जो सरकारी सेवा में सेवारत कर्मचारियों को स्पेशल इंसेंटिव के रूप में दिया जाता है।

7वें वेतन आयोग के अंतर्गत परिवहन सुविधा भत्ता | Transport Allowance in 7th Pay Commission in Hindi
Transport Allowance in 7th Pay Commission in Hindi

आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के अंतर्गत 7वें वेतन आयोग के अंतर्गत परिवहन सुविधा भत्ता के बारे में जानकारी साझा करने जा रहे है। अतः इस भत्ते से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Transport Allowance in 7th Pay Commission

7वें वेतन आयोग के अंतर्गत परिवहन सुविधा भत्ता– के अनुदान को बरकरार रखने के लिए सिफारिश की और 31 दिसंबर 2015 को लागू 125 प्रतिशत की दर से DA को मिलाकर इसे संशोधित किया। सातवें वेतन आयोग द्वारा परिवहन भत्ते में कोई अतिरिक्त वृद्धि की सिफारिश नहीं की गयी थी। सरकार के द्वारा इन सिफारिशों को ऐसे ही स्वीकार कर लिया गया। 1 जुलाई 2017 से संशोधित परिवहन भत्ता इस प्रकार से निम्नवत है।

वेतन स्तर में वेतन पाने वाले कर्मचारीप्रति माह परिवहन भत्ते की दरें
उच्च परिवहन भत्ते के लिए पात्र के रूप में वर्गीकृत 19 शहरों में तैनात कर्मचारीअन्य सभी स्थानों पर तैनात कर्मचारी
9 और उससे ऊपर7200 + रूपये उस पर महंगाई भत्ता 3600 + डीए उस पर
3 से 8 3600 + डीए उस पर1800 + डीए उस पर
1 और 21350 + उस पर महंगाई भत्ता900 + उस पर डीए

यह भी देखें :- 8th Pay Commission

परिवहन भत्ता (Transport Allowance)

सरकार के द्वारा केवल सरकारी कर्मचारियों को ही यह अलाउंस प्रदान किया जाता है। नए वेतन आयोग में पारित प्रस्ताव के तहत सरकारी कर्मचारियों के लिए यह निर्णय लिया गया। सरकारी कर्मचारियों को इस भत्ते का लाभ उनकी ड्यूटी की अवधि के दौरान घर से ऑफिस आने जाने के लिए खर्च हो रहे ट्रांसपोर्ट खर्च हेतु राशि को वितरण किया जायेगा। कर्मचारियों को लाभ प्रदान करने हेतु इस अलाउंस को वार्षिक तौर पर आंकलन किया जायेगा। यानी की पुरे वर्ष में यात्रा के समय में हुए खर्च के लिए अब कर्मचारियों को अपनी जेब से पैसा नहीं भरना पड़ेगा।

Transport Allowance in 7th Pay Commission in hindi

निम्नलिखित परिस्थितों में परिवहन भत्ते (टीए) की स्वीकार्यता

  1. छुट्टी के दौरान-भत्ता पूरी तरह से छुट्टी के अंतर्गत आने वाले कैलेंडर माह के लिए स्वीकार्य नहीं होगा।
  2. विदेश में प्रतिनियुक्ति के दौरान टीए– विदेश में प्रतिनियुक्ति की अवधि के दौरान भत्ता स्वीकार्य नहीं होगा।
  3. दौरे पर रहने के समय में– यदि कोई कर्मचारी दौरे के कारण पूरे कैलेंडर माहों के लिए मुख्यालय तैनाती के स्थान से अनुपस्थित रहता है, तो वह उस दौरान परिवहन भत्ते का हकदार नहीं होगा। हालांकि, यदि अनुपस्थिति में कोई कैलेंडर माह को पूर्ण रूप से कवर नहीं किया जाता है, तो परिवहन भत्ता पूरे एक महीने के लिए स्वीकार्य होगा।
  4. ड्यूटी के रूप में मानित प्रशिक्षण के दौरान- यदि प्रशिक्षण संस्थान में उपस्थिति होने के लिए कोई परिवहन भत्ता ,दैनिक भत्ता प्रदान नहीं किया जाता है तो ऐसे प्रशिक्षण के समय में कर्मचारियों को भत्ता दिया जा सकता है। यदि पाठ्यक्रम प्रशिक्षण की अवधि आधिकारिक दौरे के दौरान पुरे कैलेंडर माह को कवर करती है ,तो ऐसी स्थिति में यह भत्ता स्वीकार नहीं होगा।
  5. निरीक्षण के दौरान -शहर के भीतर विशेष दलों के सदस्यों द्वारा निरीक्षण,सर्वेक्षण ड्यूटी के दौरान लेकिन 8 किमी से अधिक। मुख्यालय से या मुख्यालय के अंदर या बाहर लगातार फील्ड ड्यूटी के दौरान ड्यूटी के स्थान और निवास के बीच आने-जाने में होने वाले खर्च की भरपाई के लिए परिवहन भत्ता दिया जाता है। यदि किसी को पूरे कैलेंडर माह को कवर करने वाली अवधि के लिए सड़क माइलेज,दैनिक भत्ता या फील्ड,निरीक्षण,सर्वेक्षण ड्यूटी या दौरे के लिए मुफ्त परिवहन मिलता है, तो वह उस कैलेंडर माह के दौरान परिवहन भत्ते का हकदार नहीं होगा।
  6. विकेशन स्टाफ के लिए– छुट्टी के कर्मचारी परिवहन भत्ते के हकदार हैं, बशर्ते ऐसे कर्मचारियों को कोई मुफ्त परिवहन सुविधा न दी गयी हो। हालांकि, भत्ता तब स्वीकार्य नहीं होगा जब इस तरह की छुट्टी अवधि, जिसमें सभी प्रकार की छुट्टी शामिल है, पूरे कैलेंडर महीनों को कवर करती है।
  7. निलंबन के समय में– निलंबन के तहत एक सरकारी कर्मचारी को कार्यालय में उपस्थित होने की आवश्यकता नहीं है, वह निलंबन के दौरान परिवहन भत्ते का हकदार नहीं है, जहां निलंबन पूरे कैलेंडर माह को कवर करता है। यह स्थिति अच्छी तरह से बनी रहेगी, भले ही निलंबन अवधि को अंततः कर्तव्य के रूप में माना जाए। जहां निलंबन की अवधि एक कैलेंडर माह को आंशिक रूप से कवर करती है, उस माह के लिए देय परिवहन भत्ता आनुपातिक रूप से कम किया जाएगा।

7वें वेतन आयोग के अंतर्गत परिवहन सुविधा भत्ता से संबंधित प्रश्न उत्तर

परिवहन भत्ता का लाभ किसे प्राप्त होगा ?

सभी सरकारी कर्मचारियों को परिवहन भत्ता का लाभ प्राप्त होगा ,जिन्हे सरकार के द्वारा कोई सरकारी वाहन की सुविधा उपलब्ध नहीं करवाई गयी है।

Transport Allowance कर्मचारियों को किस प्रकार से प्रदान किया जायेगा ?

सातवें वेतन आयोग के जरिये कर्मचारियों को Transport Allowance उनकी पद एवं सैलरी लेवल के अनुसार प्रदान किया जायेगा।

परिवहन भत्ता की गणना कैसे की जाएगी ?

परिवहन भत्ता गणना सालाना आधार पर की जाएगी , यानी की ड्यूटी के समय में ऑफिस जाने के लिए कर्मचारी का आने जाने में कितना खर्च हुआ है उसका सभी विवरण दिया जायेगा।

Leave a Comment