स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना 2022: एप्लीकेशन फॉर्म, पात्रता व कार्यान्यवन प्रक्रिया

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना 2022: केंद्र सरकार द्वारा देश के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले नागरिकों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने और उनकी आय में वृद्धि करने के लक्ष्य से स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से सरकार राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के कमजोर आय वर्ग नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार लाने के प्रयास कर उन्हें रोजगार से जोड़ने और अपने खुद के स्वरोजगार की शुरुआत के लिए बैंकों से ऋण की सुविधा, सब्सिडी और रोजगार प्राप्त करने के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण की सुविधा प्रदान करवा रही है, जिससे देश में बढ़ रही बेरोजगारी की समस्या को कम किया जा सकेगा और रोजगार को बढ़ावा मिलने से बहुत से बेरोजगार परिवार बिना किसी आर्थिक समस्या के बहतर जीवन यापन कर सकेंगे।

सरकार द्वारा शुरू की गई स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना क्या है ? योजना में आवेदक लाभार्थियों को सरकार क्या लाभ प्रदान करेगी और आवेदन के लिए उन्हें योजना की किन पात्रता व दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, इसकी पूरी जानकारी आप हमारे लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

Swarna Jayanti Gram Swarojgar Yojana - स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना आवेदन प्रक्रिया
Swarna Jayanti Gram Swarojgar Yojana – स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना आवेदन प्रक्रिया

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना 2022

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना का आरंभ भारत सरकार द्वारा देश के ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले नागरिकों को गरीबी रेखा से ऊपर लाने के लिए किया गया है। जिसके माध्यम से सरकार नागरिकों को रोजगार प्रदान करने और उनके जीवन स्तर में सुधार लाने के लिए उनके खुद के स्वरोजगार की स्थापना हेतु उन्हें ऋण के रूप में बैंकों से आर्थिक सहयोग प्रदान करवाती है, जिस पर लाभार्थियों को सब्सिडी का लाभ भी दिया जाएगा। Swarna Jayanti Gram Swarojgar Yojana के अंतर्गत सब्सिडी के अतिरिक्त नागरिकों को रोजगार के लिए सरकार द्वारा प्रशिक्षण की सुविधा भी उपलब्ध करवाई जाएगी, जिससे वह जिस भी क्षेत्र में रूचि रखते हैं उसमे प्रशिक्षण और अनुभव लेकर बेहतर रोजगार प्राप्त कर सकेंगे।

Swarna Jayanti Gram Swarojgar Yojana 2022 : Details

योजना का नाम स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना
शुरू की गई केंद्र सरकार द्वारा
साल 2022
योजना के लाभार्थी ग्रामीण क्षेत्रों के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले नागरिक
उद्देश्य देश के कमजोर आय नागरिकों को के जीव स्तर में सुधार लाना
श्रेणी केंद्र सरकारी योजना

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना का उद्देश्य

सरकार द्वारा शुरू की गई स्वर्ण जयंती ग्राम स्वारोजगार योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य देश में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले नागरिकों को रोजगार के माध्यम से आत्मनिर्भर और सशक्त बनने में सहयोग प्रदान करना है। जिससे वह नागरिक जो पूरी तरह बेरोजगार हैं उन्हें योजना के तहत प्रशिक्षण की सुविधा प्राप्त हो सकेगी और वह बेहतर रोजगार प्राप्त कर सकेंगे, इसके अलावा यदि वह अपने खुद के स्वरोजगार की शुरुआत करना चाहते हैं तो उन्हें इसके लिए भी ऋण प्राप्त हो सकेगा, जिससे वह बिना किसी समस्या के अपने रोजगार की शुरुआत कर अन्य जरूरतमंद नागरिकों को रोजगार प्रदान कर सकेंगे। इससे देश में बेरोजगारी की दरों में कमी लाइ जा सकेगी और गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे नागरिकों को गरीबी रेखा से ऊपर लाकर उनके जीवन स्तर में सुधार किया जा सकेगा।

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के लाभ के लाभ एवं विशेषताएँ

Swarna Jayanti Gram Swarojgar Yojana के तहत आवेदक लाभार्थियों को मिलने वाले लाभ की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • केंद्र सरकार द्वारा स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के माध्यम देश के ग्रामीण नागरिकों की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने और उनकी आय में वृद्धि करने का कार्य किया जाएगा।
  • योजना के माध्यम से नागरिकों को आत्मनिर्भर बनाने और उनके स्वरोजगार की स्थापना के लिए सरकार द्वारा बैंकों से ऋण की सुविधा के साथ उसमे सब्सिडी का लाभ दिया जाएगा।
  • स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के तहत दी जाने वाली सहायता राशि के 75% हिस्से का वहन केंद्र सरकार और 25% हिस्से का वहन राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत लाभार्थियों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता राशि सीधे उनके बैंक खातों में ट्रांसफर की जाएगी।
  • देश के बेरोजगारी की समस्या से परेशान नागरिकों को रोजगार प्राप्त हो सके, इसके लिए उन्हें कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • इस योजना के लक्ष्य को सामाजिक गतिशील, क्षमता निर्धारण, प्रशिक्षण और आमदनी देने वाली परिसंपत्तियों के सृजन का प्रावधान करके ग्रामीण निर्धनों को स्वयंसहायता सहायता समूह में संगठिति कर प्राप्त किया जा सकेगा।
  • SJGSY के तहत ग्रामीण क्षेत्रों के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले नागरिकों को लक्ष्य समूह में रखा जाएगा।
  • इन लक्ष्य समूह में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति के लिए 50%, महिलाओं के लिए 40%, अल्पसंख्यकों के लिए 15% और विकलांग व्यक्तियों के लिए 3% आरक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना के बेहतर कार्यन्वयन के लिए सरकार द्वारा 1200 करोड़ रूपये के केंद्रीय सहायता का प्रावधान किया गया है।
  • योजना के माध्यम से नागरिक अपने स्वरोजगार की स्थापना कर अन्य बेरोजगार नागरिकों के लिए रोजगार के अवसरों को बढ़ावा दे सकेंगे।

SJGSY के अंतर्गत जारी आर्थिक सहायता के प्रकार

योजना के तहत लाभार्थियों को कई तरह की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है, जो कुछ इस प्रकार है।

  • प्रशिक्षण – स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना में आवेदक लाभार्थियों को प्रशिक्षण के लिए कुल 5000 रूपये की आर्थिक सहायता राशि खर्च की जाएगी।
  • रिवॉल्विंग फंड – लाभार्थियों को दी जाने वाली रिवॉल्विंग फंड की अधिकतम राशि 25 हजार रूपये है, जिसमे साशन द्वारा 10 हजार रूपये की अनुदान राशि शामिल की गई है।
  • लोन सब्सिडी – योजना के तहत ऋण सहायता के परियोजना लागत के 30% की एक सामान दर से सब्सिडी दिए जाने का प्रावधान है। जिसमे अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और विकलांग नागरिकों को 50% जो की अधिकतम 10 हजार, इसके अलावा स्वयं सहायता समूह के लिए भी 50% जो अधिकतम 10 हजार या 1 लाख रूपये होगी।

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना में कार्यन्वयन प्रक्रिया

  • पहला चरण – योजना के पहले चरण में समूह का निर्माण किया जाएगा, जिसके लिए योजना में संबंधित अधिकारियों द्वारा रोजगार प्राप्त करने वाले नागरिकों को उनके कौशल अनुसार अलग-अलग तरह के समूहों में सौंपा जाएगा, जिसके बाद हर व्यक्ति के कौशल स्तर के आधार पर इनके समूह तैयार किए जाएँगे।
  • दूसरे चरण में पूंजी निर्माण के लिए एक टर्निंग स्टोर ढाँचा योग्यता की समझ के तैयार किया जाएगा।
  • तीसरे चरण में स्वयं सहायता समूह की पहचान की जाएगी, जिसमे योग्यता और समूहों कौशल सृजन और विकास से अन्य कार्यों के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना में आवेदन प्रक्रिया

  • योजना में आवेदन के लिए आवेदक को सबसे पहले स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुलकर आ जाएगा, यहाँ आपको आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद अगले पेज पर आपकी स्क्रीन में आवेदन का फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको फॉर्म में माँगे गए सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को अपलोड कर देना होगा।
  • सारी जानकारी भरने व दस्तावेजों को अपलोड कर देने के बाद आप सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • जिसके बाद स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना में आपकी आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

स्वर्ण जयंती ग्राम स्वरोजगार योजना 2022 से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है और इसकी आवेदन प्रक्रिया के आरम्भ होने की जानकारी भी जल्द ही आपको प्रदान करवा देंगे, इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं, हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment