सोलर पैनल क्या होते हैं? इनसे बिजली कैसे बनती है? छत पर सोलर पैनल कैसे लगवाएं?

दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है की आज के समय में बिजली का प्रयोग तो लगभग हर किसी व्यक्ति के घरो में होता है। आप सभी यह भी जानते होंगे की हर किसी राज्य में बिजली अलग अलग स्थानों से आती है। जिसके लिए अलग अलग श्रोतो का उपयोग किया जाता है। देश में बहुत से स्थानों पर बिजली का उत्पादन करने के लिए अलग अलग श्रोत होते है। जैसे की – डैम, पवन चक्की, भाप, आदि जैसी चीजें। लेकिन आप सभी यह भी जानते होंगे की आज के इस युग में बिजली का उपयोग कई अन्य साधनो से भी किया जाता है। जिनमे से एक है सौर ऊर्जा। आप सभी इसके बारे में जानते ही होंगे। इसका उपयोग लोग घरों में भी करते है। सौर ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करने के लिए सोलर पैनल का उपयोग किया जाता है। लेकिन क्या आप यह जानते है की सोलर पैनल क्या होते हैं?

यह भी पढ़िए :- पवन चक्की क्या है- कैसे काम करती है

सोलर पैनल क्या होते हैं?
सोलर पैनल क्या होते हैं? इनसे बिजली कैसे बनती है?

आप सभी ने इसके बारे में तो सुना ही होगा। बल्कि आज के समय में अधिकतर लोग घरो में इसका उपयोग करते है। तो आइये जानते है की सोलर पैनल क्या होते हैं? इनसे बिजली कैसे बनती है? छत पर Solar Panel कैसे लगवाएं? तो दोस्तों अगर आप भी इसके बारे में कुछ अन्य जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो उसके लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि इस लेख में ही हमने इससे सम्बंधित जानकारी प्रदान की हुई है। जिसको पढ़ने से ही आप इसके बारे में जान सकोगे। इसलिए कृपया करके हमारे इस लेख को अंत तक पढ़िए।

Article Contents

सोलर पैनल क्या होते हैं? इनसे बिजली कैसे बनती है?

दोस्तों अब हम यहाँ पर आप सभी को Solar Panel के बारे में जानकारी प्रदान करने वाले है। सबसे पहले आप सभी को यह बतादे की सोलर पैनल को सोलर मॉड्यूल भी कहा जाता है। यह एक प्रकार का डिवाइस (उपकरण) होता है। इस डिवाइस के अंदर सौर बैटरी व सेल का क्लस्टर किए गए इंटरकनेक्टेड कनेक्शन किया जाता है। जो की सौर ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करने का कार्य करते है। आपकी जानकारी के लिए यह भी बतादे की सौर सेल को photovoltic cells के नाम से भी जाना जाता है। इन्ही सेल के कारण जब सूर्य की किरणे सोलर पैनल पर पढ़ती है यह सेल उन ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करने का कार्य करते है। जिससे घरों में बिजली पहुँचती है।

आप सभी को यह बतादे की आज कल लोग सोलर पैनल का उपयोग इसलिए करने लगे है क्योंकि आज के समय में बिजली का श्रोतो की काफी कमी होने लगी है। लेकिन सौर ऊर्जा कभी न खत्म होने वाली चीज है। जो हमेशा ही रहगे। इसलिए सौर ऊर्जा बिजली बनाने का सबसे बेहतर तरीका माना जाता है। इसके साथ साथ इससे आपकी बचत भी होती है। आप सभी अपने घरों में अपनी आवश्यकता अनुसार भी सोलर पैनल लगवा सकते हो। अगर आपको कम बिजली की आवश्यकता होती है तो आप 10 W का सिलर पैनल भी लगवा सकते हो। लेकिन अगर आपको अधिक बिजली की आवश्यकता होती है। तो आप अधिक पावर वाले Solar Panel भी लगवा सकते हो।

आप सभी को यह बतादे की सोलर पैनल लगवाने की कीमत अलग अलग होती है। जो की आपकी आवश्यकता के अनुसार होती है। क्योंकि अगर आप कम पावर वाला सोलर पैनल लगवाएंगे तो उसकी कीमत अलग होगी और आप अधिक पावर वाला Solar Panel लगवाएंगे तो उसकी कीमत अलग होती है। तो आइये यह जानते है की सोलर पेनल की कीमत कितनी होती है।

यह भी पढ़िए :- Pradhan Mantri Solar Panel Yojana

सोलर पैनल्स माडल      सेल्लिंग प्राइस              प्राइस/वाट
10W₹ 1050 ₹ 105
20W₹ 1650 ₹ 82.5
40W₹ 2550 ₹ 63.75
50W₹ 3050 ₹ 61
75W₹ 5500 ₹ 73.33
125W₹ 8500 ₹ 68
200W₹ 10000 ₹ 50.00
445W₹ 21000 ₹ 47.19
Shark 550W, 24V  ₹ 25,000₹ 45.45
Bifacial Solar Panel 440-530W₹ 21,750₹ 49.43

सोलर पैनल कैसे बनता है ?

दोस्तों क्या आप यह जानते है की Solar Panel कैसे बनता है। तो आप सभी को यह बतादे की सोलर पैनल बनाने के लिए बहुत सी चीजों की आवश्यकता होती है। जैसे की – सोलर सेल, ग्लास, EVA, बैकशीट और फ्रेम आदि। आइये जानते है की किस प्रकार से सोलर पैनल बनता है।

solar panel kaise banta hai
solar panel kaise banta hai
  • Sand (रेत) – जी हाँ दोस्तों सोलर पैनल सिलिकॉन से बने होते है। सिलिकॉन को निर्माण करने के लिए रेत का उपयोग किया जाता है।बेहतर क्वालिटी का सिलिकॉन बनाने के लिए उत्तम क्वालिटी की रेत की आवश्यकता होती है। इसलिए सिलिकॉन बनाने के लिए क्वार्टस रेत का उपयोग करते है। उसको हाई टेम्परेचर पर आर्क फर्नेस से इसका निर्माण किया जाता है।
  • सिलिकॉन सिल्लियां – रेत को सिलिकॉन में बदलने के बाद सिलिकॉन को फिर से काफी अधिक तापमान पर पिघलाया जाता है। ताकि सिलिकॉन को सिलेंडर के आकार का बनाया जा सकें। आपको बतादे की सिलिकॉन को इस आकार का बनाने के लिए इसी आकार की भट्टी होती है। उसके बाद यह ध्यान दिया जाता है की सिलिकॉन desired atomic structure और orientation (अभिविन्यास) पूर्ण रूप से संरेखित हो सकें। उसके बाद सिलिकॉन को बोरोन की प्रक्रिया में जोड़ा जाता है। ताकि सिलिकॉन में सकारात्मक विद्युत ध्रुवीयता आ सकें। उसके बाद सिलिकॉन की एकल क्रिस्टल से मोनो क्रिस्टलीय कोशिकाओं का निर्माण किया जाता है, इसी प्रकार से सिलिकॉन सिल्लियो का निर्माण किया जाता है।
  • वेफर्स – उसके बाद सिलिकॉन के पिंड को वफ़र में बदला जाता है। जिसके लिए एक तार की आरी का उपयोग किया जाता है। फिर वफ़र एक कागज जितने पतले रूप में काटा जाता है। आप सभी ने देखा होगा की सिलिकॉन काफी चमकदार होता है। जिसकी वजह से ही सोलर पैनल धुप की किरणों को बिजली में परिवर्तित करता है। इसलिए उसपर सिलिकॉन वेफर पर एक अपरावर्तनशील कोटिंग (anti-reflective coating) ताकि उसपर धुप बहुत अधिक मात्रा में न पढ़े।
  • सौर सेल – इन सभी प्रक्रिया के बाद वेफर्स को सौर सेल में परिवर्तित किया जाता है। ताकि सौर सेल सौर ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित कर सकें। उसके बाद सौर सेल में कंडक्टर को जोड़ा जाता है। क्योंकि कंडक्टर वफ़र के सरफेस पर ग्रिड मैट्रिक्स देते है। जिसके कारण ही सौर ऊर्जा बिजली में परिवर्तित हो सकेगी। उसपर कोटिंग इसलिए की जाती है क्योंकि कोटिंग करने से वेफर्स सूर्य की किरणों को सही तरीके से अब्सॉर्ब कर सकेगा।
  • सोलर सेल से सोलर पैनल बनाना – इन सभी के बाद सेल्स को पैनल के साथ जोड़ने के लिए कनेक्टर का उपयोग किया जाता है। ताकि सोलर पैनल सूअर ऊर्जा को संगृहीत कर सकें और फिर सेल उसको बिजली में परिवर्तित कर सकें।

इसपर भी गौर करें :- DC full form in Hindi

छत पर सोलर पैनल कैसे लगवाएं?

दोस्तों अगर आप भी अपनी छत पर सोलर पैनल लगवाना चाहते है। तो आप भी इसके लिए आवेदन कर सकते है। आप सभी को यह भी बतादे की बहुत सी सरकारी योजनाओं के अंतर्गत सरकार के द्वारा घर में Solar Panel लगवाने पर सरकार उन लोगो को छूट भी प्रदान करती है। इससे आपको सोलर पैनल लगवाने के लिए अधिक खर्चा करने की भी आवश्यकता नहीं है। इसके लिए आप को केवल कुछ केंद्र सरकार की छत सौर सब्सिडी कार्यक्रम के अंतर्गत आवेदन करना होगा जिसके बारे में हम आप सभी को बताने वाले है। इसलिए यहाँ पर दिए कुछ स्टेप्स को ध्यानपूर्बक पढ़े व फॉलो करें

  • सबसे पहले तो आप सभी को National Portal for Rooftop Solar पर जाना होगा।
  • उसके बाद आप इसकी आधिकारिक पोर्टल पर पहुंच जाएंगे।
  • फिर आपको इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर लेना होगा।
  • उसके बाद आपको इस पोर्टल पर लॉगिन करना होगा।
सोलर पैनल क्या होते हैं?
छत पर सोलर पैनल कैसे लगवाएं?
  • उसके बाद आपके सामने एक New page ओपन होगा।
  • जिसमे आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा। जिसमे आप अपने बिजली की आवश्यकता के अनुसार सोलर पैनल के लिए आवेदन कर देना होगा।
  • उसके बाद आपको discom की तरफ से अप्रूवल आने तक का इंतजार करना होगा
  • जब आपका अप्रूवल आ जाए तो आपको डिस्कॉम द्वारा रजिस्टर्ड वेंडर के जरिये अपने घर में Solar Panel लगवा लेना होगा।
  • फिर आपको नेट मीटर के लिए भी अप्लाई कर देना होगा।
  • उसके बाद discom के द्वारा इंस्पेक्शन किया जायेगा।
  • इंस्पेक्शन होने के बाद आपको कमीशनिंग सर्टिफिकेट जनरेट कर दिया जाएगा।
  • जिसके पश्चात आपके अकाउंट में सब्सिडी पहुंच जाएगी।

Solar Panel के लाभ

  • आपको बतादे की सौर ऊर्जा अक्षय ऊर्जा स्रोत होती है। जो कभी भी ख़त्म नहीं होती है। इसका उपयोग आप तब तक कर सकते हो जब तक सूर्य रहेगा। सूर्य हमेशा रहेगा इसलिए इसकी सुविधा आपको जिंदगी भर मिलती रहेगी।
  • इसका अन्य लाभ यह है की इससे आपके बिजली के बिल में काफी कटौती होगी। क्योंकि आप अपने घर की अधिकतर बिजली सौर ऊर्जा से चल रही होगी।
  • इसका अन्य लाभ यह है की आप बिना वातावरण को हानि पहुचाये बिजली का प्रयोग कर सकते है।
  • इससे प्रकृति को किसी भी प्रकार की हानि नहीं पहुँचती है। क्योंकि न तो यह कोई विषैली गैस छोड़ता है और न ही किसी भी प्रकार का प्रदुषण करता है।

सोलर पैनल से सम्बंधित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर

सोलर पैनल क्या होते हैं?

सबसे पहले आप सभी को यह बतादे की सोलर पैनल को सोलर मॉड्यूल भी कहा जाता है। यह एक प्रकार का डिवाइस (उपकरण) होता है जो की सौर ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करने का कार्य करता है।

सोलर पैनल सूअर ऊर्जा को बिजली में कैसे परिवर्तित करता है ?

इस डिवाइस के अंदर सौर बैटरी व सेल का क्लस्टर किए गए इंटरकनेक्टेड कनेक्शन किया जाता है। जो की सौर ऊर्जा को बिजली में परिवर्तित करने का कार्य करते है।

Solar Panel का मुख्य लाभ क्या है ?

आपको बतादे की सौर ऊर्जा अक्षय ऊर्जा स्रोत होती है। जो कभी भी ख़त्म नहीं होती है। इसका उपयोग आप तब तक कर सकते हो जब तक सूर्य रहेगा। सूर्य हमेशा रहेगा इसलिए इसकी सुविधा आपको जिंदगी भर मिलती रहेगी।

छत पर Solar Panel लगवाने के लिए किस पोर्टल प् जाना होगा ?

छत पर Solar Panel लगवाने के लिए आपको National Portal for Rooftop Solar पर जाना होगा।

Leave a Comment

Join Telegram