समीक्षा अधिकारी क्या होता है | RO (Review Officer) कैसे बने?

राज्य लोक-सेवा आयोग द्वारा नियमित समयांतराल पर समीक्षा अधिकारी के पदों के लिए नोटिफिकेशन जारी किया जाता है। अकसर कई युवा समीक्षा अधिकारी एवं सहायक समीक्षा अधिकारी बनना चाहते है परन्तु इस विषय में उन्हें पूर्ण जानकारी नहीं होती है जिसके कारण वे सही तरह से तैयारी नहीं कर पाते है। किसी भी पद को पाने के लिए सबसे पहला चरण उसके बारे में पूर्ण जानकारी होना आवश्यक है ऐसे में इस आर्टिकल के माध्यम से आपको समीक्षा अधिकारी सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी प्रदान की गयी है। इस लेख के माध्यम से आपको RO (Review Officer) कैसे बने? सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गयी है ? साथ ही लेख के माध्यम से आप समीक्षा अधिकारी क्या होता है ? RO (Review Officer) के क्या-क्या दायित्व होते है, समीक्षा अधिकारी की सैलरी और समीक्षा अधिकारी बनने के लिए कैसे तैयारी करें सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की गयी है।

RO (Review Officer)
RO (Review Officer)

समीक्षा अधिकारी क्या होता है ?

समीक्षा अधिकारी की नियुक्ति आमतौर पर राज्य सचिवालय और अन्य सरकारी विभागों में की जाती है जिसका मुख्य कार्य समीक्षा प्रकृति का होता है। चूँकि समीक्षा अधिकारी के लिए परीक्षा का आयोजन राज्य लोक सेवा आयोग (State PCS) द्वारा किया जाता है ऐसे में सभी कैंडिडेट को समीक्षा अधिकारी बनने के लिए सम्बंधित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा समीक्षा अधिकारी/ सहायक समीक्षा अधिकारी के लिए जारी किये गए नोटिफिकेशन के अनुसार फॉर्म-फिल करना होगा। यहाँ आपको उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा समीक्षा अधिकारी/ सहायक समीक्षा अधिकारी बनने के लिए जानकारी प्रदान की गयी है। उत्तरप्रदेश सचिवालय में समीक्षा अधिकारी/ सहायक समीक्षा अधिकारी बनने के लिए प्रदेश के छात्रों को यूपीपीसीएस (UPPCS) द्वारा जारी किये गए नोटिफिकेशन के अनुसार ऑनलाइन माध्यम से आवेदन फॉर्म भरना होगा। आवेदन फॉर्म भरने के लिए निम्न बिन्दुओ का ध्यान रखे।

RO (Review Officer), education qualification

समीक्षा अधिकारी/ सहायक समीक्षा अधिकारी बनने के लिए कैंडिडेट का किसी भी मान्यताप्राप्त संस्थान से ग्रेजुएट होना आवश्यक है। हालांकि इसके लिए किसी विशेष स्ट्रीम से ग्रेजुएट होने की शर्त नहीं रखी गयी है।

समीक्षा अधिकारी हेतु आयु सीमा (Age Limit)

समीक्षा अधिकारी के पदों पर आवेदन करने के लिए कैंडिडेट की न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी आवश्यक है। वही अधिकतम 40 वर्ष के कैंडिडेट इन पदों के लिए आवेदन कर सकते है। आरक्षित वर्ग से आने वाले कैंडिडेट को सरकार द्वारा निर्धारित नियमों के अनुसार छूट प्रदान की जाएगी।

RO (Review Officer) कैसे बने?, ये है चयन प्रक्रिया

समीक्षा अधिकारी बनने के लिए कैंडिडेट को उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली लिखित परीक्षा को पास करना होगा। इसके अंतर्गत प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा होती है। प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत कैंडिडेट को 2 पेपर जबकि मुख्य परीक्षा के अंतर्गत चार पेपर देने होते है। हालांकि इन पदों पर चयन के लिए कैंडिडेट को किसी भी प्रकार की साक्षात्कार की प्रक्रिया से नहीं गुजरना होगा।

समीक्षा अधिकारी, प्रारंभिक परीक्षा प्रारूप

समीक्षा अधिकारी के तहत प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत कैंडिडेट को 2 पेपर दिए जायेंगे। प्रथम पेपर सामान्य अध्ययन का होगा जिसके अंतर्गत छात्रों को इतिहास, भूगोल, अर्थव्यवस्था, कृषि, राज्य अध्ययन और निर्धारित विषयो से बहुविकल्पीय प्रकार के कुल 140 प्रश्न पूछे जायेंगे। इसके लिए 140 अंक निर्धारित किये गए है। वही द्वितीय प्रश्नपत्र हिंदी का होगा जिसमे कैंडिडेट से बहुविकल्पीय प्रकार के कुल 60 प्रश्न पूछे जायेंगे जिसके लिए 60 अंक निर्धारित है। इस प्रकार प्रथम प्रश्नपत्र कुल 200 अंको का होगा।

विषय कुल प्रश्न कुल अंक
सामान्य अध्ययन 140 140
हिंदी 60 60

ये है तैयारी के लिए महत्वपूर्ण टिप्स :-

  • इतिहास– इतिहास विषय को तैयार करने के लिए स्पेक्ट्रम या यूनिक की बुक पढ़ सकते है। इसके अलावा घटनाचक्र और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन सम्बंधित जानकारी को भी अच्छे से तैयार करें।
  • भूगोल – भूगोल के लिए NCERT और महेश बर्णवाल की बुक का अध्ययन करें।
  • अर्थव्यवस्था- इकॉनमी सम्बंधित कांसेप्ट क्लियर करने के लिए संजीव सिंह की बुक से नोट्स ले सकते है। इसके अतिरिक्त समय के अनुसार रमेश सिंह को बुक से भी अध्ययन करके अच्छे अंक अर्जित किये जा सकते है।
  • संविधान – संविधान के लिए परीक्षावाणी की भारतीय राजव्यवस्था का अध्ययन करें। समय मिलने पर लक्ष्मीकांत का अध्ययन भी कर सकते है।
  • विज्ञान – विज्ञान सेक्शन को पूरा करने के लिए कक्षा 6 से 10वीं तक की NCERT का अच्छे से अध्ययन करें। साथ ही क्लास नोट्स का सहारा भी लिया जा सकता है।
  • कृषि – कृषि सम्बंधित सेक्शन को पूरा करने के कृषि प्रौद्योगिकी का अध्ययन करके सभी कांसेप्ट पूरे किये जा सकते है।

द्वितीय प्रश्न पत्र – हिंदी सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी 

हिंदी में कैंडिडेट को कुल 60 प्रश्नो को सॉल्व करना होगा। इसके मुख्य सेक्शन निम्न है :-

पाठ्यक्रमकुल प्रश्न कुल अंक
विलोम शब्द10 प्रश्न10 अंक
तत्सम और तद्भव10 प्रश्न10 अंक
विशेषण और विशेष्य10 प्रश्न10 अंक
वाक्य शुद्धि एवं वर्तनी10 प्रश्न10 अंक
पर्यायवाची शब्द10 प्रश्न10 अंक
अनेक शब्दों के लिए एक शब्द10 प्रश्न10 60
कुल प्रश्नों की संख्या60 प्रश्न60 60

हिंदी भाग का अध्ययन करने के लिए छात्र लुसेंट की हिंदी व्याकरण, NCERT व्याकरण 9 से 12 और हरदेव बाहरी की पुस्तक का अध्ययन कर सकते है।

समीक्षा अधिकारी, मुख्य परीक्षा प्रारूप

समीक्षा अधिकारी मुख्य परीक्षा के अंतर्गत कुल 4 प्रश्नपत्र होते है जिसके लिए 400 अंक निर्धारित है। मुख्य परीक्षा का विवरण इस प्रकार से है :-

प्रश्न पत्रविषयकुल प्रश्न  समयकुल अंक
प्रथम प्रश्नपत्रसामान्य अध्ययन120 प्रश्न2 घंटे120 अंक
द्वितीय  प्रश्नपत्रसामान्य हिंदी एवं आलेखन100 प्रश्न2 घंटे 30 मिनट100 अंक
तृतीय  प्रश्नपत्रसामान्य शब्द एवं हिंदी व्याकरण30 प्रश्न30 मिनट60 अंक
चतुर्थ  प्रश्नपत्रहिंदी निबंधविषय के अनुसार 3 घंटे120 अंक

मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए कैंडिडेट को आयोग द्वारा निर्धारित सिलेबस के अनुरूप तैयारी करने की सलाह दी जाती है। इसके लिए कैंडिडेट स्टैण्डर्ड बुक का सहारा ले सकते है।

समीक्षा अधिकारी, सैलरी

समीक्षा अधिकारी को सरकार द्वारा प्रतिमाह 9,300-34,800 रुपए की सैलरी प्रदान की जाती है।

समीक्षा अधिकारी के कार्य

समीक्षा अधिकारी के मुख्य कार्य निम्न है :-

  • सम्बंधित विभाग को प्राप्त होने वाले पत्रों का रजिस्टर में ब्यौरा रखना और विभाग की पंजियों को निर्धारित रूप से रखरखाव
  • विभाग के सभी कागज़ पत्रों और पत्रावलियों का सही तरीके से संचालन और अंकन
  • विवरण पत्रों को तैयार करना, स्वच्छ प्रतियों को तैयार करना
  • प्रतियों के मिलान और अन्य कार्यो में अपने सहायको को आवश्यक सहायता प्रदान करना
  • पत्रवाहक पुस्तिका में सभी निर्गत की जाने वाली डाक का अंकन एवं पर्यवेक्षण करना
  • पत्रों को निर्गमन करने से पूर्व पत्र के सभी संलग्नकों की जांच करना

समीक्षा RO (Review Officer) कैसे बने? (FAQ)

समीक्षा अधिकारी क्या होता है ?

समीक्षा अधिकारी राज्य सचिवालय या सरकार द्वारा निर्धारित विभागों में समीक्षा कार्यो के लिए नियुक्त अधिकारी होता है।

समीक्षा अधिकारी बनने के लिए क्या करना होगा ?

समीक्षा अधिकारी बनने के लिए आपको सम्बंधित राज्य के लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली समीक्षा अधिकारी की परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा।

उत्तरप्रदेश समीक्षा अधिकारी बनने के लिए क्या करें ?

उत्तरप्रदेश समीक्षा अधिकारी बनने के लिए आपको ऊपर दिए गए लेख के माध्यम से जानकारी प्रदान की गयी है। लेख के माध्यम से आप उत्तरप्रदेश समीक्षा अधिकारी बनने हेतु आवश्यक जानकारी प्राप्त कर सकते है।

समीक्षा अधिकारी के क्या कार्य होते है ?

समीक्षा अधिकारी के सभी कार्यो की सूची आपको ऊपर दिए गए लेख के माध्यम से प्रदान की गयी है। इसके माध्यम से आप सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर सकते है।

समीक्षा अधिकारी चयनित होने हेतु कितने चरण होते है ?

समीक्षा अधिकारी चयनित होने हेतु लोक सेवा आयोग द्वारा 2 चरणों में आयोजित की जाती है – प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा। अधिक जानकारी के लिए आप ऊपर दिए गए लेख की मदद ले सकते है।

Leave a Comment