Reserve Bank of India: रिजर्व बैंक देगा 40 लाख रुपये का इनाम, जानें क्या करना होगा

अगर आप भी तकनीकी चीजों में दिलचस्पी रखते है और आपको तकनीक में नए-नए इनोवेशन करने में मजा आता है तो आप भी रातों-रात लखपति बन सकते है. जी हाँ. देश में वित्तीय नीति को रेगुलेट करने वाला RBI आपको लखपति बनने का मौका दे रहा है. रिजर्व बैंक द्वारा डिजिटल पेमेंट को बेहतर बनाने के लिए पहली बार ग्लोबल हैकथॉन (Global Hackathon) का आयोजन किया जा रहा है. इसमें भाग लेने पर विजेता को Reserve Bank of India द्वारा 40 लाख रुपए का इनाम दिया जायेगा. अगर आप भी इसमें भाग लेना चाहते है तो इसके लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुके है चलिए जानते है इसके बारे में अधिक

क्या है RBI का ग्लोबल हैकथॉन (Global Hackathon)

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा देश में डिजिटल पेमेंट को और बेहतर बनाने के लिए पहली Global Hackathon का आयोजन किया जा रहा है. इस हैकथॉन का नाम ‘हार्बिंजर 2021’ (HARBINGER 2021) रखा गया है जिसमे की देश के सभी लोगो को प्रतिभाग करने का मौका मिलेगा. इसकी थीम Smarter Digital Payments रखी गयी है. इसके तहत RBI द्वारा डिजिटल पेमेंट्स की वर्तमान तकनीक को बेहतर बनाने, इसकी सेक्योरिटी को और मजबूत बनाने और इसके सुदूर क्षेत्रों तक पहुंचाने के लिए के लिए सुझाव मांगे गए है.

इस हैकथॉन में भाग लेने के लिए रजिस्ट्रेशन 15 दिसंबर से शुरू हो चुके है. इसके लिए इच्छुक लोग ऑनलाइन माध्यम से आवेदन कर सकते है.

करने होंगे ये काम

इस योजना की थीम Smarter Digital Payments रखी गयी है जिसके तहत रिज़र्व बैंक डिजिटल पेमेंट्स की सुविधा को और मजबूत बनाना चाहता है. इसमें प्रतिभागियों को इन चीजों पर इनोवेटिव समाधान दिखाने के लिए कहा गया है.

  • बिना कांटेक्ट के डिजिटल पेमेंट की तकनीक को और बेहतर बनाना
  • डिजिटल पेमेंट के लिए नई और आसान तकनीक ढूंढ़ना
  • डिजिटल पेमेंट में ऑथेन्टिकेशन मैकेनिज्म के नये इनोवेटिव तरीके
  • सुदूर क्षेत्रों तक भी इसकी पहुंच बढ़ाना
  • डिजिटल पेमेंट में होने वाली धोखाधड़ी रोकने के लिए सोशल मीडिया एनालिसिस मॉनिटरिंग टूल विकसित करना
  • पेमेंट मेथड को और मजबूत बनाना

ऐसे जीत सकते है 40 लाख रुपए

इस हैकथॉन में हिस्सा लेने वाले प्रतिभागियों को डिजिटल पेमेंट को और सरल, बेहतर और सुरक्षित बनने के लिए उद्योग के जानकारों का मार्गदर्शन हासिल करने और उन्हें अपने इनोवेटिव समाधान दिखाने का मौका मिलेगा. जिस भी प्रतिभागी का समाधान सबसे बेहतर होगा उसे RBI द्वारा इनाम दिया जायेगा. इसके लिए जजों की एक ज्यूरी हर एक वर्ग में विजेताओं का चयन करेगी.

पहले नंबर पर आने वाले प्रतिभागी को 40 लाख रुपए का इनाम दिया जायेगा जबकि दूसरे नंबर पर आने वाले प्रतिभागी को 20 लाख रुपए दिए जायेंगे.

ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में हुई है बढ़ोतरी

आपको बता दे की कोरोना के दौरान देश में ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में रिकॉर्डतोड़ वृद्धि हुई है. आकड़ों के मुताबित इंटरनेट बैंकिंग, ATM Card, डेबिट कार्ड, यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (UPI) और अन्य डिजिटल माध्यमों से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन में वृद्धि हुई है. ऑनलाइन ट्रांजेक्शन बढ़ने के साथ-साथ धोखाधड़ी के मामलों में भी वृद्धि हुई है इसलिए RBI द्वारा इस सिस्टम को बेहतर बनाने के लिए लगातार प्रयास किये जा रहे है.

Leave a Comment