प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान: आवेदन फॉर्म, सर्टिफिकेट के लाभ

केंद्र सरकार द्वारा देश के ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको को डिजिटली साक्षर बनाने के लिये प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (PMGDISHA-2022) शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिको को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी जिससे की वे विभिन डिजिटल डिवाइसेस (कंप्यूटर, मोबाइल फ़ोन, टेबलेट, लैपटॉप) का उपयोग करने में सक्षम हो सकेंगे। सरकार द्वारा देश के 6 करोड़ से भी अधिक लोगो को इस योजना के माध्यम से डिजिटल साक्षर बनाया जायेगा जिससे की वे आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करके कंप्यूटर सम्बंधित ज्ञान प्राप्त कर सकेंगे साथ ही इंटरनेट उपयोग की जानकारी से भी परिचित हो सकेंगे। आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बताने वाले है की प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (PMGDISHA-2022) क्या है ? इस योजना का उद्देश्य, लाभ और आवेदन के लिए आवश्यक पात्रता क्या-क्या है ? साथ ही लेख के माध्यम से आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान में आवेदन करने के प्रोसेस से भी अवगत कराया जायेगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (PMGDISHA)
प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान (PMGDISHA)

केंद्र सरकार द्वारा देश के ग्रामीण क्षेत्र के विकास हेतु सभी नागरिको को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की शुरुआत की गयी है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए प्रशिक्षण दिया जायेगा। योजना के अंतर्गत नागरिको को कंप्यूटर उपयोग, ईमेल भेजने और प्राप्त करने, इंटरनेट ब्राउज करने, गवर्नमेंट सर्विसेज की जानकारी और आवेदन करने की प्रक्रिया, विभिन प्रकार की उपयोगी जानकारी प्राप्त करने, डिजिटल पेमेंट करने सम्बंधित ट्रेनिंग दी जाएगी ताकि वे आसानी से तकनीक का उपयोग करके अपने जीवन की बेहतर बना सके। इस योजना में सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के पिछड़े वर्ग से आने वाले अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक वर्ग के नागरिक, महिलायें, आदिवासी, दिव्यांग और अन्य पिछड़े वर्ग से आने वाले नागरिको को प्राथमिकता से शामिल किया गया है। योजना में प्रत्येक ग्रामीण परिवार से एक व्यक्ति का चयन करके डिजिटल ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी साथ ही कोर्स के अंत में असेसमेंट पास करने वाले उमीदवारो को सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जायेगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान, Highlights

योजना का नाम प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान
योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक को डिजिटल साक्षर बनाना
लांच की गयी प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी द्वारा
लाभार्थी ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक
कोर्स की अवधि 20 घंटे
क्रियान्वयन विभाग इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY)
आधिकारिक वेबसाइट https://www.pmgdisha.in/
आवेदन का माध्यम ऑनलाइन

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान, उद्देश्य

आधुनिक युग कंप्यूटर का युग है। वर्तमान में सरकार द्वारा सभी सेवाओं को ऑनलाइन किया जा रहा है ऐसे में सभी को डिजिटल साक्षर होना बहुत आवश्यक है। हमारे देश में अधिकांश ग्रामीण आबादी संसाधनों की कमी के कारण और पर्याप्त प्रशिक्षण ना मिलने के कारण डिजिटल रूप से साक्षर नहीं होती जिससे की उन्हें विभिन समस्याओ का सामना करना पड़ता है। वर्तमान में विभिन सेवाओं का उपयोग करने के लिए कंप्यूटर और इंटरनेट चलाने का ज्ञान होना आवश्यक है जिससे की आसानी से सेवाओं का उपयोग किया जा सके। इन सभी समस्याओ को ध्यान में रखते हुये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान की शुरुआत की गयी है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा देश के ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा जिसके अंतर्गत उन्हें कंप्यूटर चलाने, ईमेल भेजने और प्राप्त करने, इंटरनेट का इस्तेमाल करके विभिन सूचनाएँ प्राप्त करने और डिजिटल पेमेंट करने सम्बंधित प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा जिससे की वे तकनीक के बेसिक उपयोग से परिचित हो सके। इससे नागरिको को प्रतिदिन के जीवन में तकनीक का उपयोग करने सम्बंधित प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।

CSC Digital Seva: अपना डिजिटल सेवा केंद्र पंजीकरण, CSC ID रजिस्ट्रेशन 2022, जाने यहाँ

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के माध्यम से प्रशिक्षण प्राप्त सभी नागरिको को ट्रेनिंग के बाद असेसमेंट के प्रोसेस से भी गुजरना पड़ेगा। इसमें उत्तीर्ण सभी नागरिको को सरकार द्वारा डिजिटल साक्षरता सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जायेगा। योजना में प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को डिजिटल ट्रेनिंग दी जाएगी जिससे की सभी परिवारजनों को लाभ मिल सके।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान, विशेषताएँ

  • इस योजना को केंद्र सरकार के विज़न डिजिटल इंडिया के तहत लांच किया गया है जिसके माध्यम से सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको को डिजिटल तकनीक के उपयोग सम्बंधित बेसिक जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको के जीवन को आसान बनाने और उन्हें कंप्यूटर, इंटरनेट और डिजिटल पेमेंट सम्बंधित जानकारी प्रदान करने के लिए योजना के तहत प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा।
  • सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से देश के 40 फीसदी परिवारों के कम से कम एक सदस्य को इस योजना के माध्यम से प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। सरकार द्वारा पूरे देश के कम से कम 6 करोड़ नागरिको को इसमें शामिल किया जायेगा।
  • सभी एनरोल कर चुके नागरिको को क्षेत्र की आधिकारिक भाषा के माध्यम से ट्रेनिंग दी जाएगी। इसमें नागरिको को 20 घंटे की ट्रेनिंग करना आवश्यक होगी जिसके पश्चात वे असेसमेंट प्रक्रिया में भाग ले सकेंगे।
  • इस कोर्स में आवेदन करने के लिए किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जायेगा। पात्र परिवार अपने परिवार के किसी सदस्य का इस योजना में नामांकन करवा सकते है।
  • ट्रेनिंग पीरियड खत्म होने के बाद प्रशिक्षुओं को असेसमेंट की प्रक्रिया से गुजरना पड़ेगा। इस असेसमेंट को NIELET, NIOS, IGNOU, NIESBUD, HKLC, ICTACT के द्वारा पूरा करवाया जायेगा।
  • कैंडिडेट को असेसमेंट में 25 क्वेश्चन पूछे जायँगे जिनमे से 7 सवालो के सही जवाब देने पर वे उत्तीर्ण माने जायेंगे। सभी उत्तीर्ण कैंडिडेट को सरकार द्वारा डिजिटल साक्षरता सम्बंधित सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जायेगा।
  • ट्रेनिंग प्रदान करने के लिए अधिकृत ट्रेनिंग सेंटर, एनजीओ, इंडस्ट्री, जन-सेवा केंद्र, अधिकृत शिक्षण संस्थान, PMGDISHA संस्थाओ को अधिकृत किया गया है। इनके माध्यम से सभी टार्गेटेड कैंडिडेट को ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी।
  • पात्र कैंडिडेट को चिन्हित करने की जिम्मेदारी डिस्ट्रिक्ट ई-गवर्नेंस सोसाइटी (DeGS), ग्राम पंचायत के प्रतिनिधियों और ब्लॉक डेवलपमेंट के अधिकारियो की होगी जिसके लिए CSC-SPV के माध्यम से योजना का क्रियान्वयन किया जायेगा।

अब पेंशनभोगी घर बैठे बनवाये डिजिटल जीवन प्रमाणपत्र, ऐसे करें आवेदन

ये है आवश्यक पात्रतायें

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान में आवेदन करने के लिए सरकार द्वारा निम्न पात्रतायें निर्धारित की गयी है।

  • आवेदक को भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • सिर्फ ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले नागरिक ही योजना में आवेदन करने के पात्र है।
  • आवेदन करने के लिए आवेदक की न्यूनतम आयु 14 वर्ष रखी गयी है।
  • अधिकतम 60 वर्ष तक के नागरिक ही इस योजना में आवेदन कर सकते है।

योजना में आवेदन करने के लिए नागरिको के पास आधार कार्ड, निवास प्रमाणपत्र, आयु प्रमाणपत्र और पासपोर्ट साइज फोटो होनी आवश्यक है। साथ ही उन्हें सरकार द्वारा निर्धारित की गयी अन्य पात्रताओं को भी पूरा करना होगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान, आवेदन प्रक्रिया

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान में आवेदन करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://www.pmgdisha.in पर जायें।

पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षारता अभियान PM GRAMIN DIGITAL SAKSHARTA ABHIYAAN ONLINE

  • होमपेज पर आपको DIRECT CANDIDATE का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे।

 ऐसे करे आवेदन PM GRAMIN DIGITAL SAKSHARTA ABHIYAAN ONLINE REGISTRATION PROCESS

  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जायेगा। इसमें लॉगिन पेज के नीचे आपको REGISTER का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे। इसके बाद आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुल जायेगा।

आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन प्रोसेस ONLINE REGISTRATION PM GRAMIN DIGITAL SAKSHARTA ABHIYAAN PROCESS

  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको अपना आधार नंबर, नाम, लिंग और डेट ऑफ़ बर्थ दर्ज करना होगा। इसके बाद सहमति के विकल्प पर टिक करके ADD के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।

 ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन PM GRAMIN DIGITAL SAKSHARTA ABHIYAAN, AISE KARE AVEDAN

  • इसके बाद अगले पेज पर आपको ई–केवाईसी (e-KYC) की प्रक्रिया को पूरा करना होगा। फिंगरप्रिंट स्कैन और रेटिना स्कैन के माध्यम से इस प्रक्रिया को पूरा किया जा सकता है। अगर आपके पास उपयुक्त डिवाइस उपलब्ध है तो आप इन विकल्पों का उपयोग कर ई–केवाईसी प्रक्रिया को पूरी कर सकते है। अगर आपके पास डिवाइसेस उपलब्ध नहीं है तो मोबाइल OTP के माध्यम से ई–केवाईसी प्रक्रिया को पूरी कर सकते है।
  • ई–केवाईसी वेलिडेशन प्रक्रिया पूरी करने के बाद आवेदन फॉर्म को अंतिम रूप से जमा कर दे। इसके बाद आपको यूजरनेम और पासवर्ड प्रदान किया जायेगा। इसे आगे की प्रक्रिया के लिए सुरक्षित कर ले।

ये है लॉगिन की प्रक्रिया

आधिकारिक पोर्टल पर लॉगिन करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट https://www.pmgdisha.in पर जायें।

पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षारता अभियान PM GRAMIN DIGITAL SAKSHARTA ABHIYAAN ONLINE

  • होमपेज पर आपको लॉगिन का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक कर दे।

 ऑनलाइन लॉगिन प्रोसेस PM GRAMIN DIGITAL SAKSHARTA ABHIYAAN ONLINE LOGIN PROCESS

  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जायेगा। इसमें आपको ईमेल ID और पासवर्ड दर्ज करना होगा। इसके बाद LOGIN के ऑप्शन पर क्लिक कर दे।

 ऐसे करें आवेदन ONLINE LOGIN PM GRAMIN DIGITAL SAKSHARTA ABHIYAAN PROCESS

  • इस प्रकार से आप आधिकारिक पोर्टल की सहायता से लॉगिन प्रक्रिया को पूरी कर सकते है।

ये सुविधायें भी है उपलब्ध

सरकार द्वारा आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से एप्लीकेशन को ट्रैक करने की सुविधा भी प्रदान की गयी है। होमपेज पर TRACK APPLICATION के ऑप्शन पर क्लिक करके अपनी ईमेल ID की सहायता से नागरिक एप्लीकेशन ट्रैक कर सकते है। साथ ही आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से सभी नागरिको को योजना सम्बंधित आवेदन में किसी प्रकार की असुविधा होने पर शिकायत दर्ज करने की सुविधा भी प्रदान की गयी है। आधिकारिक पोर्टल पर GRIEVANCES REDRESSEL के ऑप्शन पर क्लिक करके और अन्य फॉर्मलिटीज पूरी करके वे इस सुविधा का लाभ ले सकते है।

योजना सम्बंधित अकसर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान क्या है ?

इस योजना को केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया है। योजना के माध्यम से सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए ट्रेनिंग प्रदान की जाएगी।

इस योजना का क्या लाभ है ?

इस योजना के माध्यम से ग्रामीण नागरिक डिजिटल रूप से साक्षर हो सकेंगे जिससे की उन्हें विभिन सुविधाओं का उपयोग करने में आसानी होगी। साथ ही इंटरनेट उपयोग के माध्यम से वे आसानी से विभिन सरकारी योजनाओ में आवेदन भी कर सकेंगे।

योजना में रजिस्ट्रेशन करने का प्रोसेस क्या है ?

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के तहत रजिस्ट्रेशन करने के लिए ऊपर दिया गया लेख पढ़े। इसमें बताये गये स्टेप्स को फॉलो करके आप योजना में आवेदन कर सकते है।

इस योजना में कौन-कौन आवेदन कर सकता है ?

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान में रजिस्ट्रेशन करने के लिए ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक ही पात्र है। साथ ही उन्हें सरकार द्वारा निर्धारित की गयी अन्य पात्रताओं को भी पूरा करना होगा।

Leave a Comment