PM Kisan Yojana: इन 7 लाख किसानों को लौटानी होगी 10वीं किस्त की रकम, जल्दी ही जारी होंगे नोटिस

PM Kisan Yojana: दोस्तों देश की केंद्र सरकार देश के अन्नदाता किसानों के लिए कई योजनाओं की शुरुआत करते रहते हैं। जिससे कि देश के किसानों का विकास हो सके और उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार आये। ऐसी ही एक योजना की शुरुआत केंद्र सरकार के द्वारा की गयी। इस योजना को पीएम किसान सम्मान निधि योजना के नाम से जाना जाता है। इसके तहत सालाना 6000 रूपये की धनराशि 2-2 हजार की किश्तों में तीन बार किसानों के खाते में भेजे जाते हैं। इस बार पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत 10वीं किश्त सरकार द्वारा 1 जनवरी 2022 को किसानों के खाते में भेजी गयी थी। लेकिन प्राप्त हुई जानकारी से पता चला है कि इस नर की किश्त में कई अपात्र किसानों के खातों में योजना की किश्त पहुंची है। रिपोर्ट्स की मानें तो उन सभी किसानों को इस योजना में मिली 10वीं किश्त की धनराशि वापस करनी होगी। आईये आपको इसकी पूरी जानकारी देते हैं।

अपात्र किसानों के खाते में पहुंची किश्त

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत मिलने वाली किश्तों में योजना की 10वीं किश्त 1 जनवरी 2022 को किसानों के खाते में भेजी गयी थी। कुछ रिपोर्ट्स का कहना है कि इस बार की किश्त का पैसा कुछ अपात्र किसानों के खाते में पहुंची है। बताया जा रहा है कि ये किसान उत्तर प्रदेश के हैं। जी हाँ उत्तर प्रदेश के कई अपात्र किसान जो कि एक तरफ तो किसी अन्य कमाई स्रोत से प्राप्त पैसे का इनकम टैक्स भर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर गरीब किसानों के लिए चलाई जाने वाली योजनाओं का लाभ ले रहे हैं। जानकारी के लिए बता दें कि ऐसे अपात्र किसानों को योजना का पैसा वापस करना होगा।

7 लाख किसानों को लौटानी होगी 10वीं किश्त की रकम

दोस्तों जैसा कि हमने आपको बताया कि उत्तर प्रदेश के कई किसान जो कि पीएम किसान सम्मान निधि योजना के पात्र नहीं हैं, वो इस योजना का लाभ ले रहे हैं। और कई अपात्र किसानों के खाते में इस योजना की 10वीं किश्त पहुंची है। एक जानकारी के मुताबिक पता चला है कि इन अपात्र किसानों की संख्या लगभग 7 लाख से अधिक होगी। ये 7 लाख किसान उत्तर प्रदेश के बताये जा रहे हैं। सरकार का कहना है कि सभी किसान जो कि इस योजना के पात्र नहीं हैं वो योजना की 10वीं किश्त में मिले 2 हजार रूपये वापिस कर दें। अन्यथा सरकार द्वारा इन अपात्र किसानों के प्रति कुछ कदम उठाये जा सकते हैं।

चुनाव के बाद जारी होंगे नोटिस

अपात्र किसानों को मिली 10वीं किश्त की यह राशि वापस करनी होगी। योजना की इस राशि को वापस करने का किसानों की पास कम ही समय है। रिपोर्ट्स से जानकारी मिली है कि यदि 7 लाख अपात्र किसान योजना के पैसे राज्य विधानसभा चुनाव ख़तम होने से पहले या चुनाव तक वपन नहीं करते हैं तो इन किसानों को पैसे वापस करने के लिए वसूली नोटिस भेजा जायेगा। अतः सभी अपात्र किसानों के पास योजना की किश्त लौटाने का मात्र विधानसभा चुनाव तक का समय है। इसके बाद सीधे उन्हें वसूली नोटिस के तहत सूचित किया जायेगा।

Leave a Comment