PM Kisan Yojana: Waiting for approval by state का क्या मतलब होता है, यहाँ पढ़े

केंद्र सरकार ने PM Kisan के तहत प्रधानमन्त्री किसान सम्मान निधि की 10वीं क़िस्त को किसानों के खाते में ट्रांसफर करने की पूरी तैयारियां कर ली है. जी हाँ इसी महीने की 15 तारीख को प्रधानमन्त्री द्वारा इस योजना की 10वीं क़िस्त रिलीज़ कर दी जाएगी. इस योजना के पात्र किसानों में से बहुत सारे ऐसे किसान भी है जिनके अकाउंट का स्टेटस देखने पर Waiting for approval by state लिखा हुआ दिखाई देता है. ऐसे में वे परेशान हो जाते है की उन्हें इस क़िस्त का पैसा मिलेगा या नहीं. चलिए बताते है क्या है इसका मतलब और कैसे कर सकते है आप इसे सही

ऐसे चेक करे अपना PM Kisan स्टेटस

जो भी किसान इस योजना के पात्र है वे इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर अपना बेनेफिशरी स्टेटस चेक कर सकते है इसके लिए उन्हें ये स्टेप्स फॉलो करने होंगे.

  • आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाए.
  • होमपेज पर Farmer Section में Beneficiary Status पर क्लिक करें.
  • अब आपके सामने आधार नंबर, अकाउंट नंबर और मोबाइल नंबर से Beneficiary Status चेक करने का ऑप्शन होगा
  • इनमे से आप जिस नंबर से भी स्टेटस चेक करना चाहते है वह नंबर भर दें.
  • इसके बाद Get Data पर क्लिक कर लें.

इन आसान तरीको से आप जान सकते है की आपके खाते में पैसे आये है या नहीं.

क्यों लिखा हुआ आता है Waiting for approval by state

अगर आप अपना स्टेटस चेक कर रहे है और इसमें Waiting for approval by state लिखा हुआ आ रहा तो इसका मतलब आपको इसकी अगली क़िस्त को पाने के लिए थोड़ा इन्तजार करना पड़ेग. अगर स्टेटस में यह लिखा हुआ आता है तो इसका मतलब होता है की राज्य सरकार द्वारा आपके आवेदन की जांच की जा रही है. अगर एक बार यह जांच पूरी हो जाती है और इसमें आपका आवेदन सही पाया जाता है तो राज्य सरकार द्वारा आपके अकाउंट में इस योजना की क़िस्त भेजने के लिए अप्रूवल दे दिया जाता है.

बहुत सारे किसान इस योजना का फॉर्म फिल करते समय भी मिस्टेक कर देते है जिससे उनके इस योजना के पैसे अटक जाते है और उन्हें इस योजना का लाभ नहीं मिल पाता इसलिए जरुरी है की आप इन गलतियों को सुधार ले.

दिसंबर में आने वाली है 10 वीं क़िस्त

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत देश के किसानों को हर साल 6,000 हजार रुपए आर्थिक सहायता के रूप में दिए जाते है. इस योजना की राशि सीधे किसानों के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाती है. देश के छोटे और मंझोले किसानों को इस योजना का फायदा दिया जाता है. सरकार द्वारा दिसंबर महीने की 15 तारीख को इस योजना की 10वीं क़िस्त भेजी जाने वाली है इसलिए जरुरी है की जिन भी किसानो के फॉर्म में मिस्टेक है वे उन्हें जल्दी से दूर कर लें.

ऐसे सुधार सकते है फॉर्म की गलतियां

फॉर्म की गलतियों को दूर करने के लिए ऑफिसियल वेबसाइट में जाकर फार्मर कार्नर में Help Desk पर जायें. इसमें जाकर आप आधार नंबर, अकाउंट नंबर या मोबाइल नंबर भरकर इसके फॉर्म में हुई मिस्टेक को सुधार सकते है.

Leave a Comment