पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022: हेल्थ कार्ड रजिस्ट्रेशन

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना: उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को कैशलेस इलाज की सुविधा मुहैया करवाने के लिए पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से लाभार्थियों को राज्य के निजी अस्पतालों में सामान्य व गभीर बीमारी में प्रतिवर्ष 5 लाख रूपये तक के कैशलेस इलाज की सुविधा प्राप्त हो सकेगी, जिसके लिए नागरिकों को स्वास्थ्य कार्ड जारी किए जाएँगे, इन कार्ड के माध्यम से लाभार्थी योजना के अंतर्गत एम्पैनलड अस्पतालों में अपना इलाज करवा सकेंगे, जिसमे लगने वाले खर्चे का पूरा वहन राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा।

राज्य सरकार द्वारा जारी पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का लाभ कर्मचारियों और पेंशनर्स को किस तरह प्राप्त होगा, योजना में आवेदन के लिए आवेदक को इसकी किन पात्रता व दस्तावेजों की आवश्यकता होगी और वह किस तरह आवेदन की प्रक्रिया को पूरा का सकेंगे, इसकी पूरी जानकारी आप हमारे लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना

Article Contents

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना 2022

देश में आम नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधाओं का निःशुल्क लाभ प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के माध्यम से नागरिकों सरकारी व प्राइवेट अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा प्रदान करती है, ऐसी ही एक योजना का आरंभ आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य की तर्ज पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना किया गया है। इसके लिए योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा निजी अस्पतालों में प्रति परिवार के प्रति सदस्य को 5 लाख रूपये तक के इलाज की सुविधा राज्य के कर्मचारियों व पेंशनर्स को प्रदान करने के लिए साशनादेश जारी होने के बाद राज्य के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री अमित मोहन प्रसाद द्वारा योजना को जल्द लागू करने का आदेश जारी कर दिया गया है। इस योजना के माध्यम से कर्मचारियों और पेंशनर्स को कैशलेस कार्ड जारी किए जाएँगे, जिससे वह आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत आने वाले निजी अस्पतालों में इलाज की सुविधा प्राप्त कर सकेंगे।

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Kaushal Chikitsa Yojana : Details

योजना का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना
शुरू की गई उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
साल 2022
आवेदन माध्यम ऑनलइन प्रक्रिया
योजना के लाभार्थी राज्य के सरकारी कर्मचार और पेंशनर्स
उद्देश्य लाभार्थियों को कैशलेस इलाज की सुविधा मुहैया करवाना
श्रेणी राज्य सरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइट जल्द जारी की जाएगी

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस योजना का उद्देश्य

राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस योजना का आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के कर्मचारियों, पेंशनर्स और उनके परिवारों को स्वास्थ्य संबंधी सुविधाओं का लाभ प्रदान करवाना है, जिसके माध्यम से राज्य के नागरिक बिना किसी आर्थिक समस्या के सामान्य व गंभीर बिमारी के इलाज के लिए योजना के अंतर्गत शामिल अस्पतालों में करवा सकेंगे। इससे राज्य के उन सभी सरकारी कर्मचारियों को लाभ प्राप्त हो सकेगा जो आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत कवर नहीं हो पाते और किसी भी बीमारी के इलाज के लिए उन्हें लाखों रूपये खर्च करने पड़ते हैं, ऐसे सभी सरकारी कर्मचारी और पेंशनर्स इस योजना के माध्यम से बिना किसी खर्चे के निःशुल्क कैशलेस इलाज की सुविधा प्राप्त कर स्वस्थ और बेहतर जीवन यापन कर सकेंगे।

योजना के संचालन हेतु संस्थान और चिकित्सालय को जारी फंड

राज्य सरकार द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस योजना योजना के तहत लाभार्थियों को सुविधा का लाभ प्रदान करने के लिए हेल्थ कार्ड बनवाने की जिम्मेदारी स्टेट एजेंसी फॉर हेल्थ एंड इंटीग्रेटेड सर्विसेज को दी गई है। जिसके माध्यम से सरकार का मुख्य लक्ष्य राज्य के 30 लाख से अधिक नागरिकों को स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ प्रदान किया जाएगा। सरकारी चिकित्सा संस्थानों, निजी अस्पतालों व मेडिकल कॉलेजों में नागरिकों को हेल्थ कार्ड के माध्यम से निःशुल्क इलाज की सुविधा दी जाएगी, जिसके लिए जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ और मेडिकल कॉलेजों और चिकित्सा संस्थानों को 200 करोड़ रूपये का कॉर्पस बनाया जाएगा।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना की विशेषताएँ

  • Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Kaushal Chikitsa Yojana की शुरुआत राज्य सरकार द्वारा सरकारी कर्मचारियों और पेंशनर्स को स्वास्थ्य सुविधा का लाभ प्रदान करने के लिए की गई है।
  • योजना में कर्मचायरियों और पेंशनर्स को स्टेट हेल्थ कार्ड के माध्यम से निःशुल्क स्वास्थ्य सेवाएँ सरकारी व निजी अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों से प्राप्त हो सकेंगी।
  • लाभार्थी कर्मचारियों और पेंशनर्स को योजना का लाभ प्रदान करने के लिए स्टेट एजेंसी फॉर हेल्थ एंड इंटीग्रेटेड सर्विसेज द्वारा हेल्थ केयर कार्ड बनवाए जाएँगे।
  • राज्य के विभाग अध्यक्षों की जिम्मेदारी होगी की वह उनके विभाग के कर्मियों व पेंशनर्स को हेल्थ कार्ड की सुविधा प्रदान करें।
  • सरकार द्वारा जिला अस्पतालों के लिए 100 करोड़ और मेडिकल कॉलेजों और चिकित्सा संस्थानों को 200 करोड़ रूपये का कॉर्पस जारी किया जाएगा।
  • योजना के कारनवयन हेतु संयुक्त निर्देशक के अधीन एक पृथक सेल की स्थापना की जाएगी जिसमे दो चिकित्स्क, दो डाटा एनालिस्ट, दो कंप्यूटर ऑपरेटर, एक सॉफ्टवेयर डेवलपर और एक सहायक स्टाफ शामिल किए जाएंगे।
  • इस योजना के तहत लाभार्थियों का डाटा संरक्षित करने के लिए एक पोर्टल डेवलपमेंट और स्थापना हेतु स्टेट डाटा सेंटर में सर्वर की व्यवस्था की जाएगी।
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना में सरकारी चिकित्सालयों को कॉर्पस फंड के माध्यम से इलाज पर होने वाले खर्चे का 50% धनराशि देनी होगी, जबकि बाकी 50% राशि विभाग द्वारा उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने पर प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना के तहत लाभार्थी नागरिकों के इलाज में होने वाले खर्चे का पूरा वहन राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभ

योजना के तहत आवेदक लाभार्थियों को मिलने वाले लाभ की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के माध्यम से लाभार्थी कर्मचारियों को प्रतिवर्ष 5 लाख रूपये के इलाज की सुविधा आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत आने वाले अस्पतालों में निःशुल्क प्राप्त हो सकेगी।
  • योजना का लाभ कर्मचारियों, पेंशनर्स और उनके आश्रितों को प्रदान करने के लिए उन्हें स्वास्थ्य कार्ड जारी किए जाएँगे।
  • सरकार द्वारा जारी योजना में नागरिकों को 1574 बीमारियों के इलाज के लिए निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा प्राप्त हो सकेगी, जिसमे किडनी और कार्नियल ट्रांसप्लांट को जोड़ने के निर्देश मुख्यमंत्री जी द्वारा दिए गए हैं।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के 30 लाख से अधिक नागरिकों को योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा जिला अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों और चिकित्सा संस्थानों को दी जाने वाली कॉर्पस की धनराशि को सरकारी बैंक में पृथक खाता खोलकर रखा जाएगा।
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के माध्यम से कर्मचारी व पेंशनर्स बिना किसी आर्थिक समस्या के इलाज की सुविधा प्राप्त कर बेहतर जीवन यापन कर सकेंगे।
  • योजना के तहत लाभार्थियों को स्वास्थ्य संबंधी सेवाओं का लाभ प्रदान कर उन्हें आत्मनिर्भर और सशक्त बनाया जा सकेगा।

योजना के तहत जारी वित्तीय सहायता

  • इस योजना में राज्य के मेडिकल कॉलेज, चिकित्सा विश्वविद्यालय, चिकित्सा संस्थानों को सरकार द्वारा धनराशि उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से 200 करोड़ का कॉर्पस बनाया जाएगा।
  • योजना के इस कार्पस में पहली किश्त के तौर पर अधिकतम 50% अग्रिम धनराशि उपलब्ध करवाई जाएगी।
  • इन अस्पतालों को दी गई अग्रिम राशि का 50% की उपयोगिता प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने पर अगली किश्त की राशि जारी की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी परिवारों को 1102 रूपये की राशि सचिव को देनी होगी।
  • पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना में चिकित्सा अस्पतालों को 100 करोड़ रूपये की राशि से कॉर्पस निर्माण किया जाएगा।
  • योजना में चिकित्सा संस्थान द्वारा दिए गए 50% राशि का उपयोग प्रमाण पत्र उपलब्ध करवाने पर अगली किश्त की राशि जारी की जाएगी।

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Kaushal Chikitsa Yojana की पात्रता

योजना में आवेदन के लिए आवेदक को इसकी निर्धारित पात्रता को पूरा करना होगा, जिन्हे पूरा करने वाले नागरिकों को ही योजना का लाभ प्राप्त हो सकेगा, इसके लिए योजना की पात्रता की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई योजना में आवेदन करने वाले नागरिक उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए राज्य के सरकारी कर्मचारी और पेंशनर्स पात्र होंगे।
  • आवेदक के पास योजना में आवेदन हेतु सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है।
योजना में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

राज्य सरकार द्वारा जारी योजना में आवेदन के लिए आवेदक के पास सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है, बिना पूरे दस्तावेजों के आवेदन की प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकेगी, इसके लिए सभी दस्तावेजों की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना आवेदन प्रक्रिया

राज्य सरकार द्वारा आरंभ की गई पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए जो नागरिक योजना में आवेदन करना चाहते है, उन्हें अभी थोड़ा इंतज़ार करना होगा। राज्य सरकार द्वारा योजना को आरंभ करने की केवल घोषणा ही की गई है, जिसमे आवेदन के लिए कोई आधिकारिक वेबसाइट या पोर्टल जारी नहीं किया गया है, जैसे ही सरकार द्वारा योजना में आवेदन की प्रक्रिया को शुरू करने से संबंधित कोई आधिकारिक सूचना जारी की जाती है, तो इसकी जानकारी हम आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा देंगे, इसके लिए आप हमारी वेबसाइट से जुड़े रह सकते हैं।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Kaushal Chikitsa Yojana क्या है ?

Pandit Deendayal Upadhyay Rajya Karmchari Cashless Kaushal Chikitsa Yojana उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के सरकारी कर्मचारी व पेंशनर्स को स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के लिए आयुष्मान भारत योजना के तर्ज पर शुरू की गई योजना है, जिसके माध्यम से कर्मचारियों और उनके परिवार को सामान्य व गंभीर बीमारी पर निःशुल्क स्वास्थ्य सुविधा प्राप्त हो सकेगी।

योजना का लाभ कीन्हे प्राप्त हो सकेगा ?

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना का लाभ राज्य के सरकारी कर्मचारी, पेंशनर्स और उनके आश्रितों को प्राप्त हो सकेगा।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना के लाभार्थियों को क्या लाभ प्रदान किया जाएगा ?

योजना के माध्यम से लाभार्थियों को पाँच लाख रूपये तक की स्वास्थ्य सुविधा निःशुल्क प्रदान की जाएगी, जिसका वहन राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा, इसके लिए लाभार्थियों को स्टेट हेल्थ कार्ड भी जारी किए जाएँगे, जिससे वह सरकारी या निजी अस्पतालों से अपना इलाज करवा सकेंगे।

क्या योजना में आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है ?

नहीं, अभी सरकार द्वारा योजना में आवेदन के लिए आवेदन की प्रक्रिया को शुरू नहीं किया गया है, जिसके लिए सरकार जल्द ही आधिकारिक वेबसाइट जारी करेगी, अभी केवल विभाग अध्यक्षों को उनके कर्मचारियों व पेंशन होल्डर्स को हेल्थ कार्ड जारी करने की जिम्मेदारी दी गई है।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा योजना से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है और इसकी आवेदन प्रक्रिया के आरम्भ होने की जानकारी भी जल्द ही आपको प्रदान करवा देंगे, इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं, हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment