NEFT क्या है,NEFT ट्रांसफर कैसे करें और NEFT ट्रांसफर लिमिट।

NEFT क्या है:- NEFT आज के समय में पूरे भारत देश में हर कोई डिजिटल पेमेंट का इस्तमाल कर रहा हैं, और डिजिटल इंडिया (DIGITAL INDIA) को बढ़ावा दे रहा है। अब चाहे एक बैंक अकाउंट से किसी दूसरे अकाउंट में पैसे ट्रांसफर करने हो या किसी भी प्रकार की पेमेंट करनी हो अब चाहे वो बिल पेमेंट हो, रिचार्ज हो, शॉपिंग माल्स हो य किसी भी प्रकार की चीज़ हर तरफ डिजिटल पेमेंट चल रही है, छोटे ठेले वाला भी, सब्जी वाला भी आजकल डिजिटल पेमेंट का लुप्त उठा रहे है।

NEFT क्या है,NEFT ट्रांसफर कैसे करें और NEFT ट्रांसफर लिमिट।

डिजिटल पेमेंट से जिंदगी आसान हो गई है। ऐसे ही डिजिटल पेमेंट का हिस्सा है NEFT ( NATIONAL ELECTRONIC FUND TRANSFER ) यह एक भुगतान प्रणाली है जो एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में फण्ड ट्रांसफर की अनुमति देता है। NEFT इलेक्ट्रॉनिक रूप से किसी भी बैंक ब्रांच से किसी व्यक्ति को फण्ड ट्रांसफर कर सकता है , इसलिए NEFT फण्ड ट्रांसफर करने के सबसे लोकप्रिय तरीकों में से एक बन गया है। ना कही बाहर बैंक जाने की जरुरत है घर बैठे बीएस पैसे ट्रांसफर हो जाते है। अब NEFT ट्रांसफर कैसे करते है ? इसकी ट्रांसफर लिमिट क्या है ? क्या लाभ है , यह सब जानने के लिए इस लेख को अंत तक पढ़े।

NEFT के माध्यम से ऑनलाइन फण्ड ट्रांसफर कैसे करे ?

NEFT की मदद से फण्ड ट्रांसफर निम्नलिखित तरीकों से किया जा सकता है :-

  • STEP1 :- सबसे पहले आपको अपने लॉगिन आईडी और पासवर्ड का इस्तमाल करके अपने ऑनलाइन बैंक अकाउंट में लॉगिन करना होगा।
  • STEP2 :- लॉगिन करने के बाद फिर NEFT FUND TRANSFER सेक्शन में जाएं।
  • STEP3 :- अब इसके बाद लाभार्थी का नाम , बैंक अकाउंट नंबर, और IFSC कोड डालकर ऐड कर दे ।
  • STEP4 :- अब लाभार्थी के ऐड होने के बाद, आप NEFT ट्रांसफर शुरू कर सकते हो।
  • STEP5 :- अब जो अमाउंट आपको भेजना है वो लिखे और भेज दे।

NEFT में ट्रांसक्शन बैचो में किये जाते है हर आधे घंटे में एक बैच होता है और ये सुबह 8 बजे से शाम 7 बजे तक होता है इसलिए यह एक क्लियरेंस सिस्टम के आधार पर काम करता है।

HDFC Net Banking Registration Online

NEFT के माध्यम से ऑफलाइन फण्ड ट्रांसफर

NEFT ऑफलाइन फण्ड ट्रांसफर करने के लिए आपको किसी भी नेट बँकिंग की या ऑनलाइन ट्रांसस्टिन की आवश्यकता नहीं होती। आप किसी भी पास के सम्बंधित बैंक जाकर ये काम MANUALLY करना होगा। इस प्रक्रिया को ऑफलाइन करने के लिए नीचे दिए गए स्टेप्स को :-

NEFT ट्रांसफर कौन – कौन कर सकता है ?

  • STEP1 – सबसे पहले अपने पास के सम्बंधित बैंक में जाए।
  • STEP2– बैंक में अब आपको NEFT का फॉर्म भरना है ,इस STEP के बाद ये FOLLOWING DETAILS अपने BENEFICIARY के बारे में उस फॉर्म में प्रदान करे।
  • STEP3 – फिर अमाउंट राशि भरे जो आपको ट्रांसफर करानी है।
  • STEP4 – अब अपने फॉर्म जो भरा था उसको सबमिट कर दें।
  • STEP5 – अब बैंक के कर्मचारी आपके फॉर्म को AUTHORIZE करेंगे और पैसे ट्रांसफर करेंगे।

NEFT की सुविधा प्रदान करने वाले बैंक शाखाओं की लिस्ट भारतीय रिज़र्व बैंक प्रदान करता है। जिसका मतलब है की व्यक्ति इन बैंक शाखाओं की मदद से NEFT TRANSACTION कर सकता है। कोई भी व्यक्ति, फर्म या कॉर्पोरेट, जिसका भी NEFT की सुविधा देने वाले बैंक में खाता है , वो किसी भी वक़्त NEFT ट्रांसफर कर सकता है, और अगर किसी व्यक्ति का बैंक में खाता नहीं है तो भी वह NEFT– सक्षम शाखा में नकद जमा कर सकता है। बस उस व्यक्ति को अपने पते , मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी और बैंक के बारे में सभी जानकारी देनी होगी। इस तरीके से अधिकतम ट्रांसफर की राशि 50,000 रू. है।

NEFT ट्रांसफर की लिमिट क्या है ?

NEFT के जरिये ट्रांसफर किये जाने वाले अमाउंट की कोई अधिकतम व न्यूनतम लिमिट नहीं है। परन्तु नगद के माध्यम से ट्रांसफर करने वाले अमाउंट की 50000 की लिमिट है। हर एक बैंक के आधार पर हर एक ट्रांसक्शन के लिए टाइम और क्लियेरेंस की लिमिट अलग – अलग हो सकती है। अगर वैसे पैसे उसी बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किये जाते है तो बीएस कुछ सेकंड के अंदर ही उन्हें प्राप्त करने की उम्मीद की जा सकती है। परंतु जब अलग -अलग बैंक के बीच में इस तरह के ट्रांसक्शन होते है तब क्लियेरेंस का टाइम ज्यादा हो सकता है।

आप NEFT सेवा के साथ और क्या कर सकतें है ?

अब जैसे की आप जानते है की NEFT क्या है ,तो ये ध्यान देने के लिए है की NEFT की सेवा का इस्तमाल क्रेडिट कार्ड बकाया , EMI और अन्य भुगतान करने के लिए किया जा सकता है। इसी वजह से NEFT की सेवा सिर्फ  व्यक्तिगत फंड ट्रांसफर तक ही सीमित नहीं है।

NEFT का उपयोग करने के लाभ

NEFT ट्रांसफर प्रक्रिया में सबसे पहले आपको लाभार्थी की जानकारी दर्ज करनी होगी उसके बाद आपको किसी भी प्रकार की जानकारी देने की आवश्यकता नहीं है बस आपको लिस्ट से लाभार्थी को चुनना है , राशि दर्ज करनी है और फिर भेज दे , NEFT ट्रांसफर के कई फायदे है जो NEFT ट्रांसक्शन को सरल बना सकतें हैं।

  • आपको ट्रांसक्शन के लिए बैंक जाने की आवश्यकता नहीं है।
  • ट्रांसक्शन करने के लिए किसी भी पार्टी की उपस्थिति होना।
  • NEFT एक सरल प्रक्रिया है , ये एक मिनट के समय में किया जा सकता है और इसमें किसी भी तरह की औपचारिकता की जरूरत नहीं पढ़ती।
  • NEFT ने किसी भी तरीके के चोरी , फ्रॉड और फोर्जिंग को पूरी तरह से बंद कर दिया है।
  • इंटरनेट बैंकिंग कहि से भी शुरू की जा सकती है और इस्तमाल की जा सकती है जिससे व्यक्ति को किसी भी एक स्थान पर उपस्थित होने की जरुरत नहीं होती।
  • ट्रांसक्शन सफल होने पर एक SMS या ईमेल के माध्यम से जानकारी मिल जाती है।

NEFT से जुड़े कुछ जरुरी प्रश्न / उत्तर

NEFT की फुल फॉर्म क्या है ?

NATIONAL ELECTRONIC FUND TRANSFER .

NEFT में किस तरीके से पैसे ट्रांसफर कर सकतें हैं ?

NEFT के द्वारा आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से पैस ट्रांसफर कर सकतें हैं।

NEFT के माध्यम से FUND ट्रांसफर कैसे करें ?

फण्ड ट्रांसफर करने के सभी स्टेप्स ऊपर लेख में बताए गए हैं।

ट्रांसफर लिमिट क्या है ?

NEFT की कोई ट्रांसफर लिमिट नहीं है , पर अगर नगदी ट्रांसक्शन है तो लिमिट 50000 की है।

Leave a Comment