मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन फॉर्म, पात्रता व लाभार्थी सूची

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना ऑनलाइन आवेदन | Mukhyamantri Vatsalya Yojana Apply | Vatsalya yojana Application Form online | मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना एप्लीकेशन फॉर्म

हम सभी जानते हैं कि किस प्रकार से कोरोना संक्रमण ने पूरा विश्व को प्रभावित किया है। देश में कई ऐसे परिवार हैं जिन्होंने इस संक्रमण के कारण अपनों को खोया है और इसके चलते ऐसे परिवारों को आर्थिक ही नहीं बल्कि मानसिक रूप से भी काफी क्षति पहुंची है। प्रत्येक राज्य सरकार द्वारा अपने स्तर पर ऐसे परिवारों के लिए कई कदम उठाये गए हैं। ऐसे कई बच्चे जिन्होंने इस संक्रमण के कारण अपने माता-पिता को खोया है उत्तराखंड राज्य सरकार द्वारा उनकी सहायता हेतु मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 को आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत ऐसे सभी बच्चों को आर्थिक सहायता सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी, जिन्होंने इस कोरोना वायरस में अपने माता-पिता को खोया है।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना ऑनलाइन आवेदन | Mukhyamantri Vatsalya Yojana Apply
मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना ऑनलाइन आवेदन | Mukhyamantri Vatsalya Yojana Apply

आज के इस लेख में हम आपको मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना क्या है?, योजना का लक्ष्य ,लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, आवेदन प्रक्रिया, तथा आवश्यक दस्तावेज आदि के बारे में बताने जा रहे हैं। पाठकों से निवेदन है की वह Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2022 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी को प्राप्त करने के लिए हमारे इस आर्टिकल को अंत तक अवश्य पढ़ें।

Article Contents

Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2022 क्या है ?

02 अगस्त 2021 को माननीय मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी द्वारा मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना को मुख्य रूप से उत्तराखंड के ऐसे बच्चों के लिए शुरू किया गया जिन्होंने अपने माता-पिता को कोरोना वायरस संक्रमण के कारण खोया है। uttrakhand vatsalya yojana के तहत उत्तराखंड राज्य के ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता की मृत्यु कोरोना संक्रमण के कारण हुई है प्रदेश सरकार द्वारा ऐसे सभी बच्चों को 3000 रुपए प्रतिमाह आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किये जायेंगे। इस योजना के तहत मिलने वाली यह धनराशि उन सभी बच्चों को उनकी 21 वर्ष की आयु पूरी होने तक प्रदान की जाएगी। इतना ही नहीं सरकार द्वारा इस योजना के तहत बच्चों की शिक्षा का भी ध्यान रखा जायेगा। cm vatsalya yojana के तहत आने वाले लाभार्थियों को आर्थिक सहायता के रूप में दी जाने वाली धनराशि को उनके बैंक खाते में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (DBT)के माध्यम से प्रदान किया जायेगा।

सीएम वात्सल्य योजना – Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2022

आर्टिकल विवरण
योजना का नाममुख्यमंत्री वात्सल्य योजना
राज्य उत्तराखंड
किसने द्वारा आरम्भ मुख्यमंत्री तीरथ सिंह जी के द्वारा
योजना का शुभारम्भ 02 अगस्त 2021
सम्बंधित विभाग महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग
लाभार्थीउत्तराखंड राज्य के ऐसे सभी बच्चे जिन्होंने कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अपने माता पिता को खोया है
योजना का उद्देश्य अनाथ बच्चों को भरण पोषण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना।
योजना के अंतर्गत दी जाने वाली धनराशि 3000 रुपए प्रतिमाह
योजना अंतर्गत लाभार्थियों को सरकारी नौकरी में दिए जाने वाला कोटा प्रतिशत5%
आवेदन का माध्यम ऑनलाइन तथा ऑफलाइन
साल 2022
आधिकारिक वेबसाइटwecd.uk.gov.in

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना का शुभारंभ

उत्तराखंड राज्य में भी कोविड-19 महामारी ने अपना प्रकोप दिखाया जिसके कारण राज्य में बड़ी जनसँख्या में लोग इससे प्रभावित हुए।राज्य सरकार द्वारा इस महामारी में अपने माता-पिता या संरक्षक को खो देने वाले बच्चों के लिए आर्थिक सहायता योजना के तहत प्रदान की जाएगी। आर्थिक सहायता के रूप में दी जाने वाली धनराशि को लाभार्थी के बैंक अकाउंट (खाता ) में सीधे डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर (हस्तांतरित) किया जाएगा।

इस योजना का शुभारंभ 2 अगस्त 2021 को उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी द्वारा शुरू किया गया है। राज्य के विभाग द्वारा ऐसे 2311 बच्चों को इस योजना के तहत चिन्हित किया गया है किन्तु अभी 27% बच्चों को ही इस योजना का लाभ दिया जा रहा है। ऐसे सभी बच्चों का सत्यापन/चिन्हीकरण प्रत्येक जिले के जिलाधिकारी द्वारा किया जायेगा।

उत्तराखंड वात्सल्य योजना 2022 का लक्ष्य/उद्देश्य क्या है?

योजना का मुख्य लक्ष्य 01 मार्च 2020 से 31 मार्च 2022 तक कोरोना संक्रमण (covid -19) या अन्य बीमारी से मरने वाले माता-पिता अथवा किसी संरक्षक की मृत्यु हो जाने पर जन्म से लेकर 21 साल तक के प्रभावित बच्चों की देखभाल करना है। ऐसे सभी प्रभावित बच्चों को योजना के तहत मासिक छात्रवृति भी दी जाएगी साथ-साथ पीएम केयर फण्ड के द्वारा बच्चों को एक 10 लाख रुपए की धनराशि भी प्रदान की जाएगी।

Uttrakhand CM Vatsalya Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

इस योजन के अंतर्गत पात्र बच्चों को कई लाभ प्राप्त होंगे। सीएम वात्सल्य योजना के क्या लाभ हैं ;आईये जानते हैं-

  • योजना के द्वारा ऐसे अनाथ बच्चों को आर्थिक सहायता दी जाएगी जिनके माता-पिता या किसी संरक्षक की मृत्यु कोरोना काल के समय कोरोना वायरस से हुयी थी।
  • वात्सल्य योजना के साथ-साथ ऐसे सभी बच्चों को प्रधानमंत्री केयर फॉर चिल्ड्रन योजना का लाभ भी प्राप्त होगा।
  • योजना के माध्यम से बच्चे की 21 वर्ष की आयु होने तक उसके भरण-पोषण भत्ता के रूप में प्रतिमाह 3000 रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  • यह धनराशि सभी पात्र बच्चों के बैंक अकाउंट में डीबीटी के माध्यम से भेजी जाएगी।
  • इस योजना का लाभ लेने वाले आवेदनकर्ता का स्वयं का बैंक अकाउंट होना आवश्यक है।
  • इन बच्चों को 18 साल तक की आयु तक आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख का स्वास्थ्य बिमा प्रदान किया जायेगा।
  • 18 साल तक मासिक छात्रवृति तथा लाभार्थी बच्चे की 23 साल की आयु में पीएम केयर्स से 10 लाख का फण्ड दिया जायेगा।
  • योजना के तहत राज्य के अनाथ बच्चों को सरकारी नौकरियों में 5 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण प्रदान किया जायेगा।
  • योजना के तहत बच्चे की पैतृक संपत्ति को बेचने का अधिकार बच्चे के वयस्क होने तक किसी अन्य व्यक्ति को नहीं दी जाएगी।
  • cm vatsalya yojana 2022 के अंतर्गत ऐसे सभी बच्चों को रोजगार के लिए प्रशिक्षण भी प्रदान किया जायेगा।

इन परिस्थितियों में मिलेगा मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना का लाभ

इन कुछ विशेष परिस्थितियों में आवेदनकर्ता को उत्तराखंड वात्सल्य योजना 2022 का लाभ प्राप्त होगा –

  • 1 मार्च 2020 से 31 मार्च 2022 के बीच कोविड-19 महामारी या अन्य बीमारी से मरने वाले माता पिता या संरक्षक के बच्चों को इसका लाभ होगा।
  • 1 मार्च 2020 से 31 मार्च 2022 के बीच परिवार के एकमात्र कमाने वाले सदस्य की मौत हो जाने पर इसका लाभ लिया जा सकता है।
  • यदि बच्चे की अभिभावक में से किसी एक की मृत्यु पहले हो चुकी हो और एक की मृत्यु कोविड-19 महामारी से हुई हो।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 हेतु आवश्यक पात्रता

उत्तराखंड वात्सल्य योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको निम्नलिखित पात्रता मानदण्डों को पूरा करना होगा –

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के आवेदक व्यक्ति को उत्तराखंड का स्थाई निवासी होना अति आवश्यक है।
  • आवेदक व्यक्ति का अपना बैंक अकाउंट होना चाहिए।
  • ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता या इनमे से किसी एक की मृत्यु कोरोना वायरस संक्रमण के कारण हुयी हो।
  • ऐसे बच्चे जिनका एक ही अभिभावक जीवित हो तथा वह सरकारी कर्मचारी हो या पुरानी पेंशन /पारिवारिक पेंशन का लाभ ले रहे हों या आयकर सीमा में हों इस योजना के अंतर्गत मिलने वाले आर्थिक सहायता के पात्र नहीं होंगे।
आवश्यक दस्तावेज

इस योजना के लिए यदि आप पात्रता शर्तों को पूरा कर लेते हैं, तो आपको निम्नलिखित दस्तावेजों को योजना आवेदन करते समय अपने पास रखना होगा –

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आवेदक का जन्म प्रमाण पत्र
  • माता पिता का मृत्यु प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट का पूरा विवरण
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाइल नंबर

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 के मुख्य बिंदु (key points of mukhya mantri vatsalya yojana )

  • 01 मार्च 2020 से 31 मार्च 2022 तक कोरोना संक्रमण (covid -19) या किसी अन्य बीमारी से मरने वाले माता-पिता या संरक्षक के बच्चों को उनके जन्म से 21 वर्ष की आयु तक उनके देखभाल,पुनर्वास,चल -अचल संपत्ति ,उत्तराधिकारों तथा अन्य अधिकारों के संरक्षण हेतु योजना का शुभारम्भ किया गया है।
  • इस योजना के तहत अब तक कुल 2347 बच्चों को चिन्हित किया जा चुका है जिसमे सर्वाधिक बच्चे देहरादून जनपद से हैं।
  • 27 फीसदी बच्चों को ही इसका लाभ मिलेगा।
  • ऐसे सभी बच्चों को योजना के तहत प्राप्त होने वाली आर्थिक सहायता को सरकार द्वारा DBT (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) के माध्यम से प्रदान किया जायेगा।
  • जिन बच्चों ने अपने माता-पिता या इनमे से किसी एक को कोरोना संक्रमण की वजह से खोया है ऐसे बच्चों को चिंन्हित करने या सत्यापन का कार्य राज्य के हर जिले के जिलाधिकारी को दिया गया है।
  • नोडल अधिकारी द्वारा ऐसे बच्चों का चिन्हीकरण कर उन्हें शासन द्वारा योजना के अंतर्गत दी जाने वाली समस्त सहायताओं हेतु आवेदन एवं उससे सम्बंधित दस्तावेजों को तैयार कराना स्वयं सुनिश्चित किया जायेगा।
  • क्षेत्र में पंचायती राज संस्थान, पंचायत समिति, ग्राम पंचायत स्तरीय, बाल संरक्षण,आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शिक्षा गढ़ आदि नोडल अधिकारी का अपने क्षेत्र में बच्चों को चिन्हित करने में अपना सहयोग प्रदान करेंगे।
  • चिन्हित बच्चों की जानकारी को तत्काल नोडल अधिकारी द्वारा जिला बाल संरक्षण इकाई को उपलब्ध किया जायेगा।

CM Vatsalya yojana 2022 के अंतर्गत सरकारी नौकरियों में मिलने वाला कोटा

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के माध्यम से अभी तक प्रदेश के 4 हजार से भी अधिक बच्चों को लाभान्वित जा चुका है।सरकार द्वारा ऐसे बच्चों जिन्होंने कोरोना संक्रमण से अपने माता-पिता को खोया है उनके कौशल विकास की तरफ इस योजना के अंतर्गत ध्यान दिया गया है।योजना को महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित किया जा रहा है। उन सभी बच्चों को सरकारी नौकरियों में 5% आरक्षण दिया जायेगा जो इस योजना की पात्रता शर्तों को पूरा करते हैं। जिससे ऐसे बच्चों को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाया जा सकेगा।

Vatsalya yojana Application Form online (मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया )

यदि आप भी इस योजना के लिए पात्रता शर्तों को पूरा करते हैं तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?आईये जानते हैं –

  • इसके लिए सबसे पहले आपको WOMEN EMPOWERMENT & CHILD DEVELOPMENT (महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग ,उत्तराखंड सरकार ) की आधिकारिक वेबसाइट wecd.uk.gov.in पर जाना होगा। [इस वेबसाइट का लिंक आपको हमारे आर्टिकल में दिया गया है आप लिंक की सहायता से सीधा वेबसाइट पर पहुंच जायेंगे ]mukhyamantri vatsalya yojana application form download
  • जैसे ही आप वेबसाइट पर विजिट करते हैं आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जायेगा।
  • अब आपको इस होम पेज (मुख्य पृष्ठ ) पर आपको रिसेंट अपडेट्स का विकल्प दिखाई देगा।
  • आपको यहाँ पर recent update के विकल्प पर कई सारी योजनाओं से सम्बन्धित लिंक दिखयी देंगे।
  • आपको इन लिंक में से मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना वाले लिंक पर क्लिक कर देना है।जैसा की नीचे दिखाया गया है –उत्तराखंड वात्सल्य योजना आवेदन फॉर्म
  • जैसे ही आप इसपर क्लिक करते हैं इसके बाद आपके सामने मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना हेतु आवेदन पत्र का विकल्प आ जाता है जिसपर आपको क्लिक कर देना है।
  • अब आपको एप्लीकेशन फॉर्म खुल कर आ जायेगा। आपको इसे डाउनलोड ऑप्शन पर क्लिक करके इसे डाउनलोड कर लेना है। और इसका प्रिंटआउट निकाल लेना है। mukhyamantri vatsalya yojana uttrakhand application form
  • अब आपको इस application form (आवेदन पत्र ) में पूछी गयी समस्त जानकारियों को भर लेना है ;जैसे कि बच्चे का नाम, जन्मतिथि, धर्म, जाति, आधार कार्ड नंबर, स्थानीय पता, वर्तमान पता, शैक्षिक योग्यता विद्यालय का नाम आदि दर्ज करना होगी।
  • सभी जानकारियों को भर लेने के बाद आपको इसके साथ में सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों (डाक्यूमेंट्स) को अटैच (जोड़ लेना ) कर लेना है।
  • सभी प्रक्रिया होने के बाद आपको इस फॉर्म को संबंधित विभाग में जाकर जमा कर देना होगा।
  • इस प्रकार से आप बड़ी ही आसान प्रक्रिया को अपनाकर अपना आवेदन मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के अंतर्गत कर सकते हैं।

Mukhyamantri Vatsalya Yojana 2022 से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर –

cm Vatsalya Yojana 2022 क्या है ?

यह योजना उत्तराखंड सरकार की योजनाओं में से एक है जो विशेष रूप से राज्य के अनाथ बच्चों के लिए शुरू की गयी योजना है योजना के माध्यम से ऐसे बच्चों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना के लिए आवेदन कैसे करें ?

इस योजना के लिए ऑनलाइन ऑफलाइन दोनों माध्यम से कर सकते हो।

महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग ,उत्तराखंड सरकार आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट https://wecd.uk.gov.in/ है।

योजना का आरम्भ किसके द्वारा किया गया ?

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत जी द्वारा इसका शुभारम्भ किया गया।

किस विभाग द्वारा उत्तराखंड वात्सल्य योजना का सञ्चालन किया जा रहा है ?

WOMEN EMPOWERMENT & CHILD DEVELOPMENT (महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग ,उत्तराखंड सरकार) द्वारा इस योजना का सञ्चालन किया जा रहा है।

वात्सल्य योजना उत्तराखंड लिए आवेदन कैसे करें ?

आवेदन करने के लिए आपको हमारा आर्टिकल पूरा पढ़ना होगा। आवेदन कैसे करें इसका पूरा प्रोसेस आर्टिकल में दिया गया है।

Leave a Comment