घरेलू हिंसा सहायता योजना: पीड़ित महिलाओं एवं लड़कियों को सरकार देगी 4 लाख रूपये तक की सहायता राशि

मध्य-प्रदेश सरकार द्वारा घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं के लिए बड़ा कदम उठाया गया है. हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुयी कैबिनेट की बैठक में सरकार ने घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओ को चार लाख रुपए तक की सहायता राशि देने की घोषणा की. इसके लिए सरकार द्वारा घरेलू हिंसा सहायता योजना शुरू की गयी है जिसके तहत उन्हें न्यायालय में मुकदमा चलने के दौरान आने-जाने का खर्चा भी प्रदान किये जायेगा. इससे प्रदेश की घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं को सबल मिलेगा.

घरेलू हिंसा सहायता योजना

मध्य-प्रदेश सरकार द्वारा घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं को आर्थिक सहायता देने लिए घरेलू हिंसा सहायता योजना शुरू की गयी है. इसके तहत घरेलू हिंसा के कारण महिला के शरीर के किसी भी अंग की 40 फ़ीसदी से कम क्षति होने पर सरकार द्वारा 2 लाख जबकि क्षति 40 फ़ीसदी से अधिक होने पर 4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जाएगी. साथ ही मुक़दमे की स्तिथि में पीड़िता को कोर्ट आने जाने के लिए भी सरकार द्वारा आर्थिक सहायता दी जाएगी.

जानकारी के लिए बता दे की कई सरकारी रिपोर्टों के अनुसार लॉकडाउन के दौरान घरेलू हिंसा के मामलो में बढ़ोतरी हुयी है ऐसे में महिलाओं को कई समस्याओं का सामना करना पड़ा है. सरकार द्वारा अब प्रदेश की महिलाओ को राहत देने के लिए इस योजना को शुरू किये गया है.

ऐसे कर सकेंगे आवेदन

घरेलू हिंसा सहायता योजना के तहत आवेदन करने के लिए महिला को वन स्टॉप सेंटर में एफआईआर की कॉपी के साथ आवेदन करना होगा. इसके बाद सभी तथ्यों की जाँच के बाद महिलाओ को इस योजना के तहत आर्थिक सहायता दी जाएगी. जानकारी के लिए बता दे की वर्तमान में सरकार द्वारा घरेलू हिंसा से पीड़ित महिलाओं के लिए अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना चलायी जाती है जिसमे दोषसिद्धि पर ही मुआवजे का प्रावधान है परन्तु नयी योजना में ज्यादा कागजी कार्यवाही को हटा दिया गया है. इस योजना के क्रियान्वयन के लिए सरकार द्वारा सभी जिलों में डीएम की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किये जाएगा जिसमे पुलिस अधीक्षक, CMHO और महिला एवं बाल विकास जिला कार्यक्रम से सम्बंधित अधिकारियो को सम्मिलित किया जायेगा.

Leave a Comment