MP College Exam: ऑफलाइन ही होंगी मध्य प्रदेश कॉलेजों की परीक्षाएं, कोरोना संक्रमित होने पर दिया जाएगा दूसरा मौका

मध्य-प्रदेश के कॉलेजो में परीक्षा (MP College Exam) के मोड को लेकर परीक्षार्थी असमंजस में है ऐसे में इस मुद्दे पर प्रदेश के गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने बड़ा बयान दिया है. गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा द्वारा कहा गया है की सरकार द्वारा प्रदेश के कॉलेजो का एग्जाम ऑफलाइन मोड में करवाए जाने पर विचार किया जा रहा है. वही उन्होंने कहा की यदि कोई परीक्षार्थी कोरोना संक्रमित होने के कारण परीक्षा में नहीं बैठ पाता तो उसे अगले सेमेस्टर में दूसरा मौका दिया जा सकता है. डॉ मिश्रा के अनुसार प्रदेश में युवा वर्ग के अधिकतर लोग वैक्सीनेटेड हो चुके है ऐसे में उन्हें कोरोना से संक्रमित होने का खतरा कम ही है.

ऑफलाइन मोड ही आयोजित होंगी परीक्षाएँ

बता दे की पहले गृहमंत्री द्वारा कॉलेजो की परीक्षाओं को ऑनलाइन कराने की बात कही गयी थी. मध्य-प्रदेश में भी ओमीक्रोन के संक्रमण में तेजी से इजाफा हो रहा है ऐसे में गृहमंत्री द्वारा ऑनलाइन परीक्षा के संकेत दिए गए थे. हालांकि अब उन्होंने परीक्षा को ऑफलाइन माध्यम से कराने की बात कही है. इसके लिए सरकार द्वारा जल्द ही गाइडलाइन्स जारी की जा सकती है.

वही उच्च शिक्षा मंत्री मोहन यादव ने कहा की मुख्य परीक्षाएँ मार्च महीने में आयोजित की जाएँगी ऐसे में उन्होंने सिचुएशन के अनुसार ही मुख्य परीक्षाओं को कराने की बात कही साथ ही उन्होंने छात्र संगठनों से भी इस मुद्दे पर राजनीति ना करने की नसीहत दी और कुलपतियों से विचार-विमर्श के बाद ही कोई फैसला लेने की बात कही. सरकार द्वारा 50 फिसदी की क्षमता के साथ कॉलेज परीक्षाओं को आयोजित करने पर विचार किया जा रहा है.

कोरोना प्रोटोकॉल का करना होगा पालन

मध्य-प्रदेश में भी कोरोना के मामलो से कुछ दिनों से भारी बढ़ोतरी देखी जा रही है. ऐसे में सरकार द्वारा ऑफलाइन परीक्षाओं के लिए जरुरी निर्देश जारी किये गए है. सभी छात्रों को परीक्षा के दौरान कोरोना प्रोटोकाल का पालन करना अनिवार्य होगा साथ ही मास्क और सोशल डिस्टेन्सिंग का भी विशेष ध्यान रखा जायेगा. इस दौरान मंडे से देवी अहिल्याबाई यूनिवर्सिटी इंदौर और अवधेश प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी रीवा में ऑफलाइन मोड में परीक्षाएँ शुरू कर दी गयी है. कॉलेज प्रशासन द्वारा इस दौरान छात्रों की थर्मल स्कैनिंग की गयी और कोरोना गाइडलाइन्स से भी छात्रों को अवगत करवाया गया.

Leave a Comment