मकर संक्रांति 2023 शुभ मुहूर्त | Makar Sankranti 2023 Shubh Muhurat

Makar Sankranti 2023 शुभ मुहूर्त – तो दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है की वर्ष 2022 का अंत होने वाला है और 2023 की शुरुआत होने वाली है। नए वर्ष का आना यानि के नए नए त्यौहार का आना। आप सभी यह तो जानते वर्ष की शुरुआत जनवरी माह से होती है। जिसमे भी काफी त्यौहार होते है और वैसे भी की हिन्दू धर्म में बहुत से त्यौहार मनाये जाते है। ऐसा ही एक त्यौहार है जिसकी मान्यता हिन्दू धर्म में काफी अधिक होती है। उस त्यौहार का नाम है मकर संक्रांति। आप सभी को यह भी बता दे की हिन्दू धर्म में मुहूर्त को भी काफी अधिक माना जाता है। क्योंकि यह त्यौहार 14 जनवरी को मनाया जाता है तो बहुत से कैलेंडर में इस त्यौहार की तारीख 15 जनवरी भी दिखाता है तो इसकली वजह से लोग यह नहीं समझ पाते है की मकर संक्रांति किस दिन मनानी है।

पतंगों के त्योहार पर निबंध, इतिहास (Kite festival India 2023 Date, History)

Makar Sankranti 2023 Shubh Muhurat

Makar Sankranti kab hai

इसलिए लोग Makar Sankranti 2023 शुभ मुहूर्त जानना चाहते है ताकि वह जान सके की किस समय मकर संक्रांति मनाने का सही समय है। वैसे भी आप सभी को यह भी बता दे की किसी भी त्यौहार को शुभ मुहूर्त में मनाने से वह काफी अच्छा माना जाता है। तो दोस्तों क्या आप भी यह जानना चाहते है की मकर संक्रांति 2023 शुभ मुहूर्त क्या है तो आपको चिंता करने की कोई भी आवश्यकता नहीं है। क्योंकि आज हम आप सभी को इस लेख के जरिये मकर संक्रांति के बारे में बहुत सी अन्य जानकारी जैसे की – मकर संक्रांति 2023 शुभ मुहूर्त , महत्त्व, मनाने का तरीका आदि जैसी जानकारी प्रदान करने वाले है।

तो दोस्तों क्या आप भी इसके बारे में इस प्रकार की जानकारी प्राप्त करना चाहते है अगर हाँ तो उसके लिए आप सभी को हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ना होगा। क्योंकि इस लेख में ही हमने इससे सम्बंधित जानकारी के बारे में बताया हुआ है जिसको पढ़ने से ही आप भी मकर संक्रांति के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकोगे। तो दोस्तों इसलिए कृपया करके हमारे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़े।

इसपर भी गौर करें :- पतंगों के त्योहार पर निबंध, इतिहास (Kite festival India 2023 Date, History in Hindi)

मकर संक्रांति क्या होता है | What is Makar Sankranti?

तो दोस्तों आप सभी को यह बता दे की मकर संक्रांति हिन्दुओं का एक बहुत ही महत्वपूर्ण त्यौहार माना जाता है। इस दिन हिन्दू लोग भगवान् सूर्य की पूजा करते है। उसके साथ साथ बहुत से लोग इस दिन गंगा स्नान भी करते है उसको काफी शुद्ध व शुभ भी माना जाता है। माना यह जाता है की मकर संक्रांति के दिन सूर्य धनु राशि से निकलकर मकर राशि में प्रवेश करता है। हिन्दू पंचांग के अनुसार मकर संक्रांति पौष महीने की शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि को मनाई जाती है। इस दिन लोग पतंग भी उड़ाते है। बल्कि भारत के कुछ राज्यों में तो इस दिन पतंगों की प्रतियोगिता भी रखी जाती है।

मकर संक्रांति के इस शुभ दिन पर लोग खिचड़ी व गुड़, तिल आदि से बानी हुई चीजों का सेवन करते है। यह दिन किसानों के लिए भी काफी ख़ास होता है क्योंकि इस दिन से ही किसान अपनी फसल की कटाई शुरु कर देता है। इस त्यौहार की भारत के कई हिस्सों में अलग अलग नाम से मनाया जाता है परन्तु इस त्यौहार को मनाने का केवल एक ही उद्देश्य होता है। इस त्योहार को दक्षिण भारत के लोग पोंगल के रूप में मानते है। क्योंकि इस दिन से सूर्य भी उत्तरायण होना शुरू हो जाता है इसलिए ही इस त्यौहार को उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है।

Lohri 2023 : कब है लोहड़ी का पर्व? जानें इसका महत्व और पौराणिक कथा

मकर संक्रांति 2023 शुभ मुहूर्त | Makar Sankranti 2023 auspicious time

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यह बताने वाले है की इस बार यानि के वर्ष 2023 में मकर संक्रांति किस दिन और किस मुहूर्त में मनाई जायेगी। तो अगर आप भी इस त्यौहार का शुभ मुहूर्त जानना चाहते है तो कृपया दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़े।

  • आप सभी को यह बतादे की वर्ष 2023 में मकर संक्रांति का शुभ त्यौहार 15 जनवरी को मनाया जाएगा।
  • वर्ष 2023 में आने वाली मकर संक्रांति को मानाने को शुभ मुहूर्त सुबह 7 बजकर 15 मिनट से शुरू होकर शाम के 7 बजकर 46 मिनट तक होगा। इस शुभ मुहूर्त के समय ही आपको अपने कार्य जैसे की – गंगा स्नान, पूजा दान व धर्म आदि जैसी चीजों कोप पूर्ण कर लेना होगा।
  • मकर संक्रांति वाले दिन ही सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेगा। इसके कारण मकर राशि वाले व्यक्तियों पर इसका काफी विशेष प्रभाव भी पढ़ सकता है।

Valentine Day 2023: आखिर क्यों 14 फरवरी को ही मनाया जाता है वैलेंटाइन डे?

मकर संक्रांति के दिन क्या क्या कार्य करने चाहिए ?

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर कुछ ऐसे कार्य के बारे में बताने वाले है जो की अगर मकर संक्रांति के दिन किये जाते है तो उन कार्यों को काफी शुभ माना जाता है। तो दोस्तों अगर आप भी उन कार्यों के बारे में जानना चाहते है तो कृपया दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़िए।

  • मकर संक्रांति के इस शुभ दिन पर सभी लोगो को अपने नहाने के पानी में काले तिल व गंगाजल मिलाकर नहाना चाहिए। माना यह जाता है की ऐसा करने से व्यक्ति की कुंडली के ग्रह दोष दूर हो जाते है।
  • मकर संक्रांति के इस शुभ दिन पर लोगो को एक लोटे में काला तिल, गुड़, लाल चंदन, लाल फूल और अक्षत मिश्रित जल चीजें मिलानी चाहिए और उसके बाद उस लोटे के जल को सूर्य देवता को चढ़ाना चाहिए।
  • माना यह भी जाता है की मकर संक्रांति के इस शुभ दिन पर लोगो को दान व धर्म अवश्य करना चाहिए। क्योंकि ऐसा माना जाता है की इस दिन कोई जितना दान करता है उसका काफी पुण्य उस व्यक्ति को मिलता है।
  • मकर संक्रांति के दिन सभी लोगो को तिल व गुड़ से बानी हुई चीजें खानी चाहिए। उसके साथ साथ इस दिन खिचड़ी खाने की भी परंपरा होती है।

साल 2022 का सबसे लम्बा और छोटा दिन | Longest and Shortest day of the year

इससे सम्बंधित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर जानिए

मकर संक्रांति क्या होता है

Makar Sankranti हिन्दुओं का एक बहुत ही महत्वपूर्ण त्यौहार माना जाता है। इस दिन हिन्दू लोग भगवान् सूर्य की पूजा करते है। उसके साथ साथ बहुत से लोग इस दिन गंगा स्नान भी करते है उसको काफी शुद्ध व शुभ भी माना जाता है। माना यह जाता है की मकर संक्रांति के दिन सूर्य धनु राशि से निकलकर मकर राशि में प्रवेश करता है। हिन्दू पंचांग के अनुसार मकर संक्रांति पौष महीने की शुक्ल पक्ष की द्वादशी तिथि को मनाई जाती है।

2023 में मकर संक्रांति कब मनाई जायेगी ?

2023 में मकर संक्रांति 15 जनवरी को मनाई जाएगी।

Makar Sankranti 2023 का शुभ मुहूर्त क्या है ?

वर्ष 2023 में आने वाली मकर संक्रांति को मानाने को शुभ मुहूर्त सुबह 7 बजकर 15 मिनट से शुरू होकर शाम के 7 बजकर 46 मिनट तक होगा। इस शुभ मुहूर्त के समय ही आपको अपने कार्य जैसे की – गंगा स्नान, पूजा दान व धर्म आदि जैसी चीजों कोप पूर्ण कर लेना होगा।

मकर संक्रांति के दिन लोग क्या क्या करते है ?

मकर संक्रांति के दिन लोग लोग बहुत सी चीजें करते है जैसे की – इस दिन लोग पतंग उड़ाते है और भगवान सूर्य की पूजा करते है, इस दिन लोग पवित्र नदियों में स्नान भी करते है आदि जैसी चीजें इस दिन लोग करते है क्योंकि यह सभी कार्य करना शुभ माना जाता है।

Leave a Comment

Join Telegram