झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, पात्रता

झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना 2022: झारखण्ड सरकार द्वारा राज्य के सभी जरूरतमंद नागरिकों को ध्यान में रखते हुए कई तरह योजनाओं की शुरुआत कर उन्हें सुविधा प्रदान की जाती है, ऐसी ही एक योजना के माध्यम से कुछ महीने पहले झारखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में आए तूफ़ान और ओलावृष्टि के कारण जिन लोगों के घर क्षतिग्रसत हो गए थे उन परिवारों को उनके घरों की मरमम्त के लिए आर्थिक सहायता प्रदान कर राहत देने के लिए राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी द्वारा झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना की शुरुआत की गई है, जिसके माध्यम से सभी जरूरतमंद परिवार बिना किसी अर्थिक समस्या के अपने मकान का निर्माण करवाकर फिर से सामान्य जीवन यापन कर सकेंगे।

राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना का लाभ नागरिकों को किस तरह मिल सकेगा, योजना के तहत नागरिकों को कितनी सहायता राशि प्रदान की जाएगी और योजना में आवेदन हेतु उन्हें किन पात्रता व दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, इसकी विस्तृत जानकारी आप हमारे लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना
झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना

झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना 2022

झारखंड सरकार द्वारा झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना की शुरुआत ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे नागरिक जिनके ओलावृष्टि या तूफ़ान के कारण माकानों का काफी नुक्सान पहुँचा है उन्हें, ऐसी कठिन स्थिति में मकान के निर्माण हेतु आर्थिक सहायता देने के लिए की गई है, जिसके लिए योजना में आपदा प्रभावित नागरिकों के साथ, राज्य की विधवा महिलाओं और आवासहीन महिलाओं को भी योजना में शामिल कर आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी, जिससे उन्हें भी रहने के लिए स्थाई आवस की सुविधा प्राप्त हो सकेगी। इसके लिए योजना में चयनित लाभार्थियों को सरकार द्वारा आवास निर्माण के लिए 1,30,000 रूपये की सहायता राशि तीन किश्तों में उनके बैंक खातों में डीबीटी के माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी, इसके साथ ही योजना के माध्यम से लाभार्थी को मनरेगा के तहत 95 दिन के रोजगार का भी लाभ प्रदान किया जाएगा।

Babasaheb Bhimrao Ambhedkar Awas Yojana 2022: Details

योजना का नाम झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना
शुरू की गई मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी द्वारा
साल 2022
आवेदन माध्यम ऑनलाइन प्रक्रिया
योजना के लाभार्थी राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के आपदा प्रभावित नागरिक
उद्देश्य नागरिकों को आवास निर्माण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना
श्रेणी राज्य सरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइट जल्द जारी की जाएगी

बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना कार्यन्वयन

इस योजना के माध्यम से सभी पात्र लाभार्थियों की पहचान के लिए विकास विभाग द्वारा उपायुक्त और उप विकास आयुक्त को निर्देश दिए गए हैं, जिनका कार्य अपने जिलों के सभी जरूरतमंद नागरिकों की पहचान कर सूची में दर्ज करना है, सभी लाभार्थियों की सूची तैयार हो जाने के बाद उसे मुख्यालय भेजा जाएगा, जिसके बाद लाभार्थियों को आवास के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इसके अलावा योजना के अंतर्गत आने वाले ऐसे जिले जिन्हे आवास आवंटन का कार्य कर दिए गया है, वहाँ भी प्रभावित नागरिकों को आवास का आवंटन किया जाएगा। इस योजना के तहत लाभार्थियों को दी जाने वाली राशि के आवंटन के 12 महीने के भीतर ही आवास का निर्माण करना होगा।

झारखण्ड बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना का उद्देश्य

राज्य सरकार द्वारा भीमराव अंबेडकर आवास योजना को आरम्भ करने का उद्देश्य राज्य में आपदा से प्रभावित ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले नागरिकों को उनके क्षतिग्रसत घरों के निर्माण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है, जिससे वह परिवार जो अपने मकानों की मरम्मत करने में आर्थिक रूप से सक्षम नहीं है, उन्हें फिर से मकान निर्माण के लिए समस्या की घडी में आर्थिक सहयोग प्राप्त हो सकेगा, इसके लिए राज्य सरकार योजना के तहत ऐसे सभी प्रभावित परिवारों, विधवा महिलाओं या आवासहीन महिलाओं की सूची तैयार करवाकर इन्हे कुल तीन किश्तों में सहायता राशि जारी कर रही है। जिससे योजना के माध्यम आर्थिक समस्या से जूँझ रहे पर्यावर जो बेहद ही कठिन परिस्थितियों में अपना जीवन यापन कर रहे हैं, वह भी बिना किसी आर्थिक संकट के अपने मकान का निर्माण कर उनमे आरामदायक और बेहतर जीवन यापन कर सकेंगे।

झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना के लाभ एवं विशेषताएँ

  • झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना की शुरुआत राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों के आपदा प्रभावित नागरिकों को आवास निर्माण के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करने हेतु की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य के वह नागरिक जिनके मकान तूफ़ान और ओलावृष्टि के कारण क्षतिग्रसत हो गए हैं उनके साथ राज्य की विधवा व आवासहिन महिलाओं को भी योजना का लाभ प्राप्त हो सकेगा।
  • योजना के तहत लाभार्थियों की पहचान उपायुक्त और उप विकास आयुक्त द्वारा की जाएगी।
  • जिन चयनित लाभार्थियों का नाम योजना के लाभार्थी सूची में शमिल किया जाएगा, उन्हें सरकार द्वारा तीन किश्तों में आर्थिक साहयता राशि जारी की जाएगी।
  • योजना के तहत 130000 रूपये की किश्त में पहली किश्त 40 हजार, दूसरी किश्त 85 हजार और तीसरी 5000 रूपये की किश्त लाभार्थियों के बैंक खातों में डीबीटी की माध्यम से ट्रांसफर की जाएगी।
  • बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना के माध्यम से राज्य के नागरिक अपने आवास का निर्माण कर दोबारा बेहतर जीवन यापन कर सकेंगे।

योजना की पात्रता

बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना में आवेदन हेतु आवेदक को इसकी निर्धारित पात्रताओं को पूरा करना आवश्यक है, जिसे पूरा करने वाले नागरिकों को ही योजना का लाभ मिल सकेगा।

  • योजना में आवेदन करने वाले नागरिक झारखण्ड के स्थाई निवासी होने आवश्यक है।
  • आवेदक ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले होने चाहिए।
  • बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना में आवेदन के लिए वह नागरिक जिनका मकान किसी प्राकृतिक आपदा के कारण क्षतिग्रस्त हो गया है, वह आवेदन के पात्र होंगे।

BabaSaheb Bhimrao Ambhedkar Awas Yojana के दस्तावेज

योजना में आवेदन के लिए आवेदक के पास कुछ महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है, जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • बैंक की पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

झारखण्ड बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना आवेदन प्रक्रिया

राज्य के जो नागरिक बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर आवास योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए योजना में आवेदन करना चाहते हैं, तो उन्हें यह जानना जरुरी है की सरकार द्वारा योजना में आवेदन के लिए कोई आधिकारिक वेबसाइट जारी नहीं की गई है, अभी योजना में उपायुक्त द्वारा लाभार्थियों की पहचान कर उनकी सूची को मुख्यालय भेजा जाएगा, जहाँ लाभार्थियों का सत्यापन हो जाने के बाद उन्हें योजना के तहत सहायता राशि का वित्तरण किया जाएगा।

Leave a Comment