जाति प्रमाण पत्र कैसे बनाये – Jaati Praman Patra Kaise banwayen

जाति प्रमाण पत्र कैसे बनाये -Jaati Praman Patra किसी भी व्यक्ति विशेष की जाति के पहचान का प्रमाण होता है, आज के समय में पिछडे वर्ग के लोगों की ख़राब स्थिति को सुधारने के लिए, सरकार द्वारा जारी बहुत सी सुविधाओं और योजनाओ में आरक्षण व छात्रवृत्ति जैसे बहुत से लाभ प्राप्त करने हेतु जाति प्रमाण पत्र होना आवश्यक है, जिससे बहुत सी अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति या पिछड़े वर्ग के लोगों को इसका लाभ मिल सकेगा और उनकी स्थिति में सुधार आ सके, यदि आप भी Jaati Praman patra के लिए आवेदन करना चाहते हैं और इसके लाभ,दस्तावेजों या आवेदन प्रक्रिया से जुडी सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

जाति-प्रमाण-पत्र

हमारे देश में आज विभिन्न धर्म, समुदाय और जाति के लोग रहते है, जो अलग-अलग वर्गों में बटें हुए है पहले के समय में लोगों की केवल दो वर्गों के आधार पर ही पहचान की जाती थी, एक तो ऊँची जाति के लोग और दूसरे छोटी जाति के लोग, जिसके आधार पर ऊँची जाति वाले लोग छोटी जाति के लोगों से भेदभाव और दुर्व्यवहार किया करते थे और उन्हें समाज से अलग ही रखकर अछूत मानते थे, जिसके कारण उनकी स्थिति और भी ख़राब होती चली गयी, उनकी इसी स्थति में बदलाव लाने और उन्हें भी समाज के बाकी वर्गों की तरह बराबरी का हक़ देने के लिए सरकार ने संविधान के तहत अनुसूचित जातियों, जनजातियों को शोषण तथा सामाजिक अन्याय से बचाने के लिए अनुछेद 46 को लागू किया था, जिसके बाद सरकार ने पिछड़े वर्ग के लोगों को आरक्षण जैसी सुविधाएँ देकर और उनके बच्चों को भी पढाई के माध्यम से छात्रवृत्ति जैसी बहुत सी सुविधाएं उपलब्ध करवाई है।

जाति प्रमाण पत्र बनवाने का मुख्य उद्देश्य

Jaati Praman Patra बनवाने का मुख्य उद्देश्य देश के सभी पिछड़े वर्ग के लोगों को आगे बढ़ाकर उनकी स्थिति में सुधार लाना है और उन्हें प्रमाण पत्र के माध्यम से बहुत सी योजनाओ में लाभ पहुँचाना है, जिससे वह भी समाज में सम्मानपूर्वक जीवन व्यापन कर सकें, और सरकार द्वारा जारी योजनाओ में भागीदारी निभा कर सफलता की और कदम बढ़ा सकें।

Jaati Praman patra 2021 Highlights

आर्टिकल का नाम जाति प्रमाण पत्र कैसे बनाये
आवेदन Jaati Praman patra
प्रकार प्रमाण पत्र
लाभार्थी अनुसूचित जाति, जन जाति, और पिछड़े वर्ग के लोग
उद्देश्य पिछड़ी जाति के लोगों को आगे बढ़ने का अवसर प्रदान करना
साल 2021
जाति प्रमाण पत्र आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन प्रक्रिया

जाति प्रमाण पत्र से मिलने वाले लाभ

  • Jaati Praman patra का लाभ सभी आर्थिक रूप से कमजोर पिछड़े वर्ग के लोगों को प्राप्त होता है।
  • यह प्रमाण पत्र बनवाने वाले लोगों को सरकार द्वारा जारी सरकारी नौकरियों में आरक्षण दिया जाता है।
  • जिस भी व्यक्ति के पास उसका जाति प्रमाण पत्र होता है उसे सरकारी नौकरी के लिए उसकी आयु में भी छूट दी जाती है।
  • प्रमाण पत्र होने से स्कूल में बच्चो को फीस में भी छूट दी जाती है और उन्हें छात्रवृत्ति भी उपलब्ध करवाई जाती है।

जिस भी व्यक्ति के पास उसका जाति प्रमाण होगा केवल वही व्यक्ति इन सारी सुविधाओं का लाभ उठा सकेंगे, इसलिए वह आवेदक जो इस योजना के आवेदन हेतु पात्र है उन सभी के पास अपना जाति प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है।

Jaati Praman Patra की पात्रता

वे सभी उम्मीदवार जो अपना Caste Certificate बनवाना चाहते है उन्हें पहले कुछ आवश्यक पात्रता पूरी करनी होगी जिनके विषय में आप नीचे दिए गए पॉइंट्स को पढ़कर सूचना प्राप्त कर सकते है। ये पात्रता निम्न प्रकार है –

  • Jaati Praman patra बनवाने वाला व्यक्ति भारतीय निवासी होना चाहिए।
  • प्रमाण पत्र के लिए केवल अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति या पिछडे वर्ग के लोग ही आवेदन कर सकते हैं।
  • इस प्रमाण पत्र के आवेदन करने वाले व्यक्ति के पास आवेदन से जुड़े सभी आवश्यक दस्तावेज होने जरुरी है।

जाति प्रमाण पत्र बनवाने हेतु आवश्यक दस्तावेज

Jaati Praman patra बनवाने हेतु आवेदक के पास सभी आवश्यक दस्तावेज होना आवश्यक है, यदि कोई भी दस्तावेज रह जाता है तो आवेदन प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकेगी इसलिए आवेदन से पूर्व सभी आवश्यक दस्तावेजों की जानकारी होनी चाहिए जैसे :-

  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • परिवार के बड़े माता, पिता के अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र
  • पिछड़ी जाति या अनुसूचित जाति के होने से जुड़े आवश्यक दस्तावेज।

जाति प्रमाण पत्र बनवाने हेतु आवेदन प्रक्रिया से जुड़े लिंक

Jaati Praman patra बनवाने हेतु आवेदक इसके लिए ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों ही माध्यम से आवेदन कर सकते हैं, इसके लिए सभी राज्य के लोग जो Jaati Praman patra के पात्र है, वह अपन-अपने राज्य से ही आवेदन प्रक्रिया को पूरी कर प्रमाण पत्र बनवा सकते हैं।

राज्यों के नामआवेदन वेबसाइट लिंक
हिमाचल प्रदेशयहाँ क्लिक करें
उत्तराखंड यहाँ क्लिक करें
केरलयहाँ क्लिक करें
चंडीगढ़यहाँ क्लिक करें
गुजरातयहाँ क्लिक करें
छत्तीसगढ़यहाँ क्लिक करें
महाराष्ट्रयहाँ क्लिक करें
हरियाणायहाँ क्लिक करें
पंजाबयहाँ क्लिक करें
दिल्ली यहाँ क्लिक करें
राजस्थानयहाँ क्लिक करें

जाति प्रमाण पत्र बनवाने हेतु आवेदन प्रक्रिया

Jaati Praman patra बनवाने हेतु ऊपर दिए राज्यों के जारी लिंक के माध्यम से आवेदक अपने-अपने राज्यों के जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए ऑनलाइन तथा ऑफलाइन दोनों ही माध्यम से आवेदन कर सकते हैं, यहाँ हमने कुछ राज्यों के जाति प्रमाण पत्र बनवाने की आवेदन प्रक्रिया की जानकारी प्रदान की है, जिसे पढ़कर आप अपने जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश आवेदन प्रक्रिया :-

हिमाचल प्रदेश के Jaati प्रमाण पत्र आवेदन हेतु राज्य के लोग नीचे दी गई जानकारी के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट http://edistrict.hp.gov.in/  पर जाना होगा। हिमांचल-प्रदेश-रजिस्ट्रेशन
  • इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन करने के लिए अपना ईमेल आईडी डालकर अपना पासवर्ड डालना होगा।
  • पासवर्ड दर्ज करने के बाद आपको उसे सबमिट कर देना होगा।
  • इसके बाद आप जाति प्रमाण पत्र वाले लिंक पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

ऑफलाइन आवेदन प्रक्रियाJaati Praman patra के लिए यदि कोई व्यक्ति ऑनलाइन माध्यम से आवेदन नहीं करना चाहता, तो वह इसके लिए ऑफलाइन माध्यम के द्वारा भी आवेदन कर सकता है, इसके लिए उन्हें तहसील में जाकर आवेदन फॉर्म माँगना होगा, उसके बाद उन्हें फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी भरकर उसमे सभी आवश्यक दस्तावेज लगाकर उसे तहसील में ही अधिकारीयों को जमा करना होगा, जिसके बाद फॉर्म में भरी गयी उनके घर-परिवार की सभी जानकारी की पुष्टि की जाएगी, जिसकी पुष्टि होने के बाद उन्हें उनका जाति प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाएगा।

उत्तराखंड ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

उत्तराखंड ऑनलाइन आवेदन करने वाले राज्य के नागरिक दी गयी जानकारी को पढ़कर आवेदन कर सकते है।

  • सबसे पहले आवेदक को इसकी आधिकारिक वेबसाइट edistrict.uk.gov.in पर जाना होगा। उत्तराखंड-रजिस्ट्रेशन
  • अब आपको रजिस्ट्रेशन वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरकर सब्मिट कर दें।
  • इसके बाद लॉगिन आईडी से लॉगिन कर लें।
  • लॉगिन करने के बाद आवेदन पंजीकरण के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
    Jaati-Praman-patra
  • इसके बाद आपको फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को ध्यान पूर्वक भरना होगा।
  • जानकारी भरने के बाद आपको अपने फॉर्म को सबमिट कर देना होगा।
  • इसके बाद आवेदन शुक्ल का भुगतान करें, अब आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया :- उत्तराखंड Jaati Praman patra के ऑफलाइन आवेदन हेतु आवेदक जो ऑनलाइन माध्यम से आवेदन नहीं करना चाहते वह इसे ऑफलाइन माध्यम से भी आवेदन कर सकते है इसके लिए उन्हें पहले तहसील जाना होगा, वहाँ जाकर उन्हें आवेदन फॉर्म लेना होगा जिसमे पूछी गयी सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरने के बाद उसके साथ सभी आवश्यक दस्तावेजों को लगाकर, उन्हें तहसील में ही जमा करवाना होगा, इसके पश्चात फॉर्म की पूरी जाँच हो जाने के बाद उन्हें कुछ समय में उनका जाति प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाएगा।

केरल जाति प्रमाण पत्र आवेदन प्रक्रिया

केरल Jaati Praman patra के आवेदन के लिए आवेदक दी गयी आवदेन प्रक्रिया को पढ़कर आवेदन कर सकते हैं।

  • इसके लिए सबसे पहले आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट edistrict.kerala.gov.in पर जाना होगा। केरल-आवेदन-प्रक्रिया
  • यहाँ आपको अपना ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर लॉगिन करना होगा।
  • इसके बाद आपको रजिस्ट्रेशन करने के लिए फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना होगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको अपने फॉर्म को सबमिट करना होगा।
  • फॉर्म सबमिट हो जाने के बाद आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया :- केरल जाति प्रमाण पत्र के ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आवेदक को सबसे पहले तहसील या कार्यालय में जाकर आवेदन फॉर्म लाना होगा, जिसमे पूछी गयी सभी जानकारी भरने के बाद उसे कार्यालय में जमा करवाना होगा, जिसके बाद फॉर्म की पूरी जाँच हो जाने के कुछ समय बाद आवेदक को उसका जाति प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाएगा। Jaati प्रमाण पत्र आवेदन के लिए अलग-अलग राज्यों की आधिकारिक लिंक हमने आपको ऊपर उपलब्ध करवा दिये है, आप अपने राज्यों के पोर्टल पर जाकर इसी तरह ऑनलाइन प्रक्रिया के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।

महाराष्ट्र जाति प्रमाण पत्र आवेदन प्रक्रिया

महाराष्ट्र कास्ट सर्टिफिकेट बनवाने हेतु आवेदक दी गई प्रक्रिया को पढ़कर आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक को इसकी आधिकारिक वेबसाइट aaplesarkar.mahaonline.gov.in पर जाना होगा। महाराष्ट्र-जाति-प्रमाण-पत्र
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको जाति प्रमाण पत्र के लिंक पर क्लिक करना होगा
  • अब नए पेज पर आपको लागू करें का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपनी जाति का चयन करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा, जिसमे पूछी गई सभी जानकारी आपको ध्यानपूर्वक भरनी होगी।
  • सारी जानकारी भरने के बाद आपको इसे सबमिट कर देना होगा।
  • इसके बाद आप इसकी रिसीप्ट और फॉर्म का प्रिंट आउट निकाल सकते हैं।

ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया :- महाराष्ट्र Jaati Praman patra प्रमाण पत्र ऑफलाइन आवेदन हेतु आपको अपने जिले के कलेक्टर के कार्यालय में जाकर आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा, जिसके लिए आपको 5 रूपये आवेदन फॉर्म के शुल्क के तौर पर देना होगा, फॉर्म पर न्यायालय का स्टेम्प लगा होगा, जिसमे पूछी गयी सभी जानकारी आपको ध्यानपूर्वक भरनी होगी, साथ ही आपको माँगे गए सभी दस्तावेजों को अटैच करना होगा, जिसके बाद कर्मचारियों द्वारा आपके फॉर्म का पूर्ण सत्यापन किए जाने के बाद आपको आपका जाति प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाएगा

Jaati Praman Patra Apply 2021 से जुड़े कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

Jaati Praman patra बनवाने से क्या लाभ प्राप्त होते हैं ?

जाति प्रमाण पत्र बनवाने से सरकार द्वारा जारी योजनाओं में व्यक्ति को आरक्षण, उम्र में छूट, स्कूल, कॉलेजेस में बच्चों को स्कॉलरशिप आदि बहुत सी सुविधाओं के लाभ प्राप्त होते है।

सरकार द्वारा जाति प्रमाण पत्र जारी करने का उद्देश्य क्या है ?

जाति प्रमाण पत्र जारी करने का सरकार का पिछड़े और गरीब परिवार के लोगों की स्थिति में सुधार लाना है, जिससे उन्हें भी समाज के अन्य वर्गों की तरह बराबरी का अधिकार मिल सके और वह भी बहुत से सामाजिक कार्यो में अपनी सहभागिता दे सकें।

जाति प्रमाण पत्र बनवाने के लिए क्या क्या डॉक्यूमेंट चाहिए ?

Jaati Praman patra बनवाने के लिए आवेदक का निवास प्रमाण पत्र ,आधार कार्ड,राशन कार्ड,आय प्रमाण पत्र,आयु प्रमाण पत्र आदि डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है।

जाति प्रमाण पत्र बनाने हेतु आवेदक की क्या पात्रता होनी आवश्यक है ?

कास्ट सर्टिफिकेट बनाने हेतु आवेदक भारतीय निवासी होने चाहिए जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति या पिछडे वर्ग से ताल्लुक रखते हों और उनके पास आवेदन हेतु सभी जरुरी दस्तावेज होना आवश्यक है।

क्या Jaati प्रमाण पत्र बनवाने हेतु ऑफलाइन माध्यम से भी आवेदन किया जा सकता है ?

जी हाँ, जाति प्रमाण पत्र बनवाने हेतु आवेदक ऑफलाइन माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं, इसके लिए आपको अपने जिले के कलेक्टर कार्यालय में जाकर आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा, और फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी सही से भरकर सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच करके कार्यालय में ही जमा करवाना होगा, इस तरह आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी और फॉर्म की जाँच हो जाने के बाद आपको Jaati प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाएगा।

जाति प्रमाण पत्र कितने समय तक वैद्य रहता है ?

संशोधन के बाद से जाति प्रमाण पत्र अब केवल एक साल तक के लिए वैध कर दिया गया है।

हेल्पलाइन नंबर

जैसे कि इस लेख में हमने आपको जाति प्रमाण पत्र कैसे बनाये इससे संबंधित जानकारी प्रदान की है यदि आपको इन जानकारियों के अलावा कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर पूछ सकते है। आपके प्रश्न का उत्तर अवश्य दिया जाएगा। आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी में माध्यम से सहायता मिलेगी।

Leave a Comment