(पंजीकरण) इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना क्या है | ऑनलाइन आवेदन

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना – तो दोस्तों जैसा की आप सभी जानते ही होंगे की पुराने समय में भारत में बहुत सी अजीब प्रथाएं चलती आ रही थी। जिनमे से एक प्रथा यह भी थी की लड़कियों को पढ़ने का हक नहीं होता है और वह केवल घरेलु कार्य करने के लिए ही होती है। परन्तु आज के समय में इस प्रकार की प्रथाओं को लोग छोड़ चुके है। क्योंकि आज के समय में लड़कियां हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही है और लड़को के कंधे से कन्धा मिलाकर आगे बढ़ रही है। आज के समय में लड़कियों को आगे बढ़ने के लिए किसी की भी आवश्यकता नहीं है। इसके साथ साथ सरकार भी ऐसे बहुत से प्रयास करती ताकि लड़कियों को प्रोत्साहन मिल सकें। लड़कियों को प्रोत्साहित करने के लिए भारत सरकार लड़कियों के लिए बहुत सी नई नई योजनाओ का निर्माण करती है जिससे की लड़किया और भी आगे बढ़ सके और आत्मनिर्भर बन सके।

(पंजीकरण) इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना क्या है | ऑनलाइन आवेदन
Indira Gandhi Priyadarshini Training and Skill Enhancement Scheme

ऐसी ही एक योजना की शुरुआत राजस्थान सरकार के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा की गयी है। जिसका नाम इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना है। तो दोस्तों क्या आपने इससे पहले कभी इस योजना के बारे में सुना है अगर नहीं तो आपको चिंता करने की बिलकुल भी आवश्यकता नहीं है क्योंकि आज हम आप सभी को इस लेख के जरिये इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के बारे में बहुत सी जानकारी प्रदान करने वाले है जैसे की – इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना क्या है, इसके लाभ, इस योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया आदि जैसी जानकारी। तो दोस्तों क्या आप भी इसके बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो उसके लिए आप सभी की हमारे इस लेख को अंत तक पढना होगा।

इसपर भी गौर करें :- सावित्रीबाई फुले किशोरी समृद्धि योजना

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना क्या है ?

तो दोस्तों सबसे पहले तो आप सभी को यह बता दे की इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना की शुरुआत राजस्थान सरकार के मुख्यमंत्री श्री अशोक गेहलोत जी के द्वारा की गयी है। इस योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार राज्य की लड़कियों और दुष्कर्म पीड़िता और घरेलु हिंसा पीडित महिलाओं को कंप्यूटर कोर्स करवाया जाएगा। जो की पूर्ण रूप से निशुल्क होगा। इस योजना की मदद से राज्य की अधिकतर लड़कियां व महिलायें कंप्यूटर सीख सकेंगी जिसकी मदद से उन सभी महिलाओं को नौकरी पाने में आसानी होगी और वह सभी महिलायें आत्मनिर्भर बन सकेंगी।

सरकार के द्वारा इस योजना की शुरुआत इसलिए की गयी है क्योंकि जो विधवा महिलाये है और लड़किया है उन सभी को अपने परिवार के भरण पोषण करने में काफी मुश्किलों का सामना करना पढता है और उसके लिए उनको भी नौकरी की आवश्यकता होती है और आज का समय कंप्यूटर का युग माना जाता है। कई नौकरियां करने के लिए कंप्यूटर की जानकारी होना आवश्यक होता है।

इसलिए जब वह सभी महिलायें कंप्यूटर चलना जान जाएँगी उससे उन सभी महिलाओं को नौकरी पाने में आसानी होगी। जिससे उनके अंदर अपने परिवार के भरण पोषण करने का सामर्थ्य होगा। आप सभी को यह भी बता दे की इस योजना के अंतर्गत सरकार करीब 75 हज़ार बालिकाओं को कंप्यूटर कोर्स करवाएगी।

Indira Gandhi Priyadarshini Training and Skill Enhancement Scheme के लाभ

तो दोस्तों अब हम आप सभी को यहाँ पर Indira Gandhi Priyadarshini Training and Skill Enhancement Scheme के कुछ लाभ के बारे में बताने वाले है। तो अगर आप भी इसके लाभ जानना चाहते है तो दी गयी जानकारी को ध्यान से पढ़े।

  • इस योजना की मदद से राज्य की विधवा महिला, घरेलु हिंसा पीड़ित आदि जैसी महिलाये और लड़कियों को कंप्यूटर कोर्स करवाएगी।
  • आप सभी को यह बता दे की इस योजना में कंप्यूटर कोर्स सीखने के लिए महिलाओं और लड़कियों से कोई भी शुल्क नहीं देना होगा क्योंकि यह निशुल्क है।
  • इस योजना की मदद से राज्य की महिलाये और लड़किया आत्मनिर्भर हो सकेंगी।
  • इस योजना के तहत राजस्थान सरकार राज्य की करीब 75 हजार महिलाओं और लड़कियों को इस योजना का लाभ प्रदान करेगी।
  • इस योजना की मदद से महिलायें कंप्यूटर की जानकारी प्राप्त कर सकेंगी जिसकी मदद से उनको नौकरी मिलने में भी आसानी होगी। क्योंकि जब महिलाये कंप्यूटर कोर्स सीखने के पश्चात नौकरी भी कर सकती है जिसकी वजह से वह अपने परिवार का भरण पोषण भी कर सकती है इससे उनके जीवन शैली में भी सुधार होगा।

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

तो क्या आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहती है और इस योजना के लिए आवेदन करना चाहती है अगर हाँ तो उसके लिए आप भी ऑनलाइन आवेदन कर सकती है। जिसके लिए हमने यहाँ पर कुछ स्टेप्स दिए हुए है उन सभी स्टेप्स को फॉलो करने से आप भी इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकती है। तो कृपया करके दिए गए स्टेप्स को ध्यान से पढ़े।

  1. तो अगर आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहती है और इसके लिए आवेदन करना चाहती है तो उसके लिए आपको सबसे पहले महिला एवं बाल विकास विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. फिर उसके बाद आप इस वेबसाइट के होम पेज पर पहुंच जाओगे।
  3. आपको इसके होम पेज पर एक जगह दिखाई देगी जहाँ पर आपसे आपका आधार नंबर पुछा जायेगा। Indira Gandhi Priyadarshini Training and Skill Enhancement Scheme
  4. आपको वहां पर अपना आधार नंबर भर देना होगा और कॅप्टचा कोड को भी भरदेना होगा।
  5. उसके बाद आपको वहाँ पर दिए बटन को दबाना होगा। उसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा।
  6. फिर आपको उस फॉर्म में अपनी सभी आवश्यक जानकारी को भर देना होगा। उसके साथ आपको अपने आवश्यक दस्तावेजों को भी उसके साथ सलग्न कर देना होगा।
  7. उसके बाद आपको उस फॉर्म को सबमिट कर देना होगा।

योजना से सम्बंधित कुछ प्रश्न व उनके उत्तर

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना की शुरुआत किसके द्वारा की गयी है ?

इंदिरा गांधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा की गयी है।

राज्य की किस प्रकार की महिलाओं और लड़कियों को इस योजना का लाभ मिल सकेगा ?

राज्य की उन महिलाओं जैसे की – विधवा, दुष्कर्म पीड़ित, घरेलु हिंसा पीड़ित और लड़कियों को ही इस योजना का लाभ मिल सकता है।

इस योजना के ऑनलाइन आवेदन करने के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

इस योजना के ऑनलाइन आवेदन करने के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट myrkcl.com है।

राज्य की कितनी महिलओं को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा ?

राज्य की करीब 75 हजार महिलाओं को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।

Leave a Comment